केदारनाथ मंदिर की ऐसी भव्य तस्वीरें आपने पहले कभी नहीं देखी होंगी!आप सच में यकीं नहीं कर पाओगे,ये सच है या हकीकत

2013 में आई भयावह बाढ़ ने केदारनाथ मंदिर के आसपास जो तबाही मचाई थी उसे देखकर पूरी दुनिया हिल गयी थी. हजारों लोगों ने अपनी जान गवां दी थी. सरकार के सामने सबसे बड़ी चुनौती थी कि कैसे फिर केदारनाथ मंदिर को भक्तों के लिए खोला जाए.

Seeing the horrific floods that had happened in 2013 around the Kedarnath temple, the whole world was shaken. Thousands of people lost their lives The biggest challenge before the government was how to open the Kedarnath temple for the devotees.

देश में मोदी सरकार आने के बाद पीएम मोदी ने केदारनाथ मंदिर को दोबारा सुरक्षित तरीके से खोले जाने को लेकर देश को भरोसा दिलाया था. आपको जानकर हैरानी होगी कि केदारनाथ का भव्य मंदिर बनकर और सजकर तैयार हो चुका है. पुननिर्मित हुए मंदिर को देखकर आप भी उत्साहित हो उठेंगे!

After the Modi government came to power in the country, PM Modi assured the country about the opening of the Kedarnath temple safely again. You will be surprised to know that a beautiful temple of Kedarnath is ready and decorated. You will also be excited to see the rebuilt temple!

दरअसल 29 अप्रैल को मदिर के कपाट खुलने वाले हैं. खबर के अनुसार प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी केदारनाथ जाने वाले थे लेकिन बाबा के भक्तों को समस्या से बचाने के लिए उन्होंने अपनी यात्रा को टाल दिया है. आपको यहाँ यह बताना जरुरी हैं कि पीएम मोदी लगातार मंदिर के निर्माण कार्य का जायजा ले रहे थे.

In fact, the wreaths of the temple are open on April 29. According to the news, Prime Minister Narendra Modi was about to go to Kedarnath but he avoided his journey to save the devotees from Baba from the problem. You must tell here that PM Modi was constantly taking stock of the construction work of the temple.

कभी वीडियो के जरिये तो कभी अधिकारियों से बातचीत करके, इसके साथ ही आधिकारियों को काम को जल्द से जल्द ख़त्म करके मदिर को तैयार करने के निर्देश भी देते थे और अब बाबा केदारनाथ का मंदिर भक्तों के लिए सजकर तैयार हो चुका है.

Ever through the video, he used to interact with the officials, along with instructors to finish the work as soon as possible and make the temple ready and now the temple of Baba Kedarnath has been prepared for the devotees.

मंदिर की खूबसूरती तो देखते ही बन रही है. कपाट खुलने से पहले सामने आये वीडियो और फोटो को देखकर यकीन कर पाना मुश्किल हो रहा है कि ये वही बाबा केदारनाथ का मंदिर हैं जहाँ कभी बाढ़ की वजह से लाशें बिछ गयी थी. फोटो में आप मंदिर की दीवार पर भोले बाबा की तस्वीर देख सकते हैं जिसे लाइट के जरिये बनाया गया है.

The beauty of the temple is being made only by looking at it. It is difficult to believe that seeing the video and photo seen before the opening of the blanket, it is difficult to believe that this is the temple of Baba Kedarnath where the bodies were buried due to the flood. In the photo you can see the pictures of naive na Baba on the temple wall, which has been made through light.

मंदिर को और आकर्षक बनाने के लिए मंदिर की दीवारों पर लेजर लाइट का उपयोग किया जा रहा है. जो मंदिर को अनोखा बना रहा हैं. भक्तों की सुविधाओं का ध्यान में रखते हुए बाबा केदारनाथ धाम के दर्शन के लिए कुछ नियमों में बदलाव भी किये हैं जिससे भक्तों को परेशानियों का सामना ना करना पड़े.

Laser lights are being used on the walls of the temple to make the temple more attractive. Which are making the temple unique. Keeping in view the facilities of the devotees, Baba has made some changes in the rules for the observance of Kedarnath Dham, so that devotees do not face difficulties.

दरअसल भक्तों को हमेशा से शिकायत रहती थी कि जो बाबा के धाम ज्यादा पैसों की रसीद कटाता था. वो बाबा के जल्दी दर्शन करने में सफल हो जाता था. इसके साथ ही VIP लोगों के लिए अलग से लाइन होती है. खबर के अनुसार अब इस प्रथा को ख़त्म कर दिया गया है.

In fact, devotees always complained that those who used to dedicate much of the money to Baba’s dham He used to succeed Baba’s early sight. Along with this there is a separate line for VIP people. According to the news, this practice has now been abolished.

अब सभी को एक लाइन में ही लगकर ही बाबा के दर्शन करने होंगे. VIP कल्चर ख़त्म होने से बाबा के भक्तों में ख़ुशी जरुर होगी. इसके साथ ही बाबा के मंदिर के भव्य मंदिर को दोबारा सजा हुआ देखकर भक्तों में बाबा के दर्शन करने के नया उत्साह जगेगा!

Now everyone will have to see Baba in a line. Due to the end of VIP culture, it will be necessary for Baba’s devotees to be happy. Along with this, seeing the beautiful temple of Baba’s temple re-punished, the new enthusiasm of Baba will be seen in devotees.

मंदिर के भव्य इमारत के दोबारा बनकर तैयार होने में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का बड़ा हाथ हैं. पीएम मोदी खुद लगातार केदारनाथ के निर्माण कार्यों पर नजर बनाये हुए थे और समय-समय पर मदिर के निर्माण कार्यों का जायजा भी ले रहे थे. आपको बता दें कि नेहरू पर्वतारोहण संस्थान के प्रमुख कर्नल अजय कोठियाल और उनकी टीम बाबा के केदारनाथ के पुननिर्माण को अंतिम रूप दे रही है.

Prime Minister Narendra Modi is a big hand in the formation of the grand building of the temple again. PM Modi himself kept an eye on the construction work of Kedarnath and was also taking review of the construction work of the temple from time to time. Let us know that Colonel Ajay Kothiyal, Chief of Nehru Mountaineering Institute and his team is finalizing the reconstruction of Baba’s Kedarnath.

दिवाली के मौके पर बाबा केदारनाथ पहुंचे पीएम मोदी ने मंदिर के लिए करोड़ों रुपये की 5 पुनर्निर्माण परियोजनाओं का शिलन्यास किया था. इस परियोजना के तहत बाढ़ से मंदिर को सुरक्षित करने करने की भी योजना शामिल है.

On the occasion of Diwali, Baba reached Baba Kedarnath and laid the foundation for the reconstruction projects worth crores of rupees for the temple. Under this project, there is also a plan to secure the temple from the flood.

यह भी देखे

https://youtu.be/WE3MmmBzG4k

https://youtu.be/o9LQnPMci4I

source political report

कटुआ कांड का एक और बड़ा खुलासा,बिकाऊ मिडिया को बार कौंसिल ने मारा ऐसा जोरदार तमाचा जिसे देख वामपंथी पत्रकार हैरान

देश की मुख्यधारा की मीडिया बिक चुकी है यह हम सब जानते हैं। लोकतंत्र का चौथा अंग आज सबसे ज़्यादा भ्रष्ट हो चुका है। विदेशियों द्वारा चलाए जाने वाली लगभग सभी भांड मीडिया हिन्दुओं के विरुद्द आग उगलता है। कथुआ बलात्कार मामले में छाती कूट रॊनेवाली मीडिया गाज़ियाबाद में मौल्वी द्वारा मदरसे में एक दस साल की मासूम हिन्दू बच्ची के साथ हुए बलात्कार में गांधी जी की तीन बंदर बन कर बैठ गयी। कथुआ में मन गढंत कहानी बनाकर दुनिया के सामने देश और हिन्दू धर्म को बदनाम करने वाली बेशर्म मीडिया को बार काउंसिल ऒफ़ इंडिया ने थप्पड जड़ दिया है।

We all know that mainstream media of the country has been sold. The fourth part of democracy has become the most corrupt today. Almost all the frenzy media run by foreigners sparks fire against Hindus. In the rape case of Kathua, the cheating journalist, Ghaziabad, in Ghaziabad, the three monkeys of Gandhiji got upset in the rape of a ten-year-old Hindu girl in Madarsa by Madani. Bar Council of India has slammed the shameless media that has defamed the country and Hindu religion in front of the world by creating a mind-thrilling story in Kathua.

बीसीआई ने जम्मू और कथुआ वकीलों को क्लीन चिट देते हुए इस निष्कर्ष पर पहुंचा, कि मीडिया ने इस घटना को गलत तरीके से रिपोर्ट किया था। बिकाऊ मीडिया और कर भी क्या सकती है। पैसों के लिए अपना देश और धर्म बेचनेवाले ऐसे घाग पत्रकारों से उम्मीद भी क्या किया जा सकता है। ऐसे पत्रकार न केवल पत्रकारिता पर धब्बा है बल्की देश पर कलंक है। उच्च न्यायालय के न्यायाधीश की अध्यक्षता में भारतीय परिषद की बार काउंसिल ऑफ इंडिया (बीसीआई) की एक समिति ने पूरी तरह से जांच पड़ताल कर, निष्कर्श निकाला है कि मीडिया ने कथुआ मामले के पूरे प्रकरण में गलत रिपोर्ट किया है और जम्मू बार एसोसिएशन और कथुआ बार एसोसिएशन के आचरण में कॊई दोष नहीं पाया है। काऊंसिल ने कहा है कि दीपिका राजवत को धमकी दी जाने वाली दावे का समर्थन करने के लिए कोई भौतिक सबूत नहीं है।

BCI reached Jammu and Kathua lawyers giving a clean chit to the conclusion that the media had reported this incident wrongly. What can be the best media and tax. What can be expected from the money launderers who sell their country and religion for money? Such journalist is not only a stigma on journalism but it is a stigma on the country. Under the chairmanship of the High Court Judge, a committee of the Bar Council of India (BCI) of the Council of India has thoroughly investigated and concluded that the media has mis-reported in the whole episode of Kathua matter and the Jammu Bar Association and Kathua There was no defect in the conduct of Bar Association. Council has said that there is no physical evidence to support the claim threatened by Deepika Rajput.

भारत के सर्वोच्च न्यायालय के निर्देश के अनुसार इस मामले के जड़ तक पहुंचने के लिए बीसीआई के समिति का घटन किया गया था। बीसीआई ने तह तक जाकर जांच किया है और उसे इस बलात्कार मामले में जम्मू और कथुआ बार एसोसिएशन की भूमिका में कॊई संदेह नहीं है। समिती ने बलात्कार मामले को लेकर बार एसोसिएशन की सीबीआई जांच के मांग को न्यायसंगत भी बताया है। समिति ने कथुआ मामले से जुडे हर व्यक्ती का बयान लिया है और उसने पाया की बार एसोसिएशन ने आरॊपियों का पक्ष कभी नहीं लिया था। समिति ने अपनी रिपोर्ट में कहा, “कथुआ बार एसोसिएशन के सदस्यों ने अंतिम रिपोर्ट दर्ज करने के उद्देश्य से उपयुक्त अदालत के पास आने में अपराध शाखा के किसी भी अधिकारी को कभी बाधा नहीं डाली।” उसने आगे कहा “कथुआ बार एसोसिएशन के किसी भी सदस्य ने अंतिम रिपोर्ट के किसी दस्तावेज को ना तो फाड़ा और ना ही छीना था।”

According to the instructions of the Supreme Court of India, the BCI Committee was formed to reach the root of this matter. The BCI has gone to the bottom and investigated it and there is no doubt in the role of the Jammu and Kathua Bar Association in this rape case. The committee has also told the Bar Association’s demand for a CBI inquiry on rape case as justified. The committee has taken statements of every person related to the Kathua case and found that the Association never took the side of the ropes. The committee said in its report, “The members of the Kathua Bar Association did not obstruct any officer of the crime branch in coming to the appropriate court for the purpose of lodging the final report.” He further said, “Any of Kathua Bar Association The member did not tear nor tear any document of the final report. ”

समिति ने पीडिता के परिवार और गुज्जर और भकरवाल समुदाय के लोगों से भी पूछताछ की है। इस पूरे मामले में बिकाऊ मीडिया की भूमिका ही संदेहास्पद है ना कि बार एसोसिएशन की। अवैध रॊहिंग्याओं के मामले को दबाने के लिए पूरी कहानी को एक नया रंग चड़ा कर हिन्दुओं के पवित्र देवस्थान कॊ बदनाम कर मीडिया ने बहुत बडा पाप किया है। लोग चाहे इस भांड बिकाऊ बेगैरत मीडिया को एक पल के लिए माफ़ भी कर दे लेकिन भगवान इन्हें माफ़ नहीं करेगा। हिन्दुओं को बदनाम करने वाली ऐसी मीडिया और इनके राजनीतिक आकाओं का बहिष्कार कीजिए और ये जीवन भर याद रखे ऐसा सबक सिखाइये।

The committee has also questioned the families of the victims and the people of Gujjar and Bhakarwal community. In this case, the role of the emerging media is doubtful, not the Bar Association’s. By suppressing the whole story of a new color to suppress the issue of illegitimate Rohingya, the media has done a great sin by defaming the holy place of Hindus. Even if people apologize for this momentarily unrealistic media, but God will not forgive them. Excommunicate Hindus, such media and their political masters, and teach such a lesson to remember these days throughout life.

यह भी देखे

https://youtu.be/WE3MmmBzG4k

https://youtu.be/o9LQnPMci4I

source political report

भारतीय जवानो का ऐसा माथा ठनका ,कर दिया ये जबरदस्त कांड ,की सुरक्षाबलों के इस ठोस कदम से सन्न रह गया चीन

नई दिल्ली : पीएम मोदी चीन यात्रा पर हैं और भारत-चीन के बीच रिश्तों का नया इतिहास लिखा जा रहा है. पीएम मोदी की कूटनीति की धाक चीन पर कुछ इस कदर जम गयी है कि कुछ वक़्त पहले तक हमले की धमकियां देने वाला चीन आज पीएम मोदी के स्वागत-सत्कार में कोई कमी नहीं छोड़ रहा है. मोदी-जिनपिंग की यात्रा के दौरान भारत में सुरक्षाबलों ने ऐसा जबरदस्त एक्शन लिया है, जिसने चीनी सेना को हक्का-बक्का छोड़ दिया है.

New Delhi: PM Modi is on China tour and a new history of relations between India and China is being written. PM Modi’s diplomacy is so stark on China that some time ago, China, which gives threats of assault, is not leaving any shortage in PM Modi’s reception. During the visit of Modi-Jinping, the security forces in India have taken such a tremendous action, which has left the Chinese army at bay.

चीन समर्थित माओवादियों की बिछा दी लाशें
दरअसल मुँह में राम और बगल में छुरी रखने वाला चीन हमेशा से भारत में नक्सलियों और माओवादियों को अपना समर्थन देता आया है. अरुणाचल में तो चीनी गुप्तचरों के सहयोग से उग्रवादी प्रशिक्षण कैंप चलाए जाने की ख़बरें भी सामने आती रही हैं. भारत को अंदर ही अंदर कमजोर करने के लिए पाकिस्तान आतंकवाद का और चीन नक्सलवाद का सहारा लेता आया है.

China-backed Maoists lay dead bodies
Indeed, the chimpanzee of Ram and the side in the mouth, China has always been able to support Naxalites and Maoists in India. In Arunachal, the news of the militant training camps being run in collaboration with Chinese detectives has also been revealed. In order to weaken India inside, Pakistan has come to take the support of terrorism and China’s Naxalism.

कोलकाता के पत्रकार बप्‍पादित्‍या पॉल ने तो नक्‍सलवादी आंदोलन के जनक कानू सान्‍याल की जीवनी भी लिखी है, जिसमे चीन द्वारा भारत में आतंक फैलाने की साजिश के बारे में विस्तार से बताया गया है. इस पुस्‍तक में 50 सालों तक भारत में लाल आतंक योजनाओं के बारे में और नक्‍सल के चीनी कनेक्‍शन के बारे में भी बताया है.

Kolkata’s journalist Bipoditya Paul has also written a biography of Kanu Sanyal, the father of the Naxalite movement, in which the conspiracy of China to spread terror in India has been explained in detail. In this book, it has been mentioned about the Red Terror Plans in India and Chinese connection of Naxal for 50 years.

खबर आ रही है कि बीजापुर और गढ़चिरौली के बाद अब सुरक्षाबलों ने छत्तीसगढ़ के सुकमा में नक्सलियों को निशाना बनाया है. ऑपरेशन जारी है और कई नक्सलियों की लाशें गिर चुकी हैं. नक्सलियों के कैंप से 10 बंदूकें और बड़ी संख्या में दूसरी सामग्री बरामद की गई है.

The news is that after Bijapur and Gadchiroli, the security forces have targeted the Maoists in Sukma in Chhattisgarh. Operation is on and many Naxalite corpses have fallen. 10 guns and large number of other material have been recovered from the Maoists camps.

चीनी समर्थित नक्सलवाद की हो रही तबाही
बता दें कि इसी हफ्ते छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले में एक सयुंक्त ऑपरेशन के तहत तेलंगाना के ग्रेहाउंड्स और छत्तीसगढ़ पुलिस के डीआरजी दस्ते ने आठ नक्सलियों को एक मुठभेड़ में मार गिराया. मरने वाले नक्सलियों में आधा दर्जन महिलायें और दो पुरुष नक्सली शामिल थे.

Chinese-backed devastation of Naxalism
It is to be mentioned that under this joint operation in Bijapur district of Chhattisgarh this week, the Greyhounds of Telangana and the DRG squad of Chhattisgarh Police killed eight Naxalites in an encounter. There were half a dozen women and two male Naxalites in the dead Maoists.

महाराष्ट्र के गढ़चिरौली में सुरक्षा बलों ने बीते 22 अप्रैल को 24 घंटे से ज्यादा चले ऑपरेशन में 37 नक्सलियों को मार गिराया. यह पहला ऐसा ऑपरेशन था जिसमें सुरक्षा बलों को इतने बड़े पैमाने पर कामयाबी मिली. गौरतलब है कि हाल ही में सरकार ने देश के 44 जिलों को नक्सलवाद प्रभावित इलाकों की सूची से हटा लिया था.

Security forces in Gadchiroli, Maharashtra, killed 37 Naxalites in operation more than 24 hours on April 22. This was the first such operation in which security forces had succeeded at such a large scale. Significantly, the government recently removed 44 districts of the country from the list of Naxalism-affected areas.

पीएम मोदी का चीन को कडा सन्देश
दरअसल भले ही चीन आज भारत के साथ मजबूत रिश्तों की नयी शुरुआत कर रहा हो, मगर ये बात भी सोलह आने सच है कि ऐसा वो केवल अपने निजी स्वार्थ के लिए कर रहा है. अमेरिका के साथ खटास के चलते और भारत के अमेरिका के साथ मजबूत रिश्तों ने चीन को परेशान किया हुआ है.

PM Modi’s message to China
Indeed, even though China is making fresh start of strong relationships with India, it is also true that it is coming to sixteen that it is only doing it for its personal selfishness. Due to sourness with the US and India’s strong relations with America, it has troubled China.

भारत एक आर्थिक महाशक्ति के रूप में उभर रहा है. चीन के भारत में चलाये जा रहे नक्सलवाद और माओवाद आंदोलन की कमर तोड़ दी गयी है. पीएम मोदी चीन में हैं और सुरक्षाबल लगातार माओवादियों को ठोक रहे हैं, जोकि स्पष्ट सन्देश है कि भारत अच्छे सम्बन्ध जरूर स्थापित करना चाहता है मगर मोदी देश के सुरक्षा के साथ समझौता किसी भी हाल में नहीं करेंगे.

ndia is emerging as an economic powerhouse. Naxalism and Maoist movement being run in India has been broken. PM Modi is in China and the security forces are constantly blocking the Maoists, which is a clear message that India wants to establish good relations, but Modi will not compromise with the security of the country in any case.

यह भी देखे

https://youtu.be/WE3MmmBzG4k

https://youtu.be/o9LQnPMci4I

source political report

चीन की धरती पर कदम रखते ही भारत के लिए बहुत बड़ी खुशखबरी,बीएसई ने आज रच दिया नया इतिहास, सारे रिकॉर्ड हुए धराशायी

नई दिल्ली : पीएम मोदी आज चीन के विदेशी दौरे पर हैं. चीन के वुहान शहर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भव्य स्वागत किया गया. यहाँ तक की खुद चीन के राष्ट्रपति शी जिंगपिंग ने प्रोटोकॉल तोड़कर पीएम मोदी कर गर्मजोशी से स्वागत किया.

New Delhi: PM Modi is on foreign tour of China today Prime Minister Narendra Modi received a grand reception in Wuhan city of China. Even China’s President Xi Jinping himself warmly welcomed the PM Modi by breaking the protocol.

पीएम मोदी ने कहा कि भारत के लोग वास्तव में बेहद गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं कि मैं पहला ऐसा भारतीय प्रधानमंत्री हूं, जिसकी अगवानी के लिए आप (शी जिनपिंग) दो बार राजधानी से बाहर आए.

PM Modi said that the people of India are truly proud that I am the first Indian Prime Minister, for whom you (Shi Jinping) come out twice from the capital

अभी मिल रही ताज़ा खबर के मुताबिक आज भारत के लिए बहुत बड़ी खुशखबरी आयी. शेयर बाजार ने मई सीरीज की शुरुआत दमदार की तो वहीं अंत भी धमाकेदार रहा. एशियाई बाजार में उछाल के बीच बंबई शेयर बाजार में आज बहार का दिन है.

According to the latest news available today, there was a great news for India today. If the stock market started the May series, then the end was also bullish. Between the boom in the Asian market today is the day outside of the Bombay Stock Exchange.

जैसे ही सुबह बाजार खुला शेयर बाज़ार में भारी उछाल देखा गया. दोपहर 1.30 बजे 301 अंकों की उछाल के साथ सेंस्टिव इंडेक्स सेंसेक्स ने नया इतिहास रच दिया और बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का संवेदी सूचकांक 35,014.82 पर चल रहा था. निफ्टी में 84 अंकों का उछाल रहा और ये 10,702.35 अंक पर पहुंच गया.

As soon as the morning market saw a huge surge in open stock market. At 1.30 pm, the BSE Sensex created a new history with a 301-point surge and the BSE Sensex Index of Bombay Stock Exchange was running at 35,014.82. The Nifty was up by 84 points and it reached 10,702.35 points.

रोज रिकॉर्ड तोड़ता शेयर बाजार इस बात का सबूत है कि पीएम मोदी की अगुवाई में जिस तरह देश आगे बढ़ रहा है, उससे तमाम क्षेत्रों की कंपनियों में विश्वास जगा है.नोटबंदी और जीएसटी जैसे आर्थिक सुधारों के कदम उठाने के बाद आर्थिक जगत में मोदी सरकार की साख मजबूत हुई है, और कंपनियां, शेयर बाजार, आम लोग सभी सरकार की नीतियों पर भरोसा कर रहे हैं.

The stock market is losing evidence that this is the evidence that the way the country is moving forward under the leadership of PM Modi is going to win trust in companies of all the sectors. After taking steps for economic reforms such as Nodbindi and GST, Modi Government in the financial world The credibility of this has been strengthened, and companies, stock markets, the common people are reliant on all government policies.

ये तो कुछ भी नहीं आप जानकार दंग रह जाएंगे मोदी के नेतृत्व में लगातार मजबूत हो रही अर्थव्यवस्था के कारण सरकार ने पहली बार विनिवेश के जरिये साल 2017-18 में अभी तक 54,337 करोड़ रुपये प्राप्त हो चुके हैं. यह एक अपना में ज़बरदस्त रिकॉर्ड है.

Nothing will be left to you knowing. Because of the continuous strengthening economy under Modi’s leadership, the government has received 54,337 crores for the first time in 2017-18 through disinvestment. It has a tremendous record in its own right.

विदेशी मुद्रा भंडार में ऐतिहासिक वृद्धि
मोदी की सरकार बनने के बाद देश में विदेशी मुद्रा भंडार में ऐतिहासिक वृद्धि हुई है. अर्थव्यवस्था के क्षेत्र में इस साल कई रिकॉर्ड बने हैं. भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा जारी ताजा आंकड़ों के मुताबिक अप्रैल महीन में देश का विदेशी मुद्रा भंडार 423.12 अरब डॉलर के भारीभरकम रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया. विदेशी मुद्रा भंडार ने 400 अरब डॉलर का स्‍तर पहली बार इस साल सितंबर के पहले हफ्ते में पार किया था. जबकि कांग्रेस शासन काल के दौरान 2014 में विदेशी मुद्रा भंडार 311 अरब पर अटका रहा करता था.

Historical rise in foreign exchange reserves
After the formation of Modi’s government, there has been a historic increase in foreign exchange reserves in the country. There are several records this year in the field of economy. According to the latest data released by the Reserve Bank of India, in April, the country’s foreign exchange reserves reached a record high of 423.12 billion dollars. Foreign exchange reserves crossed the $ 400 billion mark for the first time in the first week of September this year. During the Congress regime, during 2014, the foreign exchange reserves remained staggering at 311 billion rupees.

सफल नीलामी प्रक्रिया
मोदी सरकार में पहली बार कोयला ब्लॉक और दूरसंचार स्पेक्ट्रम की सफल नीलामी प्रक्रिया अपनाई गई. इस प्रक्रिया से कोयला खदानों (विशेष प्रावधान) अधिनियम, 2015 के तहत 82 कोयला ब्लॉकों के पारदर्शी आवंटन के तहत 3.94 लाख करोड़ रुपये से अधिक की आय हुई.

सरकार के आंकड़ों के अनुसार कांग्रेस सरकार में अप्रैल-जुलाई 2013-14 में अनुमानित व्‍यापार घाटा 62448.16 मिलियन अमरीकी डॉलर का था, वहीं अप्रैल-जनवरी, 2016-17 के दौरान 38073.08 मिलियन अमेरिकी डॉलर था. जबकि अप्रैल-जनवरी 2015-16 में यह 54187.74 मिलियन अमेरिकी डॉलर के व्‍यापार घाटे से भी 29.7 प्रतिशत कम है. यानी व्यापार संतुलन की दृष्टि से भी मोदी सरकार में स्थिति उतरोत्तर बेहतर होती जा रही है और 2013-14 की तुलना में लगभग 35 प्रतिशत तक सुधार आया है.

Successful auction process
The successful auction process of the coal block and telecom spectrum was adopted for the first time in the Modi government. Through this process, under the coal mines (Special Provisions) Act, 2015, the transparency allocation of 82 coal blocks generated more than Rs 3.94 lakh crore rupees.

भारत हर क्षेत्र में अपना झंडा गाड़ता जा रहा है
आज तेज़ी से भारत हर क्षेत्र में अपना झंडा गाड़ता जा रहा है. कभी हथियार खरीदने के लिए दूसरे देशों के आगे हाथ फैलाना पड़ता था. हज़ारों करोड़ देकर पुरानी तकनीक के बेकार हथियार खरीदे जाते थे लेकिन आज भारत में ‘मेक इन इंडिया’ योजना के तहत दुनिया सबसे शक्तिशाली कंपनी भारत में आकर हथियार बना रही है वो भी सबसे आधुनिक तकनीक वाले. आज ये हथियार भारत दूससरे देशों को बेचकर शक्तिशाली देशों के साथ कंधे से कन्धा मिलाकर खड़े हो रहा है.

India is flipping its flag in every sphere
Today India is rapidly flipping its flag in every sphere. Ever had to spread arms ahead of other countries to buy arms. Untamed weapons of old technology were purchased by giving thousands of crores but today, in India, under the ‘Make in India’ scheme, the world’s most powerful company is making weapons in India, it is also the most advanced technology. Today, these arms are selling to other countries and standing with shoulders from powerful countries.

यह भी देखे

https://youtu.be/WE3MmmBzG4k

https://youtu.be/o9LQnPMci4I

source political report

मदरसा रेप काण्ड में एंकर रुबिका लियाकत ने दिया ऐसा बड़ा बयान जो कहा वो किसी और ने नही कहा होगा – हो रही है तारीफ !

दिल्ली में 10 वर्षीय बच्ची गीता के साथ मदरसे में हुए गैंगरेप की घटना का जोरदार विरोधी हो रहा है और आरोपियों को फांसी की सजा की मांग की जा रही है जानकारी के अनुसार दिल्ली के मयूर विहार इलाके से अगवा हुई दस वर्षीय बच्ची को गाजियाबाद के अर्थला स्थित मदरसे में बंधक बनाकर कई दिनों तक गैंगरेप किया गया. दिल्ली और साहिबाबाद पुलिस ने संयुक्त छापेमारी करके अर्थला स्थित मदरसे से बरामद कर लिया, दिल्ली पुलिस ने मौलवी और वहां पढने वाले युवक को हिरासत में ले लिया है, दिल्ली पुलिस बच्ची के बयानों के आधार पर रिपोर्ट दर्ज करके कार्यवाही करेगी. बच्ची के साथ रेप की पुष्टि हो चुकी है…

In Delhi, 10-year-old girl Geeta is being strongly opposed to the gangrape incident and the accused are being demanded to be hanged. According to the information, the ten-year-old girl was kidnapped from Mayur Vihar area of ​​Delhi by Ghaziabad Gangrape was done for many days by making hostages in the madarsas located Delhi and Sahibabad police recovered the joint raid from madrasa located in Arthla, Delhi Police has taken the maulvi and the young man studying there, Delhi Police will take action by registering the report on the basis of the girl’s statement. Rape has been confirmed with the baby …

हिन्दुओ की ये ही समस्या है की सेकुलरों की बातों में वो बड़ी जल्दी आकर हिन्दुओ को ही गालियाँ देना शुरू कर देते है, बाद में कठुवा मामले में साफ़ हो गया की बच्ची का कठुवा में रेप हुआ ही नहीं, पर इन सेकुलरों ने पूरी दुनिया में देश को बदनाम किया, देश को बलात्कार की कैपिटल बताया, साथ ही हिन्दुओ और मंदिर के खिलाफ नफरत का पूरा कैंपेन चलाया, और ये भी तथ्य है की इन सेकुलरों की बातों में आकर हिन्दुओ ने भी इनकी मदद की और इनके पोस्ट और त्वीट को शेयर किया

This is the problem of Hindus that in the matters of secularism, they started hurting Hindus only, and later it became clear in the Kathwa case that the child had not got a rape in the Kathwa, but these secularists all over the world Describing the country as the capital of rape, it also launched a full campaign of hatred against Hindus and the temple, and it is also the fact that Hindus came to the conclusion of these secularities He also helped them and shared their posts and tweets

अब ये तमाम लोग दिल्ली की गीता पर छुप है, शाहबाज़ खान नाम के मौलवी ने मजहब गुरु ने 10 साल की इस हिन्दू बच्ची को दिल्ली से अगवा किया, नशे की दवाई देकर बेशुध कर मदरसे में कैद किया और इसका बलात्कार किया, अब इस मामले पर वही तमाम लोग जो कठुवा के नाम पर देश को बदनाम कर रहे थे जबकि वहां रेप हुआ ही नहीं, वो सभी लोग वो सभी सेक्युलर और उनके प्रशंसक जिनमे अधिकतर हिन्दू ही है, ये सभी लोग गीता पर चुप है, मौलवी शाहबाज़ खान को फांसी देने की मांग नहीं कर रहा सेक्युलर जमात, इसी मुद्दे पर पत्रकार रुबिका लियाक़त ने भी एक कडवी मगर सही बात कही है

Now all these people are hiding on Delhi’s Gita; Shahabaz Khan, a maulvi, has been kidnapped by 10-year-old Hindu girl from Delhi, who has been abducted and raped by the drug addict and raped her, now the case But the same people who were defaming the country in the name of Kathwu, while not only raped there, all those seculars and their admirers, which are mostly Hindus, are all silent on the Gita, Maulvi The secular Jamaat, not demanding hanging Shahbaz Khan, journalist Rubika Loyat on this issue has also said a stern but true statement

यह भी देखे

https://youtu.be/WE3MmmBzG4k

https://youtu.be/o9LQnPMci4I

source political report

अभी अभी :रक्षामंत्री सीतारमण ने दिया सेना को ऐसा खतरनाक हथियार, चीन समेत अमेरिका की भी उड़े होश

नई दिल्ली : एक ओर पीएम मोदी चीन के साथ कूटनीतिक रिश्तों को बेहतर बनाने के लिए चीनी राष्ट्रपति जिनपिंग के साथ समिट में व्यस्त हैं. दूसरी ओर रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने भारतीय सेना को मजबूत बनाने के लिए ऐसा शानदार फैसला लिया है, जिसने पाकिस्तान और चीन को हैरत में डाल दिया है.

New Delhi: On one hand PM Modi is busy in the summit with Chinese President Jinping to improve diplomatic relations with China. On the other hand, Defense Minister Nirmala Sitharaman has taken such a decisive decision to strengthen the Indian Army, which has surprised Pakistan and China.

इजरायल से आएँगी 5000 स्पाइक एटीजी मिसाइल
भारतीय सेना को जबरदस्त ताकत देने के लिए रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने फैसला लिया है कि इजरायल से 5000 स्पाइक एटीजी मिसाइल खरीदी जाएंगी और भारतीय सेना के बड़े में शामिल की जाएंगी ताकि देश के दुश्मनों को करारा सबक सिखाया जा सके.

5000 Spike ATG missiles coming from Israel
In order to give tremendous power to the Indian Army, Defense Minister Nirmala Sitharaman has taken the decision that 5000 Spike ATG missiles will be purchased from Israel and will be included in the larger Indian Army so that the enemies of the country can be taught a lesson lesson.

सेना के लिए इन मिसाइलों की तत्काल जरूरत को देखते हुए 2000 करोड़ रुपये के ये सौदा इजराइल के साथ किया जाएगा. ना केवल इस सौदे से भारतीय सेना की ताकत में जबरदस्त इजाफा होगा बल्कि यह भारत-इजरायल रिश्तों को मजबूत करने की दिशा में ही एक और कदम साबित होगा.

Looking at the urgent need of these missiles for the army, this deal of Rs 2,000 crore will be done with Israel. Not only this deal will have a tremendous increase in the strength of the Indian Army, but it will prove to be another step towards strengthening Indo-Israel relations.

दुश्मन के टैंकों को करेगी ध्वस्त
एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने मेल टुडे को बताया, ‘भारतीय सेना की पैदल बटालियन की तात्कालिक जरूरतों को देखते हुए रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण की अध्यक्षता में एक उच्चस्तरीय बैठक होगी. इसमें सेना के लिए स्पाइक मिसाइल खरीदने के प्रस्ताव पर चर्चा की जायेगी.’

Destroy the enemy tanks
A senior government official told Mail Today, “In view of the urgent needs of the Indian Army’s infantry battalion, there will be a high-level meeting chaired by Defense Minister Nirmala Sitharaman. In this, a proposal to buy a Spike missile for the army will be discussed.

सूत्रों के मुताबिक मीटिंग के लिए तैयार प्रस्ताव में कहा गया है कि सरकार सेना के वेपन सिस्टम के लिए 500 लॉन्चर और करीब 20 सिमुलेटर खरीदने पर भी विचार करेगी. ये हथियार पैदल सेना बटालियन द्वारा दुश्मन के टैंकों को नेस्तनाबूद करने के काम आते हैं.’ सेना ने अपने सशस्त्र बलों को 300 मेड इन इंडिया नाग एंटी टैंक गाइडेड (ATG) मिसाइल देने का प्रस्ताव रखा है, जिस पर 300 करोड़ रुपये खर्च आएगा.

According to sources, the proposal prepared for the meeting states that the government will also consider buying 500 launchers and about 20 simulators for the army’s Weapon system. These weapons are used by the infantry battalion to destroy enemy tanks. “The Army has proposed to give 300 Armed Forces Nagar Anti Tanks Guided (ATG) missiles to their Armed Forces, which will cost Rs 300 crore.

सरकारी सूत्रों का कहना है कि स्पाइक से सेना की तात्कालिक जरूरतों का समाधान होगा. इसके बाद बड़े पैमाने की जरूरत भविष्य में डीआरडीओ द्वारा तैयार ऐसे एटीजी मिसाइलों से होगी जिसे सैनिक कंधे पर भी ढो सकेंगे.

Official sources say that Spike will solve the urgent needs of the army. After this, large scale needs will be made in future by the DRDO-made ATG missiles, which the soldiers can carry on the shoulder.

देश के दुश्मनों का काल बनेगी भारतीय सेना
गौरतलब है कि इसके पहले अमेरिका से इस तरह के एटीजी मिसाइल हासिल करने की कोशिश की गई की, लेकिन वहां की शर्तें भारत सरकार को पसंद नहीं आईं. स्पाइक तीसरी पीढ़ी की एटीजी ‘फायर ऐंड फॉरगेट’ मिसाइल है जो 2.5 किमी के दायरे तक मार कर सकती है. इसे दिन और रात दोनों समय इस्तेमाल किया जा सकता है.

Indian army will become the enemy of enemies of the country
It is worth noting that before this, an attempt was made to acquire such an ATG missile from the US, but the conditions of the Indian government did not like it. Spike is the third generation ATG ‘Fire and Forgate’ missile that can kill up to 2.5 km. It can be used both day and night.

पाकिस्तान द्वारा सीजफायर का उलंघन किये जाने पर भारतीय सेना और भी ज्यादा ताकत के साथ हमले कर पाएगी. वहीँ चीनी सेना ने यदि कोई नापाक हरकत करने की कोशिश की तो उसके दांत खट्टे करने में भी इन मिसाइलों से काफी सहायता मिलेगी.

After the violation of the seizure by Pakistan, the Indian Army will be able to attack with even greater power. If the Chinese army tried to do something unclean, then these missiles would be greatly assisted in souring their teeth.

यह भी देखे

https://youtu.be/WE3MmmBzG4k

https://youtu.be/o9LQnPMci4I

source political report

चीन में अपनी कूटनीति की धाक जमा रहे PM मोदी को लेकर अमेरिका से आयी एक बेहद चौकाने वाली रिपोर्ट, जिसे देख कांग्रेस समेत मायावती,अखिलेश के उड़े होश

नई दिल्ली : हाल ही में यूपी में उपचुनाव हुए जिनमें भाजपा की हार हुई। हार के पीछे कारण बताया जा रहा था कि पार्टी को हराने के लिए विपक्ष एकजुट हो गए थे. इसी के बाद अटकलों ने भी जोर पकड़ लिया कि अगले लोकसभा चुनाव में विपक्ष एकजुट होकर भाजपा के खिलाफ लड़ेंगे और नरेंद्र मोदी को दोबारा प्रधानमंत्री बनने से रोक लेंगे. लेकिन अब पीएम मोदी को लेकर जो खबर आ रही है, उसे देख कांग्रेस समेत सभी विपक्षी पार्टियों की सिट्टी-पिट्टी गम हो गयी है.

New Delhi: Recently in Uttar Pradesh, the bye-elections happened in which BJP lost. The reason behind the defeat was that the opposition was united to defeat the party. After this the speculation also caught hold that in the next Lok Sabha elections, the opposition will unite and fight against the BJP and prevent Narendra Modi from becoming the Prime Minister again. But now the news about PM Modi is coming to see that all the opposition parties, including the Congress, have become satiated.

2019 नहीं, 2029 तक नरेंद्र मोदी रहेंगे प्रधानमंत्री
दुनिया में सबसे ताकतवर कौन है, इसका आकलन दो तरह से किया जाता है. पहला आर्थिक ताकत और दूसरी सैन्य क्षमता, इन दोनों मापदंडों पर अमेरिका नंबर वन है. मगर अमेरिका के बाद कौन है, यही जानने के लिए ब्लूमबर्ग मीडिया समूह ने दुनिया के 16 देशों के नेताओं का एक आकलन किया. इस सर्वे का नतीजा देख दुनियाभर के नेताओं ने दाँतों तले उंगलियां दबा ली.

Narendra Modi will be prime minister till 2019, not 2029
Who is the most powerful in the world, it is estimated in two ways. First economic strength and second military capability, America is number one on both of these parameters. But to find out who is after the US, the Bloomberg Media Group conducted an assessment of leaders from 16 countries around the world. Seeing the result of this survey, leaders from around the world pressed fingers under their teeth.

आपको याद होगा कि कांग्रेस के राज में रोबोट प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को “अंडर अचीवर” और “असफल” करार दिया गया था. मगर ब्लूमबर्ग मीडिया समूह के हालिया सर्वे के मुताबिक़ ना केवल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक बेहद ताकतवर नेता हैं, बल्कि मोदी 2029 तक प्रधानमंत्री बने रहे सकते हैं.

You will remember that in the Congress rule, the robot Prime Minister Manmohan Singh was termed as “under aceiver” and “unsuccessful”. But according to the recent survey of the Bloomberg Media Group, not only Prime Minister Narendra Modi is a very powerful leader, but Modi can remain Prime Minister till 2029.

दुनिया के सबसे ताकतवर नेता बने मोदी
2014 में पीएम बनने वाले नरेंद्र मोदी का कद इतना बड़ा हो गया है कि भारत में कोई भी समकक्ष नेता उनकी बराबरी करता नजर नहीं आ रहा. उनके प्रशंसक एक 10 साल का बच्चा भी है तो वहीं 90 साल का बुजुर्ग भी. लोगों के बीच उनकी गजब की लोकप्रियता को देखते हुए राजनीतिक गलियारों में चर्चा है कि 2019 में भी उनके नेतृत्व में सरकार बनेगी और उसके बाद 2024 में भी नरेंद्र मोदी तीसरी बार चुनाव जीत कर देश के प्रधानमंत्री बन जाएंगे.

Modi becomes the world’s most powerful leader
In 2014, the height of Narendra Modi, who became PM, has become so big that no equal leader in India is being seen as equals. His fan is also a 10-year-old child, while the 90-year-old elderly too. In view of the popularity of his popularity among the people, it is discussed in political corridors that in the year 2019, a government will be formed under his leadership, and in 2024, Narendra Modi will be the Prime Minister of the country by winning elections for the third time.

महागठबंधन की उडी धज्जियां
इस खबर ने देश की राजनीति में सियासी खलबली मचा दी है और अपने-अपने स्वार्थ के लिए एकजुट हुए विपक्ष के महागठबंधन की धज्जियां उड़ा दी हैं. यूपी चुनाव में कांग्रेस के साथ मिलकर चुनाव लड़ने वाली समाजवादी पार्टी और बीजेपी को रोकने के लिए जी-जान लगाने वाली बसपा, दोनों ही कांग्रेस के साथ गठबंधन बनाकर मोदी को रोकने का सपना देख रही थी.

Splinter shackles
This news has created a political upheaval in the politics of the country and has blamed the great coalition of united opposition for self-interest. In the UP elections, the Samajwadi Party, which fought the Congress together with the Congress, and the BSP, which was trying to stop the BJP, was dreaming to stop Modi by making an alliance with the Congress.

मगर अब जबकि पीएम मोदी के 2029 तक प्रधानमंत्री बने रहने की भविष्यवाणी हो गयी है तो यूपी में महागठबंधन चूर-चूर हो गया है. आगामी लोकसभा चुनाव के लिए सपा-बसपा ने कांग्रेस को झटका देते हुए उससे अपना पिंड छुड़ा लिया है.

But now that PM Modi is predicted to be the prime minister till 2029, the alliance in UP has shattered. For the coming Lok Sabha elections, the SP-BSP has shredded Congress from the body while shaking the body.

सपा के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव ने भी कांग्रेस को खरी-खरी सुनाते हुए कह दिया है कि यूपी में कांग्रेस की हैसियत सिर्फ दो सीटों की है, लिहाजा कांग्रेस के साथ गठबंधन नहीं किया जाना चाहिए.

