कर्नाटक चुनाव से ऍन पहले सिद्धारमैया का बेहद खौफनाक ब्यान, हिन्दुओ पर कर डाली ये शर्मनाक टिप्पड़ी

नई दिल्ली : कर्नाटक के मुख्यमंत्री और वरिष्ट कांग्रेस नेता सिद्धारमैया ने देश के राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री साथ ही उपराष्ट्रपति को आतंकवादी क्रिमिनल अपराधी घोषित कर दिया है, आज सिद्धारमैया ने कहा की जो भी हिन्दू बीजेपी के साथ है या बीजेपी को वोट देते है, या बीजेपी का समर्थन करते है वो सभी अपराधी है, वो सभी आतंकवादी है, कर्णाटक में चुनाव है और सिद्धारमैया की कुर्सी दांव पर है, और अब कर्णाटक में मोदी और योगी की हवा देखकर सिद्धारमैया ने हिन्दुओ को आतंकवादी घोषित कर दिया है.

It is not the first time that the Congress has declared Hindus as a terrorist, even when Sonia Gandhi’s government at the Center, their home minister, saffron terrorists, used to talk of Hindu terrorists and Rahul Gandhi even bigger than Hindu al-Qaeda The threat was told, and today Siddaramaiah declared the millions of Hindus as terrorists.

आपकी जानकारी के लिए बता दें की देश का हर हिन्दू बीजेपी के साथ है ऐसा नहीं है, पर ये भी सच है की करोडो करोडो हिन्दू बीजेपी के साथ है, बीजेपी का समर्थन करते है और बीजेपी को वोट देते है, और आज सिद्धारमैया ने ऐसे करोडो हिन्दुओ को आतंकवादी घोषित कर दिया.

For your information, let us know that every Hindu in the country is not with BJP, but it is also true that millions of crores of Hindus are with BJP, they support BJP and vote for BJP, and today Siddaramaiah has Crores declared Hindus as terrorists.

बता दें की सिद्धारमैया 5 साल से मुख्यमंत्री है, उनके राज्य में हिन्दू कार्यकर्ताओं की बड़े पैमाने पर हत्या हुई है, अब चुनाव है, टीपू भक्ति भी सिद्धारमैया ने खूब की और इनका घोषणापत्र भी लगभग इस्लामिक देशों के घोषणापत्र की तरह है, अब सिद्धारमैया ने उन हिन्दुओ को आतंकवादी बता दिया जो बीजेपी के साथ है, बीजेपी को वोट देते है.

Say that Siddaramaiah has been chief minister for 5 years; Hindu workers have been killed in large scale in their state. Now the election is done; Tipu Bhakti also has a lot of siddaramaiah and its manifesto is almost like the declaration of Islamic countries, now Siddaramaiah Those Hindus who have been with BJP, have voted for the BJP.

वैसे ये कोई पहली बार नहीं है की कांग्रेस ने हिन्दुओ को आतंकवादी घोषित किया हो, जब केंद्र में सोनिया गाँधी की सरकार थी तब भी इनके गृहमंत्री भगवा आतंकी, हिन्दू आतंकी की बात करते थे और राहुल गाँधी ने तो हिन्दुओ को अल कायदा से भी बड़ा खतरा बताया था, और आज सिद्धारमैया ने करोडो हिन्दुओ को आतंकवादी, अपराधी घोषित कर दिया

It is not the first time that the Congress has declared Hindus as a terrorist, even when Sonia Gandhi’s government at the Center, their home minister, saffron terrorists, used to talk of Hindu terrorists and Rahul Gandhi even bigger than Hindu al-Qaeda The threat was told, and today Siddaramaiah declared the millions of Hindus as terrorists.

यह भी देखें :

https://www.youtube.com/watch?v=m7CoPymK4gw

 

https://www.youtube.com/watch?v=8WfEyICu_NM

प्रकाश राज का बडबोला बयान, स्वामी ने मारा ऐसा तमाचा बोलती हुई बंद

कर्नाटक में विधानसभा की 224 सीटों के लिए 12 मई को चुनाव होने हैं. नतीजों की घोषणा 15 मई को की जाएगी. 4.9 करोड़ मतदाताओं वाले राज्‍य में मुख्‍य मुकाबला सत्‍तारूढ़ कांग्रेस और बीजेपी के बीच है! कांग्रेस और भाजपा समर्थक आमने-सामने हैं और टीवी कार्यक्रमों और चुनावों पर चर्चा के दौरान खूब बहस और आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है।

In Karnataka, elections will be held for 224 seats on May 12. The results will be announced on May 15. The main contest in the state of 4.9 crore voters is between the ruling Congress and the BJP! Congress and BJP supporters are face-to-face and a lot of debate and accusations continue in the discussions on TV programs and elections.

ऐसे ही एक कार्यक्रम के दौरान फिल्म अभिनेता और भाजपा के मुखर विरोधी माने जाने वाले प्रकाश राज और भाजपा नेता सुब्रमण्यन स्वामी टाइम्स नाउ के एक कार्यक्रम के दौरान आमने-सामने आ गए। जब प्रकाश राज ने भाजपा सरकार की आलोचना करनी शुरु की तो लोगों ने उन पर राजनीति करने का आरोप लगाया.

During such a program, Prakash Raj and BJP leader Subramanian Swamy, considered to be the vocal opponents of the film actor and the BJP, came face to face during a show of Times Now. When Prakash Raj started criticizing the BJP government, people accused him of doing politics.

इस पर बॉलीवुड अभिनेता प्रकाश राज ने कहा कि वो अलग तरह की राजनीति करते है और देश की लोगो की मदद करने की कोशिश करते है! प्रकाश राज ने कहा कि वह राजनेताओं से सवाल इसलिए करते हैं, ताकि देश के नेता देश की जनता के प्रति जवाबदेह रहें! इस पर भाजपा नेता सुब्रमण्यन स्वामी ने पलटवार करते हुए कहा कि आप ऐसा सिर्फ भारत में कर सकते हैं, पाकिस्तान में नहीं!

On this, Bollywood actor Prakash Raj said that he does different politics and tries to help the country’s people! Prakash Raj said that he does question the politicians so that the leaders of the country remain accountable to the people of the country! On this, BJP leader Subramanian Swamy reversed saying that you can do just this in India, not in Pakistan!

आगे प्रकाश राज ने अपना पक्ष रखते हुए कहा कि जब भी इन नेताओं से सवाल किया जाता है तो ये पाकिस्तान भेजने की बात करने लगते हैं। इसके जवाब में सुब्रमण्यन स्वामी ने कहा कि वह उन्हें पाकिस्तान भेजने की बात नहीं कर रहे हैं, बल्कि वह सिर्फ यह कह रहे हैं कि पाकिस्तान आपको नहीं लेगा, क्योंकि पाकिस्तान आपको एडजस्ट कर ही नहीं सकता।

Further, Prakash Raj said in his favor that whenever whenever these leaders are questioned, they start talking about sending Pakistan. In response, Subramanian Swamy said that he is not talking about sending him to Pakistan, but he is just saying that Pakistan will not take you, because Pakistan can not adjust you.

सुब्रमण्यन स्वामी की इस बात पर लोगों ने खूब मजे लिए। बता दें कि प्रकाश राज कई बार सार्वजनिक मंचों पर मोदी सरकार की आलोचना कर चुके हैं। यही वजह है कि अभिनेता, मोदी सरकार समर्थकों के निशाने पर हैं!

People of Subramanian Swamy have enjoyed this on this topic. Explain that Prakash Raj has often criticized the Modi government on public forums. This is the reason why Modi government is targeting this actor.

कार्यक्रम के दौरान प्रकाश राज ने यह भी कहा कि भाजपा की आलोचना करने के कारण उन्हें आजकल बॉलीवुड फिल्मों में भी काम मिलना बंद हो गया है। प्रकाश राज ने कहा कि सरकार के खिलाफ आवाज उठाने के कारण उन्हें टारगेट किया जा रहा है। हालांकि दक्षिण भारतीय फिल्मों के साथ ऐसा नहीं है।

During the program, Prakash Raj also said that due to criticism of BJP, he has stopped working in Bollywood movies nowadays. Prakash Raj said that he is being targeted due to raising voice against the government. However, it is not so with South Indian films.

प्रकाश राज ने कहा कि ‘उनकी आलोचना करने वाले लोग इतने मजबूत नहीं हैं कि मुझे गरीब बना सकें। मेरे पास अभी भी काफी पैसा और ताकत है, जिससे मैं आगे और कमा सकता हूं! वो लोग मुझे नहीं रोक सकते!’

Prakash Raj said that people who criticized him are not so strong that they can make me poor. I still have enough money and strength, so that I can earn more! Those people can not stop me! ‘

 

https://www.youtube.com/watch?v=m7CoPymK4gw

 

https://www.youtube.com/watch?v=8WfEyICu_NM

गुजरात चुनाव के बीच कैसे गुजरात पूर्व CM को पाकिस्तानी फाइटर प्लेन ने निशाना बनाकर मार डाला !

नई दिल्लीः गुजरात चुनाव में जैसे-जैसे मतदान की तारीख नजदीक आ रही हैं वैसे-वैसे सियासी माहौल भारी सभा में गरम होता जा रहा है, इसी बीच कांग्रेस पार्टी ने सोशल मीडिया से अपने काम गिनाने के लिए एक सर्वे कर रही है, जिसमे गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री के बारे में पूछा गया,

New Delhi: As the date of voting is coming closer in the Gujarat elections, the political atmosphere is getting hot in the heavy assembly. In the meantime, the Congress party is conducting a survey to count its work from social media, in which Gujarat Asked about the former Chief Minister,

इस सवाल के साथ कांग्रेस ने लोगों के सामने 4 विकल्प दिए थे. जिनमें आनंदीबेन पटेल, केशुभाई पटेल, बलवंत राय मेहता और नरेंद्र मोदी का नाम शामिल था. सबसे ज्यादा लोगों का जवाब आया बलवंत राय मेहता, बलवंत राय मेहता गुजरात के दूसरे मुख्यमंत्री थे. मेहता जून 1963 से लेकर सितंबर 1965 तक गुजरात के सीएम थे.बलवंत राय मेहता मुख्यमंत्री रहते हुए ही दुश्मन के विमान द्वारा किए गए हमले में मारे गए थे. जिस वक्त भारत और पाकिस्तान के बीच युद्ध की स्थिति बनी हुई थी उसी वक्त पाकिस्तान की सीमा के पास सीएम के विमान को दुश्मन के फाइटर प्लेन ने निशाना बना कर उड़ा दिया था. पाकिस्तान की इस कायराना हरकत में 8 लोगों की मौत हुई थी.

loading…

With this question, the Congress had given 4 options to the people. Which included Anandiben Patel, Keshubhai Patel, Balwant Roy Mehta and Narendra Modi. Balwant Roy Mehta, Balwant Roy Mehta was the second Chief Minister of Gujarat. Mehta was the CM of Gujarat from June 1963 to September 1965. Balwant Ray Mehta was killed in an attack by the enemy aircraft while being the Chief Minister. At the time when the situation of war between India and Pakistan had remained, the CM’s plane was blown up by the fighter plane of the enemy near the border of Pakistan at the same time. In this sad incident, 8 people were killed in Pakistan.

दरअसल 19 सितंबर 1965 को तत्कालीन सीएम बलवंत राय मेहता राज्य के कच्छ के दौरे पर थे. मेहता के साथ उनकी पत्नी सरोज बेन, स्टाफ के तीन सदस्य, एक पत्रकार और दो क्रू मेंबर भी शामिल थे. मीठापुर से कच्छ के लिए सीएम के विमान ने जैसे ही उड़ान भरी वैसे ही उसे पाकिस्तान के फाइटर पायलेट कैस हुसैन ने इंटरसेप्ट किया और उसे घेर लिया. पाकिस्तानी एयरक्राफ्ट को देखते हुए बीचक्राफ्ट ने अपने पंखे हिलाने शुरू कर दिए. यह दया और छोड़ दिए जाने का इशारा था. गुजरात सरकार के मुख्य पायलट जहांगीर एम. इंजीनियर उड़ा रहे थे. इंजीनियर भारतीय वायुसेना में पायलट और सह पायलट के रूप में अपनी सेवा दे चुके थे.

In fact, on September 19, 1965, the then CM Balwant Roy Mehta was on the Kutch tour of the state. Mehta was accompanied by his wife Saroj Ben, three staff members, a journalist and two crew members. As soon as the CM aircraft flew from Mithapur to Kutch, it intercepted and intercepted Pakistan’s Fighter pilot Cas Hussain. Seeing Pakistani aircraft, Beechcraft started moving their fans. It was a sign of mercy and abandonment. Jahangir M. Engineer, the chief pilot of the Gujarat government was flying. Engineers had served in the Indian Air Force as pilots and co-pilots.

इस बीच पाकिस्तानी पायलेट ने हवा में दो फायर किए. मीठापुर से 100 किलोमीटर दूर सुथाली गांव के ऊपर दोनों फायर ने बलवंत मेहता के बीचक्राफ्ट विमान को हिट किया और विमान में विस्फोट हो गया. 46 साल बाद पाकिस्तानी फाइटर एयरक्राफ्ट के पायलट ने मेहता के हेलिकॉप्टर बीचक्राफ्ट के पायलट की बेटी को पत्र लिखकर माफी मांगी. पायलट की बेटी ने भी पत्र का जवाब दिया और पिता के हत्यारे को माफ कर दिया.

Meanwhile, the Pakistani pilot fired two in the air. On the Suthali village, 100 km from Mithapur, both the fires hit the aircraft aircraft between Balwant Mehta and the plane exploded. After 46 years, the pilot of the Pakistani Fighter aircraft apologized by writing to the daughter of Mehta’s helicopter Beechcraft pilot. The Pilot’s daughter also answered the letter and forgiven the father’s killer.

यह घटना बिलकुल सही है परन्तु कांग्रेस को यह घटना गुजरात चुनाव के ऐन पहले ही क्यों याद आयी, क्योंकि कांग्रेस वोटरों को भावुक करके वोट मांगने में माहिर है ऐसा ही कुछ राहुल गंधी ने २०१४ के लोगसभा चुनावों में किया था जब उन्होंने अपने गुजरे हुए पिता और दादी का हवाला देकर लोगों से वोट की अपील की थी !

This incident is absolutely right, but why did the Congress remember this phenomenon before Gujarat elections, because the Congress is passionate about voting for voters, and some such Rahul Gandhi did in the 2014 Lok Sabha elections when he passed away Referring to her grandmother, people had appealed to vote!

यह भी देखे

https://youtu.be/WE3MmmBzG4k

https://youtu.be/o9LQnPMci4I

source political report

चीन में अपनी कूटनीति की धाक जमा रहे PM मोदी को लेकर अमेरिका से आयी एक बेहद चौकाने वाली रिपोर्ट, जिसे देख कांग्रेस समेत मायावती,अखिलेश के उड़े होश

नई दिल्ली : हाल ही में यूपी में उपचुनाव हुए जिनमें भाजपा की हार हुई। हार के पीछे कारण बताया जा रहा था कि पार्टी को हराने के लिए विपक्ष एकजुट हो गए थे. इसी के बाद अटकलों ने भी जोर पकड़ लिया कि अगले लोकसभा चुनाव में विपक्ष एकजुट होकर भाजपा के खिलाफ लड़ेंगे और नरेंद्र मोदी को दोबारा प्रधानमंत्री बनने से रोक लेंगे. लेकिन अब पीएम मोदी को लेकर जो खबर आ रही है, उसे देख कांग्रेस समेत सभी विपक्षी पार्टियों की सिट्टी-पिट्टी गम हो गयी है.

New Delhi: Recently in Uttar Pradesh, the bye-elections happened in which BJP lost. The reason behind the defeat was that the opposition was united to defeat the party. After this the speculation also caught hold that in the next Lok Sabha elections, the opposition will unite and fight against the BJP and prevent Narendra Modi from becoming the Prime Minister again. But now the news about PM Modi is coming to see that all the opposition parties, including the Congress, have become satiated.

2019 नहीं, 2029 तक नरेंद्र मोदी रहेंगे प्रधानमंत्री
दुनिया में सबसे ताकतवर कौन है, इसका आकलन दो तरह से किया जाता है. पहला आर्थिक ताकत और दूसरी सैन्य क्षमता, इन दोनों मापदंडों पर अमेरिका नंबर वन है. मगर अमेरिका के बाद कौन है, यही जानने के लिए ब्लूमबर्ग मीडिया समूह ने दुनिया के 16 देशों के नेताओं का एक आकलन किया. इस सर्वे का नतीजा देख दुनियाभर के नेताओं ने दाँतों तले उंगलियां दबा ली.

Narendra Modi will be prime minister till 2019, not 2029
Who is the most powerful in the world, it is estimated in two ways. First economic strength and second military capability, America is number one on both of these parameters. But to find out who is after the US, the Bloomberg Media Group conducted an assessment of leaders from 16 countries around the world. Seeing the result of this survey, leaders from around the world pressed fingers under their teeth.

आपको याद होगा कि कांग्रेस के राज में रोबोट प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को “अंडर अचीवर” और “असफल” करार दिया गया था. मगर ब्लूमबर्ग मीडिया समूह के हालिया सर्वे के मुताबिक़ ना केवल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक बेहद ताकतवर नेता हैं, बल्कि मोदी 2029 तक प्रधानमंत्री बने रहे सकते हैं.

You will remember that in the Congress rule, the robot Prime Minister Manmohan Singh was termed as “under aceiver” and “unsuccessful”. But according to the recent survey of the Bloomberg Media Group, not only Prime Minister Narendra Modi is a very powerful leader, but Modi can remain Prime Minister till 2029.

दुनिया के सबसे ताकतवर नेता बने मोदी
2014 में पीएम बनने वाले नरेंद्र मोदी का कद इतना बड़ा हो गया है कि भारत में कोई भी समकक्ष नेता उनकी बराबरी करता नजर नहीं आ रहा. उनके प्रशंसक एक 10 साल का बच्चा भी है तो वहीं 90 साल का बुजुर्ग भी. लोगों के बीच उनकी गजब की लोकप्रियता को देखते हुए राजनीतिक गलियारों में चर्चा है कि 2019 में भी उनके नेतृत्व में सरकार बनेगी और उसके बाद 2024 में भी नरेंद्र मोदी तीसरी बार चुनाव जीत कर देश के प्रधानमंत्री बन जाएंगे.

Modi becomes the world’s most powerful leader
In 2014, the height of Narendra Modi, who became PM, has become so big that no equal leader in India is being seen as equals. His fan is also a 10-year-old child, while the 90-year-old elderly too. In view of the popularity of his popularity among the people, it is discussed in political corridors that in the year 2019, a government will be formed under his leadership, and in 2024, Narendra Modi will be the Prime Minister of the country by winning elections for the third time.

महागठबंधन की उडी धज्जियां
इस खबर ने देश की राजनीति में सियासी खलबली मचा दी है और अपने-अपने स्वार्थ के लिए एकजुट हुए विपक्ष के महागठबंधन की धज्जियां उड़ा दी हैं. यूपी चुनाव में कांग्रेस के साथ मिलकर चुनाव लड़ने वाली समाजवादी पार्टी और बीजेपी को रोकने के लिए जी-जान लगाने वाली बसपा, दोनों ही कांग्रेस के साथ गठबंधन बनाकर मोदी को रोकने का सपना देख रही थी.

Splinter shackles
This news has created a political upheaval in the politics of the country and has blamed the great coalition of united opposition for self-interest. In the UP elections, the Samajwadi Party, which fought the Congress together with the Congress, and the BSP, which was trying to stop the BJP, was dreaming to stop Modi by making an alliance with the Congress.

मगर अब जबकि पीएम मोदी के 2029 तक प्रधानमंत्री बने रहने की भविष्यवाणी हो गयी है तो यूपी में महागठबंधन चूर-चूर हो गया है. आगामी लोकसभा चुनाव के लिए सपा-बसपा ने कांग्रेस को झटका देते हुए उससे अपना पिंड छुड़ा लिया है.

But now that PM Modi is predicted to be the prime minister till 2029, the alliance in UP has shattered. For the coming Lok Sabha elections, the SP-BSP has shredded Congress from the body while shaking the body.

सपा के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव ने भी कांग्रेस को खरी-खरी सुनाते हुए कह दिया है कि यूपी में कांग्रेस की हैसियत सिर्फ दो सीटों की है, लिहाजा कांग्रेस के साथ गठबंधन नहीं किया जाना चाहिए.

Former National President of SP, Mulayam Singh Yadav, has also told the Congress that the Congress has a two-seat capacity in the UPA, hence the coalition should not be formed with the Congress.

यह भी देखे

https://youtu.be/WE3MmmBzG4k

https://youtu.be/o9LQnPMci4I

source political report

कर्नाटक चुनाव से ठीक ऐन पहले इस पर्व मंत्री ने PM मोदी के बारे में दिया ये बड़ा बयान जिसे सुन कांग्रेस हैरान

देश के मौजूदा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बारे में जनता के मिले-जुले स्वर सुनाई पड़ते हैं. किसी के लिए पीएम मोदी देश के आदर्श प्रधानमंत्री हैं तो किसी के अनुसार देश हित में अनगिनत काम करके भी पीएम मोदी देश के लिए अच्छे प्रधानमंत्री नहीं हैं.

People’s voices are heard about the current Prime Minister Narendra Modi. For someone, PM Modi is the ideal Prime Minister of the country, according to somebody, even by doing countless work in the country’s interest, PM Modi is not a good Prime Minister for the country.

ऐसे में जनता के इसी मिले-जुले स्वर के बीच हाल ही में कर्णाटक के एक मंत्री ने पीएम मोदी के बारे में कुछ ऐसा बोला है जिसे सुनकर बहुतों के होश उड़ने तय हैं. यहाँ कर्नाटक के इस मंत्री का पीएम मोदी पर दिया गया ये बयान इसलिए भी बेहद महत्वपूर्ण माना जा रहा है क्योंकि देश में अब जल्द ही कर्नाटक चुनाव होने वाले हैं. (कर्नाटक चुनाव 12-13 मई)

In such a way, between a mixed tone of the public, a minister of Karnataka recently said something about PM Modi that many people are determined to hear their senses. Here the statement given by the Karnataka minister to PM Modi is also being considered as very important as the country is going to be in Karnataka soon. (Karnataka elections May 12-13)

“हम पीएम मोदी को अच्छे से पहचान चुके हैं, इसलिए बीजेपी की कर्नाटक चुनाव में जीत तो…”

दरअसल ख़बरों के अनुसार येदुरप्पा इस बार कर्नाटक में बीजेपी का कोई मुख्यमंत्री चाहते हैं. ऐसे में हाल ही में पूर्व मंत्री जी जनार्दन रेड्डी ने पीएम मोदी के बारे में कहा है कि, “मेरे खून में बीजेपी है.

“We have recognized PM Modi very well, so BJP won the Karnataka elections …”

In fact, according to the news, Yeddyurappa wants a BJP chief minister in Karnataka this time. In the past, former minister G Janardhana Reddy has said about PM Modi, “There is BJP in my blood.

कर्नाटक के लोग और हम बीजेपी और पीएम मोदी के साथ हैं. लोग अबतक अच्छी तरह से जान और मान चुके हैं कि पीएम मोदी एक अच्छे नेता हैं और भगवान ने उन्हें अच्छे कामों के लिए ही भेजा है. इसका मतलब साफ़ है कि बीजेपी की कर्नाटक चुनाव में जीत तो तय है वो भी पूर्ण बहुमत से. “

People from Karnataka and we are with BJP and PM Modi. People have so well known and admired that PM Modi is a good leader and God has sent them for good deeds only. It means that it is clear that the BJP’s victory in the Karnataka elections is certain that even with the absolute majority ”

सिर्फ इतना ही नहीं पीएम मोदी की तारीफ़ में कसीदे पढ़ने के बाद जनार्दन रेड्डी ने ये भी कहा है कि पीएम मोदी की बढती लोकप्रियता को देखकर ये कहना गलत नहीं होगा कि कर्नाटक में इस बार बीजेपी की पूर्ण बहुमत से सरकार बनने से कोई नहीं रोक सकता.

Not only that, Janardhana Reddy has also said after reading alarms in the praise of PM Modi that it will not be wrong to see the growing popularity of PM Modi that no one in Karnataka can stop this from forming a government with the absolute majority of BJP this time. .

आगे बोलते ही जनार्दन रेड्डी ने बताया कि, “जहाँ सिद्धारमैया सरकार से लोगों को काफी हताशा मिली है वहीँ बीजेपी की पिछली सरकार में बहुत विकास हुआ. ऐसे में इतना तो तय है कि इस बार कर्नाटक में बीजेपी की ही सरकार बनेगी और वो भी पूर्ण बहुमत से.

Not only that, Janardhana Reddy has also said after reading alarms in the praise of PM Modi that it will not be wrong to see the growing popularity of PM Modi that no one in Karnataka can stop this from forming a government with the absolute majority of BJP this time. .

यह भी देखे
https://youtu.be/WE3MmmBzG4k

https://youtu.be/o9LQnPMci4I

source namopress.in

बड़ी खबर :2019 के लोकसभा चुनाव से ऐन पहले ही इस रणनीतिकार ने कह दी चौंकाने वाली बात,जिसे देख मोदी समेत पूरी जनता हैरान

24 अप्रैल, 2018 – भारत में होने वाले 2019 के चुनाव पर पूरी दुनिया की नज़रें हैं. 2019 के चुनाव में वैसे तो बीजेपी का ही पलड़ा भारी है और पीएम मोदी के समर्थकों को उम्मीद भी है कि 2019 में भी पीएम मोदी ही प्रधानमंत्री बनेंगे, क्योंकि जिस तरह के काम पीएम मोदी ने अबतक किये हैं वैसे काम भारत के किसी और पीएम ने नहीं किए.

April 24, 2018 – There are views of the whole world on the 2019 elections in India. In the elections of 2019, there is a lot of support for BJP and PM Modi’s supporters also hope PM Modi will become Prime Minister in 2019, because the work that PM Modi has done so far, any other PM of India Not done.

 देश को सुरक्षित करने के लिए उन्होंने सेना को मजबूत किया और देश की अर्थव्यवस्था को सुधारने के लिए विदेशों से अच्छे संबंध बनाए. ऐसे में अगर पीएम मोदी 2019 में नहीं जीतते तो उससे क्या नुकसान हो सकते हैं इसके बारे में क्रिस्टोफर वुड ने बताया है.

To strengthen the country, he strengthened the army and made good relations with foreigners to improve the country’s economy. In such a situation, if PM Modi does not win in 2019 then Christopher Wood has told about what could be the harm to him.

NBT में छपी खबर के अनुसार, 2019 में अगर भारत में नरेंद्र मोदी की सरकार न बनी तो यह भारत के लिए बहुत बुरा होगा. यह बात कहने वाले हैं इन्वेस्टमेंट बैंकिंग कंपनी CLSA के मुख्य रणनीतिकार क्रिस्टोफर वुड. उन्होंने इस बारे में अपने साप्ताहिक समाचार पत्र में भी एक लेख लिखा है. उनके समाचार पत्र का नाम ‘ग्रीड ऐंड फीयर’ है. वुड का मानना है कि, बॉन्ड मार्केट में आई गिरावट के कारण भारत के लिए वर्ष 2018 बहुत अच्छा नहीं रहा.

According to the news published in NBT, if Narendra Modi’s government does not make India in 2019 then it would be very bad for India. This is to say, Christopher Wood, chief strategist of Investment Banking Company CLSA. He has also written an article in this weekly in his weekly newspaper. The name of his newspaper is ‘Grid and Fear’. Wood believes that year 2018 for India is not very good due to the drop in bond market.

उन्होंने आगे बताया कि आनेवाले समय में भारत का प्रदर्शन इस बात पर निर्भर करेगा कि US में डॉलर किस तरह से प्रदर्शन करता है. इसके अलावा वुड ने इस बात पर भी चिंता जताई है कि भारत की मुद्रा पर रिस्क तेल की कीमतों में लागातार हो रहे चेंज के कारण बना हुआ है.

He further said that India’s performance in future will depend on how the dollar displays in the US. Apart from this, Wood has also expressed concern over the fact that the Risk Oil on India’s currency has remained due to the change in prices.

वुड के लेख से साफ़ संदेश जा रहा है कि पीएम मोदी अगर 2019 के लोकसभा चुनाव नहीं जीतते हैं तो नई सरकार उस तरह से काम नहीं कर पाएगी जिस तरह से खुद पीएम मोदी करेंगे. इसीलिए उन्होंने यह बात कही कि अगर मोदी सरकार 2019 में नहीं आती तो भारत को नुकसान उठाना पड़ सकता है.

There is a clear message from Wood’s article that if PM Modi does not win the 2019 Lok Sabha elections, then the new government will not be able to do the same way as the PM Modi himself. That is why he said that if the Modi government does not come in 2019 then India may have to suffer loss.

 

यह भी देखे
https://youtu.be/WE3MmmBzG4k

https://youtu.be/o9LQnPMci4I

Source Political Report

पाकिस्तान के सैनिकों की लाशें बिछाते ही मोदी सरकार ने दिया जवानों को ज़बरदस्त तोहफा,पाक फ़ौज में मचा हड़कंप

नई दिल्ली : भारतीय सेना की शक्ति आज दिन पर दिन बढ़ती जा रही है. जिस सेना के पिछली सरकारों ने हाथ बाँध कर रखे थे. लेकिन मौजूदा मोदी सरकार में सेना को खुली छूट देने के साथ घातक और आधुनिक हथियार, बुलेटप्रूफ जैकेट और आर्थिक मदद भी चाहिए होती है.

New Delhi: The power of the Indian Army is increasing day by day. The army which the previous governments had tied up with. But with the exemption of the army in the current Modi government, there is also a need for deadly and modern weapons, bulletproof jackets and financial help.

आज भारतीय सेना ने पाकिस्तान सीमा पर बड़ा हमला बोला है पाकिस्तान के 5 सैनिकों को मार गिराया गया है और तीन चौकियों को तबाह किया है. तो वहीँ सेना के जबरदस्त एक्शन के बाद अब मोदी सरकार ने सेना को बेहद शानदार तोहफा दिया है. जिससे अब दुश्मन को नेस्तोनाबूद करने में सेना को ज़रा भी देर नहीं लगेगी.

Today, the Indian Army has attacked a huge attack on the Pakistan border, five soldiers of Pakistan have been killed and destroyed three posts. So after the great action of the Army, the Modi Government has given a very gift to the army now. Now the army will not be able to delay the destruction of the enemy.

पाकिस्तान के सैनिकों की लाशें बिछाते ही मोदी सरकार ने दिया ज़बरदस्त तोहफा

अभी मिल रही बड़ी खबर के मुताबिक दुनिया के सबसे खतरनाक आतंकी ओसामा बिन लादेन को अमेरिकी कमांडो ने पाकिस्तान में घुस कर मारा था. अमेरिकी कमांडो ने लादेन को मारने के लिए जिस सबसे घातक हथियारों का इस्तेमाल किया था. वो आधुनिक लेज़र गाइडेड एम 4 ए-1 कार्बाइन का इस्तेमाल अब भारतीय सेना के जवान भी करेंगे.

Modi government gives a tremendous gift by killing the soldiers of Pakistani soldiers

According to the latest news, the world’s most dangerous terrorist, Osama bin Laden, was killed by American commandos entering Pakistan. The US commandos used the most deadly weapons to kill bin Laden. The modern laser guided M4A-1 carbine will now be used by the Indian Army.

अमेरिका के सबसे खूंखार कमांडो ने ओसामा को चंद पल में ही गोलियों से ढेर कर दिया था. बताया जाता है सीधा माथे के बीचो बीच गोली मारी गयी थी. हमारे सेना के स्पेशल कमांडो भी अमेरिका की ही टक्कर के हैं अंतर है तो सिर्फ इतना की भ्रष्टाचार के चलते हमारे जवानों के पास आधुनिक हथियार नहीं हैं.

The most dreaded US commandos had piled up Osama’s bullets in a few moments. It is said that the shoot was directly shot in the middle of the forehead. The special commandos of our army are also the difference of America’s collision, so only because of corruption, our soldiers do not have modern weapons.

लेकिन अब ऐसा नहीं होगा, अभी हाल ही में मोदी सरकार ने सेना के जवानों को बुलेट प्रूफ वाहन और बुलेट प्रूफ जैकेट और सवा लाख से ज़्यादा आधुनिक राइफल मुहैय्या करवाना शुरू कर दिया है. लेकिन अब ये अमेरिका कमांडों के सबसे घातक हथियार भी भारतीय सेना के पास होंगे तो हर पाकिस्तानी सैनिक और आतंकवादी को सेना पल भर में मार गिराएगी और सर्जिकल स्ट्राइक जैसे ऑपरेशन आये दिन कर सकेगी बिना कोई नुक्सान के.

But now it will not happen, just recently the Modi government has started getting the bullet-proof vehicles and bullet-proof jackets and more than 2.5 million modern rifles to the army jawans. But now it will be with the Indian Army, even the most deadly weapon of US commanders, the army will kill every Pakistani soldier and the militia within a moment, and surgical operations such as strike will come days without any losses.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सबसे पहले ये खतरनाक कार्बाइन से भारतीय सेना के जांबाज मलेशिया के घने जंगलों में अचूक निशाना साधेंगे. भारतीय सेना के पास अभी यह आधुनिक और मारक कार्बाइन नहीं है. माना जा रहा है कि यह आधुनिक कार्बाइन जल्द ही भारतीय सेना को मिल सकती है. जिसका युद्ध अभ्यास में परिक्षण किया जाएगा.

According to media reports, first of all, the Indian Army’s forefathers will make an unmistakable target in the dense forests of Malaysia with dangerous carbines. The Indian Army does not have this modern and deadly carbine. It is believed that this modern carbine can soon be received by the Indian Army. Which will be tested in the war practice.

700 से लेकर 950 राउंड प्रति मिनट की तेजी से गोलियां की होगी बौछार

बता दें आधी रात को घने जंगलों में ये आधुनिक हथियार 600 मीटर की दूरी तक उसे नेस्तनाबूत करने में सहायक लेजर गाइडेड तकनीक वाली यह कार्बाइन 700 से लेकर 950 राउंड प्रति मिनट की तेजी से गोलियां बरसा सकती है. इसके आगे आतंकवादियों के तो परखच्चे ही उड़ जायेंगे. नामोनिशान तक नहीं बचेगा.

700 to 950 rounds per minute fast bullets will be made

Let us tell you that this carbine with a laser-guided technique, capable of destroying this modern weapon in the dense forests at a depth of 600 meters, can shoot tablets ranging from 700 to 950 rounds per minute. Terrorists will fly ahead of it. Nomination will not survive.

यह भी देखे
https://youtu.be/WE3MmmBzG4k

https://youtu.be/o9LQnPMci4I

Source Political Report

लंदन से पीएम मोदी के लौटते ही भारत के लिए आयी बहुत बड़ी खुशखबरी,मालामाल हो गया देश,देख दुनिया रहा गयी दंग

नई दिल्ली : साल 2014 में पीएम बनते ही मोदी ने जो सबसे बड़ा फैसला लिया था वो था ‘जनधन योजना’. जिससे पीएम मोदी ने बेहद गरीब लोगों को भी बैंक जाने की हिम्मत दिलाई. 0 रूपए के साथ बैंक अकाउंट खोलने की सुविधा दी. इस फैसले की दूर विदेशों तक में चर्चा हो रही थी और सब तरफ से तारीफें मिली थी.

New Delhi: The biggest decision Modi made when the PM was formed in 2014 is the ‘Jan Dhanan Yojana’. From which PM Modi dared to go to the very poor people too. With the facility of opening a bank account with Rs. This decision was being discussed in far away countries and praises were received from all side

तो वहीँ जो बीज पीएम मोदी ने 2014 में बोया था वो अब 4 साल बाद फलदार वृक्ष बन गया है. पीएम मोदी की योजना ने इतिहास रच दिया है जिसका सबूत खुद वर्ल्ड बैंक दे रहा है.

So the seed that Modi sowed in 2014 has now become fruitful tree after 4 years. PM Modi’s plan has created history, which is proof of itself giving the World Bank

लंदन से पीएम मोदी के लौटते ही भारत के लिए आयी बहुत बड़ी खुशखबरी

अभी मिल रही ताज़ा खबर अनुसार पीएम मोदी की योजनाओ और वित्तीय समावेश के प्रयासों को लेकर वश्व बैंक ने बहुत बड़ी रिपोर्ट दी है. आप जानकर हैरान रह जायेंगे वित्तीय सेवा सचिव राजीव कुमार ने रिपोर्ट देखते हुए बताया कि विश्व बैंक के आंकड़ों के अनुसार पूरी दुनिया भर में खोले गए नए बैंक खातों में से 55 प्रतिशत बैंक खाते अकेले भारत में खोले गए हैं.

Modi’s return from London to India as a great news

According to the latest news available today, the World Bank has given a very big report about the efforts of PM Modi and financial inclusion efforts. You will be surprised to know that financial services secretary Rajiv Kumar said in the report, according to the figures of World Bank, 55 percent of new bank accounts opened in the whole world have been opened in India alone.

विश्व बैंक की वैश्विक फिनडेक्स रिपोर्ट में मोदी सरकार के वित्तीय समावेश के प्रयासों को सराहा गया है. वैश्विक स्तर पर 2014-17 के दौरान 51.4 करोड़ बैंक खाते खोले गए। इनमें से 55 प्रतिशत बैंक खाते भारत में खुले हैं.
The efforts of financial inclusion of the Modi Government in the World Financial Report of the World Bank have been appreciated. During the year 2014-17, 51.4 crore bank accounts were opened globally. Of these, 55 percent of bank accounts are open in India.

विश्व बैंक द्वारा जारी कि गयी इस रिपोर्ट में पीएम मोदी की जन धन योजना की सफलता का का ज़ोरदार डंका बजा है.जनधन खातों की कुल जमा राशि 80,000 करोड़ रुपये के पार पहुंच गई है. यह बात वित्त मंत्रालय के एक आंकड़े में कही गई है।. आंकड़े के मुताबिक इन खातों की कुल जमा राशि मार्च 2017 के बाद से लगातार बढ़ती जा रही है और ये 11 अप्रैल 2018 को 80,545.70 करोड़ रुपये के स्तर पर थी.

In this report released by the World Bank, PM Narendra Modi’s Jan Dhan Yojna’s success has been strengthened. The total deposits of the Sanjana accounts have crossed Rs 80,000 crore. This is said in a Finance Ministry statement. According to the data, the total deposits of these accounts are increasing steadily since March 2017 and it was at the level of 80,545.70 crore on April 11, 2018.

इसे कहते हैं सही मायने में महिलाओं का सशक्तिकरण

विश्व बैंक की इस रिपोर्ट के मुताबिक भारत में वयस्क बैंक खाता धारकों की संख्या 2017 में बढ़कर 80 प्रतिशत हो गई. इससे पहले 2014 में यह 53 प्रतिशत और 2011 में कांग्रेस के राज में मात्र 35 प्रतिशत थी. इसमें कहा गया है कि मोदी सरकार के प्रयासों से महिलाओं के बैंक खातों में ज़बरदस्त वृद्धि हुई और पुरुषों के मुकाबले महिला खाताधारकों की संख्या के बीच में अंतर कम हुआ है. आप जानकर हैरान रह जाएंगे साल 2014 में यह अंतर जहां 20 प्रतिशत था, वहीं 2017 में यह घटकर केवल 6 प्रतिशत रह गया है.

It is said to truly empower women

According to the World Bank report, the number of adult bank account holders in India increased to 80 percent in 2017. Before this, it was 53 percent in 2014 and only 35 percent in the Congress rule in 2011. It has been said that due to the efforts of the Modi Government, there has been a tremendous increase in the bank accounts of women and the difference between the number of women account holders compared to the men has decreased. You will be surprised to know that in 2014, the difference was 20 percent, in 2017 this has reduced to only 6 percent.

प्रधानमंत्री जन-धन योजना खाते उस समय भी चर्चा में आए जब नोटबंदी के दौरान इसमें से बहुत से खातों मोटी रकम जमा कराई गई थी. नवंबर 2016 के अंत में जनधन खातों में जमा रकम बढ़कर 74 हजार करोड़ से अधिक हो गई थी, जो कि उस महीने के शुरू में करीब 45 हजार करोड़ रुपये थी.

The Prime Minister Jan-Dhan Yojana account came into the discussion when too many accounts were deposited in it during the note-off. At the end of November 2016, deposits in the Janhanan accounts increased to more than 74 thousand crore, which was about 45 thousand crore rupees earlier in the beginning of the month.

दिसंबर 2017 में जमा बढ़कर 73,878.73 करोड़ रुपये, फरवरी 2018 में 75,572 करोड़ रुपये और मार्च महीने में बढ़कर 78,494 करोड़ रुपये हो गई. जमा के साथ ही जनधन कार्यक्रम से जुड़ने वालों की संख्या भी बढ़ी है.

In December 2017, deposits increased to Rs 73,878.73 crore, Rs 75,572 crore in February 2018 and Rs 78,494 crore in March. With the deposit, the number of people joining the Janaan program has also increased.

चीन में सबसे ज्यादा लोग बिना खाते के
चीन में सबसे ज्यादा 22.5 करोड़ लोगों का बैंक खाता नहीं है. इसके बाद भारत में 19 करोड़, पाकिस्तान में दस करोड़ और इंडोनेशिया में 9.5 करोड़ लोगों के पास खाता नहीं है.

Most people in China without account
There is no bank account of 22.5 million people in China. After this, 19 million in India, 10 million in Pakistan and 9.5 million people in Indonesia do not have an account.

बेटी बचाओ , बेटी पढ़ाओ योजना के भी ज़बरदस्त परिणाम

इसी तरह पीएम मोदी की बेटी बचाओ , बेटी पढ़ाओ योजना के भी ज़बरदस्त परिणाम देखने को मिल रहे हैं, 2014 में कांग्रेस सरकार के वक़्त हरियाणा में लड़के लड़कियों के बीच लिंग अनुपात में बहुत ज़्यादा गिरावट थी. 1000 लड़कों के साथ केवल 840 लड़कियां थी. ज़बरदस्त भ्रष्टाचार और पिछड़ेपन के कारण लोग कोख में ही बच्ची को मार देते थे.

Beti Bachao, Dattatray Prabha Yojana too tremendous results

Likewise, PM Modi’s daughter Bachao, Beti Pachao Yojna is also seeing tremendous results, in the time of Congress government in 2014, the sex ratio among boys girls in Haryana was very much declining. There were only 840 girls with 1000 boys. Due to the overwhelming corruption and backwardness, people used to kill the child in Koch.

लेकिन मोदी सरकार के आने के बाद से आज हरियाणा में 1000 लड़कों पर 980 लड़कियां हैं और हरियाणा के सोनीपत जहाँ हालात हद से ज़्यादा ख़राब थे वहां लड़के लड़कियां बराबर पहुंच गए हैं. 1000 लड़कों पर 1000 लड़कियां का अनुपात हासिल कर लिया गया है.

But since the arrival of the Modi government, today there are 980 girls on 1000 boys in Haryana and Sonipat in Haryana where the boys’ girls have reached equal level where the situation was worse. The ratio of 1000 girls to 1000 boys has been achieved.

यह भी देखे

 

source political report

रायबरेली: अमित शाह-योगी आदित्यनाथ की मौजूदगी में लगी आग, धू-धू कर जलने लगा पंडाल

रायबरेली : जैसा कि हम इस बात को भलिभांति जानते हैं कि साल 2019 के लोकसभा चुनावों की तैयारियों को लेकर सभी पार्टी जोर-शोर से रैली कर रही हैं. जानकारी के अनुसार ‘भाजपा’ अध्यक्ष ‘अमित शाह’ और ‘उत्तर प्रदेश’ के मुख्यमंत्री ‘योदी आदित्यनाथ’ राज्य के ‘रायबरेली’ भाजपा की संकल्‍प परिवर्तन रैली में शामिल होने के लिए गये. वहाँ उनके मंच पर आग लग गई.

Rae Bareli: As we know this, all the parties are rallying enthusiastically about preparations for the 2019 Lok Sabha elections. According to the information, the BJP president Amit Shah and Uttar Pradesh chief minister Yodhi Adityanath went to the Rae Bareli in the state to join the resolution of the rally. There was a fire on their platform.

लोकसभा चुनाव को लेकर रायबरेली में रैली के दौरान अमित शाह और CM योगी के बड़ा हादसा!

जानकारी के अनुसार खबर मिली है कि जैसे ही अमित शाह जनता को संबोधित करने के लिए मंच की तरफ आगे बढ़े तो मंच पर आग लग गई. आग को देख आस-पास मौजूद लोगों में भगदड़ मच गई. खबर मिली है कि इस दौरान अमित शाह के अलावा मुख्‍यमंत्री ‘योगी आदित्‍यनाथ’ भी यहां शामिल हुए थे. दरअसल वहां पर मौजूद लोगों और अन्‍य कर्मियों ने आग पर कुछ ही देर में काबू पा लिया.

According to information, news has been reported that as soon as Amit Shah proceeded towards the platform to address the public, there was a fire on the stage. Seeing the fire a panic broke out in the nearby people. It has been reported that during this period, besides Amit Shah, the chief minister ‘Yogi Adityanath’ also joined here. In fact, the people present there and other personnel managed to overcome the fire shortly after.

खबर मिली है कि यहां पर दोनों नेता शाह और योगी कुछ ही देर में लोगों को संबोधित करने वाले हैं. जानकारी के अनुसार भाजपा अध्यक्ष शाह और राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज ‘सोनिया गांधी’ के गढ़ रायबरेली के दौरे पर आये हुए हैं. अनुमान लगाया जा रहा है कि अमित शाह और योगी आदित्यनाथ का यह दौरा लोकसभा चुनावों की तैयारी को ध्यान में रखकर किया जा रहा है.

लोकसभा चुनाव को लेकर रायबरेली में रैली के दौरान अमित शाह और CM योगी के बड़ा हादसा!

It is reported that here both the leaders Shah and Yogi are going to address people in a while. According to information, BJP President Shah and state Chief Minister Yogi Adityanath have come here on a visit to ‘Gandhi Gandhi’ bastion of Rae Bareli. It is speculated that this visit of Amit Shah and Yogi Adityanath is being done keeping in view the preparation of Lok Sabha elections.

ऐसा कहा जा रहा है कि आने वाले चुनावों में अमित शाह रायबरेली द्वारा कांग्रेस के किले में सेंध लगाने की योजना बना रहे हैं और जिसके लिए राज्य के मुख्यमंत्री योगी उनके साथ दौरे पर आ रहे हैं.

It is being said that in the coming elections, Amit Shah is planning to break into Congress fort by Rae Bareli and for which state’s Chief Minister Yogi is on a tour with him.

लोकसभा चुनाव को लेकर रायबरेली में रैली के दौरान अमित शाह और CM योगी के बड़ा हादसा!

लाखों कार्यकर्ता होंगे शामिल
इस रैली को लेकर दोनों नेताओं के दौरे को लेकर भाजपा के रायबरेली प्रभारी ‘हीरो बाजपेयी’ ने जानकारी देते हुए कहा है कि अमित शाह ‘कांग्रेस’ के गढ रायबरेली में एक जनसभा करेंगे.

Millions of workers will be included
The BJP’s Raebareli in-charge ‘Hero Bajpayee’ has informed about the visit of the two leaders about this rally, saying that Amit Shah will hold a public meeting in Rae Bareli in the ‘Deep Rally’ of Congress.

बाजपेयी ने इसके आगे कहा है कि यह ऐतिहासिक रैली होगी. इस रैली के दौरान लाखों कार्यकर्ता शामिल होंगे. इस जनसभा में ‘योगी आदित्यनाथ’, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ‘महेन्द्र नाथ पाण्डेय’ और दोनों उप मुख्यमंत्री ‘दिनेश शर्मा’ और ‘केशव प्रसाद मौर्य’ भी शामिल होने वाले हैं.

लोकसभा चुनाव को लेकर रायबरेली में रैली के दौरान अमित शाह और CM योगी के बड़ा हादसा!

Bajpai further said that this will be a historic rally. Millions of workers will be involved during this rally. In this public meeting, ‘Yogi Adityanath’, state BJP President ‘Mahendra Nath Pandey’ and both Deputy Chief Ministers Dinesh Sharma and Keshav Prasad Maurya are also going to attend.

यह भी देखे

https://youtu.be/WE3MmmBzG4k

https://youtu.be/o9LQnPMci4I

namopress.in

कर्नाटक चुनावः सभी ओपिनियन पोल से अलग.. सट्टा बाजार के सर्वे ने सबको चौंका डाला, इस पार्टी को भारी बढ़त

अगले महीने यानी कि मई में कर्नाटक विधानसभा चुनाव होने वाले हैं. इसको देखते हुए राज्य में सट्टा बाजार सक्रिय हो गया है. प्री पोल सर्वे के नतीजों के उलट सट्टेबाज राज्य विधानसभा चुनाव में भाजपा की जीत सुनिश्चित बता रहे हैं, जबकि चुनाव पूर्व के कई सर्वे में राज्य में त्रिशंकु विधानसभा की तस्वीर पेश की गई थी.

इकोनॉमिक टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक सट्टेबाज भाजपा के लिए 10 पर 11 का भाव लगा रहे हैं. यानी अगर विधानसभा चुनाव में भाजपा 113 सीटें हासिल करती है तो 10 रुपये लगाने वाले को 11 रुपये मिलेंगे. यानी भाजपा की जीत होने पर पैसा लगाने वाले को 10 के बदले 21 रुपये मिलेंगे!

वहीं सट्टेबाजों की दूसरी पसंद कांग्रेस है. कांग्रेस की जीत पर दाव लगाने वाले को अगर पार्टी जीतती है तो 10 के बदले 25 रुपये मिलेंगे. तीसरे स्थान पर जेडीएस है. हालांकि जेडीएस की जीत की उम्मीद बहुत कम है. ऐसे में सट्टा बाजार में उसे 10 के बदले 60 रुपये मिल सकते हैं. इस तरह सट्टा बाजार में भाजपा ने नाम पर कम रिर्टन मिलने की बात कही जा रही है तो इसका मतलब सट्टेबाज भी मानते हैं कि भाजपा की स्थिति बेहतर हैं!

एक अनुमान के मुताबिक बंगलूरू में 750 से 800 करोड़ रुपये का पार्टी आधारित सट्टा बाजार है. इसके अलावा एक बार जब नामांकन पूरा हो जाएगा तो संबंधित विधानसभा क्षेत्रों में उम्मीदवार के हिसाब से सट्टेबाजी शुरू होगी. अखबार ने सूत्रों के हवाले से लिखा है कि इंडिया टुडे- कार्वी इनसाइट्स के ओपिनियन पोल के बाद पिछले एक सप्ताह में भाजपा का भाव 96 पैसा गिर गया है.

सट्टा उद्योग से जुड़े एक सख्स ने बताया कि शुरुआती सट्टे में भाजपा का भाव 10 पर 11 का था, लेकिन प्री पोल सर्वे के बाद अधिकतर लोग भाजपा की जीत पर दाव लगा रहा हैं. इस कारण सट्टेबाज भी मानने लगे हैं कि भाजपा सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरेगी और इस कारण भाजपा का भाव गिर गया है!

इंडिया टुडे- कार्वी इनसाइट्स के ओपिनियन पोल में कांग्रेस को 90 से 101 सीटें दी गई थीं जबकि भाजपा के 78 से 86 के बीच रहने की बात कही गई थी. जनता दल सेक्युलर को 34 से 43 सीटें मिलने की संभावना जताई गई थी. राज्य में 12 मई को मतदान और 15 मई को काउंटिंग होगा!

यह विडियो भी देखे

https://youtu.be/o9LQnPMci4I

https://youtu.be/WE3MmmBzG4k