ब्रेकिंग : माफ़ी मांगने को लेकर “AAP” में मचे घमाशान के बीच अब इस बड़े नेता ने भी केजरीवाल को खूब लताड़ा!

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री श्री अरविन्द केजरीवाल जी द्वारा पंजाब के अकाली नेता बिक्रम मजीठिया से लिखित में माफी मांगने को लेकर वबाल मचा हुआ है! हर तरफ इनकी ही चर्चा हो रही है! जहां पार्टी के अंडर लोग बगावत पर उतर आये है, वहीं अब अरविन्द केजरीवाल के कभी गुरु रहे समाजसेवी अन्ना हजारे ने भी केजरीवाल पर तंज कसा है! अन्ना हजारे ने कहा कि किसी को ऐसा काम ही नहीं करना चाहिए, जिसके लिए उसे बाद में माफी मांगनी पड़े!

New Delhi: It is unfortunate that the convenor of Aam Aadmi Party and the Delhi Chief Minister Mr. Arvind Kejriwal has apologized in writing by Bikram Majithia, Akali leader of Punjab! They are discussing all the way! Where under-the-party people have come to the rebellion, Anna Hazare, now a social worker of Arvind Kejriwal, is also tense on Kejriwal! Anna Hazare said that no one should do such a thing, for which he had to apologize later!

दरअसल, शनिवार को मीडिया से बातचीत के दौरान अन्ना हजारे ने कहा, ‘कोई ऐसा काम करता ही क्यों है, जिसके लिए उसे बाद में माफी मांगनी पड़े? गलती करना और फिर से उसके लिए माफी मांगना, इन दोनों में खास अंतर नहीं है!’ अन्ना हजारे ने ये बात जाहिर तौर पर अरविन्द केजरीवाल के लिए ही कही है!

In fact, during the interaction with the media on Saturday, Anna Hazare said, ‘Why does anyone do such a thing, for which he had to apologize later? Making a mistake and apologizing for it again, there is no special difference between these two! “Anna Hazare has obviously said this thing only for Arvind Kejriwal!

आखिर अरविन्द केजरीवाल को क्यों मांगनी पड़ी माफ़ी? इसकी नीव पंजाब विधानसभा चुनाव के समय ही पद चुकी थी! तब पंजाब में चुनाव प्रचार के दौरान केजरीवाल ने बिक्रम मजीठिया को ड्रग माफिया बताया था। इस मामले में मजीठिया ने केजरीवाल पर मानहानि का केस दर्ज करवाया था, लेकिन अब केजरीवाल ने इस केस में मजीठिया से लिखित माफी मांग ली है और वह माफी अदालत में जमा कराई गई!

After all, why did Arvind Kejriwal have to apologize? It was the foundation of the Punjab assembly elections! Then during the campaigning in Punjab, Kejriwal called Bikram Majithia a drug mafia. In this case, Majithia had filed a case of defamation on Kejriwal, but now Kejriwal has apologized to Majithia in this case and the forgiveness has been deposited in the court!

आप संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री द्वारा इस तरह माफी मांगे जाने से आप (AAP) की पंजाब यूनिट नाराज हो गई! पंजाब के नेताओ का कहना है की मामला पंजाब से जुड़ा हुआ था फिर भी उनकी राय नहीं ली गई! केजरीवाल के माफी मांगने के वजह से आप के पंजाब प्रभारी और सांसद भगवंत मान ने शुक्रवार को प्रदेश अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया! यहां तक कि लंबे समय से आप पार्टी से नाराज चल रहे नेता कुमार विश्वास तक ने केजरीवाल पर कटाक्ष किया और कहा कि हम उस शख्स पर क्या थूकें जो खुद थूक कर चाटने में माहिर है!

As you apologize to the convener and the Delhi Chief Minister, the Punjab unit of you (AAP) got annoyed! The leaders of Punjab say that the matter was connected to Punjab, yet their opinion was not taken! Because of Kejriwal’s apology, Punjab’s in-charge and MP Bhagwant Mann resigned as the state president on Friday. Even for a long time, the angry Congress leader Kumar Vishwas took a dig at Kejriwal and said, “What we spit on a man who specializes in licking and licking himself!”

यह भी देखें:

 

https://youtu.be/k87GwTUEGuQ

https://youtu.be/hsfxfSRtdUs

source:political report

बड़ी खबर :अंशु प्रकश ने केजरीवाल सरकार पर किया ऐसा चौकाने वाला खिलासा जिसे देख अमानतुल्लाह खान सन्न……

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल और उनकी पार्टी ‘आम आदमी पार्टी’ के नेता अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे है, इन्हें लगता है पावर है तो ये कुछ भी करेंगे. इसी बीच दिल्ली के ओखला से विधायक अमानतुल्लाह खान अपनी नापाक हरकत की वजह से सुर्ख़ियों में है. विधायक अमानतुल्लाह खान पर दिल्ली के चीफ सेक्रेट्री अंशु प्रकाश ने आरोप लगाया है कि सोमवार देर रात सीएम आवास पर एक मीटिंग के समय अमानतुल्लाह ने उनके साथ धक्का-मुक्की और बदतमीजी की है और अमानतुल्लाह खान ने यह हरकत दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के सामने की है.

Delhi Chief Minister Arvind Kejriwal and his party ‘Aam Aadmi Party’ leaders are not able to respond to their objections, they feel they are power, they will do anything. Meanwhile, Amanatullah Khan, MLA from Okhla of Delhi, is in the spotlight due to his nefarious movements. Delhi’s Chief Secretary Anshu Prakash, MLA of Amanatullah Khan, has alleged that during a meeting at the CM residence on Monday night, Amanatullah has been pushing with him, and Amatullah Khan has taken this objection to Delhi Chief Minister Arvind Kejriwal. is.

बताया जा रहा है कि सीएम आवास पर मीटिंग के दौरान अमानतुल्लाह ने प्रश्न उठाया कि “राशन की दुकानों पर मशीन लगने के चलते ढाई लाख परिवारों को पिछले महीने से राशन नहीं मिला है”. चीफ सेक्रेट्री ने जवाब में कहा कि “वो इन सभी सवालों का जवाब LG को देंगे”. इसके बाद मीटिंग में दूसरा प्रश्न यह उठा कि (तीन साल केजरीवाल) विज्ञापन को लेकर और इस मामले पर बहस शुरू हो गई. बहस इतनी बढ़ गई कि दोनों विधायक एक दूसरे से हाथापाई करने लगे.

It is being told that during the meeting at CM House, Amanatullah raised the question that “2.5 million households have not got ration from last month due to the machines being installed on ration shops.” The Chief Secretary replied in response that “he will answer all these questions to LG”. After this, the second question was raised in the meeting that (three years ago) Kejriwal began to debate about the advertisement and the matter. The debate has increased so much that both the MLAs began to scramble from each other.

मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने देर रात मुख्य सचिव और विधायकों की इमरजेंसी बैठक बुलाई थी. IAS अंशु प्रकाश ने इस पूरे मामले की शिकायत उपराज्यपाल को की है और कहा है कि मामला सुलझने के बाद ही वो काम पर लौटेंगे. वहीं अगर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की माने तो ऐसी कोई भी घटना नहीं हुई है. केजरीवाल ने उल्टे मुख्य सचिव पर ही आरोप लगाया कि “वे ठीक से बात नहीं कर थे और बीच में बैठक छोड़कर जाने लगे, यह रवैया बिल्कुल ठीक नहीं है”.

Chief Minister Arvind Kejriwal had convened an emergency meeting of Chief Secretary and MLAs late last night. IAS Anshu Prakash has complained to the Lt Governor and said that he will return to work only after resolving the matter. At the same time, if Chief Minister Arvind Kejriwal believes that there is no such incident. On the contrary, Kejriwal accused the Chief Secretary that “they did not talk properly and left the meeting in the middle, this attitude is not exactly right”.

ये पहली बार नहीं है जब विधायक अमानतुल्लाह खान सुर्ख़ियों में आये हो, इससे पहले भी उन्होंने पार्टी के वरिष्ठ नेत कुमार विश्वास पर आरोप लगते हुए उन्हें “राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) का दलाल” बताया था.

This is not the first time when MLA Amanatullah Khan came in the headlines, even before, he had been accused of betraying senior leader Kumar Kumar of the party and told him as “a broker of the National Self Service Association (RSS) and the Bharatiya Janata Party (BJP)”.

यह भी देखे

https://youtu.be/1YmeDP0wOXs

https://youtu.be/k87GwTUEGuQ

SOURCENAME:POLITICALREPORT

AAP नेता अरविन्द केजरीवाल ने हिन्दुओं के त्यौहार होली को लेकर दे डाला ये विवादित बयान, कपिल मिश्रा ने दिया ऐसा मुंहतोड़ जवाब…

दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के सरगना अरविन्द केजरीवाल, जो की एक धर्मांतरित ईसाई और फोर्ड फाउंडेशन का एजेंट है, उसने हिन्दुओ के पवित्र उत्सव होली का बहिष्कार कर दिया है, केजरीवाल ने इस होली को काली होली बताते हुए इसका बहिष्कार कर दिया है, और कहा है की मैं होली नहीं मनाऊंगा

Delhi Chief Minister and Aam Aadmi Party leader Arvind Kejriwal, who is an affluent Christian and agent of the Ford Foundation, has boycotted Hindu holi celebration Holi, Kejriwal has boycotted this Holi by calling Holi as black Holi , And said that I will not celebrate Holi

वैसे अक्सर आपने सेक्युलर नेताओं को ये हरकत करते देखा होगा, कोई कहता है ये दिवाली नहीं मनाऊंगा, कोई बहाना बनाकर होली और अन्य उत्सवों का इसी प्रकार विरोध कर बहिष्कार करता है, कोई होली को काली बताता है, कोई दिवाली को काली बताता है, पर कोई भी नेता कभी ईद, क्रिसमस का बहिष्कार कभी नहीं करता, कभी ईद क्रिसमस को कोई नेता काला नहीं बताता, और केजरीवाल की आज की हरकत पर कपिल मिश्रा ने इन सेक्युलर नेताओं पर कटाक्ष किया है

By the way, you may have seen secular leaders doing these acts, someone says that I will not celebrate Diwali, by making excuses, boycott Holi and other festivities in the same way, someone tells Holi black, someone tells Diwali black, But no leader ever boycott Eid, Christmas, and Eid does not tell any leader black to black, and on today’s move of Kejriwal, Kapil Mishra took these secular ones The satire on s

दरअसल ये जितने भी सेक्युलर नेता है सब धर्मांतरित है, कोई ईसाई है तो कोई इस्लाम अपनाये बैठा है, पर नाम ये हिन्दुओ वाला ही इस्तेमाल कर रहे है, क्यूंकि हिन्दुओ को मुर्ख बनाकर वोट जो लेना है, और हिन्दू नामो में घूम रहे ये नेता बहाना बनाकर हिन्दू त्यौहारों का बहिष्कार करते है

Indeed, as many secular leaders as it is converts, there is no Christian, so Islam is adopting it, but the name is using this Hindu itself, because the people who are taking votes by making them fool, and these leaders roaming in Hindu names. Hindus boycott festivals by making excuses

सारी समस्या इन नेताओं को हिन्दू धर्म के त्यौहारों के समय ही आती है, किसी भी नेता को क्रिसमस, पुरे रमजान के महीने में, ईद इत्यादि पर समस्या नही आती

All the problems come to these leaders only during the festivals of Hindu religion, any leader does not have problems on Christmas, in the month of Ramadan, on Eid etc.

यह भी देखें:

source dainik bharat

खास खबर “AAP”ने की सारी हदे पार ,विधयोकों की ऐसी गुंडागर्दी, जिसे देख PM मोदी-शाह हैरान

पहले तो आपको ताजा घटनाक्रम बता देते है एक कुछ केजरीवाल और उसके गूग्रो ने किया ये अब जान चुके और अगर आप अभी बिलकुल अंजन है तो आपको शार्ट में बता देते देते है की केजरीवाल ने खुद अपने सलाहकार के जरिये दिल्ली के मुख्य सचिव को रत 12बजे अपने घर बुलाया

First you tell me the latest developments, something Kejriwal and his googro did. Now you know and if you are still an exhausted person, then tell you in the short time that Kejriwal himself, through his adviser, to the Chief Secretary of Delhi, at 12 Called your house

वहां केजरीवाल के साथ मनीष सिसोदिया और आम आदमी पार्टी 11 अन्य विधायक मोजूद थे केजरीवाल ने मुख्य सचिव को सबसे पहले माँ बहन की गलियां देना शरू किया और फिर इशारा कर अपने विधायकों से उन्हें पिटवाया 2 विधायकों ने काफी देर तक मुख्य सचिव को पिटा उनके सर पर थप्पड़और घुसें मरे और गलियाँ देते रहे और मनीष सिसोदिया और केजरीवाल वहीँ बैठकर हँसते रहे अब दिल्ली के सारे आईएएस अधिकारी हड़ताल पर है और वो दिल्ली के 2 विध्य्कों की गिरफ़्तारी की मांग कर रहे है |

With Kejriwal, Manish Sisodia and Aam Aadmi Party were 11 other MLAs nomad, Kejriwal first introduced the chief secretary to the mother’s sister, and then pointing out to the two MLAs who beat him with his MLAs, Slapped and entered and died and kept lanes, and Manish Sisodia and Kejriwal kept laughing at them, now all the IAS officers in Delhi are on strike and they Demands for the arrest of 2 men in Delhi.

2011 में फोर्ड फाउंडेशन वालों ने एक आदोंलन शरू किया था जिसे हम अत्रा हजारे का आदोंलन कहते है उस आदोंलन से फोर्ड फाउंडेशन का एजेंट केजरीवाल नेता के रूप में निकला जो जनता के सामने गाना गाता था इसांन से इसांन का ही सन्देश हमारा ये शख्स सत्ता प्राप्त करने के बाद क्या कर रहे है आप देख चुके है|

In 2011, the Ford Foundation started an adalon, which we call the ‘Adalan of Atra-Hazare’. That Adonal was the agent of the Ford Foundation, Kejriwal emerged as the leader who used to sing in front of the public, the message of this person is ours. You have watched what you are doing after doing.

इन लोगों ने देश के राष्ट्रपति का अपमान किया उनके भाषण का बहिष्कार किया देश के राष्ट्रपतिका बहिष्कार किया साथ ही देश के प्रधनमंत्री को केजरीवाल ने लय क्या गलियां दी ये आपसे छुपी बात नहीं है प्रधानमंत्री को मनोरोगी बताया

These people insulted the President of the country boycott his speech President of the country
The boycott of the same, as well as the minister of the country, what Kejriwal has given the rhythm, it is not a secret to you, the Prime Minister is said to be a psychiatrist

केजरीवाल ने दिल्ली की पुलिस को ठुल्ला बताया, साथ ही पाकिस्तान के सुर में सुर मिलाते हुए केजरीवाल ने भारतीय सेना को भी झूठा बताया और सेना से सबूत मांगे, पाकिस्तान ने केजरीवाल के बयान को अपनी मीडिया में 30 दिनों तक चलाया

Kejriwal called Delhi’s police as cold-blooded, while simultaneously shouting Pakistan, Kejriwal called the Indian Army a liar and demanded evidence from the army, Pakistan started Kejriwal’s statement in his media for 30 days

केजरीवाल ने एक खालिस्तानी आतंकवादी के घर
रत बिताई कनाडा में खालिस्तानियों से इसके नेताओं ने मीटिंग के बड़े पैमाने पर अवैध चंदे और फडिंग ली राज्यसभा की टिकेट बेचीं सत्ता प्राप्त करने के परिवार के विदेशी दौर महंगे इलाज खूब ऐश करना शरू कर दिया सबकुछ आम आदमी के नाम पर

Kejriwal kills a Khalistani terrorist
In Canada, its leaders from the Khalistanis in Canada have started extorting huge cash and feeding tickets of the Rajya Sabha in the name of the common man.

अपने किये हुए सारे वादों से मुकर गया न WIFI न ही बस सुरक्षा के लिए होमगार्डन ही CCTV, न स्कुल न कॉलेज, 1 भी वादा पूरा नहीं किया, पर देश में खूब अराजकता फैलाई, और अब इस केजरीवाल ने अपने ही मुख्य सचिव को गैर क़ानूनी काम न करने पर अपने घर बुलाकर पिटवाया !!

All the promises made by him failed neither WIFI nor just security for homegarden, CCTV, no school, college, 1 did not fulfill the promise, but a lot of chaos spread out in the country, and now this Kejriwal has given his own principal secretary non If you do not do legal work, call him home and beat him !!

ये राजनीती बदलने आये थे हम इस लेख के जरिये दैनिक भारत के पाठकों को फिर से सचेत करना चाहते है की सेकोरिज्ज्म की बातें करने वाले नेताओं को आगे से बिलकुल बढ़ावा न दें फोर्ड फाउंडेशन मिशनरियों जिहादी शक्तियों खालिस्तानियों के एजेंट होते है जिनका एकमात्र मकसद है देश में नक्सलवाद, आतंकवाद फैलना देश विरोधी शक्तियों को बढ़ावा देना और हिन्दुओ का नाश करना

These were to change politics. We want to warn readers of daily India through this article that do not encourage leaders who talk of secorkism ahead of the present Ford Foundation missionaries Jihadi forces are agents of Khalistanis whose sole purpose is the country Naxalism, spread terrorism, promote anti-India forces and destroy Hindus

SOURCENAME:POLITICALREPORT

अपने-आप को ईमानदारी का देवता बताने वाले केजरीवाल का पर्दा फाश,खुला ये बड़ा घोटाला मिले चौकाने वाले सबूत |

नई दिल्‍ली : आम आदमी पार्टी के 20 विधायकों के अयोग्‍य घोषित किए जाने के मामले के बाद अब पार्टी के लिए नई मुश्किल खड़ी हो गई है. सीबीआई ने दिल्ली के मंत्री सत्येंद्र जैन और उन कंपनियों जहां वह निदेशक थे, से कथित रूप से संबंधित करीब दो करोड़ रुपये की बैंक जमा पर्चियां और संपत्ति दस्तावेज बरामद किए हैं. एजेंसी सूत्रों ने रविवार को यह जानकारी दी.

NEW DELHI: After the Aam Aadmi Party’s disqualification of 20 MLAs, the new difficulty has arisen for the party. The CBI has recovered the bank deposits and property documents worth Rs 2 crore related to allegedly related to Delhi’s minister Satyendra Jain and those companies where he was the director. Agency sources told this information on Sunday.

वहीं, आम आदमी पार्टी की तरफ से उसके नेता दिलीप पांडे ने कहा है कि यह बीजेपी द्वारा सत्‍येंद्र जैन की छवि को खराब किए जाने का नया प्रयास है. उन्‍होंने एक ट्वीट में यह बात की और कुछ जानकारियों साझा कीं| मगर सच्चाई क्या है ये सब जानते हैं| इसी कड़ी में आप के कई और भी नेता सम्नेआयेऔर इस बाबत सफाई देने में लग गए हैं |

Pandey is trying to spoil the image of Satyendra Jain
Right now, on the side of the Aam Aadmi Party, its leader Dilip Pandey has said that this is a new attempt by the BJP to tarnish the image of Satyendra Jain. They did this in a tweet and shared some information.

नागेन्द्र शर्मा ने bjp पर लगाये गंभीर आरोप
उधर, अरविंद केजरीवाल के मीडिया सलाहकार नागेंद्र शर्मा ने इस पर कहा कि अब भाजपा ने यह नया षड्यंत्र रचा है. जिन काग़ज़ों का ज़िक्र CBI कर रही है, वो सारे काग़ज़ सत्‍येंद्र जैन CBI को ख़ुद से दो बार दे चुके हैं और पिछले कई वर्षों की इनकम टैक्स रिटर्न में घोषित की गई है. इन में नया क्या है? भाजपा सरकार केवल उनकी छवि ख़राब करने की कोशिश कर रही है. उन्‍होंने अगले ट्वीट में कहा कि सत्‍येंद्र जैन को फंसाया जा रहा है. सत्‍येंद्र का उस रजिस्ट्रार से दूर-दूर का कोई रिश्ता नहीं है. अब तक बीजेपी सत्‍येंद्र के ख़िलाफ़ अन्य मामलों में कुछ नहीं निकाल पाई. यहां तक कि भाजपा सरकार को अभी तक हाईकोर्ट से सत्‍येंद्र के ख़िलाफ़ दायर अन्य मामलों में लगातार फटकार लगी है.

BJP has created this new conspiracy- Nagendra Sharma
On the other hand, Arvind Kejriwal’s media advisor Nagendra Sharma said that the BJP has created this new conspiracy now. All the documents that are being categorized by CBI are given to Satyendra Jain twice by the CBI and have been declared in the last tax returns for the past several years. What’s new in these? The BJP government is only trying to malign his image. In the next tweet, he said that Satyendra Jain is being implicated. Satyendra has no relation with that registrar far away. So far BJP has not managed to get anything in other cases against Satyendra. Even the BJP government has been repeatedly reprimanded in other cases filed against Satyendra from the High Court.

छापेमारी में जैन की संपत्ति दस्तावेज बरामद
सूत्रों ने कहा कि दिल्ली दंत परिषद के रजिस्ट्रार ऋषिराज के आवासों पर छापेमारी के दौरान यह दस्तावेज बरामद हुए. उन्हें एक अन्य मामले में शुकवार को गिरफ्तार किया गया था. इस घटनाक्रम पर प्रतिक्रिया देते हुए दिल्ली सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने आरोप लगाया कि यह केन्द्र द्वारा जैन की छवि खराब करने का प्रयास है और उनका रजिस्ट्रार से कोई लेना देना नहीं है. ऋषिराज और परिषद के वकील एन प्रदीप शर्मा को शुक्रवार रात एक डॉक्‍टर से 4.7 लाख रुपये की रिश्वत कथित रूप से लेते हुए गिरफ्तार किया गया था. एजेंसी सूत्रों ने कहा कि बाद में ऋषिराज के आवास पर छापेमारी के दौरान एजेंसी ने कराला गांव में जैन के नाम के संपत्ति दस्तावेज, आप नेता, उनकी पत्नी पूनम तथा जेजेआईटीएल एस्टेट प्राइवेट लिमिटेड के नाम पर चेक बुक बरामद किए.

Jain’s property documents recovered in raid
Sources said this document was recovered during the raid on the residence of Rishri Raj, registrar of Delhi Dental Council. He was arrested in another case on Friday. Responding to the incident, a senior Delhi Government official alleged that it is an attempt to malign the image of Jain by the center and it has nothing to do with the Registrar. Rishi Raj and the counsel of the council, N Pradeep Sharma was arrested Friday allegedly by a doctor with a bribe of Rs 4.7 lakh. Agency sources said that during the raid on Rishiraj’s residence later, the agency recovered a check book in the name of Jain in Karla village, name of the leader, his wife Poonam and JJETL Estate Pvt Ltd, in the name of Jain.

 

सीबीआई प्रवक्ता अभिषेक दयाल ने कहा, ‘‘सीबीआई ने दिल्ली दंत परिषद से पसंदीदा आदेश पाने तथा एक मामले में आगे की कानूनी कार्यवाही में मदद के लिए शिकायतकर्ता से रिश्वत मांगने के आरोपों में एक मामला दर्ज किया है.’’ उन्होंने कहा कि सीबीआई ने जाल बिछाकर आरोपी को शिकायतकर्ता से रिश्वत मांगने और स्वीकार करते रंगे हाथों पकड़ा. उन्‍होंने कहा कि छापेमारी के दौरान 2011 में जैन की कंपनियों के नाम पर दो करोड़ रुपये जमा वाली आईडीबीआई बैंक की पर्चियां भी मिलीं. उन्होंने कहा कि उनके, उनकी पत्नी के तथा एक निजी एस्टेट फर्म के नाम पर 41 चेक बुक भी मिले हैं. सीबीआई ने आधा किलोग्राम सोना तथा 24 लाख रुपये नकद बरामद करने का भी दावा किया है लेकिन यह स्पष्ट नहीं है कि ये भी दिल्ली के मंत्री जैन से संबंधित है या नहीं.

CBI spokesman Abhishek Dayal said, “The CBI has filed a case against the complainant for seeking bribe from the Delhi Dental Council and seeking legal action in one case for seeking bribe from the complainant.” He said that the CBI By trapping the trap, the accused caught hold of the complainant by demanding bribe and accepting the bribe. He said that during the raid, in 2011, there were slips of IDBI Bank deposited with two crore rupees in the name of Jain companies. He said that 41 check books were also received in the name of his wife, his wife and a private estate firm. CBI has also claimed to have recovered half a kilogram of gold and Rs 24 lakh cash, but it is not clear whether it is related to the minister of Delhi Jain or not.

 

https://youtu.be/BVuWDLCqpCM

https://youtu.be/BVuWDLCqpCM

sourcename:politicalreport

केजरीवाल ने हिन्दू-दलितों के खिलाफ दे डाला ये विवादित बयान, तो कपिल मिश्रा ने दिया ऐसा मुंहतोड़ जवाब…..

नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल को हर मौके पर उनकी नाकामी उजागर करने वाले दिल्ली सरकार के पूर्व मंत्री और आप के बागी विधायक कपिल मिश्रा ने इस बार भी उनकी जमकर क्लास लगाई! अरविन्द केजरीवाल गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर आयोजित एक कार्यक्रम में भाषण दे रहे थे! उन्होंने बच्चो को मबोधित करते हुए ऐसा कुछ कह दिया जिसकी वजह से दिल्ली के कपिल मिश्रा ने उन्हें दिल्ली का ओवैसी बता दिया! कपिल मिश्रा ने बच्चो के समक्ष ऐसी बाते करने के लिए केजरीवाल की कड़ी निंदा की है!

New Delhi: Former Delhi government minister and his rebel legislator Kapil Mishra, who had exposed the failure of Delhi Chief Minister Arvind Kejriwal on every occasion, also felicitated him with this class! Arvind Kejriwal was giving speeches at a program organized on the eve of Republic Day! While talking to the children, he said something like that, Delhi’s Kapil Mishra gave him the Owaisi of Delhi! Kapil Mishra has strongly condemned Kejriwal for such talks before the children!

दरअसल, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल रिपब्लिक डे के पूर्व संध्या पर दिल्ली के छत्रसाल स्टेडियम में बच्चों के सामने भाषण दे रहे थे, उनके सामने पांचवीं से 12वीं तक के बच्चे बैठे थे, उनके सामने ही केजरीवाल कटने, मरने, जलाने, पीटने और दंगे-फसाद की बातें करने लगें जिसका बच्चों से कोई मतलब ही नहीं होता है!

Actually, Delhi Chief Minister Arvind Kejriwal was delivering a speech to children at the Chhatrasal Stadium in Delhi on the eve of Republic Day, against them children from fifth to 12th were sitting, in front of them Kejriwal, cutting, burning, burning, beaten and riot Start talking about festivity, which does not make sense to children!

केजरीवाल ने कहा कि उन लोगों ने दलितों को जला दिया, उन लोगों ने मुस्लिओं को मार दिया, उन लोगों ने दलितों को पीट दिया! केजरीवाल ने कहा कि – मैं आज इस मंच के माध्यम से सबसे अपील करता हूँ – उन लोगों ने जब मुसलमानों को मारा तो हम चुप बैठे रहे, उन लोगों ने जब दलितों को जलाया और पीटा तो हम चुप बैठे रहे, अब हम चुप नहीं बैठ सकते!

Kejriwal said that those people burnt the Dalits, those people killed the Muslims, those people beat the Dalits! Kejriwal said that – I appeal most today through this forum – when those people killed Muslims, we kept silent, when those people burnt and beaten the Dalits, then we kept quiet, now we will not sit quiet Can!

केजरीवाल यहाँ पर हिन्दुओं के खिलाफ हिन्दू-दलितों और मुसलमानों को भड़का रहे थे ताकि वे चुप ना रहें और हिन्दुओं के खिलाफ सड़कों पर उतरकर दंगे-फसाद करें, इसीलिए कपिल मिश्रा ने केजरीवाल को दिल्ली का ओवैसी बताया है! उन्होंने कहा कि केजरीवाल दंगे कराने की खतरनाक साजिश कर रहे हैं!

Kejriwal was instigating Hindus and Dalits and Muslims against the Hindus so that they could not remain silent and should come and fight against Hindus and riot, so that Kapil Mishra has called Kejriwal as Owaisi of Delhi! He said that Kejriwal is making a dangerous plot to get the riots!

New Delhi: AAP MLA Kapil Mishra addressing a press conference against Delhi CM Kejriwal and Health Minister Satyender Jain, in New Delhi on Monday. PTI Photo by Vijay Verma (PTI5_8_2017_000183B)

कपिल मिश्रा ने केजरीवाल के भाषण के उस क्षण के वीडियो को पोस्ट कर ट्वीट किया और लिखा- “मुसलमानों को मारा, दलितों को जलाया??? सामने स्कूल के बच्चें बैठे है और मीडिया के कैमरे। आवाज केजरीवाल की हैं पर शब्द ओवैसी के है। दंगे की तैयारी? साजिश ख़तरनाक है।

Kapil Mishra tweeted the video of Kejariwal’s speech at that moment and wrote: “Kill the Muslims, burn the Dalits ??? Children in front are sitting and media cameras. The voice is from Kejriwal but the word is Owaisi. Preparation of riots? The plot is dangerous.

देखे वीडियो

यह भी देखें:

https://youtu.be/LvTwV08DsAo

https://youtu.be/gxWa3r-mlh0

AAP के अरविन्द केजरीवाल का इस बड़े BJP सांसद नेता ने किया बड़ा खुलासा, जनता में मचा हडकंप…

राज्यसभा सीटों को लेकर आम आदमी पार्टी में मचे घमासान पर दिल्ली के बीजेपी सांसद रमेश बिधूड़ी का कहना है कि, ‘केजरीवाल ने पॉलिटिक्स को व्यापार बना दिया है. विकल्प की राजनीति के नाम पर अंबानी-अडानी सब को गाली देते थे. आम आदमी ने सोचा था कि लोगों की चिंता करेंगे, लेकिन आज 50-50 करोड़ में राज्यसभा की टिकट बेच दी. ऐसी राजनीति से आम आदमी पार्टी ने राजनीति को कलंकित किया है.’ वही, सांसद प्रवेश वर्मा ने कहा, ‘केजरीवाल अपना नार्को टेस्ट करवाएं. अगर नार्को टेस्ट में केजरीवाल ने ये नहीं बोला कि मैंने 50 करोड़ में सीट बेची है तो मैं अपने परिवार के साथ देश छोड़कर चला जाऊंगा.’

Ramesh Bidhuri, BJP MP from Delhi, says, “Kejriwal has made politics a business. In the name of politics of choice, Ambani-Adani used to abuse all. The common man thought that people would worry, but today 50-50 million people sold Rajya Sabha tickets. From such politics, the Aam Aadmi Party has stigmatized politics. At the same time, MP Verma, MP, said, “Kejariwal has his Narco test. If in the narco test, Kejriwal did not say that I have sold the seat in 50 crores, then I will leave the country with my family.

कुमार विश्वास का बीजेपी में स्वागत
सांसद रमेश बिधूड़ी का कहना है कि, ‘बीजेपी के 12 करोड मेंबर्स बने हैं. कुमार विश्वास अगर बीजेपी की नीतियों में विश्वास करें तो उनका स्वागत है. जो बीजेपी नीतियों में विश्वास करता हो आ सकता है.’

Welcoming Kumar Vishwas to BJP
MP Ramesh Bidhuri says, “12 crore members of BJP are formed. If Kumar believes in the policies of BJP, he is welcome. Which may come to believe in BJP policies. ‘

केजरीवाल ने लिए 100 करोड़ रुपए
सांसद प्रवेश वर्मा का कहना है कि, ‘इसमें वजह बहुत साफ है. मैं कोई आरोप नहीं लगा रहा हूं. मैं सारी सच्चाई जानता हूं. 100 करोड़ रुपया केजरीवाल को दे कर आए हैं. सुशील गुप्ता को मैं अच्छे से जानता हूं, उनसे मेरा पुराना परिचय है.’

Rs 100 crore for Kejriwal
MP entry Verma says, ‘The reason for this is very clear. I am not making any allegation. I know the whole truth. 100 crore rupees have been given to Kejriwal. I know Sushil Gupta well, I have an old introduction to him. ‘

प्रवेश वर्मा ने आगे कहा, ‘सुशील गुप्ता स्कूल चलाते हैं, अस्पताल चलाते हैं. उनकी दिल्ली में बहुत जमीन है. 5 हजार करोड़ के मालिक हैं दोनों व्यक्ति. मैं सोचता था कि केजरीवाल अपनी पत्नी को राज्यसभा भेजेंगे. आशुतोष-कुमार विश्वास को नहीं भेजेंगे. लेकिन ये मैं सपने में भी नहीं सोच सकता था कि केजरीवाल अपने घर के कमरे में राज्यसभा की टिकटों की बोली लगा रहे थे.’

केजरीवाल कराएं नार्को टेस्ट
‘बोली 30 करोड़ से शुरू होकर 50 करोड़ तक गई. ऐसा हमने कभी नहीं देखा-सुना था. केजरीवाल को मैं चैलेंज करता हूं कि वह अपना नार्को टेस्ट करवाएं. अगर नार्को टेस्ट में केजरीवाल ने ये नहीं बोला कि मैंने 50 करोड़ में सीट बेची है तो मैं अपने परिवार के साथ देश छोड़कर चला जाऊंगा. और अगर वह नार्को टेस्ट में ये बोल गए तो उन्हें राजनीति छोड़ देनी चाहिए.’

Kejariwal Kara Narco Test
‘Bid started from 30 crores to 50 crores. We never saw this – we had never heard-heard. I challenge Kejriwal to get his narco test done. If Kejriwal did not say that in the Narco Test that I had sold the seat in 50 crores, then I would leave the country with my family. And if he says this in the Narco Test, he should quit politics.

बता दें, आम आदमी पार्टी ने बुधवार को राज्यसभा के लिए अपने उम्मीदवारों का ऐलान कर दिया. आप की तरफ से संजय सिंह, नारायण दास गुप्ता और सुशील गुप्ता राज्यसभा जाएंगे. 5 जनवरी को राज्यसभा चुनाव के लिए नामांकन करने की आखिरी तारीख है. वहीं, 16 जनवरी को चुनाव होने हैं.

कौन हैं सुशील गुप्ता?
सुशील गुप्ता दिल्ली और हरियाणा में शिक्षा और स्वास्थ्य के बिजनेस से जुड़े हैं. लॉ ग्रैजुएट सुशील गुप्ता इससे पहले 2013 में कांग्रेस की ओर से चुनाव भी लड़ चुके हैं, लेकिन वे हार गए थे. चुनाव आयोग में दाखिल हलफनामे के मुताबिक, 4 साल पहले वे 164 करोड़ के मालिक थे.

Who is Sushil Gupta?
Sushil Gupta is involved in education and health business in Delhi and Haryana. Law graduate Sushil Gupta has already contested the elections in 2013, but he lost. According to the affidavit filed in the Election Commission, 4 years ago, he was the owner of 164 crore.

कुमार विश्वास ने कहा- मुझे दंडित किया गया
वहीं, नाम के ऐलान के बाद कवि और पार्टी नेता कुमार विश्वास का दर्द छलका है. कुमार ने कहा कि मुझे सर्जिकल स्ट्राइक, टिकट वितरण में गड़बड़ी, जेएनयू समेत अन्य मुद्दों पर सच बोलने के लिए मुझे दंडित किया गया है. मैं इस दंड को स्वीकार करता हूं. प्रतिक्रिया देते हुए कुमार ने कहा कि सब अपनी लड़ाई लड़ रहे हैं. आप अपनी लड़ रहे हैं, मैं अपनी लड़ रहा हूं. मैं बहुत शुभकामाएं देता हूं जिनको रामलीला मैदान के लिए चुना है.

Kumar Vishwas said – I was punished
At the same time, after the announcement of the name, the pain and poison of the party leader Kumar Vishwas has been sprayed. Kumar said that I have been penalized for telling truth on other issues including surgical strikes, disturbances in ticket distribution, JNU. I accept this penalty. Responding to the reaction, Kumar said that all are fighting their battles. You are fighting for me, I am fighting for you. I give great auspiciousness to those who have chosen for Ramlila Maidan.

उम्मीदवारों को लेकर थी अटकलें
बीते 29 दिसंबर को अधिसूचना जारी होने के साथ ही चुनाव चुनावी प्रक्रिया तो शुरू हो गयी है. लेकिन AAP ने अभी तक पत्ते नहीं खोले थे. यूपी के प्रभारी और पार्टी के वरिष्ठ नेता संजय सिंह का राज्यसभा जाना तय था और पार्टी में उनके नाम पर पहले ही सहमति बना चुकी थी.

There was speculation about candidates
With the announcement of the notification on December 29, election process has started. But the AAP did not open the cards yet. Sanjay Singh, the in-charge of the party and senior party leader Sanjay Singh, was scheduled to go to the Rajya Sabha and the party had already agreed on his name.

यह भी देखें:

https://youtu.be/aGHeWHD0uXg

https://youtu.be/xlRRjGN7n7U

चौकाने वाली खबर: ये होंगे AAP के नए नेता, तीसरे उम्मेदवार की खोज समाप्त !

नई दिल्ली : दिल्ली में राज्यसभा चुनावों के लिए काउंट डाउन शुरू हो गया है, लेकिन इस चुनाव में एकमात्र दावेदार आम आदमी पार्टी ने अभी तक अपने पत्ते नहीं खोले हैं. तीन सीटों पर होने जा रहे चुनावों के लिए 5 जनवरी तक नामांकन पर्च भरे जाएंगे. एक दावेदार के रूप में संजय सिंह का नाम आगे चल रहा था, लेकिन अब सुशील गुप्ता और एनडी गुप्ता भी इस दौड़ में शामिल हो गए हैं. गुप्ता ब्रदर्स का राज्य सभा की दौड़ में शामिल होने पर संजय सिंह हाशिए पर आ गए हैं|

New Delhi: Countdown has started for the Rajya Sabha elections in Delhi, but the only claimant in this election, the Aam Aadmi Party has not opened its cards yet. Nomination pills will be filled till January 5 for elections going to three seats. Sanjay Singh’s name was going on as a claimant, but now Sushil Gupta and ND Gupta have also joined the race. Sanjay Singh has been marginalized on the involvement of Gupta Brothers in the Rajya Sabha race.

अब जब संजय सिंह नहीं हैं तो ‘आप’ का तीसरा उम्मीदवार कौन होना, इस पर चर्चाओं का बाजार गर्म है. उधर, राजनीतिक गलियारे में तीसरे उम्मीदवार के रूप में खुद पार्टी संयोजक तथा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का नाम भी तेजी से चल पड़ा है. पार्टी सूत्र बताते हैं कि पार्टी में उम्मीदवारी को लेकर जिस तरह से गुटबाजी उभर कर सामने आई है, उसे खत्म करने के लिए किसी और को राज्यसभा नहीं भेजकर अरविंद खुद ही दिल्ली की गद्दी छोड़ सकते हैं|

Now when Sanjay Singh is not there, the market of discussions on this is a hot topic for who will be the third candidate of AAP. On the other hand, the name of party coordinator and Delhi Chief Minister Arvind Kejriwal as the third candidate in the political corridor has also been running fast. Party sources say that the manner in which the factionalism has emerged about the candidature in the party, Arvind himself can not leave the throne of Delhi by sending someone else to the Rajya Sabha.

हालांकि अरविंद केजरीवाल बस नाम के ही दिल्ली के मुख्यमंत्री हैं. उनके पास कोई भी विभाग नहीं है. सारा काम पार्टी में दूसरे नंबर की हैसियत रखने वाले उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ही देख रहे हैं. अरविंद पहले भी कई बार इच्छा जता चुके हैं कि वह पार्टी को राष्ट्रीय स्तर खड़ा करने के लिए राष्ट्रीय राजनीति में जाना चाहते हैं, इसीलिए उन्होंने दिल्ली में किसी भी जिम्मेदारी से खुद को मुक्त रखा है. ऐसा पहली बार है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री के पास कोई भी विभाग नहीं है, वे बस नाम के ही मुख्यमंत्री हैं|

Although Arvind Kejriwal is the Chief Minister of the name of Delhi. They do not have any department. Chief Minister Manish Sisodia, who is the second largest party in the entire work party, is watching. Arvind has expressed his desire several times before that he wants to go to national politics to make the party national level, that is why he has kept himself free from any responsibility in Delhi. This is the first time that the Chief Minister of Delhi has no department, he is the Chief Minister of the name.

इससे पूर्व भी वह विभिन्न चुनावों में दिल्ली छोड़ कभी बनारस, कभी गुजरात, कभी हिमाचल तो कभी उत्तराखंड में पार्टी का मोर्चा संभालते रहे हैं. अब जब 2019 के लोकसभा चुनावों के लिए सभी पार्टियों ने तैयारियां शुरू कर दी हैं, ऐसे में आम आदमी पार्टी भी इन चुनावों में ताल ठोकने की तैयारी कर रही है. 2014 के चुनावों में भी पार्टी ने बड़े पैमाने पर अपने उम्मीदवार खड़े किए थे, लेकिन पंजाब को छोड़कर कहीं सफलता हाथ नहीं लगी. दिल्ली में तो आम आदमी पार्टी दूसरे स्थान पर रही थी. उस समय अरविंद केजरीवाल पर आरोप लगे थे कि अरविंद दिल्ली की चिंता छोड़कर देश की राजनीति में कूद पड़े, इसलिए उन्हें इस बात का खामियाजा भुगतना पड़ा था. पार्टी सूत्र बताते हैं कि इस बार इस तरह की आलोचनाएं ना उठें, इसलिए अरविंद खुद राज्यसभा जाकर वहां से राष्ट्रीय राजनीति की कमान संभालेंगे और आने वाले लोकसभा चुनावों की तैयारियां करेंगे|

Even before that, he left Delhi in various elections, never went to Banaras, sometimes Gujarat, Himachal and then in Uttarakhand to take on the party’s front. Now that all the parties have started preparations for the 2019 Lok Sabha elections, in this case, the Aam Aadmi Party is also preparing to set the rhythm in these elections. In the 2014 elections, the party had raised its candidates on a large scale, but except for Punjab, it did not get much success. In Delhi, the Aam Aadmi Party was in second place. At that time, Arvind Kejriwal was accused of arguing that Arvind had left Delhi’s concerns and jumped into politics in the country, so he had to suffer the brunt of this. Party sources say that this time no such criticism should arise, so Arvind himself will go to the Rajya Sabha and take over the responsibility of national politics from there and prepare for the forthcoming Lok Sabha elections.

बता दें कि आम आदमी पार्टी से नेताओं में राज्यसभा जाने की होड़ सी मची हुई है. पार्टी के वरिष्ठ नेता तथा राजस्थान के प्रभारी कुमार विश्वास ने राज्यसभा को लेकर खुलकर बगावत कर दी है. दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल भी अरविंद के सामने खुद को राज्यसभा भेजने की मांग उठा चुकी हैं.

Let the leaders of the Aam Aadmi Party get a chance to go to Rajya Sabha. Senior party leader and in-charge of Rajasthan, Kumar Vishwas, has openly rebelled against the Rajya Sabha. Delhi Women’s Commission President Swathi Maliwal has also raised the demand of sending himself a Rajya Sabha to Arvind.

दिल्ली में 70 विधानसभा सीटों में 66 पर ‘आप’ का कब्जा है. इसलिए राज्यसभा की तीन सीटों पर आप के उम्मीदवार निर्विरोध चुने जाएंगे. लेकिन पार्टी के अंदर होने वाले विरोध के कारण पार्टी को महज तीन नाम चुनने में पार्टी को गहन मंथन करना पड़ रहा है. आप की पॉलीटिकल अफेयर्स कमेटी आज बुधवार को अपने उम्मीदवारों की घोषणा करेगी. राज्‍यसभा की तीन सीटों के लिए 16 जनवरी को चुनाव होंगे. वहीं इसके लिए नामांकन दाखिल करने की आखिरी तारीख पांच जनवरी है|

In Delhi, there are 66 seats in AAP in 66 assembly seats. Therefore, your candidates will be elected unopposed in three seats in the Rajya Sabha. But due to the opposition within the party, the party has to churn the party in just three names to choose from. Your Political Affairs Committee today will announce its candidates on Wednesday. For the three seats of Rajya Sabha, elections will be held on January 16. The last date for filing nominations is January 5.

हालांकि अभी भी संजय सिंह, सुशील गुप्ता और एनडी गुप्ता के नाम पर चर्चा चल रही है. सुशील गुप्ता पंजाबी बाग क्लब के 25 साल से चेयरमैन हैं. साल 2013 के विधानसभा चुनाव में वह मोती नगर से कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़े थे, लेकिन हार गए. उधर, एनडी गुप्ता चार्टेड अकाउंटेंट और दी इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया के उपाध्यक्ष हैं|

However, the names of Sanjay Singh, Sushil Gupta and ND Gupta are still under discussion. Sushil Gupta is the Chairman of the Punjab Bagh Club for 25 years. In the 2013 assembly elections, he contested on the Congress ticket from Moti Nagar, but lost. On the other hand, ND Gupta is the Chartered Accountant and Vice President of The Institute of Chartered Accountants of India.

पिछले कई दिनों से दिल्ली में राज्यसभा सीटों को लेकर चला आ रहा गतिरोध आज बुधवार को पार्टी की पॉलिटिकल अफेयर्स कमेटी की बैठक के बाद समाप्त हो गया. दोपहर को पार्टी ने राज्यसभा के लिए अपने तीन उम्मीदवार संजय सिंह, एनडी गुप्ता और संजीव गुप्ता के नामों का ऐलान कर दिया. पार्टी के इस ऐलान के साथ ही कुमार विश्वास को लेकर चल रही अटकलों पर विराम लग गया. कुमार विश्वास अब आम आदमी पार्टी की तरफ से राज्यसभा नहीं जा सकेंगे. बता दें कि दिल्ली से राज्यसभा की तीन सीटों के लिए 16 जनवरी को चुनाव होगा. 5 जनवरी तक नामांकन भरे जा सकेंगे.

The stalemate coming out of the Rajya Sabha seats in Delhi for the last several days has ended on Wednesday after the meeting of the party’s Political Affairs Committee. In the afternoon, the party announced the names of three candidates Sanjay Singh, ND Gupta and Sanjeev Gupta for the Rajya Sabha. With this announcement of the party, there was a break on speculation about Kumar Vishwas. Kumar Vishwas will not be able to attend the Rajya Sabha on behalf of Aam Aadmi Party. Let us say that for the three seats of Delhi from Delhi, the elections will be held on January 16. Nominations will be filled till 5th January

यह भी देखे:

https://www.youtube.com/watch?v=xlRRjGN7n7U

https://www.youtube.com/watch?v=aGHeWHD0uXg

“AAP” की गद्दारी का सच आया सामने, डील के लिए इस नेता को भेजा मैक्स हॉस्पिटल !

दिल्ली एनसीआर में प्राइवेट अस्पताल वालों ने मौत का धंधा चला रखा है, लोग तो डरने लगे है इन अस्पतालों में जाने से, चूँकि जागरूकता की कमी इस देश में हमेशा से रही है, और बड़ी बिल्डिंग देखकर लोग उसमे चले जाते है, पर असल में ये तमाम अस्पताल अब स्वास्थ्य सेवा में नहीं बल्कि कमाई के धंधे में लगे हुए है, ये अच्छे भले इंसानो को बिल बनाने के लिए मार डालते है

In Delhi NCR, people of private hospitals have been killed, people are scared to go to these hospitals, because the lack of awareness has always been in this country, and people go to see the big building, but in fact All these hospitals are now engaged in the business of earning, not in healthcare, they kill good people to make bills

इसी तरह का एक कुख्यात अस्पताल है दिल्ली में जिसे मैक्स हॉस्पिटल ने नाम से जाना जाता है, पिछले दिनों इस अस्पताल ने एक बच्चे को मार डाला, क़त्ल कर दिया, देश में आक्रोश फैला, केजरीवाल की गैंग एक्टिव हुई और केजरी सरकार ने देखते ही देखते मैक्स अस्पताल का लाइसेंस कैंसिल कर दिया

This is the kind of a notorious hospital in Delhi which is known as Max Hospital, in the past, this hospital killed one child, murdered, aroused resentment in the country, Kejriwal’s gang became active and the Kejriwal government Seeing Max Hospital’s license canceled

जनता ने केजरीवाल के फैसले का स्वागत किया, अच्छा फैसला था, इन दरिंदो के खिलाफ कार्यवाही होनी ही चाहिए, पर केजरीवाल ने ये फैसला क्यों किया, अब ये चीज आज साफ़ हो गयी, जब ये बड़ी जानकारियां सामने आयी

The public welcomed Kejriwal’s decision, it was a good decision, action should be taken against these darits, but why did Kejriwal decide that, now this thing has cleared today, when these big reports came out

https://twitter.com/DrGPradhan/status/939726524302757888

केजरीवाल पहले एक IRS अफसर था, कमाई कैसे की जाती है इस शख्स को अच्छे से पता है, मैक्स अस्पताल ने बच्चा मार दिया, जनता में आक्रोश फैला केजरीवाल ने अपनी छवि अच्छी करने के मकसद से लाइसेंस कैंसिल कर दिया, और अब उसका स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन चोरी छुपे मैक्स अस्पताल के डिरेक्टरों से 5 सितारा अस्पताल में मिल रहा है, और जानकारी है की जल्द ही मैक्स का लाइसेंस जो कैंसिल हुआ था उसे बहाल कर दिया जायेगा

Kejriwal was earlier an IRS officer, how he is earning, this person is well aware, Max Hospital kills the child, spreading resentment in the public, Kejriwal has canceled the license for his image, and now his health minister Satyendra Jain is found in the 5-star hospital from the investigators of the stolen Max Hospital, and has informed that soon the license of Max, which was canceled, restored it. will go

सत्येन्द्र जैन को मीटिंग करनी है, मंत्री है अपने दफ्तर में करे, 5 सितारा में कबाब और शराब के साथ मीटिंग डील के लिए की जाती है, अपने दफ्तर में मिलेगा तो सबको पता चल जायेगा, 5 सितारा में कबाब शराब और डील करो, चोरी छुपे किसे पता चल रहा है, पर इन लोगों को शायद नहीं पता है की लोगों की नजरे इनपर है, और ऐसी जानकारियां छिपती नहीं है, अब जांच तो इस चीज की होनी चाहिए, की ये मैक्स अस्पताल वालों से क्या डील की केजरीवाल ने, और कितने की डील की

Satyendra Jain has to meet, the minister is in his office, in a 5 star, for a meeting deal with kebab and liquor, if he gets it in his office, then everyone will know, drink curb alcohol and deal in 5 stars, steal Who is finding the hidden, but these people probably do not know that the eyes of the people are in them, and such information does not hide, now the investigation should be of this thing, what is the deal with those of Max Hospital Kejriwal, and how many deals

यह भी देखें :

https://youtu.be/6KzO3XxanXM

ईमानदारी का दावा ठोकने वाली “AAP”का हुआ पर्दाफाश, “इनकम टैक्स” ने किया बड़ा खुलासा !

आज अरविन्द केजरीवाल आम आदमी पार्टी के 5 साल मना रहे है, 5 साल पहले 2012 में केजरीवाल ने अपनी राजनितिक पार्टी बनाई थी, वो भी एक आंदोलन के कंधे पर चढ़कर

दिल्ली में देश के बहुत से लोग इखट्टा हुए थे, वो सब भ्रष्टाचार के खिलाफ जमा हुए थे, देश में परिवर्तन लाना चाहते थे, केजरीवाल ने मौके का फायदा उठाया, आंदोलन को राजनितिक पार्टी के रूप में बदल दिया और दिल्ली की सत्ता पर काबिज हो गया

मुफ्त की चीजों के वादे किये जिसमे 15 लाख CCTV, दिल्ली में हज़ारों नए स्कुल और 300 कॉलेज, इसके अलावा फ्री WIFI, महिला सुरक्षा के लिए बसों में कमांडो इत्यादि ऐसे खूब वादे केजरीवाल ने किये, लोगों ने केजरीवाल को वोट दिया और दिल्ली का मुख्यमंत्री बना दिया, 2013 में केजरीवाल पहली बार मुख्यमंत्री बने, दिल्ली की स्तिथि आज भी 2013 के जैसी ही है

दिल्ली में न CCTV कैमरे लगे और न ही फ्री WIFI मिला, न ही महिला सुरक्षा दिल्ली की स्तिथि 2013 के जैसी ही है, और दिल्ली के लोग इसे बेहतर तरीके से जानते है, पर केजरीवाल की स्तिथि वैसी नहीं है जैसी 2012 में थी जब केजरीवाल ने राजनितिक पार्टी बनाई थी

तब केजरीवाल का वजन 48 किलो हुआ करता था, केजरीवाल ने जब अनशन शुरू किया था, तब 48 किलो ही वजन डाक्टरी रिपोर्ट में लिखी गयी थी, केजरीवाल गाज़ियाबाद के कौशामि में रहते थे, केजरीवाल 2012 में कुछ ऐसे दिखाई देते थे, ध्यान से देखिये

और आप खुद देख सकते है ये खबर कि जो अपने आपको देश के लिए अच्छा साबित करने की कौशिश कर रहे है उनके यहाँ पर इनकम टक्स की रेड पड़ने का नोटिश जारी किया गया है :

पर अब बड़ी खबर यह आ रही कि अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी को इनकम टैक्स विभाग ने 30,6700000 रुपये का नोटिस भेजा है. आईटी विभाग के मुताबिक आम आदमी पार्टी ने 13 करोड़ रुपये के आय का खुलासा नहीं किया है. इसके साथ ही पार्टी ने 462 ऐसे दान दाताओं की पूरी जानकारी दर्ज नहीं की है, जिन्होंने पार्टी फंड में 6 करोड़ 26 लाख रुपये का दान दिया है. नोटिस के मुताबिक वित्तीय वर्ष 2014-15 और 2015-16 के दौरान आम आदमी पार्टी की कर योग्य आय 68.44 करोड़ आंकी गई है. लेकिन पार्टी ने 13 करोड़ रुपये के दान का कोई खुलासा नहीं किया है. इनकम टैक्स विभाग का दावा है कि आम आदमी पार्टी इस मामले में सही जवाब नहीं दे रही है.

नोटिस ने मुताबिक आप ने चदे की राशि देने वाले लोगों के नाम पते भी नहीं बताए है. आप पर आरोप है कि आम आदमी पार्टी ने हवाला के जरिए 2 करोड़ रुपये लिए है.

राजनीति में स्वच्छता और पारदर्शिता के एजेंडे के साथ सत्ता में आई पार्टी के लिए आईटी विभाग के नोटिस परेशान हो सकती है. आपको बता दें कि रविवार (26 नवंबर) को ही आम आदमी पार्टी ने अपनी स्थापना के पांच साल पूरे किए थे. इस मौके पर दिल्ली के रामलीला मैदान AAP के कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करते हुए पार्टी प्रमुख और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने केंद्र सरकार पर जमकर हमला किया था. केजरीवाल ने गुजरात चुनाव के संदर्भ में कहा था कि वहां पर लोग बीजेपी को हराने के लिए वोट करें. केजरीवाल ने कहा था कि जहां कही भी आम आदमी पार्टी का उम्मीदवार हो लोग उसे वोट करें. जहां आप का उम्मीदवार नहीं हो तो वहां बीजेपी के खिलाफ किसी जीतने वाले प्रत्याशी को वोट करें.

अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी को इनकम टैक्स विभाग ने 30,6700000 रुपये का नोटिस भेजा है. आईटी विभाग के मुताबिक आम आदमी पार्टी ने 13 करोड़ रुपये के आय का खुलासा नहीं किया है. इसके साथ ही पार्टी ने 462 ऐसे दान दाताओं की पूरी जानकारी दर्ज नहीं की है, जिन्होंने पार्टी फंड में 6 करोड़ 26 लाख रुपये का दान दिया है.

और कुछ समय पहले भी कपिल मिश्रा ने इस कड़ी को आगे बढ़ाते हुवे आप विधायक अमानतुल्ला खान और अपना व्हाट्सप्प चैट को लीक कर दिया। जिसमें अमानतुल्ला कपिल मिश्रा से बहस कर रहे हैं लेकिन कपिल मिश्रा ने जब पोल खोलनि शुरू करी तो अमीतुल्ला ने जवाब देना ही बन्द कर दिया। कपिल मिश्रा ने तो जैसे ठान ही लिया है कि वो आम आदमी पार्टी को जड़ से उखाड़ फेंका है। अमानतुल्ला खान चाट में केजरीवाल का पक्ष ले रहे है और केजरीवाल का पक्ष लेते हुवे कपिल मिश्रा को अपशब्द भी कह रहे हैं।

ट्वीएट डिलीट करने से पहले कपिल मिश्रा द्वारा किया हुआ ट्वीट।

खास बातें
आम आदमी पार्टी ने दानदाताओं की पूरी जानकारी नहीं दी
AAP ने 13 करोड़ रुपये के चंदे का खुलासा नहीं किया
2 करोड़ रुपये हवाला के जरिए लिए, नाम-पते भी सही नहीं

देखिये ये विडियो :

https://youtu.be/6KzO3XxanXM

https://youtu.be/KZmJrB0_U64

source zee news