तो रोहित सरदाना ने इस लिए छोड़ा ZEE NEWS और थामा इस चैनल का हाथ !

राष्ट्रवादी न्यूज़ चॅनेल ज़ी न्यूज़ के एंकर रोहित सरदाना अब आने वाले समय में ज़ी न्यूज़ पर दिखाई नहीं देंगे! खबरों के मुताबिक रोहित सरदाना ने ज़ी न्यूज़ को छोड़ दिया है, और अब खबर ये भी है की वो बहुत जल्द आज तक चॅनेल पर नजर आएंगे| exchange4media.com नाम की वेबसाइट ने इसकी पुस्टि की है कि रोहित सरदाना ने इंडिया टुडे ग्रुप के हिंदी न्यूज़ चैनल आजतक को ज्वाइन कर लिया है! एक्सचैंज4मीडिया.कॉम मीडिया सम्बंधित खबरे पब्लिश करने के लिए जानी जाती रही है! यह वेबसाइट डिजिटल, प्रिंट और टीवी न्यूज़ सम्बंधित खबरों को पब्लिश करती है |

Anchor Rohit Sardana of National News Channel Zee News will no longer appear on Zee News in the coming days! According to reports, Rohit Sardana has left Zee News, and now the news is that he will be seen on the channel till very early. The website, exchange4media.com, has confirmed that Rohit Sardana has joined the India Today Group’s Hindi news channel Aaj Tak! Exchanges 4 media.com has been known to publish media related news! This website publishes news related to digital, print and TV news.

जैसा की हम सब जानते है की इंडिया टुडे ग्रुप के काफी सारे चैनल है, जिनमे आजतक हिंदी की प्रमुख न्यूज़ चॅनेल में से एक है, इस ग्रुप का मालिक है अरुण पूरी, वैसे आजतक चैनल हमेशा से ही अपनी हिन्दू विरोधी छवि के लिए जानी जाती रही है, अब देखना यह रह गया है की हिंदुत्व के समर्थक रोहित सरदाना किस तरह इस न्यूज़ चॅनेल के साथ फिट बैठते है! आज तक चॅनेल के एंकर पुण्य प्रसून जोशी को लगभग सभी देशवासी जानते होंगे, जिन्हे कैमरे पर केजरीवाल के साथ इंटरव्यू को फिक्स करते हुए पाया गया था, तब उनका वीडियो काफी वायरल हुआ था |

As we all know, there is a lot of channels of the INDIA TODAY group, which is presently one of the leading news channels of Hindi, Arun Prabha is the owner of this group, although the Aaj Tak channel always known for its anti-Hindu image. It has been left to see now that Rohit Sardan, a pro-Hindutva fan, fits in with this news channel! To date, Chanel Anchor Puja Prasun Joshi would have known almost all the nationals, who were found fixing the interview with Kejriwal on camera, his video was quite viral.

रोहित सरदाना के आजतक ज्वाइन करने की जानकारी हमे एक और सोर्स से भी प्राप्त हुयी है, उनके समर्थक रवि भदौरिया ने ट्विटर पर ट्वीट करके यह जानकारी दी है कि रोहित सरदाना ने आज तक ज्वाइन किया है, आपको बता दें की रोहित सरदाना ज़ी न्यूज़ पर अपने कार्यक्रम “ताल ठोक के” के लिए काफी मशहूर हुए थे, जिसके माध्यम से वो सामाजिक और राष्ट्रीय मुद्दों को मजबूती से उठाते थे |

We have also received information from Rohit Sardana to join Ajat, and his supporter Ravi Bhadauriya has tweeted on Twitter that Rohit Sardana has joined till date, tell you that Rohit Sardan is on Zee News. He was well-known for his program “Taal Thok Ke”, through which he used to raise social and national issues firmly.

जी न्यूज़ चैनल में रोहित सरदाना “ताल थोक के” के नाम से एक प्रोग्राम में एंकर की भूमिका निभाते थे | उनका यह कार्यक्रम काफी प्रचलित था और इस कार्यक्रम की वजह से रोहित को तो खूब सरहाना मिली ही थी बल्कि जी न्यूज़ की भी टी.आर.पी. में काफी चढ़ाव आया था | रोहित सरदाना का “ताल थोक के” कार्यक्रम में सीधे सीधे मंत्रियों के बीच में बेहेस होती थी | लोगों ने इस कार्यक्रम को काफी पसंद किआ था | अपने पूरे पत्रिकारिता के काल में रोहित ने काफी पुरस्कार भी जीते हैं और यही वजह है की रोहित सरदाना को खूब पसंद किया भी जाता है |

In the Zee News channel, Rohit Sardana used to play Anchor in a program called “Taal Tol Ke”. His program was quite prevalent and due to this program, Rohit had got a lot of shout but Jai News also got TRP. There was a lot of ups and downs. In Rohit Sardana’s “Taal Tol Ke” program, he was directly involved in the middle of the ministers. People loved this program very much. During the period of his entire journalism, Rohit has won a lot of rewards, and this is why Rohit Sardana is also very liked.

रोहित सरदाना के आज तक ज्वाइन करने से उनके फैंस को विश्वास नहीं हो रहा है! लेकिन खबरों की माने तो यही सच्चाई है! अब चूँकि वो आजतक जैसे हिन्दू विरोधी चैनल पर चले गए है तो देखना होगा की वो किस प्रकार की पत्रकारिता करते है, हालाँकि मोदी सरकार के आने के बाद कई सारे मीडिया हाउसेस ने गिरगिट की तरह रंग बदला है, और राष्ट्रवादी बनने की कोशिश की है, कदाचित आजतक भी इस बात को समझ रहा हो की अब हिन्दू विरोध ज्यादा चलेगा नहीं और ये ग्रुप भी गिरगिट की तरह बदल जाये |

Joining till today Rohit Sardan does not believe his fancy! But the news is the truth! Now since he has gone on the anti-Hindu channel like Aaj Tak, he has to see what kind of journalism he is doing, although after the arrival of the Modi government many media houses have changed color like chameleon and have tried to become nationalist. Perhaps even today, it is understandable that now Hindu opposites will not do much and this group should be transformed like a chameleon.

पर क्या आज तक की यह कोई चाल तो नहीं ? क्या आज तक अपनी बिगड़ी और बची कुची इज्ज़त को उठाने के लिए रोहित को अपने चैनल में तो नि बुला रहा? वेसे भी चुनावों के दिन नजदीक आने ही वालों हैं और इसे में सबको पता है के बीजेपी की ही जीत होगी | तो क्या आजतक का ये कोई खेल तो नहीं के रोहित सरदाना को अपने चैनल में जगह देकर वो अपनी इज्ज़त बचा रही हो ?

But what is this trick till today? To date, his Rohit was calling in his channel to take care of his dirty and left pitcher. They are also coming closer to the day of elections and everyone knows that BJP will win. So do not you have any such game of Aaj Tak, then Rohit Sardana is giving his place in his channel, is it saving its respect?

यह भी देखे :

https://www.youtube.com/watch?v=6KzO3XxanXM&t=1s

VIDEO: कुरान की आयत का मतलब पूंछने पर मौलाना ने दी मुस्लिम महिला एंकर को गलियां |

मुफ्ती ने एंकर और पैनल में मौजूद मुस्लिम महिला को बेशर्म और बेहया कहा, इसके बाद उन्हें स्टूडिया से निकाल दिया गया।

Mufti said that the anchor and the Muslim woman in the panel were shameless and unsound, after which they were fired from the studio.

ये तमाचा है उन सेक्युलर हिन्दुओं पर जो खुलकर मस्जिद और मंजारों पर जाकर माथा टेकते हैं.बिहार में नई सरकार बनने के साथ ही नया विवाद जुड़ गया है. बिहार सरकार में गन्ना एवं अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री खुर्शीद उर्फ फिरोज अहमद जय श्री राम का नारा लगाने के बाद माफी मांग ली है.

These slogans are those secular Hindus who freely go to the mosque and the shrines and go to the top of the head. With the formation of a new government in Bihar, a new dispute has been added. In Bihar government, sugarcane and minority welfare minister Khurshid alias Firuz Ahmed has apologized after the slogan of Jai Shri Ram.

