उन्नाव गैंगरेप:CBI जाँच में आया हुआ चौकाने वाला खुलासा,पीड़िता पलटा बयान ,जांच अधिकारी भी रह गए हैरान

RAPE

नई दिल्ली : कटुआ में शर्मसार करने वाली हरकत आयी जिसने बेशक पूरे देश को झकझोर के रख दिया, लेकिन आरोपी को फांसी देने की मांग करने के बजाय दोगले पत्रकारों ने इसमें इतना हिन्दू और मंदिर को बदनाम किया जितना आज तक नहीं किया होगा. इससे कई सत्ता के लालचियों को अपनी राजनितिक रोटी तक सेकने को मिल गयी.

New Delhi: A shameful act has come in Katua that, of course, kept the whole country shameless, but rather than demanding the execution of the accused, the journalists did not defame the Hindu and the temple in this way as it has not done so far. With this, many greedy greedy people got to join their political roti.

जबकि गाँव के लोगों का और दैनिक भास्कर की रिपोर्ट का कहना कुछ अलग ही है. पुलिस
चार्जशीट में मंदिर के तहखाने में दुष्कर्म को अंजाम दिया गया जबकि कुछ रिपोर्ट का कहना है कि मंदिर में तहखाना तो है ही नहीं. साथ ही गाँव के लोगों का भी मानना है कि मंदिर में रोज़ 40 से 50 लोग जाते हैं दर्शन करने ऐसी में ये संभव ही नहीं कि कोई इतने दिनों तक मंदिर में बच्ची को छुपा सके.

Whereas the people of the village and Dainik Bhaskar’s report say something different. policeIn the charge sheet, mischief was carried out in the basement of the temple, while some reports say there is no cellar in the temple. Also, people of the village also believe that 40 to 50 people go to the temple every day, in such a way it is not possible to hide the child in the temple for so many days.

लेकिन इस बीच अलीगढ़ से मुंबई भिवंडी से दिल दहला देने वाली खबर आ रही है लेकिन इसे ना तो कोई ब्रेकिंग न्यूज़ की तरह दिखा रहा है और ना ही कोई कैंडल मार्च निकाल रहा है.

But in the meanwhile, news from the Bhiwandi, from Aligarh, is coming to haunt, but it is not showing any breaking news and no candle is taking out the march.

मुंबई के ही भिवंडी में चार साल की बच्ची के साथ ISIS जैसी खौफनाक दुष्कर्म की गयी लेकिन किसी दोगले मीडिया के मुँह से आवाज़ नहीं निकल रही है. आरोपी आबेद मुहम्मद अजमीर शेख ने चार साली की बाची के साथ दुष्कर्म किया फिर उसके दोनों हाथ उखाड़ लिए और पैरों की उँगलियाँ काट के मार के फेंक दिया.

In Mumbai, a four-year-old girl in Bhiwandi was raped by ISIS, but there was no voice from the mouth of any dual media. The accused, Abeed Muhammad Ajmer Sheikh, raped the four-year-old girl with a rape, then uprooted both of her hands and threw the fingers of the thorns.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक मात्रा 1500 रूपए के लिए हुए विवाद के बाद बच्ची के पिता ने आरोपी की पिटाई कर दी थी । इसी का बदला लेने के लिए क्रूर हत्यारे ने बच्ची की जान लेने के साथ उसके हाथ और पैर की उंगलियां भी तोड दी थी.

According to the media report, after the dispute for quantity 1500 rupees, the child’s father had beaten the accused. To take revenge of this, the brutal murderer also broke the hands and feet of the child while taking the child’s life.

बच्ची घर के पास से खेलते-खेलते लापता हो गई थी । अगले दिन परिवार वालों ने भिवंडी के भोईवाडा पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई थी . बच्ची का शव एक मस्जिद के पीछे स्थित सुनसान इलाके में मिला था । बच्ची की बडी बेरहमी से हत्या की गई थी । उसके दोनों हाथ कंधे से तोडकर अलग कर दिए गए थे .

The girl was missing play and play near the house. The next day the families lodged a complaint with the Bhoiwada police station in Bhiwandi. The body of the girl was found in a deserted area located behind a mosque. The girl was brutally assassinated. Both of his hands were cut off from the shoulder and separated.

परिवार द्वारा बच्ची की पहचान किए जाने के बाद हत्या का मामला दर्ज पुलिस ने छानबीन शुरू की थी । मामले की गंभीरता को देखते हुए इसकी जांच के लिए तीन टीमें बनाई गई थी . पुलिस ने बिहार जाकर उसे दबोच लिया । पकडे जाने के बाद शेख ने बताया कि बच्ची के पिता की पान की दुकान पर उसका लगभग 1500 रुपए उधार था । इसी बात को लेकर करीब 2 महीने पहले बच्ची के पिता ने उसकी पिटाई की थी । इसी का बदला लेने के लिए उसने बच्ची की जान ले ली.

After identifying the child by the family, the police had started scrutinizing the case of murder. Given the seriousness of the matter, three teams were formed to investigate it. The police went to Bihar and arrested him. After getting caught, Sheikh informed that the girl’s father had a loan of around 1500 lacs at his Pan shop. About this same thing about 2 months ago the child’s father beat him. He took the life of the child to take revenge of this.

उत्तर प्रदेश के अलीगढ में पुलिस ने बेहद तत्परता दिखाते हुए एक हत्यारे को गिरफ्तार किया है जिसका नाम है शकील . इस हत्यारे के राज खुलने से पूरा देश सन्न रह गया है. इसने अब तक तीन मासूमो का बेरहमी से कत्ल करना स्वीकार किया है जिसमे से के की आयु सात साल की ,दूसरी की उम्र चार साल की और तीसरी और अभी हाल में ही कत्ल हुई बच्ची की उम्र मात्र 2 साल की है.. इस हत्यारे की गिरफ्तारी के बाद भारत के तथाकथित फर्जी सेक्युलर मुँह सील करके बैठ गए हैं.

In Aligarh, Uttar Pradesh, the police has shown very willingness to arrest an assassin whose name is Shakeel. The whole country has remained silent after the assassination of this murderer opens. This has solemnly accepted the killing of three innocent people, of which the age of seven years, the second is four years old and the third and only recently, the victim’s daughter is only two years old. After arrest, India’s so-called fake secular faces sealed

इतना बाड़ा कांड हो गया लेकिन एक भी दोगला मीडिया ने इसकी खबर नहीं चलायी, ना ही कोई डिबेट हुई ना ही राहुल, प्रियंका, वाड्रा इंडिया गेट पर कैंडल मार्च लेकर निकले, ना ही कोई बॉलीवुड का फिल्मबाज़ शर्मसार महसूस करते हुए तख्ती दिखा रहा है. क्या इंसाफ को भी अब ये धर्म के तराज़ू में तौलने लगे हैं.

There was such a big scam, but not a single diabolical media did not report it nor did any debate nor did Rahul, Priyanka, Vadra go out with a candle march on India Gate, and no Bollywood filmmaker is showing a franking feeling of shame . What justice has now started to weigh in the balance of religion.

यह भी देखे

source political report

Leave a Reply