बेहद शर्मनाक:लालू ने केवल जानवरों का चारा खाया था व केजरीवाल ने छीन लिया इनका निवाला

केजरीवाल एक पूर्व इनकम टैक्स अफसर रहा है, और केजरीवाल ने खुद कहा था की उसे पैसे बनाने के सारे तरीके पता है, और अब केजरीवाल ने इसे साबित भी कर दिया है की वो कितना बड़ा मास्टर माइंड है, पर चोर कितना भी शातिर हो, सबूत छोड़ता ही है और कभी न कभी उसका चिटठा खुलता ही है, और 3 साल दिल्ली पर राज करने वाले केजरीवाल का चिट्ठा अब खुलना शुरू हो गया है, केजरीवाल ने लालू यादव को भी पीछे छोड़ दिया है

Kejriwal has been a former income tax officer, and Kejriwal has himself said that he knows all the ways to make money, and now Kejriwal has even proved that he is a big master mind, but how vicious a thief is, Kejriwal has left behind the evidence and sometimes his book opens, and Kejriwal’s rule has begun to open 3 years in Delhi, but Kejriwal has left Lalu Yadav behind.

लालू यादव ने बिहार में 900 का चारा घोटाला किया था, लालू ने जानवरों का राशन खाया था, पर केजरीवाल ने तो इंसानों का राशन साफ़ कर दिया, दिल्ली में केजरीवाल का राशन घोटाला सामने आया है, ये घोटाला 5400 करोड़ का है यानि लालू यादव के घोटाले से भी कई गुना ज्यादा बड़ा, केजरीवाल की सरकार ने पुरे कैलकुलेशन के साथ 3 साल के राज में 5400 करोड़ का राशन घोटाला कर दिया है, पूरी जानकारी देखिये

Lalu Yadav had made 900 fodder scam in Bihar, Lalu had eaten ration of animals, but Kejriwal cleared the ration of human beings, Kejriwal’s ration scandal has emerged in Delhi, this scam is 5400 crores i.e. Lalu Yadav Manually multiplied by the scam, Kejriwal’s government has made a ration of Rs 5400 crore ration scam in 3-year rule with full calculation, see full information.

ये घोटाला अब भी जारी है, इसका खुलासा आज ही हुआ है, केजरीवाल ने 3 साल में 5400 करोड़ का राशन घोटाला कर दिया है, आपको याद है जब मोदी ने नोट बंदी करी थी तो सबसे ज्यादा केजरीवाल और ममाता बनर्जी ही चिल्ला रहे थे, ममाता ने तो चिट फण्ड का खेल खेला हुआ था, पर केजरीवाल जो राशन घोटाला कर पैसे बना रहा था वो पैसे मोदी के नोट बंदी से डूबे थे, इसी कारण केजरीवाल नोट बंदी के फैसले को वापस लेने की भी मांग कर रहा था,

This scam is still going on, it has only been revealed today, Kejriwal has made a Rs 5400 crore Ration Scam in 3 years, remember that when Modi had captured the note, Kejriwal and Mamta Banerjee were the only ones who were shouting, Mamata had played a chit fund game, but Kejriwal, who was making money by making ration scam, money was immersed in Modi’s note, due to this, Kejriwal was also demanding withdrawal of the ban on the ban,

केजरीवाल की सरकार राशन घोटाला 2015 से ही कर रही है और आज 2018 का साल आ गया, केजरीवाल की सरकार ने इन 3 सालों में 5400 करोड़ रुपए का राशन घोटाला कर दिया है

Kejriwal’s government is doing ration scam since 2015 and today the year 2018 has come, Kejriwal’s government has made a Rs 5400 crore Ration Scam in these 3 years.

यह भी देखे
https://youtu.be/Uzs16fYnw1k

https://youtu.be/VxtYK7YXsQ8

बड़ी खबर :माफ़ी पे माफ़ी माफ़ी मांग रहे केजरीवाल पर भडके जेटली ने लय हाहाकारी फैसला,जिसे देख देशभर में हडकंप…..

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल का माफ़ी मांगने का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है. अपनी माफ़ी के चलते केजरीवाल अपनी पार्टी के ही निशाने पर आ गए हैं. कुछ दिन पहले का केजरीवाल सर जी का नितिन गडकरी को लेकर दिया माफीनामा सोशल मीडिया पर काफी सुर्खियाँ बटोर चूका है. केजरीवाल जी के इस माफीनामे के बाद उनकी पार्टी के नेताओं ने बगावत शुरू कर दी. इतना ही नहीं पंजाब की ‘आप’ की इकाई के अध्यक्ष भगवंत मान ने तो अपने पद से इस्तीफ़ा भी दे दिया. अब ख़बरें मिल रही हैं कि केजरीवाल ने बीजेपी के इस नेता से भी माफी की पेशकश कर दी है जिसकी शायद ही किसी ने उम्मीद की थी.

Delhi’s Chief Minister Arvind Kejriwal’s call for apology is not about to stop. Because of his apology, Kejriwal has come to the target of his party. A few days ago, Kejriwal’s grief over Mr Gadkari’s nephew made a lot of headlines on social media. After this apology from Kejriwal, his party leaders started revolting. Not only this, the unit of Punjab’s AAP unit president Bhagwant Mann also resigned from his post. Now news is being received that Kejriwal has offered an apology to the BJP leader who hardly had any hope.

मीडिया द्वारा मिली जानकारी के मुताबिक अरविन्द केजरीवाल केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली को भी माफीनामा भेजेंगे. आपको बता दें कि अभी तक ऐसी कोई जानकारी नहीं है कि क्या केजरीवाल ने वित्तमंत्री अरुण जेटली को कोई पत्र भेजा या नहीं, लेकिन सूत्रों के अनुसार आम आदमी पार्टी और अरविंद केजरीवाल के वकील इस केस से जुड़े वित्तमंत्री के वकीलों से संपर्क कर रहे हैं.

According to information received by the media, Arvind Kejriwal will also send an apology to Union Finance Minister Arun Jaitley. Do you know that there is no such information till now whether Kejriwal sent a letter to Finance Minister Arun Jaitley or not, according to sources, lawyers of Aam Aadmi Party and Arvind Kejriwal are approaching the lawyers of the Finance Minister associated with this case.

आपको बता दें कि इस खबर को लेकर सोशल मीडिया पर काफी चर्चाएँ हो रहीं हैं. वहीँ आम आदमी पार्टी के विधायकों के अयोग्य ठहराए जाने के मामले में आवाज उठाने वाले वकील प्रशांत पी. उमराव ने अपने ट्विटर अकाउंट से ट्वीट कर इसकी जानकरी दी हैं . उन्होंने लिखा है कि “केजरीवाल अपने राज्यसभा सांसद एन.डी. गुप्ता के माध्यम से अरुण जेटली को माफीनामा भेजा है. अब देखना यह है कि वह इसे स्वीकार करते हैं या नहीं.”

Let me tell you that there is a lot of discussion on this news about social media. Advani Prashant P. Umrao, who raised voice in the disqualification of the Aam Aadmi Party MLAs, has tweeted his Twitter account and tweeted it. He wrote that “Kejriwal has his Rajya Sabha MP N.D. Gupta has sent an apology to Arun Jaitley. Now it is to see if he accepts it or not. ”

इसी के साथ आजतक के माध्यम से जानकारी मिल रही है कि अरुण जेटली केजरीवाल के माफीनामे को कबूल नहीं करेंगे. आपको बता दें कि केजरीवाल और आम आदमी पार्टी के अन्य नेताओं ने वित्तमंत्री अरुण जेटली पर डीडीसीए के अध्यक्ष पद पर रहते हुए भ्रष्टाचार करने के आरोप लगाए थे. इसके बाद वित्तमंत्री जी ने ‘आप’ नेताओं के खिलाफ 10 करोड़ रुपए की मानहानि का केस दर्ज कराया. जेटली ने केजरीवाल के अलावा आशुतोष, संजय सिंह, कुमार विश्वास, दीपक और राघव चड्ढा बाजपेयी के खिलाफ मानहानि का मुकदमा किया था.

