दीपावली, गोधरा, गौरी लंकेश और JNU केस पर फैसले के बाद अब SC ने दिया ये बड़ा फैसला, मच सकता है हाहाकार.

भले ही सरकार में मोदी बैठे हो फिर भी संविधान और कानून तो वही है भारत एक सेक्युलर देश है, और सेक्युलर का मतलब क्या होता है अगर आप दैनिक भारत के नियमित पाठक है तो समझते होंगे सेक्युलर कानून बनाओ, सेक्युलर संविधान बनाओ, सिफारिशों से, कोलोजियम सिस्टम से अपने पसंद के जज बनाओ और जो मन वो करो!

Even though Modi is sitting in the government, the Constitution and the law are the same. India is a secular country, and what is the meaning of secular. If you are a regular reader of daily India, then understand that make a secular law, make a secular constitution, Make your choice of judges from the Colosseum system and do whatever you like.

ये है भारत की पूरी न्याय प्रणाली, अक्टूबर 2017 के महीने में भारत की अदालतें एकदम फुल फॉर्म में है. इस महीने में इन अदालतों ने ये ठान लिया है कि सरे अच्छे काम पुरे करके ही दम लेंगे. और अच्छे काम क्या है ये हम आपको बतातें है. ये महिना तो याद रखने लायक है. भारत की अदालतों कुछ फैसले हम आपको बताते है विभिन्न अदालतों के किस तरह है ये अपनी जिम्मेदारी निभा रहे है!

This is the complete justice system of India, in the month of October 2017, the courts of India are completely in full form. In these months, these courts have decided that they will only be able to fulfill their good work. And we have to do what is good. This month is worth remembering. The courts of India Some decisions we tell you about is the kind of different courts, they are playing their responsibility.

* गुजरात में हाई कोर्ट ने गोधरा स्टेशन पर हिन्दुओ को जिन्दा जला देने वाले 11 विशेष समुदाय वालो को राहत दे दी, उनकी फांसी की सजा को उम्रकैद में बदल दिया.

* In Gujarat, the High Court gave relief to 11 special community who gave life to Hindus at Godhra station, changed their execution to life imprisonment.

* सुप्रीम कोर्ट ने सिर्फ दीपावली पर ही पटाखों पर रोक लगा दिया, सिर्फ दीपावली पर जलाये जाने वाले पटाखों से ही प्रदुषण होता है.

* पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट ने हिन्दुओ को सख्त निर्देश दिए है की दीपावली पर पटाखे सिर्फ 6 बजकर 30 मिनट से 9 बजकर 30 मिनट के बीच ही फोड़ने है.

* The Punjab and Haryana High Courts have given strict instructions to Hindus that the firecrackers on Deepawali are to be broken only between 6.00 and 30 minutes to 9.30.

* मुंबई हाई कोर्ट ने नक्सली गौरी लंकेश को लिबरल बताया और उसका समर्थन किया, उसके समर्थन में टिपण्णी की.

* The Bombay High Court named Naxalite Gauri Lankesh as Liberal and supported it, commenting on its support.

* दिल्ली की अदालत ने JNU के 15 देशद्रोहियों को देशद्रोही नारों के मामले में राहत भी दी है.

* Delhi court has given relief to 15 JNU traitors in cases of sedition slogans.

और आज सुप्रीम कोर्ट ने रोहिंग्यों का भी समर्थन कर दिया, एक तो रोहिंग्या भारतीय नागरिक नहीं है, क़ानूनी तौर पर भी भारत में नहीं आये, घुसबैठिये है सुप्रीम कोर्ट ने आज कहा की रोहिंग्या मुसलमानो को मत निकालो, कोई कुछ करता है तो उसके खिलाफ कार्यवाही करो, पर सभी रोहिंग्या मुसलमानो को मत निकालो!

And today the Supreme Court also supported Rohingyas, one is not a Rohingya Indian citizen, not even in law, but also the intruder. The Supreme Court today said that the Rohingya Muslims do not vote, if someone does something against them Take action, but do not vote for all Rohinga Muslims.

मिलार्ड की मानें तो उनका कहना है की, जब तक रोहिंग्या कुछ करते नही उनको यही रहने दो, अगर कुछ करे तो कार्यवाही करना, इसका मतलब तो साफ़ है की सांप के डसने तक इंतज़ार करो. भारत के हिन्दुओं देशवासियों आपको तब तक कुछ नहीं बोलना चाहिए जब तक ये रोहिंग्या आपको जान से न मार दें!

According to Millard, he says that, unless Rohingya does nothing, let them remain the same, if you do anything, take action, it means that wait until the snake’s dusks. Hindus of India, you should not say anything until the Rohingya do not kill you alive.

इन अदालतों के अनुसार आप लोगो को जब कुछ बोलना चाहिए जब ये आपको मार दें आपकी जान जा रही हो तब आप इनके खिलाफ कोई कड़ा कदम उठाओ. उससे पहले बिलकुल नहीं. मिलार्ड की मानें तो ये बेचारे मासूम है निर्दोष है. जब ये हमारी बहन बेटियों के साथ बुरा सलूक कर चुके होंगे तब इनको लगेगा कि हाँ इस लोगो के खिलाफ कोई कार्यवाहीं करनी चाहिए!

According to these courts, when you want to say something when people kill you, you are going to die, then take some tough action against them. Not at all before that. If Millard believes that this poor person is innocent, then innocent is innocent. When they have done a bad deal with our sister daughters, they will feel that there should be no action against this person.

बिलकुल ही सही ये महीना तो याद रखने लायक ही है, पता नहीं कैसे भारत की अदालतें और मिलार्ड फुल फॉर्म में आ गए हैं. और देश के लिए और देशवासियों के लिए इतना सोच रहे है. इस महीने को याद रखना तो बनता है!

It is worth remembering right this month, I do not know how the courts of India and Millard have come in full form. And thinking so much for the country and for the countrymen. This month is to be remembered.

पीएम मोदी का कपिल सिब्बल के मुहं पर जोरदार तमाचा दिखा दिए दिन में तारे

नई दिल्‍ली : देश भर में तेजी से उठ रही राम मंदिर निर्माण की मांग के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पहली बार इस मुद्दे पर बयान दिया है. राजस्‍थान के अलवर में चुनावी रैली के दौरान उन्‍होंने कांग्रेस पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि राम मंदिर निर्माण की राह में कांग्रेस रोड़े लगा रही है. उन्‍होंने कहा ‘अयोध्‍या मामले पर कांग्रेस न्‍यायिक प्रक्रिया में दखल दे रही है. अयोध्‍या मामले पर कांग्रेस के वकील ने कोर्ट में सुनवाई टालने की अपील की थी. कांग्रेस बहुत बड़ा खेल खेल रही है.’

पीएम मोदी ने कहा ‘सुप्रीम कोर्ट के बड़े-बड़े वकीलों को कांग्रेस राज्यसभा में भेजने लगी है. बीजेपी के पास अभी राज्यसभा में बहुमत नहीं है. लेकिन राज्यसभा में कांग्रेस गंदा खेल खेल रही है. सुप्रीम कोर्ट के वकील राम मंदिर के मामले में दबाव डालते हैं. वे कहते हैं कि 2019 तक इस केस पर फैसला मत दो. इस तरह दबाव बनाने की राजनीति चल रही है.’

उन्‍होंने कहा ‘आज राज्यसभा के सदस्य बड़े वकील सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीशों के खिलाफ महाभियोग लाकर डराने की कोशिश करते हैं. संवेदनशील मुद्दों को सुनने से रोकने का पाप कर रहे हैं. ये लोग देश की न्यायपालिका को बंधक बनाने की कोशिश कर रहे हैं. देश इसके लिए इन्हें कभी माफ नहीं करेगा. लेकिन हम न्यायपालिका की स्वतंत्रता के लिए काम करेंगे. हम इनके काले मंसूबों को लोकतंत्र के मंदिर में कभी पूरा नहीं होने देंगे.’

अयोध्‍या विवाद पर पहली बार बोले PM मोदी, 'राम मंदिर पर रोड़े अटका रही है कांग्रेस'

उन्‍होंने कहा ‘कांग्रेस पार्टी इतनी नीचे गिरती जा रही है कि उन्होंने राजनीति के संस्कार छोड़ दिए हैं, शिष्टाचार भूल गए हैं और चुनाव में विकास के मुद्दों पर बहस करने के लिए वे अपनी हिम्मत भी खो चुके हैं. कांग्रेस के पास चुनाव का मुद्दा नहीं हैं तो वो अब मोदी की जात पूछ रही है. कांग्रेस जातिवाद का जहर फैलाने से बाज नहीं आ रही है, कांग्रेस पार्टी जातिवाद के जहर में डूबी हुई है. दलितों और पिछड़ों के प्रति नफरत का भाव कांग्रेस की रगों में भरा पड़ा है.’

source:zeenews

 

सुप्रीम कोर्ट की लेटलतीफी से हिन्दुओं के लिए बड़ी खुशखबरी सरकार ने जरी किया व्हिप,कांग्रेस समेत कट्टरपंथी हैरान

नई दिल्ली : काफी वक़्त से राम मंदिर का मुद्दा देशभर में गरमाया हुआ है. सुप्रीम कोर्ट के लचर सुनवाई टालू रवैय्ये के कारण लोगों के सब्र का बाँध टूटता जा रहा था. देश भर में साधु संत, आरएसएस,VHP, शिवसेना पूरे देश के लोगों ने कहा था कि सुप्रीम कोर्ट की प्राथमिकता में राम मंदिर मुद्दा नहीं है इसीलिए उसकी परवाह ना की जाए और राममंदिर पर कानून का रास्ता अपनाया जाय. ऐसे में अब लोगों को ये जानकर ख़ुशी होगी कि राम मंदिर पर अब संसद के शीतकालीन सत्र में वही फैसला लिया जाएगा जिसका आप सबको इंतज़ार है.

New Delhi: The Ram temple issue has long been burnt all over the country. People’s patience was being broken by the Supreme Court’s trial hearing. Throughout the country, sadhu saints, RSS, VHP, Shiv Sena, people of the whole country had said that Ram temple is not a priority in the Supreme Court’s priority, so that he should not be cared for and the law of law should be adopted on Ram temple. In such a way, people will be happy to know that the same decision will now be taken at the Ram temple in the Winter Session of which all of you are waiting.

अभी मिल रही बहुत बड़ी खबर के मुताबिक राममंदिर को लेकर रामभक्तों के लिए अब तक की सबसे बड़ी खुशखबरी आ गयी है. अयोध्‍या में राम मंदिर के निर्माण को लेकर चल रहे सियासी घमासान के बीच बीजेपी सांसद रवीन्द्र कुशवाहा ने खुलासा किया है कि अगले महीने शुरू हो रहे संसद के शीतकालीन सत्र में अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए कानून पारित किया जाएगा. यही नहीं इसके लिये केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार ने सत्र के दौरान अपने सभी सांसदों को दिल्ली से बाहर ना जाने का हुक्म दिया है.

According to the great news now available, the best news has been received so far for Ram devotees about Ram temple. Between the political assault on the construction of the Ram Mandir in Ayodhya, BJP MP Ravindra Kushwaha has revealed that the law will be passed to construct a Ram Temple in Ayodhya in the Winter Session of the Parliament that is due next month. Not only this, the Narendra Modi government of the Center has ordered all its MPs not to go out of Delhi during the session.

11 दिसम्बर को हो जाईये तैयार

सलेमपुर सीट से सांसद कुशवाहा ने कल बिल्थरा रोड इलाके में ‘कमल संदेश यात्रा’ के मौके पर एक सभा को संबोधित करते हुए दावा किया कि आगामी 11 दिसम्बर को शुरू होने वाले संसद सत्र में राम मंदिर निर्माण का कानून पारित हो जाएगा. इसके बाद वहां रैली में मौजूद लोगों की ख़ुशी का ठिकाना ना रहा पूरा वातावरण ‘जय श्री राम’ के नारों से गूँज उठा.

Ready on 11th December
Addressing a gathering on the occasion of ‘Kamal Jodh Yatra’ in Bilthara Road area yesterday, claiming that the law of building Ram temple will be passed in the Parliament session beginning on December 11. After this there was no place for happiness of the people present in the rally, and the whole atmosphere was filled with slogans ‘Jai Shri Ram’.

मोदी सरकर ने सभी सांसदों को ‘व्हिप‘ जारी किया

उन्होंने यह भी कहा कि केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार ने गत 16 नवम्बर को ही अपने सभी सांसदों को ‘व्हिप‘ जारी करते हुए संसद सत्र के दौरान दिल्ली से बाहर ना जाने के निर्देश दिए हैं.

Modi Sarkar released Whip to all MPs
He also said that the Narendra Modi government of the Center has issued instructions to all its MPs not to go out of Delhi during the Parliament session while issuing ‘Whip’ on November 16.

कुशवाहा ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने तय कर लिया है कि शीतकालीन सत्र में राम मंदिर निर्माण के लिए कानून पारित करा लिया जाए. मोदी सरदार पटेल को अपना गुरू मानते हैं. पटेल ने जिस तरह तत्कालीन प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू की अनिच्छा के बावजूद संसद से सोमनाथ मंदिर के पुनर्निर्माण का कानून बनवाया, उसी तर्ज पर मोदी भी राम मंदिर के लिए कानून बनाएंगे.

Kushwaha said that Prime Minister Modi has decided that the law should be passed for the construction of Ram Temple in winter session. Modi considers Sardar Patel as his guru In spite of Patel’s reluctance as the Prime Minister of India, Jawaharlal Nehru made the law of reconstruction of the Somnath temple, on the same pattern, Modi will also make a law for the Ram temple.

उन्होंने कहा कि संसद में जब राम मंदिर के कानून को लेकर चर्चा होगी, तब कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की असलियत का भी पता चल जाएगा कि वह कितने बड़े जनेऊधारी और शिवभक्त हैं.

He said that when Parliament will discuss the law of Ram temple, then the reality of Congress President Rahul Gandhi will also be realized how large he is of Jains and sects.

बता दें संसद में लोकसभा में बीजेपी को बहुमत है लेकिन राज्यसभा में अभी भी बीजेपी बहुमत से पीछे है. ऐसे में तीन तलाक की तरह कांग्रेस राम मंदिर का विरोध ज़रूर करेगी क्यूंकि कांग्रेस के वकील कपिल सिब्बल ही कोर्ट में राम मंदिर के खिलाफ केस लड़ रहे थे. और कांग्रेसी नेताओं ने भगवान राम को काल्पनिक तक कह दिया था. यही नहीं कपिल सिब्बल चाहते थे कि राम मंदिर की सुनवाई 2019 तक किसी तरह टल जाए और कोर्ट के कांग्रेसी नेता के बेटे CJI गोगोई ने वही फैसला सुनाते हुए अगले साल पर टाल दिया था.

In the Lok Sabha, the BJP has a majority in the Lok Sabha but BJP is still behind the majority in the Rajya Sabha. In such a case, the Congress would oppose the Ram temple like the three divorces, because the Congress lawyer Kapil Sibal was fighting the case against the Ram temple in the court. And the Congress leaders had told Lord Rama to the imaginary. Not only this, Kapil Sibal wanted that the trial of the Ram temple be set aside in 2019 and the court’s son, CJI Gogoi, had pronounced the same verdict and pronounced the next year.

कुशवाहा ने राफेल विमान खरीद को लेकर मोदी सरकार पर लगातार हमले कर रहे राहुल पर आरोप लगाया कि राजनीति में विफल होने के बाद राहुल जनता को गुमराह करने और पाकिस्तान तथा चीन से सूचनाएं साझा करने के लिये राफेल का फर्जी मामला उठा रहे हैं.

Kushwaha accused Rahul, who is constantly attacking the Modi government for purchasing Raphael aircraft, after failing in politics, Rahul is raising Rafael’s fake case for misleading the public and sharing information from Pakistan and China.

source:ddbharti

url:bhartinews.in

आगराः AIMIM के शहर अध्यक्ष ने MLA ने BJP को रेप केस में फंसाने के लिए रची ये बड़ी साजिश

पूरा विपक्ष मिला हुआ है और ये विपक्ष बीजेपी को 2019 में रोकने के लिए बीजेपी को महिला विरोधी और बलात्कारी पार्टीघोषित करने में लगा है, इस विपक्ष के साथ मीडिया गटबंधन करके चल रही है, क्यूंकि कांग्रेस की सरकार आएगी तो मीडिया के संपादको और पत्रकारों के 2014 से पहले वाली लाइफ वापस आयेगी, जहाँ ये PM के साथ विदेशी दौरों में जाते थे, और इनके 7 सितारा होटल का खर्च भारत सरकार के खजाने से चुकाया जाता था, मसाज, लड़की, शबाब और बहुत कुछ, पर मोदी तो सिर्फ दूरदर्शन वालो को ही सरकारी खर्च पर लेकर जाते है, चूँकि वो सरकारी चैनल है

The whole opposition is mixed and the opposition BJP has been trying to declare BJP as a female anti-rape party and in order to stop it in 2019, the media is being organized with this opposition, because the Congress government will come, media editors and journalists Life before 2014 will come back, where it used to go on overseas visits with PM, and the expenses of their 7-star hotel were paid by the treasury of the Indian government, Massage, girl, shabab and many more, but Modi only takes the Doordarshan people on government expenditure, since they are the official channel

अब बीजेपी को बलात्कारी पार्टी घोषित करने के लिए किस तरह और किस स्तर पर साजिश की जा रही है, वो भी समझने की कोशिश कीजिये, आगरा में ओवैसी की पार्टी AIMIM के जिला अध्यक्ष मोहम्मद इदरिस के खिलाफ उत्तर प्रदेश की पुलिस ने FIR दर्ज किया है, हालाँकि मोहम्मद इदरिस अभी गिरफ्तार नहीं किया गया है, ये एक पत्रकार के साथ (इसका खुलासा पुलिस ने नहीं किया है की कौन सा पत्रकार), तो मोहम्मद इदरिस एक पत्रकार के साथ मिलकर आगरा के एत्मादपुर सीट से बीजेपी के विधायक राम प्रताप चौहान को रेप केस में फंसाने की तैयारी कर रहा था

Now, try to understand the way in which and at what level the conspiracy is being made to declare BJP a rapist party, the FIR has lodged against the District President of AIMIM, Mohammed Idris, in Owaisi’s party in Agra. , Although Mohammed Idriss has not been arrested yet, with a journalist (who has not disclosed what the police has not disclosed), then Mohammad Idris with a journalist Together, preparations were made to trap BJP’s MLA Ram Pratap Chauhan from the Etmdpur seat in Agra.

प्लान ये था की एक युवती को पैसा देकर तैयार किया जाये, जो इस विधायक से पहले कभी मिली हो, किसी भी काम से, तो क्या होगा की युवती विधायक पर रेप की शिकायत दर्ज करवाएगी, फिर मीडिया शुरू हो जाएगी, कोर्ट की क्या जरुरत है, मीडिया के लोग 10 मिनट में बीजेपी विधायक को भले ही वो नार्को टेस्ट तक की मांग करे फिर भी बलात्कारी घोषित कर देंगे, और बाद में 3-5 साल में मामला झूठा भी निकले तो निकले, तबतक बीजेपी के खिलाफ राजनितिक रोटियां तो सिक ही जाएँगी

The plan was that a girl should be prepared by giving money, which she has never met before this legislator, from any work, what will happen that the girl will file a complaint of rape on the MLA, then the media will start, what is the need of the court The people of the media, in 10 minutes, will ask the BJP legislator even if he demands the Narco Test, he will still be a rapist, and later in 3-5 years, if the case goes out false, then it will come out of the BJP. Graph political loaves will be so sick

तो मोहम्मद इदरिस बीजेपी के विधायक को बलात्कारी घोषित करने के लिए एक लड़की और एक स्क्रिप्ट तैयार कर रहा था वो भी एक पत्रकार के साथ मिलकर, पर इस से पहले की राज्प्रताप चौहान के खिलाफ रेप की शिकायत दर्ज करवाने कोई लड़की पहुंची, इस मामले का खुलासा हो गया, और मोहम्मद इदरिस के खिलाफ साजिश रचने के मामले में FIR दर्ज कर लिया गया

So Mohammed Idris was preparing a girl and a scriptwriter to declare the MLA of BJP MLA as a rapist, she also came in contact with a journalist, but before this, a girl approached the police to register a complaint against Rajapatap Chauhan. Was revealed, and FIR was registered in the case of conspiracy against Mohammed Idris

अन्यथा अब कुछ ही दिनों में आप टीवी खोलते, सोशल मीडिया खोलते तो मीडिया और कैम्ब्रिज अनालिटिका आपको बता रही होती की बीजेपी बलात्कारी पार्टी है यूपी के एक और बीजेपी विधायक ने महिला का रेप किया, इस स्तर की साजिश देश में चल रही है

Otherwise, in a few days, when you open the TV, open social media, media and Cambridge analytics would tell you that the BJP is a rape party, another BJP MLA from UP raped the woman, the plot of this level is going on in the country.

https://youtu.be/WE3MmmBzG4k

https://youtu.be/o9LQnPMci4I

source namopress.in

अभी-अभी: तमिलनाडु में मूर्ति को तोड़ने के बाद बीजेपी के साथ कुछ हुआ ऐसा, जिसे देख राहुल गाँधी समेत कांग्रेस हैरान

नई दिल्ली : तमिलनाडु के कोयंबटूर में कुछ अज्ञात लोगों ने बीजेपी ऑफिस पर पेट्रोल बम फेंका है. रिपोर्ट्स के मुताबिक यह घटना कोयंबटूर के चिथापुडुर में बुधवार तड़के हुई. जिस वक्त बीजेपी ऑफिस पर यह पेट्रोल बम फेंका गया उस वक्त वहां कोई भी कार्यकर्ता या अन्य लोग मौजूद नहीं थे, इसलिए किसी भी नुकसान की जानकारी खबर लिखे जानें तक नहीं हुई थी. इस पूरी घटना का वीडियो कार्यालय के बाहर लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई.

New Delhi: In Tamil Nadu, some unknown people have thrown petrol bombs at BJP office in Coimbatore. According to the reports, the incident took place in Chithapudur in Coimbatore on Wednesday. At the time when the petrol bomb was thrown at the BJP office, there were no workers or other people present there, so the information of any damage was not known until the news was written. The whole event was captured in the CCTV camera outside of the video office.

सीसीटीवी फुटेज में कैद हुई घटना
न्यूज एजेंसी एएनआई पर जारी वीडियो में देखा जा सकता है कि कुछ शख्स पीछे से आते हैं और कार्यालय पर बम फेंकते हैं, तभी कार्यालय के अंदर से एक शख्स बाहर निकलता और जब तक वह कुछ समझ पाता है बम फेंकने वाले शख्स फरार हो जाते हैं.

CCTV footage incidents captured
It can be seen in the video released on News Agency ANI that some people come from behind and throw bombs at the office, then a man comes out of the office and till he understands that the person throwing the bomb is absconding. .

फिलहाल पुलिस ने सीसीटीवी कैमरे की फुटेज के आधार पर अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है.

‘पेरियार’ की प्रतिमा को भी किया गया क्षतिग्रस्त
तमिलनाडु के वेल्लोर जिले में मंगलवार रात समाज सुधारक एवं द्रविड़ आंदोलन के संस्थापक ई वी रामासामी ‘पेरियार’ की प्रतिमा कथित रूप से क्षतिग्रस्त कर दी गई थी. पुलिस ने दावा किया है कि इस घटना को नशे में रहे दो व्यक्तियों ने इस पूरी घटना को अंजाम दिया है. पेरियार की मूर्ति तोड़ने की घटना ऐसे वक्त में हुई है जब बीजेपी के एक नेता के फेसबुक पोस्ट के कारण विवाद खड़ा हो गया. बीजेपी नेता एच राजा ने फेसबुक पोस्ट में लिखा था कि लेनिन की मूर्ति गिराए जाने के बाद अगल नंबर पेरियार की मूर्ति पर हो सकता है. इससे पहले लेनिन की प्रतिमा को त्रिपुरा में संदिग्ध भाजपा कार्यकर्ताओं ने गिरा दिया था.

At the moment, the police has started investigations by filing a case against unknown people on the basis of footage of CCTV cameras.

‘Periyar’ statue damaged
In the Vellore district of Tamilnadu on Tuesday night, the statue of the social reformer and the founder of the Dravid movement, E V Ramasamy Periyar, was damaged. Police have claimed that two persons who were drunk in this incident have done the entire incident. Periyar’s statue breaking event happened at a time when the controversy arose due to the Facebook post of a BJP leader. BJP leader H Raja had written in a Facebook post that after the idol of Lenin, the number could be on the idol of Periyar. Earlier, Lenin’s statue had been dropped by suspected BJP workers in Tripura.

यह भी देखे

https://youtu.be/1YmeDP0wOXs

sourcename:politicalreport

मेघालय और नागालैंड चुनाव: कांग्रेस और BJP के बीच इस पार्टी को मिल रहा बड़ा फायदा

शिलांग/कोहिमा: दो पूर्वोत्तर राज्यों मेघालय और नगालैंड में आज (27 फरवरी) को सुबह 7 बजे से विधानसभा चुनाव के लिए वोटिंग जारी है. वोटिंग शाम चार बजे तक चलेगा. नगालैंड के दूरदराज के जिलों में कुछ मतदान केंद्रों पर मतदान तीन बजे समाप्त हो जाएगा. दोनों राज्यों में 60-60 सदस्यीय विधानसभा है, लेकिन दोनों ही प्रदेशों में 59-59 सीटों पर वोटिंग जारी है. दोनों ही राज्यों में और त्रिपुरा में चुनाव के परिणाम 3 मार्च को घोषित किए जाएंगे. मेघालय में 18 फरवरी को ईस्ट गारो हिल्स जिले में एक आईईडी विस्फोट में राकांपा प्रत्याशी जोनाथन एन संगमा की मौत हो जाने की वजह से विलियमनगर सीट पर चुनाव रद्द कर दिया गया है. नगालैंड में एनडीपीपी प्रमुख नीफियू रियो को उत्तरी अंगामी..द्वितीय विधानसभा सीट से निर्विरोध
निर्वाचित घोषित किया जा चुका है.

Shillong / Kohima: In two North Eastern states of Meghalaya and Nagaland, today (27th February) voting is going on for the Assembly elections from 7 am onwards. Voting will run till 4 o’clock in the evening. Polling at some polling stations in remote districts of Nagaland will end at three o’clock. There is a 60-60-member assembly in both the states, but voting is going on in 59-59 seats in both the states. Election results in both states and Tripura will be announced on March 3. In Meghalaya, the election on the WilliamMannagar seat has been canceled because of the death of NCP candidate Jonathan N Sangma in an IED blast in East Garo Hills district. NDPP chief Nefiyo Rio in Nagaland is elected unopposed from the Northern Angami seat.
Election has been declared.

लाइव अपडेटः

10.05 बजे : नेशनलिस्ट डेमोक्रेटिक प्रोग्रेसिव पार्टी (एनडीडीपी) के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार नेफ्यू रियो को उत्तरी अंगामी-2 निर्वाचन सीट से निर्विरोध विजयी घोषित कर दिया गया.

Live updates:

10.05 pm: Chief of the Nationalist Democratic Progressive Party (NDDP) Chief Minister N.F. Roi was declared unopposed from the North Angami-2 constituency.

9.30 बजे : पुलिस अधिकारी ने बताया कि राज्य के पूर्वी हिस्से के तिजित निर्वाचन क्षेत्र के एक मतदान केंद्र में सुबह लगभग 5.45 बजे बम विस्फोट हुआ, जिसमें एक शख्स घायल हो गया.

9.30 hrs: Police officer said that a bomb blast took place at around 5.45 am in a voting center in the constituency of the Tijit constituency in eastern part of the state, in which one person was injured.

9.09 बजे : नागालैंड के तिजित में पोलिंग बूथ पर उग्रवादियों का हमला किया है गया है.

9.09 hrs: The insurgents have been attacked on the polling booth in Nagaland’s Tijit.

मेघालय में 370 प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं

मेघालय में कांग्रेस ने 59 और बीजेपी ने 47 सीटों पर प्रत्याशी उतारे हैं. इस राज्य में लोकसभा के पूर्व अध्यक्ष पीए संगमा के पुत्र कॉनराड संगमा की नेशनल पीपुल्स पार्टी (एनपीपी) और बीजेपी अलग-अलग चुनाव लड़ रही हैं, लेकिन नॉर्थ ईस्ट डेमोक्रेटिक अलायंस (एनईडीए) में एनपीपी बीजेपी की सहयोगी है.

370 candidates in Meghalaya are in the fray

In Meghalaya, the Congress has 59 candidates and BJP has fielded candidates in 47 seats. The National People’s Party (NPP) and the BJP of Conrad Sangma, son of PA Sangma, former Lok Sabha Speaker, are contesting different elections, but NPP is a partner of BJP in the North East Democratic Alliance (NEDA).

ये भी पढ़ें : मेघालय चुनाव मैदान में नेताओं के परिजनों को अहम स्थान

पीएम मोदी ने की वोट अपील
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को नगालैंड और मेघालय विधानसभा के लिए लोगों से बड़ी संख्या में मतदान करने का आग्रह किया. मोदी ने ट्वीट कर मतदाताओं से बड़ी संख्या में मतदान करने की अपील की है.

Read also: Important places for families of leaders in Meghalaya elections

PM Modi’s vote appeal
Prime Minister Narendra Modi on Tuesday urged people to vote in large numbers for Nagaland and Meghalaya assembly elections. Modi has appealed to voters to vote in large numbers by tweeting.

नगालैंड में पहली बार दमखम से लड़ रही है बीजेपी
नगालैंड में बीजेपी को नीफियू रियो की नेशनलिस्ट डेमोक्रेटिक प्रोग्रेसिव पार्टी (एनडीपीपी) के साथ किनारे लगने की उम्मीद है. दोनों गठबंधन भागीदारों में से एनडीपीपी ने 40 सीटों पर और बीजेपी ने शेष 20 सीटों पर प्रत्याशी उतारे हैं. वर्ष 1963 में नगालैंड के अस्तित्व में आने के बाद कांग्रेस ने तीन मुख्यमंत्री दिए. लेकिन वह अब केवल 18 सीटों पर लड़ रही है जबकि भाजपा यहां 20 सीटों पर खड़ी है.

BJP is fighting for the first time in Nagaland
In Nagaland, BJP is expected to get along with Nephilio Rio’s Nationalist Democratic Progressive Party (NDPP). Of the two coalition partners, the NDPP has fielded candidates in 40 seats and the BJP has contested the remaining 20 seats. After Nagaland came into existence in 1963, the Congress has given three Chief Ministers. But he is now fighting only 18 seats while the BJP is standing here in 20 seats.

ये भी पढ़ें : मेघालय चुनावः शशि थरूर ने क्षेत्रीय पार्टी NPP को बताया ‘कुत्ते की पूंछ’, बीजेपी गुस्साई

मेघालय में 370 प्रत्याशी आजमा रहे भाग्य
मेघालय में 370 प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं. कुल 18.4 लाख मतदाता राज्य में फैले 3,083 मतदान केंद्रों पर अपने मताधिकारों का उपयोग करेंगे. मेघालय के मुख्य निर्वाचन अधिकारी एफ आर खारकोंगोर ने बताया कि राज्य में पहली बार 67 महिला मतदान केंद्र और 61 आदर्श मतदान केंद्र स्थापित किए गए हैं. राज्य विधानसभा चुनाव में 32 महिलाएं भी उम्मीदवार हैं.

Read also: Meghalaya elections: Shashi Tharoor told regional party NPP ‘dog of tail’, BJP angry

Meghalaya destined for 370 candidates
There are 370 candidates in the Meghalaya constituency. A total of 18.4 lakh voters will use their franchise at 3,083 polling stations spread across the state. Meghalaya’s Chief Electoral Officer, F.R. Kharkongogor said that for the first time 67 women polling stations and 61 model polling stations have been set up in the state. 32 women are also the candidates for the state assembly elections.

नगालैंड में 11,91,513 मतदाताओं में से 6,01,707 पुरूष और 5,89,806 महिला मतदाता अपने मताधिकार का उपयोग करेंगे. सैन्य सेवाओं में कार्यरत मतदाताओं की संख्या 5,925 हैं. नगालैंड में चुनाव से पहले नगा राजनीतिक मुद्दे के समाधान की मांग कर रही नगालैंड ट्राइबल होहोज एंड सिविल ऑर्गनाइजेशन्स (सीसीएनटीएचसीओ) की कोर समिति ने ‘‘चुनाव नहीं’’ का फरमान जारी किया है जिसके चलते राजनीतिक दलों ने खुद को चुनाव प्रक्रिया से अलग कर रखा है.

Of Nagaland 11,91,513 voters, 6,01,707 males and 5,89,806 female voters will use their franchise. The number of voters employed in military services is 5,925. Nagaland Tribal Hohoj and Civil Organizations (CCNTHCO), demanding a solution to the Naga political issue before the election in Nagaland, has issued the order of “No Election”, due to which political parties have separated themselves from the election process. Is kept.

यह भी देखे

https://youtu.be/1YmeDP0wOXs

SOURCENAME:POLITICALREPORT

गृह मंत्रालय ने दिए सेना को ऐसे आदेश,पाकिस्तान की सूखी जान ट्रम्प समेत पुतिन हैरान

जम्मू-कश्मीर में पाकिस्तान की तरफ से हालिया गोलीबारी के खिलाफ भारतीय फौज की जवाबी कार्रवाई पर केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि भारत की दुनिया में अब एक मजबूत देश के रूप में छवि बन चुकी है।

यूपी की राजधानी लखनऊ में भारतीय रेलवे माल गोदाम श्रमिक संघ के एक दिवसीय महाधिवेशन को संबोधित करते हुए राजस्थान ने पाकिस्तान का जिक्र करते हुए कहा, ‘भारत अपने पड़ोसी के साथ अच्छे संबंध रखना चाहता है लेकिन पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। मैं आपको यकीन दिलाना चाहता हूं कि पूरे हिंदुस्तान का मस्तक हमारी सरकार कभी झुकने नहीं देगी।’

बहादुर सैनिकों ने दिखाया करिश्मा

उन्होंने कहा, ‘भारत अब दुनिया में कमजोर नहीं बल्कि एक ताकतवर देश के रूप में जाना जाता है। आज से कुछ महीने पहले पाकिस्तान के कुछ आतंकवादी भारत की सीमा में घुस आए थे। उन्होंने हमारी सेना के जवानों पर रात में कायरतापूर्ण हमला करके 17 सैनिकों की जान ले ली थी। उसके बाद हमारे प्रधानमंत्री हमारे साथ बैठे और उन्होंने अपनी दृढ़ इच्छाशक्ति का परिचय देते हुए फैसला किया।’

गृह मंत्री ने कहा ‘उसके बाद हमारे बहादुर सैनिकों ने कैसा करिश्मा किया, यह आपको बताने की जरूरत नहीं है। पाकिस्तान की धरती पर जाकर आतंकवादियों का सफाया करने में वे पूरी तरह कामयाब रहे। हमने सारी दुनिया को यह संदेश दे दिया कि हम केवल इस पार ही नहीं, जरूरत पड़ी तो उस पार भी जाकर मार सकते हैं। भारत के अंदर यह ताकत पैदा हो गई है।’

बीजेपी सरकार देश का सिर झुकने नहीं देगी

उन्होंने कहा कि वह देश को यकीन दिलाना चाहते हैं कि बीजेपी की सरकार हिंदुस्तान + का सिर नहीं झुकने देगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में देश की अर्थव्यवस्था बहुत तेजी से आगे बढ़ रही है। आर्थिक दृष्टि से भी यदि देखा जाए तो भारत तेजी से आगे बढ़ रहा है। भारत की प्रतिष्ठा भी अंतरराष्ट्रीय जगत में तेजी से आगे बढ़ रही है। हमारे प्रधानमंत्री ने कई महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं। अब अंतर्राष्ट्रीय अर्थशास्त्री और विशेषज्ञ भी इसे स्वीकार करते हैं।

राजनाथ सिंह ने रेलवे माल गोदाम श्रमिकों की समस्याओं का जिक्र करते हुए कहा कि सबसे बड़ी बात यही है कि आपकी समस्याओं का अब तक समाधान नहीं हुआ है। उन्होंने भरोसा दिलाया कि वह रेल मंत्री पीयूष गोयल और श्रमिक संघ के प्रतिनिधियों के साथ बैठकर चर्चा करेंगे।

राज नाथ सिंह ने तो यह तक कह दिया कि जन से भाजपा सरकार आई है देश में और प्रदेह में भी अस्स्माजिक तत्वों के अन्दर एक भय का माहौल है, मगर केवल देश में इ नहीं अब पुरे विश्व में भारतियों को कोई भी देश हलके में नहीं लेता वरन अधिक सम्मान से बात करता है इसका कारण केवल यह ही है कि हिंदुस्तान ने पूरी दुनिया को संदेश दे दिया है कि वह सरहद के इस पार ही नहीं, बल्कि जरूरत पड़ने पर उस पार भी घुसकर दुश्मन को मार सकता है। यह बात विशेष ध्यान देने योग्य है |गृह मंत्रालय की तरफ से सेना को निर्देश दिए गए हैं की पाकिस्तान की किसी भी नापाक हरकत का जवाब देने के लियें सेन अको खुली छूट है और वो कोई भी कार्यवाही करने के लियें मुक्त है |

रेल कर्मचारियों पर भी नजर

हमें बताया गया है कि अपने पसीने से रेलवे को बड़ी आमदनी कराने वाले रेलवे माल गोदाम श्रमिकों में से बड़ी संख्या में ऐसे लोग भी हैं, जिनकी पिछली पीढ़ियां भी रेलवे श्रमिक ही थे। इसके बावजूद उनके पास कोई पहचान-पत्र नहीं है और ना ही रेलवे के अस्पतालों में चिकित्सा की सुविधा प्राप्त है। वह इन समस्याओं का समाधान कराने की पूरी कोशिश करेंगे।

रेलवे ने वर्ष 2030 तक तीन अरब टन माल ढुलाई का लक्ष्य तय किया है और रेलवे के नेटवर्क को बढ़ाने के लिए केंद्र सरकार पांच लाख करोड़ रुपये खर्च करेगी।

यह भी देखें:-

https://youtu.be/6KzO3XxanXM

https://youtu.be/BVuWDLCqpCM

कासगंज हिंसा में चन्दन के पिता ने किया सनसनीखेज़ खुलासा, CM योगी समेत पुलिस आयी रेड अलर्ट पर !

कासगंज में तिरंगा यात्रा मुस्लिम बहुल इलाके से निकालने पर हुई पत्थरबाज़ी के बाद, गोलियां चलायी गयी. इस दौरान हुई हिंसा में 22 साल के युवक अभिषेक गुप्ता उर्फ चंदन की मौत हो गई थी. जिसका एक हत्यारा अब सलीम को यूपी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है, इसके दो और भाई की धरपकड़ के लिए छापेमारी जारी है. इस बीच चंदन के पिता ने बड़ा खुलासा किया है ये उन लोगों को कान खोलकर सुनना चाहिए जो कहते है भारत देश में मुस्लिम सुरक्षित नहीं है.

After the stone-throwing took place in Kasganj, the tri-color journey from Muslim-dominated areas was fired. During the violence, 22-year-old Abhishek Gupta alias Chandan was killed. The one whose killer is now arrested by the UP police, Salim is raiding for two more brothers of his brother. In the meantime, Chandan’s father has made a big disclosure, he should listen to those ears, who say that Muslims in India are not safe in India.

अभी मिल रही बड़ी खबर के मुताबिक देशभक्त अभिषेक गुप्ता उर्फ चंदन की मौत पर जहाँ इस घटना के बाद से ही चंदन का परिवार सदमे में है वही अन्य राजनितिक पार्टियां अपनी रोटियों सेंक रही है. सब अपनी तुष्टिकरण की राजनीति खेल रही हैं. वही अब चंदन के परिवार को आरोपियों की तरफ से धमकी भी मिलने लगी है. गुरुवार को चंदन के पिता ने खुलासा करते हुए आरोप लगाया कि कुछ लोगों ने उन्हें धमकी दी है कि अगर दुश्मनी मोल ली तो अंजाम बहुत बुरा कर देंगे.

According to the big news now, on the death of patriot Abhishek Gupta alias Chandan, since Chandan’s family is in shock since this incident, other political parties are baking his loaves. All are playing politics of their appeasement. The same Chandan’s family is now getting threat from the accused. On Thursday, Chandan’s father exposed, alleging that some people threatened him that if the money was bought, then the consequences would be very bad.

चंदन के पिता सुशील गुप्ता निडरता से मीडिया के सामने आया और जिहादियों की धमकी के बारे में बताते हुए कहा “सुबह मैं घर के बाहर बैठा था. कुछ लोग बाइक पर आए. मेरे सामने बाइक रोकी और धमकी देते हुए बोले कि आरोपी जेल जा रहे हैं लेकिन दूसरे लोग अभी भी यहां हैं. हमसे दुश्मनी मोल मत लो, वरना देख लेंगे.” इस दौरान सुशील गुप्ता ने कहा कि उनकी और उनके परिवार की जिंदगी खतरे में है. उन्होंने प्रदेश सरकार से सुरक्षा की भी मांग की है. साथ ही परिवार की सुरक्षा के लिए लाइसेंसी हथियार की भी मांग की है.

Chandan’s father Sushil Gupta came in front of the media with fearlessness and said about the threat of jihadis, saying “I was sitting outside the house in the morning. Some people came to the bike. Stop the bike in front of me and threatened that the accused are going to jail but others are still here. Do not bargain with us, otherwise you will see. “Meanwhile, Sushil Gupta said that the life of him and his family is in danger. He also demanded protection from the state government. In addition, it has also sought the licensee’s weapon for the protection of the family.

दरअसल योगी सरकार के कड़े आदेश के बाद कासगंज में पुलिस ऐक्शन मोड में आयी है, लगातार आरोपियों की धरपकड़ हो रही है. पूरे इलाके में कट्टरपंथियों को घसीट घसीट कर बाहर निकला जा रहा है. बता दें चंदन की हत्या का मुख्य आरोपी सलीम भी गिरफ्तार कर लिया गया है. इसके दो भाई अभी फरार चल रहे हैं. पूरे इलाके में RAF (रैपिड एक्शन फाॅर्स) का कड़ा पहरा है.

In fact, after the strict order of the Yogi Government, the police action in Kasganj has come into action mode, constantly arresting the accused. The extremists are being dragged out in the entire area by dragging. Saying Salim, the main accused of Chandan’s murder, has also been arrested. Two of his brothers are still absconding. RAF (Rapid Action Farms) is a strict guard in the entire area.

इससे पहले मंगलवार को कासगंज में पुलिस ऐक्शन मोड में दिखी. आरोपियों की धरपकड़ के लिए पुलिस ने लगातार उनके ठिकानों पर दबिश दी. इस दौरान एक मकान में आरोपियों के छिपे होने की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची. पर, यहां बाहर से ताला लगा हुआ था। इसके बाद पुलिस घर का दरवाजा तोड़कर अंदर घुस गई और यहां छिपे चार आरोपियों को धर दबोचा. बताया जा रहा है अब इन सभी आरोपियों की संपत्ति जब्त की जायेगी.मंगलवार को वसीम के घर के बाहर कुर्की का नोटिस चस्पा कर दिया गया.

Earlier on Tuesday, police in Kasganj appeared in action mode. For the arrest of the accused, the police continued to raid their bases. During this, the police reached the spot on the information of the accused being hidden in a house. But, here it was locked from the outside. After this, the police broke into the door of the house and entered the room and dumped the four accused here. It is being told that the assets of these accused will now be seized. On Tuesday, the notice of attachment was issued against Wasim’s house.

यह भी देखे :

https://www.youtube.com/watch?v=2p5FWA_BBz4

https://youtu.be/6KzO3XxanXM

ब्रेकिंग – मोदी सरकार ने की गरीबों पर तोहफों की जबरदस्त बरसात, ख़ुशी से झूमे उठे सारे भारतीय

नई दिल्ली : मोदी सरकार की ओर से इस बजट में तोहफों की बरसात की गयी है, जिनसे आम जनता को काफी राहत मिलेगी. वित्त मंत्री अरुण जेटली मोदी सरकार के मौजूदा कार्यकाल के आखिरी पूर्ण बजट को संसद में पेश कर रहे हैं. बताया जा रहा है कि ये पीएम मोदी का ड्रीम बजट है, इसी को देखते हुए जनता के लिए काफी तरह के फायदे इस बजट में दिए गए हैं.

New Delhi: On behalf of the Modi Government, gifts have been distributed in this budget, which will provide great relief to the general public. Finance Minister Arun Jaitley is presenting the last full budget of the current term of the Modi government in Parliament. It is being said that this is PM Modi’s dream budget, considering that a lot of benefits have been given to the public in this budget.

सबसे पहला फायदा आम जनता के लिए ये है कि मोदी सरकार करीब 50 करोड़ लोगों को अब प्रति वर्ष 5 लाख रुपए का स्‍वास्‍थ्‍य बीमा देगी. इसी के साथ 10 करोड़ परिवारों को 5 लाख रुपये प्रति साल इलाज के लिए राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत मिलेंगे. बता दें कि अभी तक लोगों को केवल 30,000 रुपये मिलते थे.

The first benefit is for the general public that the Modi government will now provide health insurance of about Rs 5 lakh per annum to nearly 500 million people. With this, 10 crore households will get Rs 5 lakh per year for treatment under Rashtriya Swasthya Bima Yojna. Let the people get only 30,000 rupees till now.

इसके अलावा टीबी के मरीजों को उपचार के दौरान 500 रुपए प्रति माह दिए जाएंगे. 24 नए सरकारी मेडिकल कॉलेज और अस्‍पताल खोले जाएंगे. प्रत्‍येक राज्‍य में एक मेडिकल कॉलेज की स्‍थापना की जाएगी. ताकि लोगों को सस्ता व् अच्छा इलाज मिल सके, उन्हें इसके लिए दिल्ली ना भागना पड़े, अपने राज्य में ही बेहतरीन इलाज की व्यवस्था उन्हें मिले.

Apart from this, TB patients will be given 500 rupees per month during treatment. 24 new government medical colleges and hospitals will be opened. A medical college will be set up in each state. So that people can get cheaper and good treatment, they have to run away from Delhi for this, get them the best treatment system in their state.

उज्‍जवला योजना के तरत करीब 8 करोड़ गरीब महिलाओं को मुफ्त गैस कनेक्शन दिया जाएगा. साथ ही मोदी सरकार ने गरीबों को बड़ा तोहफा देते हुए 4 करोड़ घरों को मुफ्त बिजली देने का फैसला किया है. उन्हें अब अँधेरे में अपनी जिंदगी नहीं गुजारनी होगी.

Nearly 80 million poor women will be given free gas connections under Ujjwala scheme. At the same time, Modi government has given a big gift to the poor and has decided to provide free electricity to 40 million households. They will not have to spend their life in darkness now.

इस बजट में किसानों को भी बड़ी राहत दी गई है. मोदी सरकार ने इस बार रबी की फसल को MSP से डेढ़ गुना कीमत पर खरीदा है. साथ ही ये ऐलान भी किया है कि अब से सभी फसलों को MSP से डेढ़ गुना कीमत पर खरीदा जाएगा. ऐसा होने से किसानों को उनकी लागत से कम से कम डेढ़ गुना लाभ मिलेगा. किसानों को कर्ज के लिए 11000 करोड़ का फंड निर्धारित किया गया है.

This budget has also given great relief to the farmers. This time Modi Government has bought Rabi crop at MSP for one and a half times. At the same time, he has announced that all crops from now on will be bought at a price of one and a half times from the MSP. By doing so, farmers will get at least one and a half times their cost. A fund of Rs 11000 crore has been set up for the farmers for the loan.

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के तहत 1 करोड़ से अधिक मकान बनाए जा रहे हैं. इनमें शहरी क्षेत्रों में 37 लाख नए मकान बनाएंगे. 2022 तक हर किसी को अपना घर मिलेगा. बुजुर्गों के लिए FD, RD पर ब्याज को टैक्स फ्री कर दिया गया है, जिसे एक अहम् कदम माना जा रहा है.

More than 10 million houses are being constructed under the Prime Minister’s housing scheme. They will create 37 lakh new houses in urban areas. Everyone will get their home till 2022 For the elderly, interest on FD, RD has been tax-free, which is considered as an ego step.

600 नए हवाई अड्डे बनाये जाएंगे, जिनमे 16 एयरपोर्ट इंटरनेशनल लेवल के होंगे. 3600 किमी. नई रेल लाइन बिछाई जाएंगी. 4000 से ज्यादा मानव क्रॉसिंग बंद किए जाएंगे. सारी रेल लाइनें ब्रॉड गेज लाइन में बदल जाएगी. 70 लाख नई नौकरियां दी जाएंगी. नई नौकरियों में 12 फीसदी EPF देगी सरकार. 2020 तक 50 लाख युवाओं स्कॉलरशिप दी जायेगी. छोटे उद्योगों के लिए 3794 करोड़ रुपए खर्च होंगे.

600 new airports will be built, 16 international airports 3600 km New rail lines will be laid. More than 4000 human crossings will be stopped. All rail lines will be converted to broad gauge line. 70 lakh new jobs will be given. Government to give 12 percent EPF in new jobs Up to 5 million youths will be given scholarships by 2020. 3794 crores will be spent for small industries.

यह भी देख:

https://www.youtube.com/watch?v=2p5FWA_BBz4

https://youtu.be/6KzO3XxanXM

अभी अभी मोदी सरकार ने गरीबों के लिया यह बड़ा फैसला, देश भर में ख़ुशी की लहर !

इस साल बजट नई सौगात लेकर आई है। साल 2022 तक हर किसी के पास अपना घर होगा। सिंचाई योजना के तहत हर घर में पानी की व्यवस्था की जाएगी। वहीं गरीबों की शिक्षा और अन्य सुविधाओं को प्राथमिकता दी जाएगी। 20 लाख बच्चों को स्कूल भेजने का लक्ष्य रखा गया है।

This year the budget has come up with new deals. By 2022 everyone will have their own home. Under the irrigation scheme, water will be arranged in every house. On the other hand, education of poor and other facilities will be given priority. A target has been set to send 2 million children to school.

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि मौजूदा समय में अर्थव्यवस्था मजबूत स्थिति में है। देश की अर्थव्यवस्था भ्रष्टाचार के दौर से बाहर निकल चुकी है। जीएसटी के सुधार से देश में कारोबार को नई रफ्तार मिली है। नोटबंदी से कालेधन पर लगाम लगा है। मौजूदा सरकार के कार्यकाल में आर्थिक सुधारों से अर्थव्यवस्था तेज रफ्तार के दौर में है।

Finance Minister Arun Jaitley said that the economy is in a strong position at the present time. The country’s economy has come out of the era of corruption. With the improvement of GST, the business has got a new momentum in the country. The ban on black money has been restrained. With the economic reforms in the current government tenure, the economy is in a fast pace.

भारतीय अर्थव्यवस्था बहुत जल्दी पांचवी बड़ी अर्थव्यवस्था बनने के लिए तैयार है। देश की जीडीपी विकास दर साफ कर चुकी है कि देश तेज रफ्तार से आगे बढ़ रहा है। संसद में पेश किए गए सर्वेक्षण ने भी साफ कर दिया है कि देश 8 फीसदी से अधिक ग्रोथ के लिए तैयार है।

Indian economy is ready to become the fifth largest economy soon enough. The country’s GDP growth rate has been clear that the country is moving forward at a faster pace. The survey presented in Parliament has also made it clear that the country is ready for more than 8 per cent growth.

केन्द्र सरकार ऐसी आर्थिक स्थिति में किसानों की आमदनी बढ़ाने के लिए अपने संकल्प पर काम कर रही है। देश में कृषि उत्पादन रिकॉर्ड स्तर पर है। फल और सब्जियों का रिकॉर्ड उत्पादन हुआ है। किसानों को उनकी लागत से 50 फीसदी से अधिक कमाई हो यह सरकार की कोशिश रही है। रबी फसल से किसानों की अच्छी कमाई तय की जा चुकी है। केन्द्र सरकार के सिद्धांत के अनुसार खरीफ फसल की एमएसपी को दोगुना करने करने का फैसला किया है। इससे किसानों की आमदनी दोगुनी करने में मदद मिलेगी।

केन्द्र सरकार ने ऑर्गैनिक फार्मिंग को प्रमोट करने में बड़ा कदम उठाया है। टमाटर, प्याज और आलू ने किसानों को पिछले दिनों में बहुत परेशान किया है। लिहाजा केन्द्र सरकार ने 5000 करोड़ रुपये के एक प्रोजेक्ट के जरिए किसानों को इस परेशानी से बचाने का उपाय किया है।

The Central Government is working on its resolution to increase the income of the farmers in such economic situation. Agriculture production in the country is at record level. Record of fruits and vegetables is produced. The government has been trying to make the farmers earn more than 50 per cent of their cost. The good earnings of the farmers has been fixed with Rabi crop. According to the principle of Central Government, the MSP of Kharif crop has been doubled. This will help in doubling the income of the farmers.

Central Government has taken major steps in promoting organic farming. Tomatoes, onions and potatoes have troubled the farmers in the past days. Therefore, the Central Government has taken measures to save the farmers from this problem through a project of Rs. 5000 crore.

यह भी देखे :

https://www.youtube.com/watch?v=2p5FWA_BBz4

https://youtu.be/6KzO3XxanXM