CM योगी के नेतृत्व में UPने मुंबई को दी जबरदस्त पटखनी दाउद समेत राज ठकारे के उड़े होश

नई दिल्ली: उत्‍तर प्रदेश के अपराधियों पर इस समय योगी आदित्‍यनाथ नाम का काल मंडरा रहा है! जी हां, योगी आदित्‍यनाथ काल इसलिए क्‍योंकि यूपी में अब अपराधियों के लिए कोई जगह नहीं बची है! दरअसल यहां ताबड़तोड़ एनकाउंटर हो रहे हैं और क्राइम की कमर तोड़ी जा रही है! हर अपराधी खौफ खाये बैठा है की कही आज उसका नंबर तो नहीं आ गया! आपको बता दे राज्‍य में बीते 48 घंटों में जो हुआ है उसके बाद इसे योगी आदित्‍यनाथ काल ही कहना एकदम उचित होगा!हर अपराधी खौफ खाये बैठा है की कही आज उसका नंबर तो नहीं आ गया! आपको बता दे राज्‍य में बीते 48 घंटों में जो हुआ है उसके बाद इसे योगी आदित्‍यनाथ काल ही कहना एकदम उचित होगा!

New Delhi: On the criminals of Uttar Pradesh, Yogi Adityanath is on a long time! Yes, Yogi Adityanath is the reason because now there is no place for criminals in UP! In fact, there are continuous encroachers here and the waist of crime is being broken! Every culprit is frightened by the fact that today’s number has not come! Let us tell you what has happened in the past 48 hours in the state, after which it will be absolutely right to say Yogi Adityanath Kal!Every culprit is frightened by the fact that today’s number has not come! Let us tell you what has happened in the past 48 hours in the state, after which it will be absolutely right to say Yogi Adityanath Kal!

उत्तर प्रदेश में बढ़ रहे अपराध पर नकेल कसने के लिए ताबड़तोड़ मुठभेड़ों का सिलसिला जारी है! मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की यूपी पुलिस एकबार फिर ‘मिशन क्लीन’ मोड में आ चुकी है! उत्तर प्रदेश में बीते 48 घंटे में पुलिस और बदमाशों के बीच 16 मुठभेड़ें हुई हैं, जिसमें 24 दुर्दांत अपराधियों को धर-दबोचा गया! पुलिस ने तड़ातड़ हुए इन एनकाउंटर्स में जिन बदमाशों का काम तमाम किया है, उनमें कईयों पर 10 हजार से 50 हजार तक का इनाम घोषित था! इन पर उत्तर प्रदेश समेत कई अन्य राज्यों में हत्या, डकैती, अपहरण, फिरौती, वसूली, रेप जैसे दर्जनो मामले भी दर्ज हैं!

In Uttar Pradesh, there is a continuation of continuous encounters for tightening the crime on the rising crime! Chief Minister Yogi Adityanath’s UP Police has once again been in ‘Mission Clean’ mode! In Uttar Pradesh, there have been 16 encounters between the police and the miscreants in the last 48 hours, in which 24 miscreants were raped! The police, who have done all the work of the gangsters in the encounters, were rewarded with a reward ranging from 10 thousand to 50 thousand! There are also dozens of cases of murder, robbery, kidnapping, ransom, recovery, rap in many other states including Uttar Pradesh.

लखनऊ से लेकर नोएडा और मेरठ में ताबड़तोड़ एनकाउंटर हुए! लखनऊ में बावरिया गिरोह के डकैतों से कल रात मुठभेड़ हुई जिसके बाद पुलिस चार डकैतों को गिरफ्तार करने में सफल रही! इन 16 मुठभेड़ों के दौरान पुलिस ने बदमाशों के पास से नकदी, ज्वेलरी, और अपराध में शामिल कई गाड़ियां भी बरामद की हैं. बरामद गाड़ियां या तो चोरी की थीं या फिर अपराधियों द्वारा लूटी गई. पिछले दिनों बढ़ते अपराध पर विपक्ष द्वारा साधे जा रहे निशाने के बाद सीएम योगी ने पुलिस अधिकारियों की मीटिंग बुलाकर साफ संदेशा दिया कि या तो अपराध पर अंकुश लगाएं या फिर दूसरी नौकरी तलाश लें!

From Lucknow to Noida and Meerut, there were sharpened encounters! The encounter took place last night by the dacoits of Bavaria gang in Lucknow, after which the police managed to arrest four dacoits! During these 16 encounters, the police have recovered cash, jewelery, and many vehicles involved in crime from the gangsters. Recovered carts were either stolen or looted by the criminals. After being hit by the opposition on increasing crime in the past, CM Yogi called a meeting of police officers and gave a clear message that either to curb crime or to seek another job!

पुलिस और बदमाशों के बीच एनकाउंटर का ताजा खबर शामली से आई है, जहां पुलिस ने मुकीम काला गैंग के कुख्यात अपराधी अकबर को मार गिराया. कैराना और शामली में आतंक का पर्याय बन चुके अकबर पर 50 हजार का इनाम घोषित था. शामली के पंचायत सदस्य मोहसिन के घर फायरिंग कर रंगदारी मांगने के आलावा उस पर लूट, डकैती, मर्डर के 11 से अधिक केस दर्ज हैं.

The latest news of the encounter between the police and the miscreants came from Shamli, where the police killed Akbar, the infamous criminal of the Mukim black gang. Akbar, who was synonymous with terror in Kairana and Shamli, was rewarded with a reward of 50 thousand. Apart from firing the house of Shamli Panchayat member Mohsin, instead of seeking dardera, there are more than 11 cases of robbery, robbery and murder.

यह भी देखे

https://youtu.be/BVuWDLCqpCM

https://youtu.be/6KzO3XxanXM

sourcename:politicalreport

VIDEO: लखनऊ में JNU वाले कन्हैया कुमार का जमकर विरोध, गुस्साए लोगों ने जड़े जोरदार थप्पड़..

लखनऊ: जेएनयू के पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार को लखनऊ में आयोजित एक कार्यक्रम में भारी विरोध का सामना करना पड़ा। लखनऊ के शिरोज में लिटरेरी फेस्टिवल में कन्हैया जैसे ही मंच पर बोलने आये तो वहां मौजूद एबीवीपी मेम्बर्स ने उसके खिलाफ ”देश का गद्दार व मुर्दाबाद” के नारे लगाए। वहीँ कुछ एबीवीपी कार्यकर्ताओं ने कन्हैया को दो तीन थप्पड़ भी मार दिए।

Lucknow: JNU’s alumnus union president Kanhaiya Kumar had to face heavy opposition in a program organized in Lucknow. As soon as Kanhaiya came to speak at the Literary Festival in Lucknow’s Shiroj, the ABVP members present there came slogans against the “Ghadar and Muradabad of the country” against him. Some ABVP workers also killed Kanhaiya with two or three slaps.

हंगामे को विरोध को देखकर एसिड सरवाइवर्स रोने लगी और भीड़ से हाथ जोड़कर शांत होने के लिए विनती करने लगी। इस दौरान कन्हैया मंच पर 30 मिनट तक बैठे रहे। इसी बीच एवीबीपी और कन्हैया के समर्थकों में धक्का-मुक्की भी शुरू हो गई। विरोध के बीच पहुंची पुलिस को देखते ही एबीवीपी छात्र वहां से भाग निकले जिसके बाद कार्यक्रम फिर से शुरू हो सका।

Seeing the protest, the acid surgewomen started crying and adding to the crowd, he started making a plea to calm down. During this Kanhaiya sat for 30 minutes on stage. Meanwhile, the supporters of AVBP and Kanhaiya started punching. After watching the police reached the protest, ABVP students escaped from there, after which the program could resume.

कार्यक्रम में कन्हैया ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा, 18 राज्यो में आपकी सरकार है, आप किसी आदमी को बोलने से रोक रहे है, जो सही नहीं है। प्रधानमंत्री की तरह मंच को सेल्फी खींचने का मंच मत बनाइए। मैं स्वतंत्रता सेनानी के परिवार से हूं। मुझे कोई इतनी जल्दी नहीं हरा सकता है।

In the program, Kanhaiya said, “Your state is in 18 states, you are blocking a person from speaking, which is not right. Like Prime Minister, do not stage the forum for selfie capture. I am from the freedom fighter’s family. I can not beat anyone so soon.

उन्होंने कहा कि यह मेरा गुरुर नहीं है, ये सच की ताकत है। तुम सामने से गोली भी मार दो, लेकिन हम पीछे नहीं हटेंगे। हम छुटभैया (छोटे) नेता बनने के लिए राजनीति नहीं करते हैं। हम अम्बेडकर की राजनीति करते है। हंगामे के बाद जिला प्रशासन ने पुलिस की रिपोर्ट के आधार पर डीएम ने यह कह कर ये कार्यक्रम रद्द कर दिया कि आयोजकों ने जिन शर्तों पर कार्यक्रम की अनुमति ली थी उसकी अनदेखी की गयी है!

He said that this is not my guru, it is the power of truth. Kill the bullet from the front, but we will not go back. We do not do politics to become a small leader. We do Ambedkar’s politics. After the disaster, the District Administration on the basis of the police report, DM canceled the program by saying that the conditions on which the organizers had taken permission of the program have been ignored!

देखिये भीड़ ने कन्हैया कुमार को थप्पड़

ये वीडियो भी जरुर देखें

https://youtu.be/8ImzYyVUuNQ