पीएम मोदी का ऐसा जबरदस्त एक्शन,जिससे नीरव मोदी समेत पुरे देश में हड़कंप

modi

नई दिल्ली (27 फरवरी) : देश की सबसे भ्रष्टाचारी पार्टी का खिताब पा चुकी कांग्रेस जब सत्ता में थी, तब कोंग्रेसी नेताओं के साथ-साथ भ्रष्ट अधिकारियों व् कारोबारियों ने भी भ्रष्टाचार की मलाई जमकर खायी. मोदी सरकार के आने के बाद जब मामले खुलकर सामने आने लगे तो भ्रष्टाचारी जान बचाकर भाग रहे हैं. मगर अब मोदी सरकार ने ऐसा एक्शन लिया है, जिसे देख भ्रष्टाचारियों के भी होश उड़े हुए हैं, खासतौर पर उनके, जो ये सोचकर देश से भाग गए हैं कि भारत सरकार उनका कुछ बिगाड़ नहीं पाएगी.

New Delhi (February 27, 2013): When Congress was in power in the country’s most corrupt party, when the Congress leaders were in power, corrupt officials and businessmen ate along with the cream of corruption. After the Modi government came, when the cases came out openly, the corrupt people are running away. But now the Modi government has taken such action, which is also seen in the eyes of corrupt people, especially those who have fled from the country thinking that the Government of India will not be able to make any difference to them.

10 देशों में ईडी का एक्शन
हाल ही में सामने आये पीएनबी घोटाले में जांच एजेंसियां बेहद सख्त मूड में हैं. नीरव मोदी और मेहुल चौकसी की ना केवल भारत की सभी सम्पत्तियाँ जब्त कर ली गयी हैं बल्कि अब विदेशों में भी इनका जीना दूभर करने की तैयार कर ली गयी है.

ED action in 10 countries
In the recent PNB scandal, investigating agencies are in a very strict mood. Nirav Modi and Mehul Vakasi have not only seized all the properties of India, but have now been prepared to confuse them in foreign countries.

प्रवर्तन निदेशालय ने पंजाब नेशनल बैंक से करीब 12600 करोड़ रुपये का लोन लेकर विदेश भागे आरोपी नीरव मोदी मामले में 10 देशों को पत्र लिखकर उनसे कहा है कि वो वहां नीरव मोदी की विदेशी संपत्ति और ठिकानों के बारे जानकारी भारत सरकार को दें, ताकि उन्हें जब्त कर लिया जाए.

The Enforcement Directorate has written a letter to the 10 countries of Punjab National Bank, taking a loan of around Rs 12,600 crore from abroad to Nirav Modi and asked them to give information about Neerav Modi’s foreign assets and locations to the Indian government, so that they may be seized. Be done

विदेशी संपत्ति जब्त कर बना देंगे भिखारी
ईडी ने कहा कि इससे वह हांगकांग, अमेरिका, ब्रिटेन, संयुक्त अरब अमीरात, दक्षिण अफ्रीका और सिंगापुर अपराध की कमाई जब्त करने और दस्तावेज तथा सबूत जुटाने में मदद मिलेगी. अनुरोध पत्र एक देश की अदालत द्वारा दूसरे देश की अदालत को जारी किया जाता है. निदेशालय ने अदालत को बताया कि नीरव मोदी ने कई कंपनियां बनाई हैं. इनमें डायमंड आर यूएस, सोलर एक्सपोर्ट्स, स्टेलर डायमंड, फायरस्टार डायमंड शामिल हैं.

Beggars will seize foreign property
ED said that this will help in seizing the earnings of Hong Kong, US, UK, United Arab Emirates, South Africa and Singapore crime and gathering documents and evidence. The request letter is issued by a country’s court to another country’s court. The Directorate told the court that Neerav Modi has made several companies. These include Diamond R US, Solar Exports, Stellar Diamond, Firestars Diamond.

ईडी ने अदालत में अपनी अपील में कहा कि नीरव मोदी ने अपना कारोबार अमेरिका, ब्रिटेन, यूएई, दक्षिण अफ्रीका और सिंगापुर तक फैलाया हुआ है. आवेदन में कहा गया है कि उसकी अपराध की कमाई का कुछ हिस्सा विदेशों में रखा हुआ है.

ED in its appeal in the court said that Neerav Modi has spread his business to the US, UK, UAE, South Africa and Singapore. The application says that part of the income of his crime is kept abroad.

साफ़ जाहिर है कि नीरव मोदी भले ही देश छोड़कर भाग गया हो, मगर जांच एजेंसियां उसके पीछे पूरी ताकत से लगी हुई हैं. ना केवल उसकी विदेशी सम्पत्तियाँ जब्त करने की पूरी तैयारी है बल्कि उसे वापस भारत लाने की भी पूरी कोशिशें की जा रही हैं. नीरव मोदी के भारत आने से कई अन्य भ्रष्टाचारियों का भी पर्दाफ़ाश होने की उम्मीद है, खासतौर पर उन नेताओं का, जिनकी सहायता से नीरव मोदी ने इतने बड़े पैमाने पर लूट मचाई.

Clearly, Neeru Modi may have left the country, but the investigating agencies have been behind him with full force. Not only is there complete preparation to seize its foreign properties but also efforts are being made to bring it back to India. Many other corrupt people are also expected to be exposed after the arrival of Nirv Modi, especially with the help of those leaders who had looted at such a massive scale.

यह भी देखे

sourcename:political report

 

Leave a Reply