बड़ी खबर: BJP नेता बनवारी सिंघल ने हिन्दुओं को लेकर दिया ये बड़ा बयान, मुस्लिमों की साजिश का किया खुलासा..

हमने जिस जनसंख्या नियंत्रण कानून की मुहीम अपनी भारत बचाओ यात्रा के माध्यम से छेड़ रखी है अब उसका राष्ट्रव्यापी असर साफ़ दिख रहा है . इस मामले में भाजपा के तमाम सांसदों के खुल कर संसद तक सामने आने के बाद अब क्षेत्रीय स्तर तक इसकी व्यापकता बढती जा रही है और विधायकों ने खुले मुह से इसके आने वाले दुष्परिणामों को खुल कर जनता को बताना शुरू कर दिया है और इस मुद्दे पर खुल कर बोलना शुरू कर दिया है

We have started campaigning through the Population Control Act of India, through its journey of India, its nationwide impact is now clearly visible. In this case, after all the BJP MPs are exposed to the Parliament, it is now increasing to the regional level and the MLAs openly open their ill-effects to the public and on this issue Has started to open

विदित हो कि एकतरफा बढती आबादी के खतरे को भांपते हुए राजस्थान के अलवर शहर से भारतीय जनता पार्टी के लोकप्रिय विधायक श्री बनवारी लाल सिंघल के एक सोशल मीडिया के फेसबुक में लिखी एक पोस्ट से आम जनमानस को एक बड़ा संदेश दिया है . जब इस पोस्ट को ले कर कुछ समाचार एजेंसियों ने विधायक श्री बनवारी लाल सिंघल से सम्पर्क स्थापित किया तो उन्होंने अपनी लिखी बातों पर पूरी अडिगता दिखाई और कहा की एक सोची और समझी साजिश के तहत मुस्लिम समाज के द्वारा 2030 तक पूरे देश के शासन की बागडोर अपने हाथों में लेने का प्लान है और इसीलिए अंधाधुंध आबादी बढाई जा रही है.

Knowing the danger of the unilateral growing population, knowingly threatening the populist population, gave a big message to the general public from a post written in the social media of Mr. Banwari Lal Singhal’s popular MLA from Bharatiya Janata Party, from Alwar city of Rajasthan. When some news agencies contacted the legislator, Mr. Banwari Lal Singhal, after taking this post, he showed complete stubbornness on his written statements and said that under a thoughtful and conspicuous conspiracy, the rule of the entire nation of Muslim rule by Muslim society till 2030 There is a plan to take in your own hands and that is why the indiscriminate populations are growing.

अपने बयान में आगे जोड़ते हुए विधायक श्री बनवारी लाल जी ने कहा कि जहाँ हिन्दू भारत और पर्यावरण अदि का ध्यान रख कर बस एक या दो बच्चे पैदा कर रहे हैं लेकिन वहीँ सिर्फ और सिर्फ सत्ता को कब्ज़ा करने की सोच ले कर मुस्लिम दम्पति 8 से 14 बच्चे तक पैदा करते जा रहे हैं। इतना ही नहीं उन्होंने आगे सनसनीखेज खुलासा करते हुए कहा की कई बार तो कई मुस्लिम लोग बच्चे पैदा करने के लिए बाहर से महिलाओं को खरीदकर लाते हैं . आगे बोलते हुए उन्होंने कहा कि जिस तेजी से मुसलमानों की जनसँख्या बढती जा रही है है, इससे आने वाले कुछ ही वर्षों में हिंदुओं का अस्तित्व खतरे में आ जायेगा। उन्होंने कहा कि मुस्लिम आबादी अधिक होने पर ज्यादा से ज्यादा राज्यों में मुख्यमंत्री, देश का प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति मुस्लिम होंगे।

Adding further to his statement, MLA Banwari Lal Ji said that where Hindus are creating only one or two children by taking care of India and the environment, but only after thinking of taking possession of power and only the Muslim couple 8 14 children are going to grow up. Not only that, he revealed further sensational disclosures, saying that many times many Muslims brought women out of the house to buy children. Speaking further, he said that the fast population of Muslims is increasing, in the coming years, the existence of Hindus will be in danger. He said that if maximum Muslim population is high, more and more states will be Chief Minister, Prime Minister of India and President Muslims.

उन्होंने आगे कहा कि सभी संवैधानिक पद कब्ज़ा करने के मुस्लिम समाज अपने नियम खुद बनाएगा और उन सभी नियमो को पालन करना हिन्दुओं की मजबूरी होगी . निश्चित तौर पर धीरे धीरे ऐसे ही चला तो हिन्दुओं का अस्तित्व खतरे में आ जाएगा और किसी भी नियम को पालन करने मे जरा सा भी चूकने वाले हिन्दू जेल में ठूंस दिए जायेगे और उनके घर , जमीन , जायदाद आदि सब मुस्लिमों के कब्जे में होंगे . भाजपा विधायक श्री बनवारी लाल सिंघल का कहना है कि मुस्लिम समाज के लोगों के लिए शिक्षा और विकास कोई महत्व नहीं रखता है, उनका केवल एक ही मकसद है ज्यादा से ज्यादा बच्चे पैदा कर के देश को इस्लामिक मुल्क बनाया जा सके . इसी मुद्दे पर आगे बीजेपी विधायक का कहना है कि हिंदुओं के द्वारा देश के विकास के लिए जो टैक्स दिया जा रहा है उस आर्थिक संसाधनों को मुस्लिम समाज के लोग चट करने में लगे हुए हैं। साथ ही देश की आर्थिक उन्नति में मुस्लिम समाज का योगदान शून्य के बराबर है .

He further said that the Muslim society would adopt its own rules for possession of all the constitutional posts and the compulsion of Hindus to obey all those rules. Certainly, gradually it will come in danger and the Hindus will be in danger and they will be punished in a Hindu jail, who will lose the slightest obligation to follow any rule and their house, land, property etc. will be in the possession of all Muslims. BJP legislator Shri Banwari Lal Singhal says that education and development are not of any importance to the people of Muslim society, their only purpose is to create more and more children and make the country an Islamic country. On the same issue, the BJP MLA further said that the financial resources which are being imparted to Hindus for the development of the country are engaged in chasing the people of Muslim society. At the same time, the contribution of Muslim society in economic development of the country is equal to zero.

यह भी देखें:

https://youtu.be/aGHeWHD0uXg

https://youtu.be/xlRRjGN7n7U

योगीराज में UP से आयी बेहद चौंका देने वाली खबर, जिसे पढ़ PM मोदी समेत पूरा देश रह गया दंग…

लखनऊ : मुलायम, मायावती और फिर अखिलेश, तीनों ने मिलकर प्रदेश को बीमारू राज्य बनाये रखने में कोई कसर नहीं छोड़ी थी. मायावती ने अपने कार्यकाल में जमकर लूट मचाई और अखिलेश तो उनसे एक कदम आगे निकल गए, लूटने के साथ-साथ तुष्टिकरण के लिए दंगे-फसाद तक करवाए. मगर पीएम मोदी और सीएम योगी ने प्रदेश की जनता से किया सबसे बड़ा वादा पूरा कर दिखाया है, जिससे प्रदेश की जनता में काफी ख़ुशी देखी जा सकती है.

Lucknow: Mulayam, Mayawati and then Akhilesh, together with the three, had left no stone unturned to make the state a sick state. Mayawati had looted her lot during her tenure and Akhilesh went one step ahead of her, along with looting as well as for rioting for appeasement. But PM Modi and CM Yogi have fulfilled the biggest promise made to the people of the state, which can be enjoyed very well in the people of the state.

यूपी में 2500000000000 रुपये का निवेश
दरअसल प्रदेश में गुंडा राज होने के कारण कोई भी बड़ी कंपनी यूपी में निवेश नहीं करना चाहती थी, जिसके कारण यहाँ के लोगों को अन्य राज्यों में भटकना पड़ता था. मगर सीएम योगी के राज में यूपी पुलिस ने धड़ाधड़ एनकाउंटर करके ज्यादातर बड़े गुंडों को परलोक पहुंचा दिया और अन्य जेलों में ठूंस दिए गए. साथ ही यूपीकोका बिल को भी मंजूरी दे दी गयी.

Investments of Rs. 25000000000 in UP
In fact, because of the Gunda rule in the state, no big company wanted to invest in UP, due to which the people here had to wander in other states. But in the reign of CM Yogi, the UP Police, after dismantling most of the big goons, was beaten up and thrown into other jails. Also the UPCOCA bill was approved.

लिहाजा प्रदेश अपराध मुक्त होता जा रहा है. परिणामस्वरूप उत्तर प्रदेश में फरवरी में होने वाले निवेशक सम्मेलन के दौरान जबरदस्त निवेश होने जा रहा है. कंपनियों ने सीएम योगी के राज पर अपना भरोसा जताया है. अधिकारियों के मुताबिक़ राज्य में अब तक 2500000000000 रुपये यानी करीब ढाई लाख करोड़ रुपये से अधिक के निवेश के प्रस्ताव आ चुके हैं.

So the state is becoming crime free. As a result, there will be tremendous investment in the investor conference in Uttar Pradesh in February. Companies have expressed their trust in the rule of CM Yogi. According to officials, there has been proposals for investment of more than 2.5 billion rupees, or more than 2.5 billion rupees, in the state so far.

मोदी से भी तेज योगी आदित्यनाथ
इसे लेकर योगी सरकार ने पिछले दिनों कई जगहों पर रोड शो आयोजित कर राज्य में निवेश की संभावनाएं तलाशी थीं. यूपी औद्योगिक विकास विभाग के अधिकारियों के मुताबिक़ फरवरी में निवेशक सम्मेलन के आयोजन और इससे पहले प्रमुख राज्यों में रोड शो का प्रयोग काफी सफल रहा है. सरकार को अब तक करीब 2.53 लाख करोड़ रुपये के निवेश प्रस्ताव मिले हैं.

Even faster than Modi, Yogi Adityanath
About this, the Yogi Sarkar had conducted roadships in many places in the past and searched the possibilities of investing in the state. According to officials of the UP Industrial Development Department, the use of road shows in major states was successful in organizing an investor conference in February and earlier in the state. So far, the government has received investment proposals of about Rs 2.53 lakh crore.

इसमें दिल्ली, मुंबई, हैदराबाद व बंगलुरु जैसे बड़े शहरों के रोड शो में शामिल उद्योगपतियों ने प्रदेश में आगे बढ़कर निवेश के लिए हाथ बढ़ाया है. सरकार को उम्मीद है कि जनवरी में प्रस्तावित कोलकाता और अहमदाबाद रोड शो से भी इसी तरह के उत्साहवर्धक निवेश के प्रस्ताव मिलेंगे.

In this, industrialists involved in the road show in big cities like Delhi, Mumbai, Hyderabad and Bangalore have extended their hands on investment in the state. The Government expects that the proposed Kolkata and Ahmedabad road shows in January will offer similar encouraging investment proposals.

अधिकारी ने जानकारी दी कि दिल्ली में आयोजित रोड-शो में 27,000 करोड़, बंगलौर के रोड-शो में 6,000 करोड़, हैदराबाद के रोड-शो में 11,500 करोड़ और मुंबई रोड-शो में 1.25 लाख करोड़ रुपये के निवेश के प्रस्ताव विभिन्न औद्योगिक घरानों व उद्यमियों ने दिए हैं.

The official informed that in the road-show organized in Delhi, Rs 27,000 crore, 6,000 crore in road-show in Bangalore, Rs 11,500 crore in road-show in Hyderabad and Rs 1.25 lakh crore investment in Mumbai roadshow to various industrial houses. Entrepreneurs have given.

इसके बाद अब पांच जनवरी को कोलकाता तथा अहमदाबाद में रोड-शो का आयोजन होगा. इसमें भी अच्छे परिणाम मिलने की संभावना है. फरवरी में होने वाली निवेशक सम्मेलन में देश-विदेश से बड़ी संख्या में उद्योगपतियों के शामिल होंगे.

गुजरात, मुम्बई को पीछे छोड़ देगा यूपी
बता दें कि बंगाल, बिहार और यूपी इन तीन राज्यों से अब तक बड़े निवेशक कन्नी काटते आये हैं क्योंकि यहाँ गुंडा राज, माफिया, वसूली करने वाले गैंग के साथ-साथ नेताओं तक को चन्दा पहुँचाना पड़ता था. मगर प्रदेश ने एक योगी को अपना मुख्यमंत्री बनाकर अपना भाग्योदय कर लिया.

UP will leave behind Gujarat, Mumbai
Let us know that Bengal, Bihar and UP have been cutting big investors from these three states till now, because there was a need for bringing Gunda Raj, mafia, collector gang along with the leaders to the losers. But the state has made a Yogi as its Chief Minister and made its fortune.

प्रदेश अपराध मुक्त तो हो ही रहा है, यूपीकोका के कारण भू-माफिया, खनन माफिया में लगे बदमाशों को जमानत तक नहीं मिलेगी. कंपनियों ने यूपी के अच्छे माहौल को देख यहाँ का रुख कर लिया है. दावा किया जा रहा है कि विकास के मामले में आने वाले दस वर्षों में यूपी गुजरात को भी पीछे छोड़ देगा.

The state is being criminally free, the miscreants engaged in the land mafia and mining mafia due to UPCOCA will not get bail. Companies have moved here to see the good atmosphere of UP. It is being claimed that UP will leave Gujarat behind in the next ten years in terms of development.

यह भी देखें:

https://youtu.be/aGHeWHD0uXg

https://youtu.be/xlRRjGN7n7U

source zee news

बड़ी खबर: नए साल पर PM मोदी ने दिखाई 56 इंच की ताकत, सेना आयी जबरदस्त एक्शन में, अवैध बांग्लादेशियों में भगदड़

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी ने वादा किया था कि वो देश से सभी अवैध घुसपैठियों को बाहर करेंगे. बड़ी खबर असम से आ रही है, जहाँ इसकी प्रक्रिया शुरू हो गयी है. हालांकि मुस्लिम कट्टरपंथी विरोध में खड़े हुए हैं और इसे सरकार की उनके खिलाफ साजिश बता रहे हैं. मगर सरकार ने सुरक्षाबल के 60 हजार से ज्यादा जवानों को ऐसे कट्टरपंथियों के साथ सख्ती से निपटने के लिए तैनात किया हुआ है.

New Delhi: Prime Minister Narendra Modi and BJP promised that they will expel all illegal intruders from the country. The big news is coming from Assam, where its process has started. Although the Muslim fundamentalists have stood in opposition and it is telling the government a conspiracy against them. But the government has deployed more than 60,000 jawans of the security force to deal with such hardliners strictly.

पहले ड्राफ्ट में 1.9 करोड़ के नाम
सरकार ने इरादे साफ़ कर दिए हैं कि अवैध घुसपैठियों को निकालने के लिए वो प्रतिबद्ध हैं, किसी कट्टरपंथी के दबाव में वो नहीं आने वाले. दरअसल भारत के रजिस्ट्रार जनरल (आरजीआई) ने रविवार आधी रात नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजंस का पहला ड्राफ्ट जारी कर दिया है.

1.9 crore names in first draft
The government has cleared the intentions that they are committed to the removal of illegal intruders; they will not come under the pressure of any fundamentalist. Indeed, the Registrar General of India (RGI) has issued the first draft of the National Register of Citizens on Sunday midnight.

3.29 करोड़ आवेदनकर्ताओं में से इसमें केवल 1.90 करोड़ लोगों के ही नाम हैं. नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजंस की मदद से असम में अवैध रूप से रह रहे बांग्लादेशियों और अन्य लोगों की पहचान कर उन्हें देश से बाहर निकाला जाएगा. ड्राफ्ट को कई सरकारी वेबसाइट पर भी जारी किया गया. इसके अलावा इसे प्रकाशित किया जाएगा और एसएमएस से भी लोगों को जानकारी दी जाएगी.

Of the 3.29 crore applicants, it has only names of 1.90 crore people. With the help of the National Register of Citizens, people and other people living illegally in Assam will be identified and expelled from the country. The draft was also released on several government websites. Apart from this, it will be published and SMS will also be given to the people.

हजारों जवान तैनात, सेना अलर्ट पर
सरकार को आशंका थी कि इसके जारी होने से जिन मुस्लिमों का नाम इसमें नहीं है, वो दंगा-फसाद कर सकते हैं. इसी के चलते इसके जारी होने से पहले ही असम में सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई थी. राज्य सरकार ने 60 हजार पुलिसकर्मियों और अर्धसैनिक बलों को संवेदनशील क्षेत्रों में तैनात किया है. सेना को भी अलर्ट पर रखा गया है. जरूरत पड़ने पर दंगाईयों को रोकने के लिए सेना को तैनात किया जा सकता है. साथ ही अफवाहों को फैलने से रोकने के लिए सोशल मीडिया पर कड़ी नजर रखी जा रही है.

Thousands of troops posted, army alert
The government feared that the Muslims whose names are not in it, can be rioting after its release. Due to this, security arrangements were increased in Assam even before its release. The state government has deployed 60 thousand policemen and paramilitary forces in sensitive areas. Army is also kept on alert. If needed, the army can be deployed to prevent rioting. At the same time, social media is being monitored to prevent rumors from spreading.

दरअसल पिछली सरकारों ने वोटबैंक के लिए सुनियोजित तरीके से अवैध बांग्लादेशी घुसपैठियों को देश के अलग-अलग हिस्सों में बसाया था. बंगाल में ममता ने तो घुसपैठियों के आधार कार्ड तक बनवा दिए हैं. इन घुसपैठियों के कारण कई इलाकों की राजनीति ही पूरी तरह से बदल गयी थी. इसके अलावा ये घुसपैठिये आतंकी गतिविधियों में भी लिप्त पाए जाते हैं. ऐसे में इन्हे देश से निकालना अनिवार्य हो चुका है.

In fact, the previous governments had settled illegal Bangladeshi intruders in different parts of the country in a planned manner for votebank. In Bengal, Mamta has made up the base card of the intruders. Due to these intruders, politics of many areas was completely changed. Apart from this, these intruders are also involved in terrorist activities. In this case, it has become mandatory to remove them from the country.

यही वजह है कि बीजेपी ने इसपर तेजी से काम करते हुए इन्हे निकालने की प्रक्रिया शुरू कर दी है. सुरक्षाबलों व् सेना की सहायता लेकर सभी को वापस बांग्लादेश भेजा जाएगा. हालांकि बांग्लादेशी हिन्दुओं को भारत में शरण दी जायेगी क्योंकि बांग्लादेश के कट्टरपंथियों ने उनका जीना मुहाल किया हुआ है.

This is the reason why BJP has started working on it and it has started the process of removal. With the help of the security forces and the army, all will be sent back to Bangladesh. Although Bangladeshi Hindus will be given asylum in India because the fundamentalists of Bangladesh have done their live mohal.

यह भी देखें:

https://youtu.be/aGHeWHD0uXg

https://youtu.be/xlRRjGN7n7U

source dd bharti

नए साल पर बेंगलुरु से आयी ऐसी दिल दहलाने वाली खबर, कोंग्रेसियों के खिलाफ गुस्से से उबल पड़े लोग..

नई दिल्ली : नए साल के जश्न में एक बार फिर बेंगलुरु से बेहद शर्मनाक खबर सामने आयी है. ब्रिगेड रोड़ पर कई महिलाओं के साथ सरेआम छेड़छाड़ की वारदात सामने आयी है. ये कोई मामूली छेड़छाड़ नहीं बल्कि पिछले साल की ही तरह यौन अपराध करने की कोशिश भी की गयी. एक महिला के पति ने बताया कि भीड़ ने उसके कपड़े उतारने की भी कोशिश की.

New Delhi: Very shameful news has emerged again from Bengaluru in the celebration of the New Year. On the brigade road, many women have faced the crime of molestation. This is not a minor tampering, but as per the previous year, there was also an attempt to commit a sexual offense. A woman’s husband told that the mob tried to strip her clothes too.

कट्टरपंथियों ने की लड़कियों की पैंट उतारने की कोशिश
महिला के पति के मुताबिक़ 2018 के स्वागत के लिए ब्रिगेड रोड़ पर भारी भीड़ उमड़ी थी. लोग 12 बजने का इंतजार कर रहे थे. तभी काउंटडाउन शुरु हुआ और भीड़ बेकाबू होने लगी. तभी कुछ युवकों की टोली ने उन्हें घेर लिया और वहां मौजूद लड़कियों पर लड़के जबरदस्ती गिरने लगे.

Fundamentalists try to unload the girls’ pants
According to the woman’s husband, there was a huge crowd on the brigade road for the reception of 2018. People were waiting for the 12th. Then the countdown started and the crowd started becoming uncontrollable. Only then a group of some youths surrounded him and the boys present there began to fall forcibly.