Former National President of SP, Mulayam Singh Yadav, has also told the Congress that the Congress has a two-seat capacity in the UPA, hence the coalition should not be formed with the Congress.

यह भी देखे

https://youtu.be/WE3MmmBzG4k

https://youtu.be/o9LQnPMci4I

source political report

आगराः AIMIM के शहर अध्यक्ष ने MLA ने BJP को रेप केस में फंसाने के लिए रची ये बड़ी साजिश

पूरा विपक्ष मिला हुआ है और ये विपक्ष बीजेपी को 2019 में रोकने के लिए बीजेपी को महिला विरोधी और बलात्कारी पार्टीघोषित करने में लगा है, इस विपक्ष के साथ मीडिया गटबंधन करके चल रही है, क्यूंकि कांग्रेस की सरकार आएगी तो मीडिया के संपादको और पत्रकारों के 2014 से पहले वाली लाइफ वापस आयेगी, जहाँ ये PM के साथ विदेशी दौरों में जाते थे, और इनके 7 सितारा होटल का खर्च भारत सरकार के खजाने से चुकाया जाता था, मसाज, लड़की, शबाब और बहुत कुछ, पर मोदी तो सिर्फ दूरदर्शन वालो को ही सरकारी खर्च पर लेकर जाते है, चूँकि वो सरकारी चैनल है

The whole opposition is mixed and the opposition BJP has been trying to declare BJP as a female anti-rape party and in order to stop it in 2019, the media is being organized with this opposition, because the Congress government will come, media editors and journalists Life before 2014 will come back, where it used to go on overseas visits with PM, and the expenses of their 7-star hotel were paid by the treasury of the Indian government, Massage, girl, shabab and many more, but Modi only takes the Doordarshan people on government expenditure, since they are the official channel

अब बीजेपी को बलात्कारी पार्टी घोषित करने के लिए किस तरह और किस स्तर पर साजिश की जा रही है, वो भी समझने की कोशिश कीजिये, आगरा में ओवैसी की पार्टी AIMIM के जिला अध्यक्ष मोहम्मद इदरिस के खिलाफ उत्तर प्रदेश की पुलिस ने FIR दर्ज किया है, हालाँकि मोहम्मद इदरिस अभी गिरफ्तार नहीं किया गया है, ये एक पत्रकार के साथ (इसका खुलासा पुलिस ने नहीं किया है की कौन सा पत्रकार), तो मोहम्मद इदरिस एक पत्रकार के साथ मिलकर आगरा के एत्मादपुर सीट से बीजेपी के विधायक राम प्रताप चौहान को रेप केस में फंसाने की तैयारी कर रहा था

Now, try to understand the way in which and at what level the conspiracy is being made to declare BJP a rapist party, the FIR has lodged against the District President of AIMIM, Mohammed Idris, in Owaisi’s party in Agra. , Although Mohammed Idriss has not been arrested yet, with a journalist (who has not disclosed what the police has not disclosed), then Mohammad Idris with a journalist Together, preparations were made to trap BJP’s MLA Ram Pratap Chauhan from the Etmdpur seat in Agra.

प्लान ये था की एक युवती को पैसा देकर तैयार किया जाये, जो इस विधायक से पहले कभी मिली हो, किसी भी काम से, तो क्या होगा की युवती विधायक पर रेप की शिकायत दर्ज करवाएगी, फिर मीडिया शुरू हो जाएगी, कोर्ट की क्या जरुरत है, मीडिया के लोग 10 मिनट में बीजेपी विधायक को भले ही वो नार्को टेस्ट तक की मांग करे फिर भी बलात्कारी घोषित कर देंगे, और बाद में 3-5 साल में मामला झूठा भी निकले तो निकले, तबतक बीजेपी के खिलाफ राजनितिक रोटियां तो सिक ही जाएँगी

The plan was that a girl should be prepared by giving money, which she has never met before this legislator, from any work, what will happen that the girl will file a complaint of rape on the MLA, then the media will start, what is the need of the court The people of the media, in 10 minutes, will ask the BJP legislator even if he demands the Narco Test, he will still be a rapist, and later in 3-5 years, if the case goes out false, then it will come out of the BJP. Graph political loaves will be so sick

तो मोहम्मद इदरिस बीजेपी के विधायक को बलात्कारी घोषित करने के लिए एक लड़की और एक स्क्रिप्ट तैयार कर रहा था वो भी एक पत्रकार के साथ मिलकर, पर इस से पहले की राज्प्रताप चौहान के खिलाफ रेप की शिकायत दर्ज करवाने कोई लड़की पहुंची, इस मामले का खुलासा हो गया, और मोहम्मद इदरिस के खिलाफ साजिश रचने के मामले में FIR दर्ज कर लिया गया

So Mohammed Idris was preparing a girl and a scriptwriter to declare the MLA of BJP MLA as a rapist, she also came in contact with a journalist, but before this, a girl approached the police to register a complaint against Rajapatap Chauhan. Was revealed, and FIR was registered in the case of conspiracy against Mohammed Idris

अन्यथा अब कुछ ही दिनों में आप टीवी खोलते, सोशल मीडिया खोलते तो मीडिया और कैम्ब्रिज अनालिटिका आपको बता रही होती की बीजेपी बलात्कारी पार्टी है यूपी के एक और बीजेपी विधायक ने महिला का रेप किया, इस स्तर की साजिश देश में चल रही है

Otherwise, in a few days, when you open the TV, open social media, media and Cambridge analytics would tell you that the BJP is a rape party, another BJP MLA from UP raped the woman, the plot of this level is going on in the country.

https://youtu.be/WE3MmmBzG4k

https://youtu.be/o9LQnPMci4I

source namopress.in

कर्नाटक चुनाव से ठीक ऐन पहले इस पर्व मंत्री ने PM मोदी के बारे में दिया ये बड़ा बयान जिसे सुन कांग्रेस हैरान

देश के मौजूदा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बारे में जनता के मिले-जुले स्वर सुनाई पड़ते हैं. किसी के लिए पीएम मोदी देश के आदर्श प्रधानमंत्री हैं तो किसी के अनुसार देश हित में अनगिनत काम करके भी पीएम मोदी देश के लिए अच्छे प्रधानमंत्री नहीं हैं.

People’s voices are heard about the current Prime Minister Narendra Modi. For someone, PM Modi is the ideal Prime Minister of the country, according to somebody, even by doing countless work in the country’s interest, PM Modi is not a good Prime Minister for the country.

ऐसे में जनता के इसी मिले-जुले स्वर के बीच हाल ही में कर्णाटक के एक मंत्री ने पीएम मोदी के बारे में कुछ ऐसा बोला है जिसे सुनकर बहुतों के होश उड़ने तय हैं. यहाँ कर्नाटक के इस मंत्री का पीएम मोदी पर दिया गया ये बयान इसलिए भी बेहद महत्वपूर्ण माना जा रहा है क्योंकि देश में अब जल्द ही कर्नाटक चुनाव होने वाले हैं. (कर्नाटक चुनाव 12-13 मई)

In such a way, between a mixed tone of the public, a minister of Karnataka recently said something about PM Modi that many people are determined to hear their senses. Here the statement given by the Karnataka minister to PM Modi is also being considered as very important as the country is going to be in Karnataka soon. (Karnataka elections May 12-13)

“हम पीएम मोदी को अच्छे से पहचान चुके हैं, इसलिए बीजेपी की कर्नाटक चुनाव में जीत तो…”

दरअसल ख़बरों के अनुसार येदुरप्पा इस बार कर्नाटक में बीजेपी का कोई मुख्यमंत्री चाहते हैं. ऐसे में हाल ही में पूर्व मंत्री जी जनार्दन रेड्डी ने पीएम मोदी के बारे में कहा है कि, “मेरे खून में बीजेपी है.

“We have recognized PM Modi very well, so BJP won the Karnataka elections …”

In fact, according to the news, Yeddyurappa wants a BJP chief minister in Karnataka this time. In the past, former minister G Janardhana Reddy has said about PM Modi, “There is BJP in my blood.

कर्नाटक के लोग और हम बीजेपी और पीएम मोदी के साथ हैं. लोग अबतक अच्छी तरह से जान और मान चुके हैं कि पीएम मोदी एक अच्छे नेता हैं और भगवान ने उन्हें अच्छे कामों के लिए ही भेजा है. इसका मतलब साफ़ है कि बीजेपी की कर्नाटक चुनाव में जीत तो तय है वो भी पूर्ण बहुमत से. “

People from Karnataka and we are with BJP and PM Modi. People have so well known and admired that PM Modi is a good leader and God has sent them for good deeds only. It means that it is clear that the BJP’s victory in the Karnataka elections is certain that even with the absolute majority ”

सिर्फ इतना ही नहीं पीएम मोदी की तारीफ़ में कसीदे पढ़ने के बाद जनार्दन रेड्डी ने ये भी कहा है कि पीएम मोदी की बढती लोकप्रियता को देखकर ये कहना गलत नहीं होगा कि कर्नाटक में इस बार बीजेपी की पूर्ण बहुमत से सरकार बनने से कोई नहीं रोक सकता.

Not only that, Janardhana Reddy has also said after reading alarms in the praise of PM Modi that it will not be wrong to see the growing popularity of PM Modi that no one in Karnataka can stop this from forming a government with the absolute majority of BJP this time. .

आगे बोलते ही जनार्दन रेड्डी ने बताया कि, “जहाँ सिद्धारमैया सरकार से लोगों को काफी हताशा मिली है वहीँ बीजेपी की पिछली सरकार में बहुत विकास हुआ. ऐसे में इतना तो तय है कि इस बार कर्नाटक में बीजेपी की ही सरकार बनेगी और वो भी पूर्ण बहुमत से.

Not only that, Janardhana Reddy has also said after reading alarms in the praise of PM Modi that it will not be wrong to see the growing popularity of PM Modi that no one in Karnataka can stop this from forming a government with the absolute majority of BJP this time. .

यह भी देखे
https://youtu.be/WE3MmmBzG4k

https://youtu.be/o9LQnPMci4I

source namopress.in

मदरसे में मौलवी ने कई बार किया छात्रा का दुष्कर्म, पुलिस ने पकड़ा तो उड़ गए सबके होश

कठुवा में रेप हुआ भी नहीं पर करीना खान, सैफ खान और सोनम कपूर जैसे बहुत से लोगों ने कैंपेन चलाया और रेप नहीं हुआ तो भी रेप के आरोपियों को फांसी देने की मांग करी, इन लोगों ने खुद के हिन्दुस्तानी होने पर भी शर्म जताया, और लिखा की “I ऍम Ashamed”, कठुवा के मामले में कोई बलात्कार नहीं हुआ इसकी पुष्टि वहां के 2 अलग अलग डाक्टरों ने ही कर दी, चलिए ये मामला पिछले हफ्ते का है जब ये तमाम बॉलीवुड के लोग एक्टिव थे

Not even raped in Kathua, but a lot of people like Kareena Khan, Saif Khan and Sonam Kapoor campaigned and even if they did not get rap, they also demanded hanging of raped people, these people expressed their shame even when they were Hindustani, And wrote that “I Am Ashamed”, there was no rape in the case of Kathua, it was confirmed by only 2 different doctors of that matter, let’s go back to the last week when these Bollywood people were active. Ë

पर इस हफ्ते दिल्ली की एक 10 साल की हिन्दू बच्ची को मौलवी और उसके साथी ने अगवा किया और उसका बलात्कार किया, मदरसे में उसका बलात्कार किया गया, अल्लाह स्थान में उसका बलात्कार किया गया, अल्लाह के सामने मदरसे में मौलवी और उसका साथी 10 साल की हिन्दू बच्ची को नोचते रहे, मदरसा क्या होता है ?

But this week, a 10-year-old Hindu girl from Delhi was kidnapped by the cleric and her companion and raped her; she was raped in the madrasa, she was raped in Allah’s place, the maulvi and her companion in Allah’s Messenger 10 years Let’s go to the Hindu child, what is madrasa?

मदरसा कोई आम स्कुल नहीं होता, बल्कि मदरसा एक ऐसा स्कुल होता है जहाँ पर इस्लाम और अल्लाह, कुरान, मजहब की शिक्षा दी जाती है, और मदरसा एक अल्लाह स्थान है, अल्लाह स्थान में मौलवी हिन्दू बच्ची की अस्मत लुटता रहा, उसे नशे की दवाई देकर बंधक बनाये रखा, उसको कैद करके रखा, वो तो बच्ची की किस्मत अच्छी थी जो पुलिस ने उसे खोज निकाला, अन्यथा मौलवी शाहबाज़ खान उस लड़की को कई दिन और नोचने के बाद बेचने के फिराक में था

Madarsa is not a common school, but madarsa is a school where Islam and Allah, Quran, religion are taught, and madrasa is an Allah place, Allah looted the fate of the cleric Hindu child in place of Allah, He kept the hostage and kept the hostage, kept him in custody, he was fond of the childish girl who searched him, otherwise Maulvi Shahbaz Khan would sell that girl for many days and after dancing Was a

अब सोनम कपूर की आँखें नम नहीं हो रही है, अल्लाह स्थान में हिन्दू बच्ची के रेप पर अब करीना खान को शर्म नहीं आ रही है, अब सैफ खान करीना के हाथ में पोस्टर देकर तस्वीर खींचकर सोशल मीडिया पर नहीं डाल रहे है, अब बॉलीवुड के लोग मौलवी शाहबाज़ खान को फांसी देने की मांग नहीं कर रहे है, अब किसी को अल्लाह स्थान में हिन्दू बच्ची के रेप की घटना पर शर्म नहीं आ रही है

Now Sonam Kapoor’s eyes are not getting wet, now Kareena Khan is not ashamed of the Hindu child’s rape in Allah’s place, now Saif Khan is not putting pictures by Kareena in the hands of Kareena, taking photographs on social media, now Bollywood People are not demanding hanging of Maulvi Shahbaz Khan, now no one is ashamed of the incident of Hindu girl in the place of Allah

इन सभी की मानवता और इंसानियत केवल कठुवा तक ही सिमित थी, जहाँ पर रेप हुआ भी नहीं, पर अल्लाह स्थान में हिन्दू बच्ची की अस्मत को मौलवी लुटता रहा पर इनमे से किसी की इंसानियत नहीं जागी किसी की आँखें नम नहीं हुई, साफ़ होता है की ये लोग इन्सान नहीं केवल एजेंडा चलाने वाले फिल्म्बाज है और देश तथा समाज को ये बात नोट करके रख लेनी चाहिए

All of these humanities and humankind were only confined to Kathwa, where there was no rape, but Allah used to loot the honor of a Hindu child in place, but no one’s eyes were not moist, and none of them was cleaned. These people are not only people who are running agenda but they should note this and the country

यह भी देखे
https://youtu.be/WE3MmmBzG4k

https://youtu.be/o9LQnPMci4I

source namopress.in