Along with this, information is being received through Aaj Tak that Arun Jaitley will not accept Kejriwal’s apology. Let me tell you that Kejriwal and other leaders of Aam Aadmi Party had accused Finance Minister Arun Jaitley of corruption while holding the post of DDCA. After this, the Finance Minister filed a defamation case against 10 crore rupees against ‘AAP’ leaders. Apart from Kejriwal, Jaitley had filed a defamation suit against Ashutosh, Sanjay Singh, Kumar Biswas, Deepak and Raghav Chadha Bajpai.

यह भी देखे

https://youtu.be/k87GwTUEGuQ

https://youtu.be/k87GwTUEGuQ

source political report

खास खबर :कुमार विश्वास का केजरीवाल पर अब तक का सबसे बड़ा खुलासा ? सरेआम कही ऐसी बात कि आप के होश उड़ जायेंगे…

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल अपनी पार्टी के चर्चे और हरकतों को लेकर हमेशा ही मीडिया में बने रहते हैं. फिर चाहे वह दिल्ली के उपराज्यपाल की बात हो, मुख्य सचिव की पिटाई या अभी का सीलिंग मुद्दा. केजरीवाल जी के इससे पहले के भी कई ऐसे किस्से हैं जो सामने आते रहते हैं.

Delhi Chief Minister Arvind Kejriwal always remains in the media with his party’s objections and objections. Whether it is a matter of Delhi’s Lt Governor, beating the Chief Secretary or the sealing issue right now. There are several such cases before Kejriwal that have come forward.

अभी वर्तमान में केजरीवाल सर जी का माफीनामा सोशल मीडिया पर काफी सुर्खियाँ बटोर रहा है. इसी को लेकर उनके पूर्व सहयोगी आप नेता कुमार विश्वास ने भी केजरीवाल पर निशाना साधते हुए मजेदार ट्वीट किया है.

At present, Kejriwal’s apology is gathering a lot of headlines on social media. On this, his former colleague, leader Kumar Vishwas, has also tweeted a funny tweet targeting Kejriwal.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल अपनी पार्टी के चर्चे और हरकतों को लेकर हमेशा ही मीडिया में बने रहते हैं. फिर चाहे वह दिल्ली के उपराज्यपाल की बात हो, मुख्य सचिव की पिटाई या अभी का सीलिंग मुद्दा. केजरीवाल जी के इससे पहले के भी कई ऐसे किस्से हैं जो सामने आते रहते हैं.

Delhi Chief Minister Arvind Kejriwal always remains in the media with his party’s objections and objections. Whether it is a matter of Delhi’s Lt Governor, beating the Chief Secretary or the sealing issue right now. There are several such cases before Kejriwal that have come forward.

अभी वर्तमान में केजरीवाल सर जी का माफीनामा सोशल मीडिया पर काफी सुर्खियाँ बटोर रहा है. इसी को लेकर उनके पूर्व सहयोगी आप नेता कुमार विश्वास ने भी केजरीवाल पर निशाना साधते हुए मजेदार ट्वीट किया है.

At present, Kejriwal’s apology is gathering a lot of headlines on social media. On this, his former colleague, leader Kumar Vishwas, has also tweeted a funny tweet targeting Kejriwal.

केजरीवाल को लेकर जिस तरह से कुमार विश्वास ने ट्वीट किया है उससे तो यही लग रहा है कि अब इन दोनों नेताओं के बीच दूरियां काफी बढ़ गईं हैं. गुरुवार, 15 मार्च को मजीठिया को लिखा गया माफीनामा कोर्ट में भी दाखिल किया गया.

 

The way Kumar Vishwas tweeted about Kejriwal, it seems to him that now the distances between these two leaders have increased a lot. An apology was written to Majithia on Thursday, March 15 also.

सीएम केजरीवाल ने अपने माफीनामे में कहा है कि पिछले दिनों में मैंने आपके (पंजाब शिरोमणि अकाली दल नेता बिक्रम सिंह मजीठिया) के खिलाफ कुछ बयान दिए और आरोप लगाए कि आप ड्रग्स के व्यापर में लिप्त हैं. वे बयान राजनैतिक मुद्दा बन गए. लेकिन अब मुझे पता चला है कि आरोप निराधार हैं.

CM Kejriwal has said in his apology that in the past I gave some statements against your (Punjab Shiromani Akali Dal leader Bikram Singh Majithia) and allegations that you are involved in the trade of drugs. Those statements became a political issue. But now I have come to know that the allegations are baseless

सीएम अरविन्द केजरीवाल जी ने अपने माफीनामे में बिक्रम सिंह मजीठिया को लेकर आगे लिखा कि विभिन्न राजनैतिक रैलियों, टीवी कार्यक्रमों, प्रिंट, जनसभाओं, इलेक्ट्रोनिक और सोशल मीडिया पर मेरे द्वारा दिए गए बयान, लगाए गए आरोपों के चलते, आपने माननीय अमृतसर की अदालत में मानहानि का केस कि

CM Arvind Kejariwal ji wrote in his apology in favor of Bikram Singh Majithia that due to the allegations leveled by me on different political rallies, TV programs, prints, public meetings, electronic and social media, in the court of honorable Amritsar Case of defamation

मैं यहां आपके खिलाफ लगाए गए सभी आरोपों और बयानों को वापस लेता हूं. इसके लिए माफ़ी मांगता हूं. आपके सम्मान को जो चोट पहुंची, शुभचिंतकों, प्रशंसकों, आपके परिवार, दोस्तों और आपको हुई तकलीफ के लिए खेद व्यक्त करता हूँ. वहीँ अब ये भी ख़बरें आ रही हैं कि केजरीवाल जल्द ही वित्त मंत्री अरुण जेटली जी से भी माफ़ी मांग सकते हैं क्योंकि उन्होंने वित्त मंत्री जी पर भी डीसीए में घोटाला करने का आरोप लगाया है.

I withdraw all the allegations and statements against you here. I apologize for that. Sorry for the hurt you received, the well wishers, the fans, your family, the friends and the trouble you suffered. They are now reporting that Kejriwal may soon apologize to Finance Minister Arun Jaitley as he has accused the Finance Minister of scams in the DCA.