हद तो तब हो गई जब उन्होंने एक लड़की की पैंट उतारने के लिए खींचतान शुरु की और उसके कपड़ों के अंदर हाथ डालने लगे. मजे की बात तो ये है कि कांग्रेस सरकार की पुलिस घटनास्थल से कुछ ही दूर मूक दर्शकों की तरह खड़ी थी. पीड़िता के पति ने आगे बताया कि पुलिस ने आरोपियों को पकड़ने की जगह उन्हें ही वहां से जाने को कहा.

The extent has come when he started pulling out a girl’s pants and started putting his hands inside his clothes. What is interesting is that the Congress government’s police station was just like a silent spectator from the scene. The victim’s husband further said that instead of catching the accused, the police asked them to go there only.

बता दें कि पिछले साल भी एक मुस्लिम बाहुल्य इलाके में बड़े पैमाने पर महिलाओं से छेड़छाड़ और बलात्कार की कोशिश की गयी थी. तब वहां के स्थानीय लोगों ने बताया था कि मुस्लिम कट्टरपंथियों ने वहां पर एक अरबी खेल खेला था जिसे “तहर्रुश गेमिया” कहा जाता है.

Explain that in the last year too, a Muslim majority area had tried to tamper with women and rape on a large scale. Then the local people there had told that the Muslim fanatics played an Arabic game over there, which is called “Tahrush Gimiya”

क्या है ‘तहर्रुश गेमिया’?
“तहर्रुश गेमिया” असल में एक अरबी शब्द है जिसका मतलब होता है “संयुक्त रुप से छेड़छाड़”. इस खेल में युवा खुलेआम एक सार्वजनिक जगह पर अकेली लड़की को देखकर उसे अपना निशाना बनाते हैं. उसके बाद युवाओं का झुंड उस लड़की को घेर लेता है और फिर ये लड़के या तो उस लड़की के साथ शारीरिक रुप से छेड़छाड़ करते हैं या फिर उसका बलात्कार कर देते हैं.

What is ‘Tahrush Gianya’?
“Tahrush Gimiya” is actually an Arabic word meaning “jointly tampered” In this game, the youth openly target them by looking at a girl in a public place. After that the flock of the youth surrounds the girl and then these boys either tamper with the girl physically or rape her.

कैसे खेला जाता है ‘तहर्रुश गेमिया’?
गैंग रेप के इस खेल के बाकायदा नियम भी होते हैं, सबसे पहले कुछ लड़के एक घेरा बनाकर अकेली लड़की को चारों तरफ से घेर लेते हैं, लड़की उनके घेरे में फास जाती है. उसके बाद कुछ अन्य लड़के जो घेरे के बाहर होते हैं वो भीड़ को दूर रखने का काम करते हैं, जब अंदर वाले घेरे में मौजूद लड़के उस अकेली लड़की का यौन शोषण या बलात्कार कर रहे होते हैं. इस घिनौने खेल में लड़की की आवाज रोकने के लिए उसका मुह भी नहीं बंद किया जाता बल्कि उसे चीखने दिया जाता है, चीख-पुकार की आवाजों को आनंद पूर्वक सुनना भी खेल का हिस्सा होता है.

How is ‘Tahrush Giaia’ played?
There are rules for this game of gang rape, first of all, some boys surround the lonely girl by making a circle and the girl gets stuck in their circle. After that, some other boys who are out of the circle work to keep the crowd away, when the boys present in the inner circle are being sexually exploited or raped by that girl alone. To stop the voice of the girl in this abominable game, her mouth is not stopped, but she is allowed to scream, listening to whining and crying sounds is also a part of the game.

यह भी देखें:

https://youtu.be/aGHeWHD0uXg

https://youtu.be/xlRRjGN7n7U

बड़ी खबर: मुसीबत आई तो लंदन, जापान भाग गए बॉबी कटारिया के नकली दोस्त, देखें वीडियो

नई दिल्ली/ गुरुग्राम: पिछले रविवार की शाम को युवा एकता मंच के चीफ बॉबी कटारिया का एक वीडियो वाइरल हुआ था जिसमे वो कह रहे थे कि मेरे करोड़ों साथी हैं और वो गुरुग्राम पुलिस के एसएचओ संदीप और घनश्याम को गब्बर सिंह की स्टाइल में लपेट रहे थे जिसके कुछ घंटे बाद ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया फिर अगले दिन चार दिन की रिमांड पर लिया गया और उसके बाद दो दिन की रिमांड पर और आने वाले दिनों में उन पर रिमांड का खतरा मडरा रहा है क्यू कि फरीदाबाद के अलांवा एक और मामले में अभी उन्हें रिमांड पर लिया जा सकता है।

New Delhi / Gurujram: On the eve of last Sunday, a video of Bobby Kataria, the Chief of the youth Ekta Mancha, had become viral in which he was saying that I have hundreds of millions of friends and that he is Sandeep and Ghanshyam, the Gurujram police’s staff, wrapped in Gabbar Singh’s style. He was arrested a few hours later and was taken on a four-day remand the next day and then on two days remand and on the next day he Risk of starch Alanwa being Q Faridabad Mdera another can be taken now remand them in the case.

कटारिया के एक समर्थक ने जो वीडियो सोशल मीडिया पर पोस्ट किया है उसमे वो रो-रोकर फ़रियाद कर रहा है कि बॉबी को बचा लो उसकी हालत बहुत बुरी हो गई है। कई दिन से एक ही कपडे में है, खाना वगैरा भी नहीं मिला और उसके हाँथ पैर अब सलामत नहीं रहे।

The video posted on a social media by a supporter of Kataria, he is crying and crying that save Bobby’s condition has become very bad. For many days, in the same clothes, food was not available and his foot was no longer safe.

उस युवक की एक और वीडियो सामने आई है जो खबर के बाद आप देख सकेंगे लेकिन आज बॉबी के कुछ बहुत ही खास लोगों ने बताया कि कुछ करोड़पति अरबपति लोग बॉबी के पैर छूने आते थे लेकिन अब उनके पास फोन किये जाते हैं तो वो कहते हैं लन्दन आ गया हूँ,

Another video has emerged from that young man who will be able to see you after the news but today some very special people of Bobby told that some millionaire billionaire people used to come to touch Bobby’s feet but now he is called to call them I’ve come to London,

कोई कहता है काम से जापान आना पड़ गया है। बॉबी तो पुलिस रिमांड पर है लेकिन अब उसे पता लग गया होगा कि सुख में सब साथी, दुःख में न कोय, नए वीडियो में कल गुरुग्राम कोर्ट में पहुँचने की अपील की जा रही है। देखते हैं कितने लोग पहुँचते हैं। वैसे ख़ास सूत्रों की मानें तो कल भी बहुत कम लोग ही कोर्ट पहुंचेंगे क्यू कि युवक ने जो वीडियो इसके पहले पोस्ट किया था उसमे वो खुद डर रहा था और लोगों को डरा रहा था कि हरियाणा पुलिस ऐसी है, वैसी है और यहाँ तक युवक ने कहा कि अब मेरा भी कोई भरोषा नहीं।

Someone says that work has come to Japan. Bobby is on the police remand but now he may have come to know that everyone in happiness is not invited to the court in Gurujram Court tomorrow, in the new video. See how many people arrive. In the same way, very few people will reach the court tomorrow even if very few people have posted the video before that, he himself was scared and was scared of the people that Haryana Police is such, and so far the youth Said that I no longer have any confidence.

देखें अब का वीडियो

https://youtu.be/fAQ1zlRFSRI

यह भी देखें:

https://youtu.be/aGHeWHD0uXg

https://youtu.be/xlRRjGN7n7U

सोनिया के गोवा में साइकिल चलाने पर बीजेपी ने साधा निशाना , संबित पात्रा ने कसा जबरदस्त तंज…

बीजेपी विपक्षी कांग्रेस पार्टी पर हमला करने का कोई मौका नहीं गंवाना चाहती है। केंद्र में सत्‍तारूढ़ दल ने सोनिया गांधी के गोवा में साइकिल पर घूमने को लेकर तंज कसा है। बीजेपी प्रवक्‍ता संबित पात्रा ने कहा कि कांग्रेस पहले संसदीय सत्र शुरू न होने से परेशान थी। जब सत्र शुरू हो चुका है तो गोवा में साइकिल चलाया जा रहा है। संसद का शीतकालीन सत्र परंपरागत समय से देरी से शुरू हुआ था। इसको लेकर कांग्रेस के अलावा अन्‍य विपक्षी दल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर लगातार सवाल उठा रहे थे। सरकार पर सवालों से बचने के आरोप भी लगाए गए थे।

The BJP wants to not waste any opportunity to attack the opposition Congress party. The ruling party at the center is tensed about Sonia Gandhi’s roaming on a bicycle in Goa. The BJP spokesman said that the Congress was upset about not having started the first parliamentary session. When the session has started, a bicycle is being run in Goa. The winter session of the Parliament started from late time. Apart from the Congress, other opposition parties were constantly questioning Prime Minister Narendra Modi about this. There were allegations of government escaping questions.

बीजेपी प्रवक्‍ता संबित पात्रा ने संसदीय सत्र के दौरान सोनिया गांधी के गोवा घूमने पर सवाल उठाया है। उन्‍होंने ट्वीट किया, ‘गुजरात चुनाव से पहले सारी कांग्रेस- संसद कब चलेगी…पार्लियामेंट क्‍यों नहीं चल रहा है…हमें बहुत काम करना है! अब जब पार्लियामेंट चल रहा है तब- अब हम साइकिल चलाएंगे गोवा में…।’ दरअसल, विधानसभा चुनावों और राहुल के कांग्रेस अध्‍यक्ष बनने के बाद सोनिया गांधी गोवा चली गई थीं। गोवा में सोनिया गांधी की साइकिल चलाते हुए एक तस्‍वीर सामने आई थी। बाद में राहुल गांधी भी मां का साथ देने के लिए गोवा पहुंच गए। बीजेपी नेता ने इस बात को लेकर कांग्रेस पर निशाना साधा है। हालांकि, कांग्रेस के एक वरिष्‍ठ नेता ने इसे निजी बताया है। इनके मुताबिक, इसमें पार्टी नेताओं या कार्यकर्ताओं को शामिल होने की अनुमति नहीं दी गई थी।

The BJP spokesperson has questioned Sonia Gandhi’s move to Goa during the parliamentary session. He tweeted, “Before the Gujarat elections, all the Congress-Parliament will run … why Parliament is not running … we have to do a lot of work! Now that the Parliament is going on, we will now be cycling in Goa …. ‘Actually, Sonia Gandhi had gone to Goa after assembly elections and Rahul’s Congress president. There was a picture of Sonia Gandhi riding a bike in Goa. Later, Rahul Gandhi also reached Goa to accompany his mother. The BJP leader has targeted the Congress over this matter. However, a senior Congress leader has described it as private. According to these, party leaders or workers were not allowed to join.

संबित पात्रा के ट्वीट करने के बाद लोगों ने भी प्रतिक्रिया जताई है। अनुभव सिन्‍हा ने लिखा, ‘एक बार नहीं 100 बार यह साबित हो चुका है कि गांधी-नेहरू परिवार ने मिलकर हमारे देश को सिर्फ लूटा है। बदकिस्‍मती यह है कि कांग्रेसी इस बात से भली-भांति परिचित होने के बावजूद वे सिर्फ अपनी जेब भरने के लिए चाटुकारिता से बाज नहीं आते हैं।’ एक अन्‍य व्‍यक्ति ने ट्वीट किया, ‘गुजरात चुनाव के दौरान कांग्रेस ‘संसद कब चलेगी, क्‍यों नहीं चल रही है’ का नाटक कर रही थी। अब जब संसद चल रही है तो वे गोवा में छुट्टियां मना रहे हैं।’

People have responded after tweeting the related letter. Experience Sinha wrote, “Not once has it proved to be 100 times that the Gandhi-Nehru family has just plundered our country. Unfortunately, despite the fact that the Congressmen are well-acquainted with this, they do not only tune up with their sycophancy to fill their pockets. “Another person tweeted, ‘When the Congress’ during the Gujarat elections, when will Parliament, why not Is going on ‘. Now that Parliament is running, they are celebrating Holidays in Goa. ‘

यह भी देखें:

https://youtu.be/aGHeWHD0uXg

https://youtu.be/xlRRjGN7n7U

source jasatta.com