मुस्लिम आबादी पर जैन मुनि के दिए आपत्तिजनक बयान पर हुई ऑनलाइन वोटिंग तो निकले ये भयानक नतीजे

जैन मुनि तरुण सागर ने बड़ा मुद्दा उठाते हुए एलान किया है कि मुसलमानों की आबादी पर रोक नहीं लगती है तो देश में विस्फोटक स्थिति हो जाएगी! उन्होंने इसके लिए देश के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी कड़े कदम उठाने की अपील भी की! उन्होंने दो से ज्यादा बच्चे पैदा करने पर रोक लगाने की मांग करी और कहा कि अगर कोई भी इसका विरोध करता है तो उसे वोटिंग के अधिकार न मिले. साथ ही ऐसे लोगों को सारी सरकारी सुविधाओं से वंचित कर देना चाहिए! चाहे वह हिंदू हो या मुस्लिम. सभी के लिए दो बच्चे का कानून लागू हो!

Jain Muni Tarun Sagar, raising a big issue, has declared that the population of Muslims does not stop, then there will be an explosive situation in the country! He also appealed Prime Minister Narendra Modi to take strong measures for this! They demanded a ban on the creation of more than two children and said that if anyone opposes it then they will not get the right to vote. In addition, such people should be deprived of all government facilities! Whether it is Hindu or Muslim The law of two children is applicable to everyone!

जैन मुनि ने बिलकुल सत्य कहा है किसी भी देश की सबसे बड़ी समस्या जनसँख्या विस्फोट ही है!
चाहे कितनी भी कम्पनी लगा दो जमीन तो बढ़नी नहीं है समस्या लगातार बढ़ती रहेगी इसलिए जनसंख्या विस्फोट को रोंके ठोस कानून बनाये 2 बच्चे का कानून हर हिंदुस्तानी पर शख्ती पर लागु हो! क्युकी जनसंख्या वृद्धि पर रोक होनी चाहिये, जनसंख्या रोकी जा सकती हैं लेकिन जमीन नहीं बढ़ाई जा सकती हैं!

Jain Muni has absolutely said that the biggest problem of any country is the population explosion!
Regardless of how many companies have land, the land is not going to grow, the problem will continue to increase. Therefore, the population explosion should be made concrete law, the laws of 2 children should be applied to every Hindustani person. Coke population growth should be stopped, population can be stopped but land can not be increased!

यह भी देखे

https://youtu.be/Uzs16fYnw1k

https://youtu.be/VxtYK7YXsQ8

source name political report

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *