अभी अभी: UP से आयी इस खबर से ख़ुफ़िया एजेंसी समेत PM मोदी के उड़े होश, पूरे देश में मचा हडकंप…

congress, hindu muslim, modi, news, politics

लखनऊ : यूपी में सीएम योगी को अभी सिर्फ 100 ही दिन हुए हैं लेकिन उसमें ही उन्होंने ऐसे कई तीखे फैसले के साथ सपा के घोटालों का कच्चा चिटठा खोल के रख दिया है कि कुछ लोगों को लगता है अब योगी सरकार रास नहीं आ रही है. अभी अभी यूपी से ऐसी खबर आयी है जिसने एक पल में पूरे देश में दहशत का माहौल पैदा कर दिया है.

Lucknow: CM Yogi has been in just 100 days in UP, but in the same way, he has kept the raw paper of SP’s scandal with so many sharp decisions that some people feel that the Yogi Government is not coming to the rescue. Right now, there has been such news from the UP that has created a panic in the entire country in a moment of panic.

यूपी विधानसभा में मचा हड़कंप, दहशत का माहौल
अभी कुछ वक़्त पहले भी सीएम योगी जब अपना भाषण दे रहे थे तो उन्होंने बुलेट प्रूफ कांच के पीछे रहने की हिदायत दी गयी थी. क्यूंकि आये दिन सीएम योगी को आतंकी खतरे की धमकियाँ मिल चुकी हैं. ऐसी ही ताज़ा खबर अभी अभी एएनआई न्यूज़ एजेंसी से आ रही है जहाँ खुलासा हुआ है कि यूपी विधानसभा में बुधवार को चेकिंग के दौरान बेहद खतरनाक विस्फोटक मिला है. इसकी पुष्टि फॉरेंसिक टेस्ट से भी हो चुकी है ये एक PETN टाइप का भीषण तबाही वाला विस्फोटक है. इसके केवल 100 ग्राम से ही एक कार को पल भर में राख बना देने की ताक़त होती है.

Opposition in UP Assembly, panic attack
At some point in time, even when CM Yogi was giving his speech, he was instructed to be behind the bullet proof glass. Because the Yi Yi has received threats of terrorist threat during the days of coming. The latest news is coming from the ANI News Agency, which has revealed that on Wednesday, in the UP Assembly, it found extremely dangerous explosives during checking. It has been confirmed from the forensic test, it is a blasting explosive of a PETN type. Only 100 grams of it has the power to make a car ash throughout the moment.

समाजवादी पार्टी के विधायक की सीट के नीचे मिला विस्फोटक
इसे विधानसभा की सुरक्षा में एक बहुत बड़ी चूक बताया जा रहा है. आपको बता दें कि अभी यूपी विधानसभा में बजट सत्र चल रहा है. पाए गए विस्फोटक की मात्रा 60 ग्राम बताई जा रही है. यह उस जगह मिला जहाँ सभी पार्टी के विधायक बैठते हैं और सबसे खास बात यह रही कि ये विस्फोटक समाजवादी पार्टी के विधायक मनोज पांडे की सीट के नीचे एक नीले रंग की पॉलिथीन में मिला. जिसके बाद सभा में बुरी तरह हड़कंप मच गया.इस मामले की जांच यूपी एटीएस को सौंप दी गई है.

Explosive found under the seat of the Samajwadi Party legislator
This is being said to be a big mistake in the security of the assembly. Let us tell you that the budget session is going on in the UP Assembly now. The amount of explosive found is 60 grams. This is found in the place where all the party’s legislators sit and the most important thing is that they were found in a blue polythene under the seat of the explosive socialist party MLA Manoj Pandey. After which the meeting was badly stirred. The investigation of this case has been handed over to the UP ATS.

जिसके चरण बाद सीएम योगी ने शाम 4 बजे डीजीपी, प्रुमख सचिव, विधानसभा सचिव, प्रमुख सचिव गृह, प्रमुख सचिव सचिवालय प्रशासन, एडीजी लॉ ऐंड ऑर्डर, एडीजी सिक्यॉरिटी, एएसपी विधान सभा समेत तमाम वरिष्ठ अधिकारियों को बुलाया और विधान सभा और सचिवालय की सुरक्षा में लापरवाही के लिए खूब फटकार लगाई.

After that phase, CM Yogi called all the senior officers including DGP, Senior Secretary, Assembly Secretary, Principal Secretary Home, Principal Secretary Secretariat Administration, ADG Law and Order, ADG Security, ASP Vidhan Sabha and security of the Legislative Assembly and Secretariat. There was a lot of reproach for negligence.

लेकिन सबसे बड़ा सवाल यह है कि यह विस्फोटक अंदर कैसे पहुंचा और क्या सीएम योगी की जान को खतरा है? दरअसल, यूपी विधानसभा में जाने के लिए बहुस्तरीय सुरक्षा चक्रों से गुजरना पड़ता है. यही नहीं विधानसभा में सिर्फ विधायकों, मंत्रियों, सफाईकर्मचारी और मार्शल को ही जाने की इजाजत है.

But the biggest question is how did the explosive reach the inside and what is the danger of the CM Yogi’s life? Indeed, to go to the UP assembly, it has to go through multi-level security cycles. Not only that, legislators, ministers, volunteers and martials are allowed to go to the assembly only.

सबसे ज़्यादा खतरनाक और भयावह वाला है यह PETN विस्फोटक
दुनिया के 5 सबसे खतरनाक विस्फोटकों में शामिल है PETN. यह बेहद खतरनाक शक्तिशाली प्लास्टिक विस्फोटक होता है इससे बंकरों या ट्रेन में धमाकों के लिए इस्तेमाल में लाया जाता है. यह गंधहीन होता है इसलिए इसे खोजी कुत्ते और मेटल डिटेक्टर तक में पकड़ना बेहद मुश्किल होता है. बहुत कम मात्रा में भी बहुत बड़ा धमका हो किया जा सकता है. यहाँ तक की इसे एक्स रे मशीन भी नहीं पकड़ पाती हैं. यह एक खतरनाक रासायनिक पदार्थ होता है. साल 2011 में दिल्ली हाई कोर्ट में ऐसे ही धमाके का इस्तेमाल किया गया था.

The most dangerous and frightening is the PETN explosive
The world’s 5 most dangerous explosives include PETN It is a very dangerous powerful plastic explosive, it is used in the bunkers or in the train for explosions. It is odorless, so it is very difficult to catch it in the detective dog and metal detector. In very small quantities, too much threat can be done. Even this X-ray machine can not even catch it. This is a dangerous chemical substance. Similar explosions were used in the Delhi High Court in 2011.

उल्टा समाजवादी पार्टी सीएम योगी पर उठा रही है ऊँगली
सपा को कभी किसी से खतरा हो सकता है ये ज़रा मुश्किल लग रहा है तो उल्टा सपा नेता घनश्याम तिवारी ने कहा है इस तरह की चूक काफी चिंताजनक है सरकार को प्रदेश की सुरक्षा पुख्ता करनी चाहिए. सरकार सुरक्षा की बात करती है लेकिन बीजेपी की सरकार ने प्रदेश और देश का बुरा हाल कर दिया है.

Inverted Samajwadi Party is raising on CM Yogi
The SP is likely to face any danger, it is difficult to find. In contrast, Samajwadi Party leader Ghanshyam Tiwari has said that such a mistake is a matter of concern and the government should ensure the security of the state. Government talks about security but the BJP government has made the state and the country bad.

यह भी देखे :

source political report

Leave a Reply