यह भी देखे

https://youtu.be/k87GwTUEGuQ

https://youtu.be/hsfxfSRtdUs

source name:mailonnews

 

अभी अभी: सिद्धू का अरविन्द केजरीवाल पर गंभीर आरोप कहा अरविन्द केजरीवाल कातिल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा अकाली दल के नेता बिक्रम सिंह मजीठिया से लिखित माफी मांगी जाने के बाद पंजाब के साथ साथ दिल्ली आम आदमी पार्टी में भी बगावत की आवाज बुलंद हो रही है। गौरतलब हो पंजाब में चुनाव प्रचार के दौरान केजरीवाल ने मजीठिया को ड्रग माफिया करार दिया था और ताबतोड़ हमले बोले थे जिसके बाद मजीठिया ने केजरीवाल पर मानहानि का मामला दर्ज कराया था। अब केजरीवाल के माफी मांगने पर पार्टी में बगावत के सुर सुनाई दे रहे हैं। दिल्ली से कुमार विश्वास समेत पंजाब के एक विधायक ने सवाल उठाया है, तो वही पंजाब आम आदमी पार्टी के अध्यक्ष भगवंत मान ने अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया है।

After the apology written by Delhi Chief Minister Arvind Kejariwal, Akram Dal leader Bikram Singh Majithia, the voice of rebellion is also rising in the Delhi Aam Aadmi Party along with Punjab. Significantly, during the campaigning in Punjab, Kejriwal had termed Majithia as a drug mafia and had called offensive attacks after which Majithia filed a defamation case against Kejriwal. Now, Kejriwal’s apology is being heard by the rebel in the party. A MLA from Punjab, including Kumar Vishwas from Delhi, has raised the question, then the same person of Punjab Aam Aadmi Party, Bhagwant Mann has resigned from the post.

Chandigarh: Navjot Singh Sidhu addresses media after taking charge as the Punjab’s Local Bodies Minister in Chandigarh on Friday. PTI Photo (PTI3_17_2017_000247A)

आम आदमी पार्टी के अलावे केजरीवाल को बिपक्ष के भी तीखे प्रहार झलने पद रहे है! सोशल मीडिया पर केजरीवाल के माफीनामे के लेकर लोग जमकर ट्रोल कर रहे है! केजरीवाल पर ये आरोप लग रहे है की वो चुनाव में फायदा उठाने के लिए किसी पर भी पहले बेबुनियाद आरोप लगा देते है और जब उनपर मानहानि का केस होता है तो मामला सलटाने के लिए वो माफीनामे का सहारा लेते है! जैसा की मजीठिया के केस में देखने को मिला!

In addition to the Aam Aadmi Party, Kejriwal has been posting a bitter blow to Bipasha. People are being trolled by Kejriwal’s apology on social media! These allegations are being made on Kejriwal that they accuse anyone of first baseless allegations to take advantage of the elections and when they have a case of defamation, they resort to an apology for the case. As the case of Majithia got to see!

पंजाब सरकार में मंत्री और कांग्रेस के नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने भी केजरीवाल को आड़े हाथो लिया, सिद्धू ने कहा की उन्होंने आम आदमी पार्टी का कत्ल कर दिया! नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि केजरीवाल की घुटने टेक माफी है! अब आप दो फाड़ हो गयी है! उन्होंने कहा कि अब आप के नेता किस मुंह से ड्रग्स के खिलाफ बोलेंगे जब उनका लीडर ही पीछे हट गया है!

In the Punjab government, the minister and Congress leader Navjot Singh Sidhu also took Kejriwal back, Sidhu said that he killed Aam Aadmi Party! Navjot Singh Sidhu said that Kejriwal’s knee-taker apology is! Now you’re torn apart! He said that now the leader of your mouth will speak against drugs when their leader has withdrawn!

सिद्धू ने कहा कि केजरीवाल ने पंजाब के लोगों को धोखा दिया है! केजरीवाल ने माफी मांग कर बुजदिली दिखाई है! इसी कड़ी में आम आदमी पार्टी के पंजाब प्रदेश अध्‍यक्ष भगवंत मान ने भी इस्‍तीफा दे दिया है! इसी के साथ उन्‍होंने कहा है कि पंजाब में ड्रग्‍स और भ्रष्‍टाचार को लेकर उनकी लड़ाई जारी रहेगी!

Sidhu said that Kejriwal has betrayed the people of Punjab! Kejriwal has shown a buoyant apology! In this episode, the PCC President of the Aam Aadmi Party, Bhagwant Mann has also resigned! With this, he has said that his fight against drugs and corruption in Punjab will continue!

यह भी देखे

https://youtu.be/k87GwTUEGuQ

https://youtu.be/hsfxfSRtdUs

दिल्ली सचिव को थप्पड़ मामले आया नया मोड़ जिसे देख केजरीवाल समेत कई वामपंथी पत्रकारों का उड़े होश

नई दिल्ली :अरविन्द केजरीवाल और उनकी आप पार्टी का मुख्य सचिव को थप्पड़ मरने के कांड में अदालत की तरह फंसती ही रही है खुद अपनी कब्र पार्टी प्रवक्ता और कार्यकत्र्ता खुद रहे है तू वाही आज दिल्ली पुलिस ने कड़ा एक्शन लिया और cm अरविन्द केजरीवाल के घर में घुस के छापेमारी करी जिसके बाद पुलिस ने अब बड़ी सनसनीखेज खुलासे किये जिसे देख आप दंग रहा जाएगे|

New Delhi: Arvind Kejriwal and you have been trapped as a court in slaying the Chief Secretary of the party, himself has himself been the spokesperson and activist of his grave party. You are today, Delhi Police took a strong action and CM Arvind Kejriwal’s house After raiding the camp, the police has done a lot of sensational disclosures after which you will be stunned

अभी मिल रही बड़ी खबर के मुताबिक दिल्ली के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश से कथित मारपीट के बाद आज दिल्ली पुलिस छानबीन के लिए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के घर पहुंची. कुछ वामपंथी पत्रकारों को जवाब देते हुए छानबीन की वजह बताते हुए दिल्ली पुलिस ने कहा कि वे क्राइम सीन देखना चाहते थे.

According to the big news, according to the news of Delhi Chief Secretary Anshu Prakash, after the alleged assault, Delhi Police arrived at Chief Minister Arvind Kejriwal’s house today for investigation. Replying to some leftist journalists, the Delhi Police said they wanted to see the crime scene, explaining the reasons for the investigation.

केजरीवाल के घर में घुसी दिल्ली पुलिस किये वाले चौंकाने खुलासा

नार्थ दिल्ली के अडिशनल डायरेक्टर जनरल ऑफ पुलिस (ADGP) के मुताबिक उन्होने CM हाउस से 20 तारीख को सीसीटीवी फुटेज देने को खा था लेकिन उनकी तरफ से कोई जबाव नहीं आया जिसके बाद आज कारवाही की गयी इस छापेमारी में पुलिस ने बड़ा वाला चौंकाने खुलासा किया.

Kejriwal’s house in Delhi, reveals surprises
According to the Additional Director General of Police (ADGP) of North Delhi, he had to eat CCTV footage from CM House on 20th day but there was no response from him, after which the police raided the big surprise in this raid. .

सीसीटीवी के छेड़छाड़,7 CCTV कैमरे नहीं चल रहे थे
पुलिस के मुताबिक CM हाउस में मोजूद कैमरे की टाइमिंग 40 मिनट 42 सेकंड पीछे चल रही थी जाँच के लिए पुलिस के साथ फरेंसिक टीम भी गई थी अधिकारी ने बताया कि केजरीवाल के घर पर कुल 21 CCTV कैमरे मोजूद थे और उन सब की फुटेज जब्त कर गई है हालाँकि हाल में 21 में से 14 कैमरे चल रहे थे बाकि कैमरे क्यों और कब नहीं चल रहे थे इसकी भी जाँच की जाएगी

CCTV tampering, 7 CCTV cameras were not running
According to the police, the timing of the camera recorded in CM House was going on 40 minutes 42 seconds.The officer was also with the police for the investigation, the official said that there were 21 CCTV cameras recorded at Kejriwal’s house and the footage of all those has been seized, although recently 14 of the 21 cameras were running, Were not running, it will also be checked

यही नहीं अधिकारी ने बताया कि जिस जगह पर कथित मारपीट हुई वहां कोई सीसीटीवी मौजूद नहीं था. हालांकि, ड्राइंग रूम के बाहर और कॉरिडोर में कैमरे लगे थे, जिनकी फुटेज की जांच की जाएगी. अधिकारी ने कहा कि यह देखा जाएगा कि वहां जाने से पहले और बाद में लोगों के क्या मूवमेंट रहे थे.

Not only this, the official said that there was no CCTV where the alleged assault took place. However, the cameras were located outside the drawing room and in the corridor, whose footage would be examined. The official said that it will be seen that what were the movements of people before and after going there.

कई संदिग्ध जगह एक दिन में सफेदी कर दी गयी

इससे भी ज्यादा बेहद हैरान करने वाली बात देखने की मिली पत्रकारों ने अधकारी से पूछा कि उन्होने छानबीन केदौरान घर की सफेदी आदि से जुड़े सवाल क्यों पूछे थे पुलिस को शक है कि एक दिन के अन्दर सफेदी कराने की ऐसी भी क्या जरूरत पड़ गयी कहीं CCTV कैमरे उखाड़कर उन जगह [पर सफेदी तो बही की गयी

Many suspicious places were whitewashed in one day

Even more surprised, the journalists who had seen the surprising thing asked the officer why they asked questions related to the whitewash of the house during the investigation. The police suspect that there was also a need to do such a thing to whitewash within one day. The cameras were uprooted and whitened on those places

केजरीवाल ने टीट कर खा दो थप्पड़ मरे
दरअसल इससे पहले खुद अरविन्द केजरीवाल ने टूईट करते हुए कहा था कि दो थप्पड़ के आरोप में पूरी दिल्ली पुलिस मेरे घर पर छापेमारी करने उत्तर आई ऐसी तेजी पूरी दिल्ली में दिखाई जाय तो पूरी दिल्ली अपराध मुक्त हो जाए|

Kejriwal kills two drops
In fact, earlier Arvind Kejriwal had said while tweeting that the whole Delhi Police used to raid my house on the charge of slapping two such rumors, that such a fast can be seen in whole Delhi, then the entire Delhi should be free from crime.

यहाँ पर केजरीवाल ने खुद साबित कर दिया कि वरिष्ठ IAS अफसर के साथ आधी रात मीटिंग में बुलाकर, अपने विज्ञापन फंड को बढ़ने के लिए प्रस्ताव दिया, जब अफसर ने मना कर दिया तो विधायकों ने मिलकर मार कुटाई करी.|

Here Kejriwal himself has proved that by calling the midnight meeting with the senior IAS officer, he offered to increase his advertising fund, when the officer refused, the MLAs got beaten up together.

वो कहावत हैं न जैसा राजा वैसी प्रजा, यहाँ कहावत सही बैठती है जैसा सीएम वैसे ही प्रवक्ता और कार्यकर्ता. दिल्ली पुलिस शुक्रवार को मामले में सबूत जुटाने के लिए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के आवास पर पहुंची. इसी बीच आप नेता नरेश अलियान का एक विवादित बयान सामने आया है.

That is the saying, not like King Vaishya Praja, here the saying goes exactly like the same spokesman and worker. On Friday, Delhi Police reached the residence of Chief Minister Arvind Kejriwal to collect evidence in the case. Meanwhile, a controversial statement of leader Naresh Eliayan has been revealed.

जो अफसर काम न करें उसे पीटना ही चाहिए
अलियान ने कहा कि जो अफसर काम न करें उसे पीटना ही चाहिए. उन्होंने चेतावनी भरे लहजे में कहा कि ऐसे लोगों को अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहना चाहिए. आप नेता ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की मौजूदगी में यह बयान दे दिया.

The officer who does not work should beat him
Aliyan said that the officers who do not work should beat them. He said in a warning tone that such people should be ready to face the consequences. The leader gave this statement in the presence of Chief Minister Arvind Kejriwal.

इससे अच्छा तो उस काम ना करने वाले को ठोक ही देते थे
यही नहीं दिल्ली के एक और आप के नेता ने मुख्य सचिव के साथ कथित तौर पर मारपीट के मामले में कहा है कि “इससे अच्छा तो उस काम ना करने वाले को ठोक ही देते”. पवन शर्मा नाम के इस नेता ट्वीट किया, “इससे अच्छा तो उस काम ना करने वाले निकम्मे को ठोक ही देते, इल्जाम तो लगना ही था करो या नहीं.”

Better than it used to knock down those who did not work.
Not only this, another leader of Delhi has said in the case of alleged assault with the Chief Secretary that “better than this, he will not knock that person down.” This leader, Pawan Sharma, tweeted, “It is better if he did not do that work, he would have been accused or not.”

अलका लांबा ने भी किया ट्वीट
बता दें कि पवन शर्मा का ट्विटर द्वारा वेरीफाइड अकाउंट है. ट्विटर पर पवन शर्मा ने अपने परिचय में खुद को नेशनल काउंसिल का सदस्य बताया हुआ है. साथ ही ट्विटर के मुताबिक यह शख्स दिल्ली का पूर्व राज्य सचिव भी रह चुका है. पवन शर्मा खुद को अरविंद केजरीवाल का सिपाही बताता है. पवन शर्मा के इस ट्वीट को आप नेता अलका लांबा ने भी रिट्वीट किया है.

Alka Lamba also tweeted
Let Pawan Sharma have a verified account by Twitter. On Twitter, Pawan Sharma himself is said to be a member of the National Council in his introduction. According to Twitter, this person has also been the former Secretary of State of Delhi. Pawan Sharma tells himself as a soldier of Arvind Kejriwal. You have also retweeted this tweet by Pawan Sharma, leader Alka Lamba.

बता दें कि मंगलवार को मुख्य सचिव अंशु प्रकाश ने आम आदमी पार्टी के दो विधायकों अमानतुल्ला खान और प्रकाश जरवाल पर मुख्यमंत्री आवास में सोमवार रात उनके साथ मारपीट करने का आरोप लगाया था। इस दौरान मुख्यमंत्री भी मौजूद थे. दिल्ली पुलिस ने इस मामले में अमानतुल्ला खान और प्रकाश जरवाल को तिहाड़ जेल भेज दिया है.

On Tuesday, Chief Secretary Anshu Prakash accused two Aam Aadmi Party MLAs Amanatullah Khan and Prakash Jarwal for assaulting them in the Chief Minister’s residence on Monday night. During this time Chief Minister was also present. Delhi Police has sent Amanatullah Khan and Prakash Jarwal to Tihar Jail in this case.

sourcename :politicalreport

मुगलों और नेहरु के हजारो षड्यंत्रों के बाद हिन्दू आज ज़िन्दा है तो उसका कारण मात्र यह शक्स है

पहले वो सब ठप्पे के साथ इफ़्तार पार्टियाँ करते थे, टोपियाँ पहनते थे, सजदे करते थे, नमाज़ पढ़ने का ढोंग करते थे क्योंकि हितैषी तो ये मुसलमानों के भी नहीं थे। ये सब करने के पीछे कारण केवल एक ही था मुसलमानों के थोकबंद वोट बटोरना। चंद रियायतें दे देना, इनके दिलों में हिंदुओं के प्रति नफ़रत पैदा करना और मुसलमानों के ज़्यादा तलवे चाटना कि हिंदुओं में भी मुसलमानों के प्रति नफ़रत पैदा होने लगी थी।

Earlier, all those parties used to perform Ipat parties, used to wear hats, worshiped, used to pretend to read namaz because they were not even Muslims. The only reason behind doing all this was to collect bulk vote of Muslims. To give a few concessions, to create hatred towards the Hindus in their hearts and to lick more sweets of the Muslims, even among the Hindus, started becoming a victim of hatred towards the Muslims.

कांग्रेस, वामपंथी, समाजवादी पार्टी, लालू, मुलायम, ममता बैनर्जी, केजरीवाल जैसे तमाम नेताओं और पार्टियों ने इतने ज़्यादा मुसलमानों के तलवे चाटे कि देश के हिंदुओं में हीन भावना पैदा होने लगी थी। ये नेता हिन्दू होकर भी हिंदुओं को गालियाँ देने, उनका अपमान करने से चूकते नहीं थे। जब भी कोई आतंकी घटना होती तो ये यही कहते थे कि आतंक का कोई धर्म नहीं होता लेकिन हिंदुओं को झूठे केस में फँसाकर इनको आतंक का धर्म दिख गया। याद कीजिये चिदंबरम का देश की संसद में ‘भगवा आतंकवाद’ शब्द का प्रयोग करना, कर्नल पुरोहित, साध्वी प्रज्ञा,असीमनन्द जैसे कई निर्दोष हिंदुओं को बिना किसी सबूत के गिरफ्तार करके अंतहीन यातनाएँ देना। ये सभी लोग मोदी सरकार के आने के बाद इन यातनाओं से मुक्त हुए हैं और जेल से रिहा हुए हैं अगर आज भी कांग्रेस सरकार में होती तो इन लोगों की शायद लाशें भी किसी को न मिलतीं।

All the leaders and parties like the Congress, Leftists, Samajwadi Party, Lalu, Mulayam, Mamta Banerjee, Kejriwal used to laugh so many Muslims that there was inferiority among the Hindus of the country. These leaders did not hesitate to abuse the Hindus, to insult them, even after becoming a Hindu. Whenever there was a terrorist incident, it used to say that there was no religion of terror but they were found to be the religion of terror by trapping the Hindus in a false case. Remember, Chidambaram should use the term ‘saffron terrorism’ in the country’s parliament, arresting innocent Hindus without any evidence, endless tortures by arresting Colonel Purohit, Sadhvi Pragya, Asimanand, without any evidence. All these people have been released from these tortures after being Modi government and have been released from jail. Even if the Congress was in the government today, probably the bodies of these people would not be available to anyone.

याद कीजिये दिग्विजयसिंह का मुंबई के 26/11 हमले में संघ को दोषी बताने वाली क़िताब का विमोचन करना जबकि सारी दुनिया उस वक़्त भी देख रही थी कि सारे आतंकी पाकिस्तान से आये थे। वो तो क़साब ज़िंदा पकड़ा गया वरना कांग्रेस इसमें भी कई निर्दोष हिंदुओं को फँसाकर उनकी ज़िंदगी बर्बाद कर देते।

Remember Digvijay Singh’s release of the book condemning the Sangh in Mumbai’s 26/11 attacks, while the whole world was also watching that all the terrorists came from Pakistan. That Kasad was caught alive or else the Congress would ruin his life by trapping many innocent Hindus in it too.

देश और हिंदुत्व के शत्रु यही नेता आज मंदिरों की घंटियां बजाने, पूजा अर्चना करने और माथा टेकने को मजबूर हो गए हैं। कभी मंदिर जाने वालों को लड़कियाँ छेड़ने वाला कहने वाला राहुल गाँधी आज खुद को जन्मजात हिन्दू बता रहा है, जबकि ये भी खबर है राहुल गाँधी दो पासपोर्ट हैं जिनमें से एक नाम उनका नाम रॉउल विंसी है। सोनिया गाँधी का मुस्लिम और ईसाई प्रेम किसी से छिपा नहीं है। बाटला हाउस एनकाउंटर में रोने वाली सोनिया आज परदे के पीछे जाकर क्यों बैठी है? बाबा विश्वनाथ की धरती पर जाकर बीमार (?) हुई सोनिया उसके बाद से कभी कहीं नज़र आईं क्या?

The enemies of the country and Hindutva have been forced to play bells of temples, to worship and worship the forehead. Rahul Gandhi, who once said that girls going to the temple, is telling a congenital person, while today it is also reported that Rahul Gandhi has two passports, one of which is his name, Raúl Vínsi. Sonia Gandhi’s Muslim and Christian love is not hidden from anyone. Sonia, who is crying at the Batla House encounter, why is she sitting behind the scenes today? Baba Vishwanath went to the earth and sick? (Sonia?) Have you ever seen somewhere since then?

आज हिंदुओं में शक्ति कहाँ से आई? कौन है वो जिसने सोते हुए हिंदुओं को जगाया है? वही है न 67 साल का ऊर्जावान, राष्ट्रभक्त, कर्मवीर जो कभी दूसरे धर्म का अपमान नहीं करता लेकिन अपने धर्म का पालन पूरी आन बान और शान के साथ करता है, जो सारी दुनिया के सामने जय श्रीराम के नारे लगाता है, जो जापान के प्रधानमंत्री के साथ गंगा आरती करता है, जो दुबई के शाही परिवार से मंदिर के लिए ज़मीन लेकर आता है। विदेशों में रहने वाले मित्र बताते हैं कि आज दुनिया भारतीयों को सम्मान की दृष्टि से देखने लगी है।

Where did the power come from Hindus today? Who is he who has awakened the Hindus while sleeping? That is the 67 years of energetic, nationalist, Karmaveer who never insulted another religion, but followed his religion with full faith and honor, which is shouting Jai Shriram in front of the whole world, which is the Prime Minister of Japan Ganga accompanies the Aarti, which brings the land from the royal family of Dubai to the temple. Friends in foreign countries show that today the world has started looking at Indians with respect.

वो बहुत कुछ हमें दे चुका है और देते ही जा रहा है, वो कभी किसी एक धर्म की बात नहीं करता वो हमेशा 130 करोड़ भारतीयों की बात करता है, इसके पहले वो 6 करोड़ गुजरातियों की बात करता था।

He has given us a lot and has been giving it, he does not talk about any one religion, he always talks about 130 million Indians, before that he used to talk about 6 crore Gujaratis.

ये GST की शुरुआती परेशानियां, ये मंदी का दौर सब कुछ अस्थायी है, ज़रा इतिहास खंगालो उसने भूकम्प से तबाह गुजरात को देश का सबसे उन्नत प्रदेश बना दिया, वो भी तब, जब उसे कोई भी प्रशासनिक अनुभव नहीं था। जबकि आज वो आग में तपकर, तेज धार में कटकर नायाब सोना हीरा बन चुका है। उसकी ईमानदारी, मज़बूती, कठोर परिश्रम का लोहा तो उसके दुश्मन भी मानते हैं, वो भारत को और हिंदुत्व को इतनी ऊँचाई पर ले जायेगा जिसकी हमने कभी कल्पना भी नहीं कि होगी।

These are the initial troubles of GST, this recession is all temporary, everything is history. It has destroyed the earthquake and made Gujarat the most advanced state of the country, even then, when it did not have any administrative experience. Whereas today he has become a precious gold diamond by cutting it in the fire and drifting in the fire. The iron of his honesty, strength, hard work, even his enemies believe that, he will take India and Hindutva to such a height which we have never imagined.

यह भी देखे:

https://youtu.be/BVuWDLCqpCM

https://youtu.be/6KzO3XxanXM

sourcename:politicalreport

आम आदमी पार्टी में आया तूफ़ान, आप के इस बड़े नेता ने भी छोड़ा अरविन्द केजरीवाल का साथ!

नई दिल्ली: सूत्रों की माने तो आम आदमी पार्टी की झाड़ू का तिनका-तिनका बिखरने वाला है, थोड़ा समय लग सकता है| इसका बड़ा कारण है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल कुमार विश्वाश के कद को बड़ा होता हुआ नहीं देखना चाहते और पार्टी पर वही राज करना चाहते हैं जबकि दोनों नेता अन्ना आंदोलन से पैदा हुए थे लेकिन एक दूसरी बार सीएम बन गया और एक राज्य सभा का सांसद भी नहीं बन पाया और राज्य सभी की टिकट के लिए जूझ रहा है|

New Delhi: If sources are to be believed, then the Aam Aadmi Party is going to scatter the straw of a broom, it can take some time. The big reason is that Delhi’s Chief Minister Arvind Kejriwal does not want to see the height of Vishwash being bigger and wants to rule the same party, while the two leaders were born from the Anna movement but for a second time CM became and a Rajya Sabha Even the MP could not be found and the state is battling for all the tickets.

सूत्रों द्वारा जानकारी मिल रही है कि आप ने कुमार विश्वास का पत्ता काटते हुए राज्यसभा के लिए वरिष्ठ नेता संजय सिंह, सुशील गुप्ता और एनडी गुप्ता के नाम का ऐलान कर दिया है| पार्टी की पॉलिटिकल अफेयर्स कमेटी बुधवार को इन तीनों के नाम पर मुहर लगाएगी|

Sources are getting information that you have announced the name of senior leader Sanjay Singh, Sushil Gupta and ND Gupta for the Rajya Sabha by cutting the leaf of Kumar Vishwas. The Political Affairs Committee of the party will stamp these three names on Wednesday.

दिल्‍ली में राज्‍यसभा की तीन सीटों के लिए 16 जनवरी को चुनाव होंगे। इसके लिए नामांकन दाखिल करने की आखिरी तारीख पांच जनवरी है। 70 सदस्‍यों वाली दिल्‍ली विधानसभा में आप के 66 विधायक हैं, इसलिए उसे तीनों सीटें जीतने में कोई परेशानी नहीं होगी| एनडी गुप्ता पेशे से चार्टर्ड अकाउंटेंट हैं और फिलहाल द इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया के उपाध्यक्ष हैं|

There will be three seats for the Rajya Sabha in Delhi on January 16. For this, the last date for filing of nomination is January 5. You have 66 MLAs in the Delhi Assembly with 70 members, so they will not have any problem in winning the three seats. ND Gupta is a chartered accountant by profession and is currently the Vice President of The Institute of Chartered Accountants of India.

वहीं सुशील गुप्ता अग्रसेन अस्पताल और अग्रसेन चैरिटी के तहत कई स्कूल और कॉलेज चलाते हैं! कुमार के नाम पर अभी तक विश्वाश नहीं किया जा रहा है जिस पर अब सवाल भी खड़े किये जाने लगे हैं| क्या कुमार विश्वास राज्यसब्भा के संसद बन बभी पाएँगे ये तो भगवान् ही जाने| अरविन्द केजरीवाल वेसे भी आप पार्टी में अपनी मन मर्ज़ी चलने के लिए काफी मशहूर हैं | तो देखना होगा क्या कुमार विश्वास राज्य सभा संसद बन भी पाएँगे या फर वो भी आप पार्टी से अलग होकर अपनी खुद की एक नयी पार्टी बना लेंगे |

At the same time, many schools and colleges run under Sushil Gupta Agrasen Hospital and Agrasen Charity! Kumar’s name is not being believed so far, but questions are still being raised. Will Kumar Vishwaan become a Parliament of the Rajya Sabha, it will be God knows. Arvind Kejriwal Vesi is also very famous for you to keep your mind in the party. So you have to see whether Kumar will be able to become a Rajya Sabha Parliament or you will also be separated from the party and form a new party of his own.

पटेल नेता हार्दिक पटेल ने एक ट्वीट कर आम आदमी पार्टी पर सवाल उठाया है पढ़ें उनका ट्वीट:-

Patel leader Hardik Patel has raised a tweet on the Aam Aadmi Party.

यह भी देखे :

https://www.youtube.com/watch?v=aGHeWHD0uXg

https://www.youtube.com/watch?v=xlRRjGN7n7U

ईमानदारी का दावा ठोकने वाली “AAP”का हुआ पर्दाफाश, “इनकम टैक्स” ने किया बड़ा खुलासा !

आज अरविन्द केजरीवाल आम आदमी पार्टी के 5 साल मना रहे है, 5 साल पहले 2012 में केजरीवाल ने अपनी राजनितिक पार्टी बनाई थी, वो भी एक आंदोलन के कंधे पर चढ़कर

दिल्ली में देश के बहुत से लोग इखट्टा हुए थे, वो सब भ्रष्टाचार के खिलाफ जमा हुए थे, देश में परिवर्तन लाना चाहते थे, केजरीवाल ने मौके का फायदा उठाया, आंदोलन को राजनितिक पार्टी के रूप में बदल दिया और दिल्ली की सत्ता पर काबिज हो गया

मुफ्त की चीजों के वादे किये जिसमे 15 लाख CCTV, दिल्ली में हज़ारों नए स्कुल और 300 कॉलेज, इसके अलावा फ्री WIFI, महिला सुरक्षा के लिए बसों में कमांडो इत्यादि ऐसे खूब वादे केजरीवाल ने किये, लोगों ने केजरीवाल को वोट दिया और दिल्ली का मुख्यमंत्री बना दिया, 2013 में केजरीवाल पहली बार मुख्यमंत्री बने, दिल्ली की स्तिथि आज भी 2013 के जैसी ही है

दिल्ली में न CCTV कैमरे लगे और न ही फ्री WIFI मिला, न ही महिला सुरक्षा दिल्ली की स्तिथि 2013 के जैसी ही है, और दिल्ली के लोग इसे बेहतर तरीके से जानते है, पर केजरीवाल की स्तिथि वैसी नहीं है जैसी 2012 में थी जब केजरीवाल ने राजनितिक पार्टी बनाई थी

तब केजरीवाल का वजन 48 किलो हुआ करता था, केजरीवाल ने जब अनशन शुरू किया था, तब 48 किलो ही वजन डाक्टरी रिपोर्ट में लिखी गयी थी, केजरीवाल गाज़ियाबाद के कौशामि में रहते थे, केजरीवाल 2012 में कुछ ऐसे दिखाई देते थे, ध्यान से देखिये

और आप खुद देख सकते है ये खबर कि जो अपने आपको देश के लिए अच्छा साबित करने की कौशिश कर रहे है उनके यहाँ पर इनकम टक्स की रेड पड़ने का नोटिश जारी किया गया है :

पर अब बड़ी खबर यह आ रही कि अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी को इनकम टैक्स विभाग ने 30,6700000 रुपये का नोटिस भेजा है. आईटी विभाग के मुताबिक आम आदमी पार्टी ने 13 करोड़ रुपये के आय का खुलासा नहीं किया है. इसके साथ ही पार्टी ने 462 ऐसे दान दाताओं की पूरी जानकारी दर्ज नहीं की है, जिन्होंने पार्टी फंड में 6 करोड़ 26 लाख रुपये का दान दिया है. नोटिस के मुताबिक वित्तीय वर्ष 2014-15 और 2015-16 के दौरान आम आदमी पार्टी की कर योग्य आय 68.44 करोड़ आंकी गई है. लेकिन पार्टी ने 13 करोड़ रुपये के दान का कोई खुलासा नहीं किया है. इनकम टैक्स विभाग का दावा है कि आम आदमी पार्टी इस मामले में सही जवाब नहीं दे रही है.

नोटिस ने मुताबिक आप ने चदे की राशि देने वाले लोगों के नाम पते भी नहीं बताए है. आप पर आरोप है कि आम आदमी पार्टी ने हवाला के जरिए 2 करोड़ रुपये लिए है.

राजनीति में स्वच्छता और पारदर्शिता के एजेंडे के साथ सत्ता में आई पार्टी के लिए आईटी विभाग के नोटिस परेशान हो सकती है. आपको बता दें कि रविवार (26 नवंबर) को ही आम आदमी पार्टी ने अपनी स्थापना के पांच साल पूरे किए थे. इस मौके पर दिल्ली के रामलीला मैदान AAP के कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करते हुए पार्टी प्रमुख और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने केंद्र सरकार पर जमकर हमला किया था. केजरीवाल ने गुजरात चुनाव के संदर्भ में कहा था कि वहां पर लोग बीजेपी को हराने के लिए वोट करें. केजरीवाल ने कहा था कि जहां कही भी आम आदमी पार्टी का उम्मीदवार हो लोग उसे वोट करें. जहां आप का उम्मीदवार नहीं हो तो वहां बीजेपी के खिलाफ किसी जीतने वाले प्रत्याशी को वोट करें.

अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी को इनकम टैक्स विभाग ने 30,6700000 रुपये का नोटिस भेजा है. आईटी विभाग के मुताबिक आम आदमी पार्टी ने 13 करोड़ रुपये के आय का खुलासा नहीं किया है. इसके साथ ही पार्टी ने 462 ऐसे दान दाताओं की पूरी जानकारी दर्ज नहीं की है, जिन्होंने पार्टी फंड में 6 करोड़ 26 लाख रुपये का दान दिया है.

और कुछ समय पहले भी कपिल मिश्रा ने इस कड़ी को आगे बढ़ाते हुवे आप विधायक अमानतुल्ला खान और अपना व्हाट्सप्प चैट को लीक कर दिया। जिसमें अमानतुल्ला कपिल मिश्रा से बहस कर रहे हैं लेकिन कपिल मिश्रा ने जब पोल खोलनि शुरू करी तो अमीतुल्ला ने जवाब देना ही बन्द कर दिया। कपिल मिश्रा ने तो जैसे ठान ही लिया है कि वो आम आदमी पार्टी को जड़ से उखाड़ फेंका है। अमानतुल्ला खान चाट में केजरीवाल का पक्ष ले रहे है और केजरीवाल का पक्ष लेते हुवे कपिल मिश्रा को अपशब्द भी कह रहे हैं।

ट्वीएट डिलीट करने से पहले कपिल मिश्रा द्वारा किया हुआ ट्वीट।

खास बातें
आम आदमी पार्टी ने दानदाताओं की पूरी जानकारी नहीं दी
AAP ने 13 करोड़ रुपये के चंदे का खुलासा नहीं किया
2 करोड़ रुपये हवाला के जरिए लिए, नाम-पते भी सही नहीं

देखिये ये विडियो :

https://youtu.be/6KzO3XxanXM

https://youtu.be/KZmJrB0_U64

source zee news

राहुल कँवल से अमित शाह ने कहा “आज तक तू चुप है, आज मै पूछना चाहता हूँ तो तू क्यों चुप है……

राहुल कंवल एक ऐसे पत्रकार जो पत्रकारिता के वजह से कम और कांग्रेस खेमे के पत्रकारों के रूप में जाने जाते है! जिन्होंने अन्य कांग्रेस खेमे के पत्रकारों की तरह बहुत कम समय में ढेर सारा दौलत और शोहरत हासिल किया|

Rahul is a journalist who is known for being less journalistic and journalists of the Congress camp! Like many journalists from other Congress camps, they got a lot of wealth and fame in a very short time.

यूं तो देश में हजारो दंगे हुए लेकिन इन पत्रकारों के जुबान पर हमेशा गुजरात दंगा ही रहता है क्युकी वहां बीजेपी की नरेंद्र मोदी सरकार थी! और हर वक़्त बीजेपी के नेताओ को घेरने की कोशिश रहती है! किसी तरह से बीजेपी के नेताओ से कुछ ऐसा बुलवाया जाये जिससे इनके न्यूज़ चॅनेल की TRP बढे

There were thousands of riots in the country, but on the verge of these journalists, the Gujarat riots always remain. There were BJP’s Narendra Modi government in Kurukshetra! And every time the BJP is trying to surround the leaders! In some way, some of the leaders of the BJP should be summoned so that their news channel’s TRP increased.

गुजरात दंगो के बाद इन पत्रकारों को एक और मुद्दा मिला बीजेपी को घेरने का “दादरी”! आपको बता दे की दादरी में अक्लख अहमद नाम के एक व्यक्ति को बीफ खाने और रखने के आरोप में भीड़ ने पिट-पिट कर मार डाला था, जिसका बीजेपी से कोई लेना देना नहीं था! फिर भी कुछ तथाकथित सेक्युलर पत्रकारो ने बीजेपी को इस मामले में खूब लपेटा!

After the Gujarat riots, these journalists got another issue, “Dadri” to surround BJP! Tell you that a person named Akhil Ahmed in Dadri was beaten and beaten by the crowd for eating and keeping beef, which had nothing to do with BJP! Yet some so-called secular journalists wrapped up the BJP in this matter.

राहुल कँवल भी अमित शाह के साथ इंटरव्यू में दादरी से सम्बंधित प्रश्न पूछ डाले उसके बाद बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने जो जबाब दिया वो वाकई देखने लायक है! राहुल कँवल ने कहा की कुछ बीजेपी नेता दादरी घटना में आग में घी डालने का काम कर रहे है, तो अमित शाह ने जब दिया की वहां सबसे पहले कौन गया, राहुल गाँधी गए, ओवैसी गए और केजरीवाल उसके बाद वहा के बीजेपी के संसद महेश शर्मा गए!

Rahul Kawal also asked the questions related to Dadri in the interview with Amit Shah, and after which BJP President Amit Shah gave the answers, it is really worth seeing! Rahul Kawal said that some BJP leaders are working to make ghee in the fire at Dadri incident, when Amit Shah gave it to who was the first to go there, Rahul went to Gandhi, Owaisi went and Kejriwal was the BJP parliamentary constituency Mahesh Sharma went.

आगे अमित शाह ने कहा कि क्या आपने केजरीवाल, राहुल गाँधी और ओवैसी से सवाल पूछा, आप मुझसे क्यों पूछ रहे हो जाओ जाकर पहले उनसे पूछो की इसमें पॉलिटिक्स कौन कर रहा है! अगले पेज पर देखिये वीडियो जब अमित शाह ने राहुल कँवल से कहा “आज तक तू चुप है आज मै पूछना चाहता हूँ तू क्यों चुप है?…

Amit Shah further said that you asked the question from Kejriwal, Rahul Gandhi and Owaisi, why are you asking me, before going to go ask him first, who is doing politics in it! Watch the video on the next page when Amit Shah told Rahul Kawal, “To date you are silent today. Today I want to ask why are you silent? …

राहुल कँवल को जबाब देते हुए अमित शाह ने शुरुआत में ही कह दिया की आप जो पांच दिन से उछल उछल कर दादरी-दादरी कर रहे है! जहा पर 10-15 हिन्दू लड़को को मार दिया गया क्या वह पर आपने पूछा की कितने अरेस्ट हुए है, आपने स्टडी किया है! क्या आप कभी वहा गए है जहा हिन्दुओं पर अत्याचार हो रहा है! फिर अमित शाह को गुस्सा आ गया और बोल बैठे की राहुल कँवल आज तक तू चुप है आज मै पूछना छठा हूँ तू क्यों चुप है!