मुफ्ती ने एंकर और पैनल में मौजूद मुस्लिम महिला को बेशर्म और बेहया कहा, इसके बाद उन्हें स्टूडिया से निकाल दिया गया।

Mufti said that the anchor and the Muslim woman in the panel were shameless and unsound, after which they were fired from the studio.

ये तमाचा है उन सेक्युलर हिन्दुओं पर जो खुलकर मस्जिद और मंजारों पर जाकर माथा टेकते हैं.बिहार में नई सरकार बनने के साथ ही नया विवाद जुड़ गया है. बिहार सरकार में गन्ना एवं अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री खुर्शीद उर्फ फिरोज अहमद जय श्री राम का नारा लगाने के बाद माफी मांग ली है.

These slogans are those secular Hindus who freely go to the mosque and the shrines and go to the top of the head. With the formation of a new government in Bihar, a new dispute has been added. In Bihar government, sugarcane and minority welfare minister Khurshid alias Firuz Ahmed has apologized after the slogan of Jai Shri Ram.

मुस्लिम मौलानाओं ने उन्हें माफ़ी मांगने पर मजबूर किया.एक मुफ्ती द्वारा उनके खिलाफ फतवा जारी किए जाने पर उन्होंने
सामने आकर माफी मांग ली. खुर्शीद ने आज कहा कि अगर उनके किसी भी व्यक्त्व से किसी को तकलीफ पहुंची है, तो उसके लिए वे माफी मांगते हैं.

Muslim maulanas forced them to apologize. When a fatwa was issued against them by a Mufti, they
Came forward and apologized. Khurshid said today that if anyone has hurt anyone from his person, they apologize for him.

इस मुद्दे पर कई चैनलों पर बहस भी हुई ऐसे ही एक चैनल में टीवी एंकर रुबिका लियाकत और मुफ्ती एजाज अरशद कासमी के बीच बेहद तल्क बहस हो गई. बहस में शामिल अंबर जैदी को एआईएमआईएम के तरफ से शामिल प्रवक्ता ने अपशब्द कहे इसके जवाब में रुबिका ने ये कह दिया कि ये मदरसा नहीं है. इतना कहते हैं मुफ्ती बढ़क गए और रुबिका और अंबर पर जमकर व्यक्तिगत् हमले किए.

There were debates on this issue on many channels; In such a channel, there was a lot of debate between TV anchor Rubika Liyaqat and Mufti Ejaz Arshad Kasami. In response to this, Amber Zaidi, who was involved in the debate, said that the spokesman involved in AIMIM said that she is not a madrasa. It is said that Mufti grew and attacked Rabika and Amber fiercely.

देखिये ये वीडियो :

Watch this video:

https://youtu.be/C2-cPnrsCSY

दोनों को अपशब्द कहे. रुबिका के वंदे मारतम गाने और जय श्री राम बोलने पर ताने मारे गए. मुफ्ती ने एंकर के महिला होने का भी लिहाज नहीं किया उन्हें बेहया बताया, संघ का तोता बोला.रुबिका के वंदे मातरम बोलने पर एतराज जताने पर भी रुबिका ने जोर देकर कहा कि कहूंगी वंदे मातरम.

Saying offensive to both Rabika’s Vande Mataram songs and Jai Shree Ram were stabbed to death. Mufti did not even consider being an anchorwoman, she told him a bad thing, the parrot of the Sangh spoke. Rabika insisted on expressing her objection on speaking Verma Mataram, saying that Vande Mataram will say that.

देख लो आँखे खोलकर सेक्युलर हिन्दुओं इन्हें जय श्री राम बोलने से भी तकलीफ है और हम लोग इनकी मस्जिदों में जाते है.सबसे बड़ा सवाल हम क्यों इनकी अज़ान सुने जब ये जय श्री राम तक नहीं सुन सकते!

Seeing the eyes, Secular Hindus also suffer from speaking Jai Shri Ram and we go to their mosques. The biggest question is why we can listen to them when they can not hear Jai Shri Ram!

ये विडियो भी देखें

Also, watch these videos

https://youtu.be/6KzO3XxanXM