अंतराष्ट्रीय मोस्ट वांटेड आतंकी ने राम मंदिर के विवाद को लेकर दे डाली धमकी मोदी-योगी के खिलाफ उगला ज़हर,अगर राम मंदिर बना तो…

नई दिल्ली : एक तरफ राम मंदिर के मुद्दे को सुप्रीम कोर्ट लटकाये जा रहा तो वहीँ अब ऐसी खबर आने लगी है कि मोदी सरकार संसद के शीतकालीन सत्र में राम मंदिर को लेकर कानून बनाएगी. तो वहीँ इस बीच अब राम मंदिर को लेकर मोस्ट वांटेड अंतर्राष्ट्रीय आतंकी ने बहुत बड़ी धमकी दे दी है.

दिल्ली से काबुल तक मचा देंगे तबाही
अभी मिल रही बड़ी खबर के मुताबिक एक तरफ देश में ही बैठे कुछ विपक्षी लोग राम मंदिर को लेकर एकता नहीं दिखा रहे हैं और वहीँ दूसरी तरफ कट्टरपंथी भी अब राम मंदिर के खिलाफ खड़े हो गए हैं. आतंकी सगंठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर ने बाबरी मस्जिद को लेकर 9 मिनट का ऑडियो जारी किया है. इस ऑडियो में मसूद अजहर धमका रहा है कि अगर भारत बाबरी मस्जिद की जगह पर राम मंदिर बनाता है, तो दिल्ली से काबुल तक मुसलमान लड़के बदला लेने को तैयार हैं. उसने कहा कि हम लोग पूरी तरह से तबाही फैलाने करने के लिए तैयार हैं.

मसूद ने दावा किया कि काबुल और जलालाबाद में भारतीय संस्थानों को निशाना बनाया गया था. अजहर ने ऑडियो में कहा कि हमारी बाबरी मस्जिद को गिराकर वहां अस्थाई मंदिर बनाया गया है, वहां हिंदू लोग त्रिशूल के साथ इकट्ठे हो रहे हैं. मुसलमान लोगों को डराया जा रहा है, एक बार फिर हमें बाबरी मस्जिद बुला रही है.

ऑ़़डियो में जैश सरगना बोल रहा है कि हम बाबरी मस्जिद पर नजर बनाए बैठे हैं, तुम सरकारी खर्च करने का माद्दा रखते हो तो हम जान खर्च करने के लिए तैयार हैं. इतना ही नहीं इस ऑडियो में अजहर ने करतारपुर कॉरिडोर के बारे में भी टिप्पणी की. उसने पाकिस्तानी सरकार द्वारा भारत के मंत्रियों को बुलाने पर नाराजगी व्यक्त की.

इस ऑडियो में मसूद अजहर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ भी काफी जहर उगला. उसने पीएम मोदी और सीएम योगी के लिए अपशब्द बोले हैं.

बता दें कि बीते कुछ दिनों में जिस तरह भारत की ओर से आतंकियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई और सख्ती भरी भाषा का प्रयोग किया गया है उससे उनके आका बौखलाए हुए हैं. यही कारण है कि अब ये बौखलाहट इस तरह की गीदड़ भभकी से सामने आ रही है.

साफ़ देखा जा सकता है कि कैसे कैसे आतंकी, कट्टरपंथी राम मंदिर के खिलाफ खड़े हो गए हैं और देश में ही कुछ हिन्दू ऐसे हैं जो राम मंदिर के लिए एक नहीं होते हैं. इतने दशकों से राम मंदिर का मुद्दा लटका हुआ है. कांग्रेस के वकील इसका हमेशा से विरोध करते आ रहे हैं. इससे पहले कांग्रेस नेताओं ने तो भगवान राम को काल्पनिक तक बता दिया था.

कितने शर्म कि बात है कि एक तरफ वहां पाकिस्तान में हज़ारों मंदिर को तबाह कर दिया गया. हिन्दुओं को पलायन करने पर मज़बूर किया गया. उन पर अत्याचार किये गए. आज उनकी आबादी सिर्फ 1.8 % रह गयी है और यहाँ भारत में हिन्दू अपने आराध्य का एक मंदिर नहीं बना पा रहे हैं.

source dd bharti

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *