ब्रेकिंग – संसद में मोदी सरकार ने पेश किया ऐसा हाहाकारी बिल, कांग्रेस समेत समूचे विपक्ष में मचा जोरदार हड़कंप.

Uncategorized

नई दिल्ली : आजादी के बाद से देश में लगातार घोटाले किये गए, पिछली सरकारों ने भ्रष्टाचारियों को ना केवल पूरा सहयोग किया बल्कि खुद भी बढ़-चढ़कर घोटाले किये. मोदी सरकार ने भ्रष्टाचारियों का खेल पूरी तरह से ख़त्म करने के लिए लोकसभा में शानदार बिल पेश किया है, जिसने लुटेरों की नींद उड़ा दी है.

New Delhi: Continued scams have been made in the country since independence; previous governments have not only fully supported the corrupt people but also made scams by themselves. The Modi government has introduced a fine bill in the Lok Sabha to complete the game of corruption, which has robbed the robbers.


भगोड़े आर्थिक अपराधियों के खिलाफ बिल
संसद के बजट सत्र के दूसरे हिस्से का आज छठा दिन है. लोकसभा में भगोड़े आर्थिक अपराधियों पर लगाम कसने से संबंधित बिल को पेश कर दिया गया है. इस बिल के आने से उन भ्रष्टचारियों पर लगाम कसी जा सकेगी, जो ये समझते हैं की भारत छोड़कर विदेश भाग जाने से उनकी जान बच जायेगी.

Bill against fugitive economic offenders
Today is the sixth day for the second part of the budget session of the Parliament. In the Lok Sabha, a bill related to tightening the fugitive economic criminals has been introduced. With the introduction of this bill, the corrupt can be restrained, who understand that leaving their home and leaving the country will save their lives.

मगर हुआ वही, जिसका अंदेशा सभी को पहले से था. बल पेश होते ही मोदी पर भ्रष्टाचारियों को बचाने का आरोप लगाने वाले विपक्ष ने इस बिल का ही विरोध शुरू कर दिया. जबरदस्त हंगामा मचाया गया ताकि सदन चल ही ना पाए. लोकसभा और राज्यसभा की कार्यवाही शुरू होते ही टीडीपी सांसद वेल में आकर नारेबाजी करने लगे.

But that happened, whose fear was already all before. As soon as the force was present, the opposition, who accused Modi of saving the corrupt, started protesting against the bill. A huge ruckus was organized so that the House could not move. As soon as the proceedings of the Lok Sabha and Rajya Sabha began, TDP MPs came to Vail and started sloganeering.

इस कारण से लोकसभा की कार्यवाही को 12 बजे और फिर दिन भर के लिए स्थगित कर दिया गया. इस सारे मंजर से साफ़ हो गया कि विपक्ष खुद ही भ्रष्टाचारियों को बचाने की कोशिशों में जुटा हुआ है. बैंकों के साथ लूट पिछली सरकार के दौरान की गयी, विपक्ष को अच्छी तरह पता है कि यदि भ्रष्टाचारी जेल गए तो उनकी पोल भी खोल देंगे.

For this reason, the proceedings of the Lok Sabha were adjourned for 12 o’clock and for a whole day. Through all this, it became clear that the Opposition itself is engaged in efforts to save the corrupt. The banks were looted during the previous government, the opposition knows well that if corrupt people went to jail, they would also open their pole.

राज्यसभा में आम आदमी पार्टी के सांसदों ने दिल्ली में सीलिंग का मुद्दा भी सदन में उठाने की कोशिश की. पार्टी के सांसद संजय सिंह वेल में आकर नारेबाजी करने लगे लेकिन सभापति ने बिन ऑर्डर के इस मुद्दे पर चर्चा से इनकार कर दिया. राज्यसभा की कार्यवाही को पहले 2 बजे तक और फिर दिनभर के लिए स्थगित कर दिया गया.

In the Rajya Sabha, the Aam Aadmi Party MPs tried to raise the issue of sealing in Delhi in the House. Party MP Sanjay Singh came to castle in sloganeering but the President refused to discuss the issue of the bin order. The proceedings of the Rajya Sabha were adjourned till 2 pm and then for the day.

आर्थिक अपराधियों पर बिल पेश
लोकसभा में आज वित्त राज्य मंत्री शिव प्रताप शुक्ल ने भगोड़ा आर्थिक अपराधी विधेयक 2018 को सदन में पेश कर दिया. इस विधेयक में भगोड़े अपराधियों की संपत्ति जब्त करने और उनपर कानूनी कार्रवाई करने जैसे प्रावधानों को शामिल किया गया है. केंद्र सरकार ने विजय माल्या और नीरव मोदी जैसे मामलों के बाद इस दिशा में कानून लाने की पहल की है. इस विधेयक में ऐसे आर्थिक अपराधियों को ऱखा गया है जो कानूनी कार्रवाई और गिरफ्तारी से बचने के लिए देश छोड़ कर भाग जाते हैं. विधेयक को पिछले दिनों कैबिनेट की ओर से मंजूरी दी गई थी.

Introducing bills on economic offenders
In the Lok Sabha today, Minister of State for Finance Shiv Pratap Shukla presented the Fugitive Economic Criminal Bill 2018 in the House. In this bill, provisions like seizure of property of fugitive criminals and legal action on them have been included. The central government has taken initiative to introduce legislation in this direction after matters like Vijay Mallya and Neerav Modi. In this bill, such economic criminals have been kept, which escapes the country to avoid legal action and arrest. The bill was approved last week by the cabinet.

बिल पेश होते वक्त भी सदन में जोरदार हंगामा जारी रहा. बीजेडी सांसद भृतहरि मेहताब ने इस बिल का विरोध करना शुरू कर दिया और बिल को गैर जरूरी करार दिया. सोमवार को संसद के दोनों सदनों में बैंकिंग क्षेत्र की अनियमितताओं पर चर्चा होगी. इसमें पीएनबी बैंक घोटाला और नीरव मोदी का मुद्दा शामिल है. राज्यसभा में सांसद राजीव चंद्रशेखर इस मुद्दे पर चर्चा की शुरुआत करेंगे. वहीं लोकसभा में बिना वोटिंग के नियम 193 के तहत बैंक घोटाले पर चर्चा प्रस्तावित है

.

There was a strong uproar in the House while presenting the bill. BJD MP Bhadrari Mehtab started to oppose this bill and termed the bill as unnecessary. On Monday, the irregularities of the banking sector will be discussed in both the Houses of Parliament. It involves PNB Bank scam and Nirav Modi issue. Rajya Sabha MP Rajeev Chandrasekhar will start discussions on this issue. In the Lok Sabha, discussion on bank scam is proposed under rule 193 without voting.

राज्यसभा में मोटर यान विधेयक को भी पारित किया जाना है, इसमें ट्रैफिक नियमों तोड़ने पर सख्त जुर्माने जैसे कई प्रावधान शामिल हैं. वित्त मंत्री अरुण जेटली आज राज्यसभा में स्टेट बैंक (निरसन और संशोधन) विधेयक पेश कर सकते हैं. सरकार की कोशिश होगी कि ये विधेयक सदन से पारित हो सके. इस विधेयक में बैंकों के विलय के बाद उनके तर्कसंगत इस्तेमाल पर जोर दिया गया है.

In the Rajya Sabha, the motor vehicle bill is also to be passed, in which there are many provisions like strict penalties on breaking traffic rules. Finance Minister Arun Jaitley can present the State Bank of India (Repeal and Amendment) Bill in Rajya Sabha today. The government will try to pass this bill to the House. This bill emphasizes the use of their rational use after the merger of banks.

राज्यसभा में कार्मिक मंत्री जितेंद्र सिंह भ्रष्टाचार निवारण संशोधन विधेयक 2013 को सदन में पारित कराने का प्रस्ताव करेंगे. इस विधेयक में भ्रष्टाचार को गंभीर अपराध की श्रेणी में लाने का प्रावधान है.

In the Rajya Sabha, Personnel Minister Jitendra Singh will propose to pass the Prevention of Corruption Prevention Bill 2013 in the House. There is a provision to bring corruption into the category of serious offenses in this bill.

यह भी देखे

SOURCENAMEPOLITICALREPORT

Leave a Reply