Replying to Rahul Kawal, Amit Shah said at the beginning that you have jumped jumping after five days and doing Dadri-Dadri! Wherever 10-15 Hindu boys were killed, you asked them how much they had been arrested, you have studied! Have you ever been there where the oppression of Hindus is happening! Then Amit Shah got angry and said that Rahul Kaval till now you are silent today I am the sixth to ask why are you silent.

आगे राहुल कँवल ने कहा की देश में अराजकता का माहौल बना हुआ है इस कांड के वजह से तो अमित सह ने फिर राहुल कँवल को जमकर धोया और बोलै की उत्तर प्रदेश में किसी सरकार है? क्या ययः कानून वयवस्था सही है! आपको क्या लगता है, राहुल के पास जबाब नहीं था और वो भी मान रहे थे की यूपी में कानून व्यवस्था सही नहीं है!

Next Rahul Kawal said that the atmosphere of anarchy has been created in the country because of this scandal, then Amit co-operative washed away Rahul Rawal and said that there is a government in Uttar Pradesh? What is the law: The law system is right! What do you think, Rahul did not have the answer and he was also assuming that the law system is not right in UP.

अमित शाह ने कहा की आप हिन्दुओं पर हो रहे जुल्मो के खिलाफ क्यों कैंप नहीं करते, आपलोग भी समाजवादी पार्टी से मिले हुए हो! तो राहुल ने कहा की वो लोग हमसे बड़े परेशान रहते है! वाकई राहुल कँवल का मुँह देखने लायक बन गया था! आखिरकार राहुल ने कहा की बहुत से बुद्धिजीवी लोग अपने अपने अवार्ड वापिस कर रहे है! तो इस सवाल के जबाब में भी राहुल की व्हाट लग गई?

Amit Shah said that why do not you camp against the Hindus being attacked, you too have met the Samajwadi Party! So Rahul said that those people are troubled by us! Indeed, Rahul had become worthless to see his face! After all, Rahul said that many intellectuals are returning their own award! So in the answer to this question, what did Rahul do?

 देखिये अमित शाह का ये जबर्दस्त वीडियो                                                                                                                           Watch this awesome video of Amit Shah

अमित शाह ने अभद्र सवाल पर रिपोर्टर राहुल कनवाल को जमके लताड़ा !…

अमित शाह ने अभद्र सवाल पर रिपोर्टर राहुल कनवाल को जमके लताड़ा ! किया हल्लाबोल

Posted by Modi News on Saturday, June 24, 2017

यह वीडियो भी देखें!

https://youtu.be/6KzO3XxanXM

source : hindpress.in

बड़ा खुलासा : राहुल गाँधी का पक्ष लेना पड़ा हार्दिक पटेल की बड़ा महंगा, ट्रोलर्स ने पूछ लिया एक ऐसा सवाल……

नई दिल्ली: इस साल के अंत में गुजरात विधानसभा के चुनाव होने वाले हैं! इसी की मद्देनज़र रखते हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी आज तीन दिन के दौरे पर गुजरात पहुंचे हुए हैं ! राहुल गांधी ने पहले द्वारका के जगत मंदिर और शारदापीठ के शंकराचार्य में दर्शन कर अपनी यात्रा की शुरूआत की!

New Delhi: Gujarat assembly elections are going to be held later this year! Keeping this in view, Congress vice-president Rahul Gandhi has reached Gujarat on a three-day tour today! Rahul Gandhi first started his journey by visiting the Jagtar Mandir of Dwarka and Shankaracharya of Shardapith.

आपको बता दें कि हार्दिक पटेल पाटीदार आंदोलन के नेता हैं! वह पटेल समुदाय को आरक्षण दिलाने के लिए निरंतर संघर्ष रत रहे हैं! हार्दिक ने इस साल मई में कहा था कि उन्होंने कांग्रेस का समर्थन करने का विकल्प भी खुला रखा है, उनकी शर्त केवल इतनी होगी कि कांग्रेस चुनाव जीतने के बाद उनकी मांग पूरी करने का वादा करें. हार्दिक पटेल ने राहुल गांधी के गुजरात दौरे पर उनका स्वागत किया है! हार्दिक पटेल ने राहुल के दौरे के मौके पर ट्वीट करते हुए कहा, “कोंग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल जी का गुजरात में तहेदिल से स्वागत हैं! जय श्री कृष्णा!”

Let me tell you that Hardik Patel is a leader of Patidar movement! He is constantly struggling to get the reservation for the Patel community! Hardik had said in May this year that he has kept the option to support the Congress, his condition will be only that he promises to fulfill his demand after winning Congress election. Hardik Patel has welcomed Rahul Gandhi on his visit to Gujarat! Hardik Patel tweeting on the occasion of Rahul’s visit, said, “Congress Vice President Rahul Ji is absolutely welcome in Gujarat! Hail lord krishna!”

बाद में पत्रकारों से बातचीत में हार्दिक ने कहा कि उन्होंने गांधी का गुजरात के महज एक अतिथि के रूप में भारतीय परंपरा के अनुसार स्वागत किया है! इसे राजनीति से नहीं जोडा जाना चाहिए! उन्होंने यह भी कहा कि उन्होंने यह नहीं कहा कि इस बार कांग्रेस ही जीतेगी पर यह बात सही है कि राज्य की जनता भाजपा से नाखुश है और इसके शासन से मुक्ति चाहती है! यह चुनाव भाजपा अथवा कांग्रेस का नहीं बल्कि भाजपा और राज्य की छह करोड जनता के बीच है!

Later in the interaction with reporters, Hardik said that he has welcomed Gandhi as a guest of Gujarat in accordance with Indian tradition. It should not be linked to politics! He also said that he did not say that Congress will win this time, but it is true that the people of the state are unhappy with the BJP and want freedom from its rule! This election is not between the BJP or the Congress, but between BJP and the six crore people of the state!

हालांकि हार्दिक पटेल अब तक आम आदमी पार्टी के साथ दिखते रहे हैं, लेकिन अब हार्दिक के इस ट्वीट ने कई नए सवालों को जन्म दे दिया है! लेकिन हार्दिक पटेल का इस तरह का ट्वीट करना काफी महंगा पड़ा, लोगों ने उन्‍हें जमकर ट्रोल करना शुरू कर दिया! ट्विटर पर एक यूजर ने लिखा “आप ये बताएं कि आप किस तरफ हैं! जब केजरीवाल आते हैं, तो उनकी तरफ हो जाते हैं, जब राहुल गांधी आते हैं, तो उनका स्‍वागत करने लगते हैं! आप ये निश्चित क्र लीजिए की आखिरकार आप है किसकी तरफ.

Although Hardik Patel has been seen with Aam Aadmi Party till now, but now Hardik’s tweet has given birth to many new questions! But this kind of tweet of Hardik Patel was expensive, people started trolling him hard! A user on Twitter wrote “You tell me where you are! When Kejriwal comes, then he gets on his side, when Rahul Gandhi comes, he starts welcoming! Take it definite that at last you are on whose side.

देखिये यूजर्स के रिप्लाई:-

https://twitter.com/urvashirautelaj/status/912187168143032320

source : logicalbharat.com