भारतीयों की सोच का नमूना: 5 साल में मोदी सब ठीक करे, वरना वोट उनको दे देंगे जो 70 साल में समस्या न सुलझा सके

5 साल में मोदी सब ठीक करे, वरना वोट उनको दे देंगे जो 70 साल में समस्या न सुलझा सके:

In 5 years, Modi will do everything right, otherwise, the votes will be given to him who can not solve the problem in 70 years:

ये सच ही  लिखा है,मोदी को आये हुए 3 साल हुए है और 2 साल इस सरकार के बाकि है, पर आजकल बहुत से लोग धमकियां देने लगे है की, मोदी सब ठीक कर दे वरना 2019 में वोट कांग्रेस और उसकी सखाओं को दे देंगे,

It is the truth that Modi has come three years and that is the last 2 years of this government, but nowadays many people have started threatening that Modi will do everything right or else the votes will be given to the Congress and its teachers in 2019. ,

यानि 5 साल में मोदी सब थक करें, वरना वोट उनको दे देंगे जो 70 साल में समस्या न सुलझा सके, भारतीयों को आपे ही पैरों पर कुल्हाड़ी मरने की आदत सी हो चुकी है, शीघ्र पतन क्र मरीज होते है, धमकी देने वाले भारतीयों की स्थिति भी वहीँ है,

That is, in 5 years, Modi should be tired of all, or else the votes will be given to those who can not solve the problem in the 70 years, Indians have become habituated to death on their own feet, early fall are patients, threatening Indians The situation is also there,

देखिये ये ट्विट:

View these tweets:

शीघ्र पतन वाले भी बिलबिलाने लगते है उसी तरह धमकियां देने वाले की आजकल बिलबिला रहे है,ज्यादा पुरानी बात नही है, 2004 में इन्ही भारतीयों ने अटल बिहारी वाजपायी को भी हटा दिया था उसके बाद क्या मिला?

In the same way, even those who are in a hurry also seem to be abusive, in the same way the bully has been abusive nowadays, it is not too old, in 2004, the same Indians had removed Atal Bihari Vajpayee, what did he get

मनमोहन सिंह,जिन्होंने कहा है की भारत के संस्थानों पर पहला हक मुसलमानों का है और जब प्रधानमंत्री ही ऐसा कह रहे हो तो सरकार क्या क्या करेगी, हिन्दुओं को आतंकी घोषित करने की कोशिश , साम्प्रदायिकता विरोधी बिल लाकर हिन्दुओ को गुलाम बनाने की कोशिश, साध्वी प्रज्ञा, कर्नल पुरोहित, मेजर उपाध्याय जैसे लोगो को आतंकी घोषित करने की कोशिश,

Manmohan Singh, who has said that the first right on the institutions of India is of Muslims and when the Prime Minister is saying this then what will the government do, trying to declare Hindus as terrorists, trying to make Hindus a slave by bringing anti-communal bill, Sadhvi Trying to declare people like intelligence, Colonel, Major Upadhyay as terrorists,

10 साल घोटाले हुए, देश को लुटा गया, अब भारतीय फिर सब भूल चुके है, और शीघ्र पतन वाली स्थिति में पहुँच चुके है, वाजपेयी गये तो क्या मिला मनमोहन सिंह! अब 2019 में मोदी जायेंगे तो क्या मिल जायेगा?

10 years of scandal, the country was stripped, Indian and all have forgotten, and have access to early fall situation, Vajpayee on what was Manmohan Singh! What will you get if Modi will go to 2019 now?

राहुल गाँधी या फिर अखिलेश यादव, या ममता बनर्जी,10 साल में हिन्दुओं को आतंकी घोषित करने की कोशिश की गयी, इस बार घोषित कर भी दिया जायेगा बंगलादेशी तो छोडिये 14 लाख के 14 लाख रोहिंग्यों को भारत की नागरिकता देखते ही देखते मिल जायेगी,

Rahul Gandhi or Akhilesh Yadav, or Mamta Banerjee, tried to declare Hindus as terrorists in the last 10 years, declaration of this will also be declared by Banglaladesi, 14 lakhs of 14 lakh Rohingyas will be seen seeing the citizenship of India,

और 2029 आते आते देश में ओवैसी जैसा प्रधानमंत्री का उमीदवार होगा, और ऐसे दयनीय स्थिति होगी की कदाचित ओवैसी जैसा कोई प्रधानमंत्री हो भी जाये, हिन्दुओ को गलियों से सिख लेने की जरूरत है शीघ्र पतन से बचिए,

And 2029 will be the Prime Minister of the country like Owaisi in the country, and such a miserable situation that maybe even a prime minister like Owaisi, Hindus need to learn from the streets, avoid the rapid collapse,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *