कोंग्रेसी नेताओं की घिनौनी साजिश का एक बार फिर हुआ खुलासा PM मोदी समेत देश रहा गया दंग

congress

श्रीनगर : जम्मू-कश्मीर के कठुआ जिले में इसी साल जनवरी में आठ साल की बच्ची से गैंगरेप और हत्या के मामले में जांच कम और राजनीति ज्यादा हो रही है. कल रात कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, वरिष्ठ कोंग्रेसी नेता गुलाम नबी आजाद, अशोक गहलोत और दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कई नेताओं, प्रियंका वाड्रा, रोबर्ट वाड्रा व् कार्यकर्ताओं के साथ, बिना दिल्ली पुलिस से इजाजत लिए इंडिया गेट पर पहुंच गए और कैंडल मार्च निकाला. मगर अब इस मामले में उन्ही की पार्टी का नाम सामने आ रहा है.

Srinagar: In the Kathua District of Jammu and Kashmir this year, in an eight year-old girl, there is less scrutiny in the case of gangrape and murder and more politics is happening. Last night, with Congress President Rahul Gandhi, senior Congress leader Ghulam Nabi Azad, Ashok Gehlot and many leaders of the Delhi Pradesh Congress Committee, along with Priyanka Vadra, Robert Vadra and activists, reached India Gate without permission from Delhi Police and raised the canal march . But now the name of his party is coming out in this matter.

कांग्रेस से जुड़े बलात्कार मामले के तार

बताया जा रहा है कि कठुआ जिले में असीफा नाम की लड़की के बलात्कार का मामला 1 हफ्ते पहले का नहीं है, बल्कि ये मामला 10 महीने पहले का है. मगर अचानक से एक हफ्ते पहले से एक षड्यंत्र के तहत मीडिया व् विपक्ष ने इस केस को लेकर हिन्दुओं के खिलाफ दुष्प्रचार शुरू कर दिया. मीडिया द्वारा कहा जा रहा है कि राज्य के हिन्दू आरोपियों का समर्थन कर रहे हैं, जबकि इसके तार अब कांग्रेस से जुड़ने लगे हैं.दरअसल बताया ये जा रहा है कि राज्य बार काउन्सिल आरोपियों का बचाव कर रहा है और इन्हे हिन्दू वकील बताकर पूरे समुदाय पर कीचड उछाला जा रहा है. मगर इसे लेकर चौंकाने वाले खुलासे हो रहे हैं. दरअसल खुलासा हुआ है कि जम्‍मू-कश्‍मीर बार एसोसिएशन का अध्‍यक्ष बीएस सलाथिया चुनाव के दौरान कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद का पोलिंग एजेंट था.

Congress rape case wires

It is being told that the case of raping a girl named Asifa in Kathua district is not a week ago, but it is 10 months ago. But suddenly, a week ago, a conspiracy by the media and the opposition started propaganda against the Hindus against this case. It is being said by the media that the Hindus of the state are supporting the accused, while its strings are now joining the Congress. Actually, it is said that the state bar council is defending the accused and by calling them these Hindu lawyers, But the mud is being tossed. But there are shocking revelations about it. It is indeed revealed that Jaswant Singh Bar Association President BS Sultan was the polling agent of Congress leader Ghulam Nabi Azad during the election.

आपको बता दें कि बार एसोसिएशन के अध्यक्ष बी.एस. सलाथिया ने ही मुस्लिमों और रोहिंग्याओं के खिलाफ भाषण बाजी की थी, इसे हिन्दू बताते हुए मीडिया ने हिन्दू समुदाय पर कीचड उछालना तो शुरू कर दिया, मगर इसके कांग्रेस के साथ रिश्तों को उजागर नहीं किया.

Let us tell you that Bar Association President B.S. Sallathia had only leaked the speeches against Muslims and Rohingyas, while stating that it was Hindu, the media started to throw a bite on the Hindu community, but it did not reveal its relationship with the Congress.

कोंग्रेसी नेताओं की घिनौनी साजिश का खुलासा

इसके अलावा पंकज बसोत्रा नाम के एक अन्य व्यक्ति का नाम सामने आ रहा है, जिसे लेकर मीडिया हिन्दू समुदाय के खिलाफ दुष्प्रचार कर रही है. जानकारी मिली है कि पंकज बसोत्रा प्रदेश यूथ काग्रेस का महासचिव रह चुका है और एक एक्टिव कोंग्रेसी है. ये आये दिन बीजेपी व् पीएम मोदी के खिलाफ दुष्प्रचार करता रहता है.नए-नए खुलासों से स्पष्ट हो रहा है कि कांग्रेस द्वारा मासूम बच्ची के बलात्कार का राजनीतिकरण किया जा रहा है. कोंग्रेसी कार्यकर्ता व् नेता बलात्कार के आरोपियों का बचाव कर रहे हैं और बदनाम हिन्दू समुदाय को कर रहे हैं. बताया ये भी जा रहा है कि राज्य में बसे हुए अवैध रोहिंग्या घुसपैठियों के लिए सुहानुभूति जुटाने के लिए हिन्दू समुदाय को बदनाम किया जा रहा है.

Disgrace of Congress Leader

Apart from this, the name of another person named Pankaj Basot is coming out, with whom the media is propagating against the Hindu community. It has been reported that Pankaj Basotra has been the General Secretary of Youth Congress and is an active Congressional. These days, the BJP and PM continued to propagate against Modi.A new disclosures have been made clear that Congress is being politicized by the innocent child’s rape. Congress activists and leaders are defending the accused of rape and are doing to the infamous Hindu community. It is also being told that the Hindu community is being defamed to raise the sympathy for illegal Rohingya intruders settled in the state

गुलाम नबी आजाद ने कबूला सच

जम्‍मू-कश्‍मीर बार एसोसिएशन के अध्‍यक्ष बीएस सलाथिया के कांग्रेस के वरिष्ट नेता गुलाम नबी आजाद का खासमखास होने का खुलासा होने पर कुछ देर के लिए कांग्रेस बैकफुट पर जरूर आयी, मगर फिर एक नयी थ्योरी के साथ सामने आ गयी है. गुलाम नबी आजाद ने स्वीकार किया है कि सलाथिया उसी का साथी रहा है, मगर उनका कहना है कि सलाथिया उस वक़्त सेकुलर हुआ करता था और अब अचानक से सलाथिया कम्युनल बन गया है.

Ghulam Nabi Azad confesses true

The Congress came back on backfight for some time after the disclosure of the senior leader of the party of the Jammu and Kashmir Bar Association BS Sultathia, Ghulam Nabi Azad, the leader of the Congress, but then came out with a new theory. Ghulam Nabi Azad has admitted that Salathia has been a companion of him, but he says that Sultan used to be secular at that time and now suddenly Sallathia became a communal.

बीजेपी व् मोदी को कमजोर करने के लिए कांग्रेस हर स्तर पर प्रयास कर रही है. कोरेगाव में दलित हिंसा, दलित क़ानून को लेकर भारत बंद के दौरान हिंसा, मध्य प्रदेश में किसान आंदोलन के नाम पर हिंसा और अब बलात्कार जैसे जघन्य अपराध का राजनीतिकरण किया जा रहा है और कीचड हिन्दुओं व् मोदी पर उछाला जा रहा है.

Congress is trying every level to weaken BJP and Modi. The violence in Dahej, Dalit law, violation of India under Dalit law, violation of violence in the name of farmers movement in Madhya Pradesh and now rape is being politicized and kicked is being tossed on Hindus and Modi.

कांग्रेस जान चुकी है कि मोदी की विकास की राजनीति का उसके पास कोई तोड़ नहीं है, ऐसे में अब देश को जला कर, बांटकर, दंगों की राजनीति की जा रही है.

Congress has realized that there is no breakthrough in the politics of Modi’s development; in such a way, now the country is being burnt, divided, and the politics of riots is being done.

यह भी देखे

source political report

Leave a Reply