यूपी चुनाव के तुरंत बाद राहुल गाँधी ने राम सेतु पर दे डाला ऐसा विवादित बयान, कहा कि…

आज राहुल गाँधी बहुत बड़े शिवभक्त बन रहे है, वैसे अच्छा है, चूँकि राहुल गाँधी जैसे ईसाई शिव भक्ति में अग्रसर है, हिन्दू होने का दावा कर रहे है, जरूर ही इन्होने गुप्त घर वापसी की है, क्यूंकि कुछ दिनों पहले तक न ही राहुल गाँधी शिवभक्त थे और न ही हिन्दू |

Today Rahul Gandhi is becoming a very big Shiva devotee, it is good, because, like Rahul Gandhi, a Christian like Shiva is leading in devotion, claiming to be a Hindu, he has definitely come back to the secret house, because neither Rahul nor Rahul Gandhi was Shiv bhakta neither Hindu nor Hindu.

अमरीका के रोल्लिंस कॉलेज में पढ़ते हुए इनका नाम था राउल विन्ची, और धर्म था रोमन कैथोलिक ईसाई, अब आज राहुल गाँधी अचानक से शिवभक्त बन रहे है, तो हमे भी कुछ याद आ गया, जो हम नमो भारत न्यूज़ के पाठकों के साथ शेयर करना चाहते है |

While studying at Rollins College of America, his name was Raúl Vinnie, and religion was Roman Catholic Christian, now Rahul Gandhi is suddenly becoming a devotee, then we also remember something that we share with the readers of Namo Bharat News.

राहुल गाँधी 2004 में सांसद बने थे, 2004 में उनकी मम्मी सोनिया गाँधी की सरकार बनी थी, और ये सरकार अमरीका के इशारे पर रामसेतु को ध्वस्त कर देने पर आमादा थी, हिन्दुओ ने विरोध किया तो मामला सुप्रीम कोर्ट में गया जहाँ पर इन लोगों ने भगवान् राम को ही अस्वीकार कर दिया था|

Rahul Gandhi became MP in 2004, his mother, Sonia Gandhi, had formed the government in 2004, and this government was bent on destroying Ramsetu at the behest of America when Hindus protested, the case went to the Supreme Court where these people Lord Ram was rejected only.

अब आपको हम रामसेतु का इतिहास बताते है, इसका नाम तो रामसेतु इसलिए है क्यूंकि भगवान् श्री राम के नेतृत्व में वानर सेना ने इस सेतु का निर्माण किया था, परन्तु इस सेतु के निर्माण से पहले भगवान् श्री राम और भ्राता लक्ष्मण और पूरी वानर सेना ने महादेव की पूजा की थी, रामेश्वरम में ये पूजा की गयी थी |

Now you tell us the history of Ram Sethu, its name is Ramsetu because it was created by the Vanar Sena under the leadership of Lord Rama, but before the construction of this bridge, Lord Ram and Bharat Laxman and the entire Vanara Sena Mahadev was worshiped, it was worshiped in Rameshwaram.

हर हर महादेव का उद्घोष करने के साथ वानर सेना ने इस सेतु का निर्माण किया था, जिस सेतु का निर्माण भगवान् शिव के नाम के साथ किया गया था उसे सोनिया गाँधी और राहुल गाँधी तोड़ने पर आमादा थे, और आज चूँकि गुजरात में चुनाव है ये लोग बहुत महान शिवभक्त बन रहे है, जनेऊधारी हिन्दू बन रहे है |

With the announcing of Har Har Mahadev, this bridge was constructed by the Vanar Sena, the bridge which was constructed with the name of Lord Shiva was bent on breaking Sonia Gandhi and Gandhi Gandhi, and today because there is an election in Gujarat People are becoming very great devotees, Jains are becoming Hindus.

आज वैसे स्मृति ईरानी ने भी राहुल गाँधी पर एक सवाल दागा, स्मृति ईरानी ने कहा की राहुल गाँधी जनेऊधारी हिन्दू है, केरल में जब कांग्रेस के पदाधिकारी गाय को सड़क पर काटते है तो राहुल गाँधी के अंदर का हिन्दू उसपर बयान क्यों नहीं देता, राहुल गाँधी के अंदर का हिन्दू अपने कांग्रेस नेताओं पर कार्यवाही क्यों नहीं करता |

Even today, Smriti Irani also gave a question to Rahul Gandhi, Smriti Irani said that Rahul Gandhi is a Janayogari Hindu, when in Kerala, when Congress office bearers cut cow on the road, why does Hindu Hindus inside Rahul Gandhi do not make statements on it, Rahul Why does Hindus inside Gandhi not take action against their Congress leaders?

यह भी देखे :

https://www.youtube.com/watch?v=6KzO3XxanXM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *