कर्नाटक चुनाव से पहले बीजेपी करने जा रही है वो काम जिसके बाद कांग्रेस को कोई पूछेगा तक नहीं !

news, Uncategorized

केंद्र में जबसे बीजेपी की सरकार आई है तभी से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में भाजपा देश के अधिकतर राज्यों में अपनी जीत का परचम लहरा चुकी है. अभी हाल ही में पूर्वोत्तर के तीन राज्यों में हुए चुनाव हुए चुनावों के परिणामों ने लोगों को हैरान कर दिया था. जिस त्रिपुरा में बीजेपी अपना खाता भी नहीं खोल पाती थी, अब वहां पीएम मोदी जी के नेतृत्व में भाजपा ने पूर्ण बहुमत से सरकार बनाई है. अब देश के कुछ ही राज्यों में कांग्रेस की सरकार बची है जिसमें एक कर्नाटक है. कर्नाटक में विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान हो चुका है.

Since the BJP government came to the center, since then, under the leadership of Prime Minister Narendra Modi, the BJP has woken up to its victory in most of the states of the country. More recently, the results of elections held in three states of North-East surprised people. In Tripura, BJP could not even open its account, now under the leadership of PM Modi, the BJP formed the government with a full majority. Now in a few states of the country the Congress government is left with one Karnataka. The dates for the assembly elections have been announced in Karnataka.

कर्नाटक में चुनावों के मद्देनजर सभी राजनैतिक पार्टियों ने कमर कस ली है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी काफी समय से कर्नाटक में लगे हुए हैं. पार्टी की इज्जत बचाने के लिए राहुल गाँधी बढ़-चढ़कर प्रचार प्रसार कर रहे हैं.वहीँ देश की सबसे बड़ी पार्टी बीजेपी और इसके चाणक्य कहे जाने वाले अमित शाह भी कांग्रेस को सत्ता से बाहर करने में पूरा जोर लगा रहे हैं. बीजेपी ने इसके लिए पूरी रणनीति तैयार कर ली है. देश के विभिन्न राज्यों में हुए चुनावों में बीजेपी ने प्रचंड जीत हासिल की है. कर्नाटक में भी बीजेपी-कांग्रेस को बड़ा झटका दे सकती है.

In view of the elections in Karnataka, all the political parties have taken a stand. Congress President Rahul Gandhi has been engaged in Karnataka for a long time. Rahul Gandhi is spreading propaganda to save the party’s dignity. He is pushing full force in the country’s biggest party, BJP and its Chanakya, Amit Shah, also to put the Congress out of power. The BJP has prepared the entire strategy for this. In the elections held in different states of the country, the BJP has won a huge victory. In Karnataka, BJP may also give a big setback to the Congress.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कांग्रेस को राज्य में पस्त करने के लिए बीजेपी ने रणनीति के तहत 19 सूत्रीय कार्यक्रम और देशभर से 5 दर्जन से अधिक प्रचारकों को इस चुनाव में लगा दिया है. इन लोगों की इस चुनाव में महत्वपूर्ण भूमिका होगी. पार्टी इस रणनीति के तहत कई केंद्रीय मंत्रियों समेत देशभर के 56 सांसदों और नेताओं को लगा रही है. जो राज्य में चुनाव-प्रसार करेंगे. बीजेपी की इस रणनीति को जानने के बाद कांग्रेस को गहरा सदमा लग सकता है.

For your information, tell BJP to set up 19-point program under the strategy and more than 5 dozen campaigners from across the country in this election to save the Congress in the state. These people will have an important role in this election. The party is putting 56 ministers and leaders across the country, including several Union Ministers under this strategy. Which will spread the election in the state. Knowing this strategy of BJP can lead to deep shock for the Congress.

गौरतलब है कि केंद्रीय नेताओं की यह टीम कर्नाटक में लोगों के साथ करीबी संवाद के साथ काम कर रही है. यहाँ हर विधानसभा क्षेत्र से बूथ स्तर पर खास प्रबंधन पर जोर दिया जा रहा है. इसी के साथ बीजेपी बेलगावी, कलबुर्गी, हुबली, बेल्लारी, बेंगलुरु,मैसूर, मेंगलूरू समेत कई इलाकों में पीएम मोदी जी के करिश्मे का उपयोग करेगी. बीजेपी के वरिष्ठ नेता ने बताया कि प्रदेश की भाजपा टीम तो कार्यक्रम के अनुसार कार्य करेगी ही इसी के साथ केंद्रीय मंत्रियों, मुख्यमंत्रियों समेत देश के कई नेता रहेंगे जिनमे भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के मार्गदर्शन में रविशंकर प्रसाद, निर्मला सीतारमन, पीयूष गोयल, धर्मेन्द्र प्रधान, केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर, अनंत कुमार, गजेन्द्र सिंह शेखावत, अनंत कुमार हेगड़े, पीपी चौधरी के अलावा मुख्यमंत्रियों में जयराम ठाकुर और योगी आदित्यनाथ शामिल रहेंगे.

Significantly, this team of central leaders is working closely with people in Karnataka. There is an emphasis on special management at booth level from every assembly constituency. With this, BJP will use the charisma of PM Modi in many areas including Belagawi, Kaluburgi, Hubli, Bellary, Bengaluru, Mysore, Mangalore. A senior BJP leader said that the state BJP team will work according to the program, along with Union Ministers, Chief Ministers, including many leaders of the country, including Ravi Shankar Prasad, Nirmala Sitharaman, Piyush Goyal, Dharmendra Pradhan under the guidance of BJP President Amit Shah. , Union Minister Prakash Javadekar, Ananth Kumar, Gajendra Singh Shekhawat, Ananth Kumar Hegde, Chopra’s daughter-in-law Jairam Thakur and Yogi Adityanath will be included in the Chief Ministers.

जानकारी के लिए बता दें हर विधानसभा सीट पर 12 सदस्यीय समिति का गठन किया गया है. जिसमें जनजाति, अल्पसंख्यक, युवा, महिलाओं,अनुसूचित जाति को सदस्य के रूप में रखा गया है. बताया जा रहा है कि इस समिति को बूथवार रिपोर्ट तैयार करने का दायित्व सौंपा है. कर्नाटक में बीजेपी की जीत का दावा करते हुए पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव मुरलीधर राव ने आरोप लगाया है कि कांग्रेस अपनी राजनीति धर्म, पंथ के आधार पर लोगों को बांटकर करती है. उन्होंने कहा है कि अब जनता सब समझ चुकी है और जनता ने बीजेपी को जनादेश देने का मन बना लिया है. बीजेपी की यह रणनीति कांग्रेस के लिए बड़ी मुसीबत बनकर सामने आ सकती है.

For the information, a 12-member committee has been formed on every assembly seat. In which tribes, minorities, youth, women, scheduled castes have been kept as members. It is being told that this committee has been given the responsibility of preparing the boothwar report. Claiming BJP’s victory in Karnataka, the party’s national general secretary Murlidhar Rao has alleged that Congress divides its politics on the basis of religion, creed. He has said that now the people have understood everything and the people have made the mind of giving a mandate to the BJP. This BJP strategy can be a big trouble for the Congress.

यह भी देखे

source name political report

Leave a Reply