CM योगी ने ओवैसी के मुंह पर मारा करारा तमाचा के ऐसा जबरदस्त जवाब जिसे सुन वामपंथियों में खलबली

नई दिल्ली : सीएम योगी जो बोलते हैं वो बेबाकी से बोलते हैं यही वजह है कि इस वक़्त कई राज्यों में विरोधियों की जबर धुलाई के लिए उन्हें रैली करने के लिए बुलाया जा रहा है. इसी तरह आज सीएम योगी ने ओवैसी के गढ़ में घुस कर रैली करी और वो मुहतोड़ जवाब दिया है जिसे सुन कई कट्टरपंथियों में जलन मची हुई है.

अभी मिल रही मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक विधानसभा चुनाव के मद्देनजर स्टार प्रचारक बनकर हैदराबाद पहुंचे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ ने ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के मुखिया असदुद्दीन ओवैसी पर जबरदस्त हमला बोल दिया है.

हैदराबाद के निजाम की तरह भगाएंगे
रैली में जनता को संबोधित करते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा कि, अगर राज्य में भारतीय जनता पार्टी की सरकार आ गई तो ओवैसी यहां से हैदराबाद के निजाम की तरह भागेंगे.

यूपी सीएम योगी ने तेलंगाना के तांडूर की रैली में कहा, मुझे पूरा विश्वास है कि तेलंगाना में भाजपा की ही सरकार बनेगी। मैं सभी को आश्वासन दिलाता हूं कि अगर राज्य में भाजपा की सरकार आ गई तो असदुद्दीन ओवैसी तेलंगाना से उसी तरह भागेंगे, जैसे हैदराबाद के निजाम को भागने पर मजबूर होना पड़ा।

इसके साथ ही उन्होंने राज्य की पीडीपी सरकार पर भी हमला बोला। उन्होंने कहा, यह सरकार किसानों और पिछड़ों की हितकारी नहीं है। उन्होंने जनता से भाजपा के लिए आशिर्वाद मांगते हुए कहा, पीएम मोदी के नेतृत्व में देश में विकास हुआ है, वह भी बिना भेदभाव के.

इससे पहले राजस्थान में भी सीएम योगी ने बेबाकी से रैली करते हुए कहा था कि कांग्रेस सरकार आतंकियों को बिरयानी खिलाया करती थी और हम गोली खिलाते हैं. यही वजह है कि वामपंथी मानवाधिकार सीएम योगी के पीछे हाथ धो के पड़े हुए हैं और यूपी के हर एनकाउंटर को हिन्दू मुस्लिम चश्मे से देखने में लगे हुए हैं.

साथ ही सीएम योगी के हाल में हनुमान और दलित वाले बयान पर काफी हंगामा मचा. विपक्षियों को तुरंत मौका मिल गया और उन्होंने सीएम योगी पर आरोप लगा दिया कि उन्होंने भगवान् हनुमान को दलित बता दिया है. जबकि अगर उनकी रैली की वीडियो पूरी सुनी जाय तो पता चलेगा उन्होंने कहा था “हनुमान जी भी सब को एकसाथ लेकर चला करते थे , चाहे दलित हो चाहे पिछड़ा” बस इस बात को तोड़ मरोड़ कर विरोधियों और भीम गैंग ने हनुमान दलित कहकर चिल्लाना शुरू कर दिया.

गौरतलब है कि सभी पार्टियां वोटरों को लुभाने के लिए जोर-शोर से जुटी है। इसके लिए चुनाव प्रचार के दौरान एक दूसरे पर जमकर हमला बोला जा रहा है। 7 दिसंबर को तेलंगाना की 119 विधानसभा सीटों के लिए मतदान होना है। वोटिंग के नतीजे 11 दिसंबर को आ जाएंगे

SOURCE DD BHARTI

URL:http://www.ddbharti.in

अभी अभी: तीन तलाक के बिल का विरोध कर रहे ओवैसी पर फूटा लोगों का जोरदार गुस्सा, इस तरह दिखाई उसकी औकात…

25 जनवरी, 2018 : “मुंबई” के नागपाड़ा इलाके में मंगलवार (23 जनवरी) को ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के चीफ और सांसद ‘असदुद्दीन ओवैसी’ अपनी एक रैली में तीन तलाक के खिलाफ भाषण दे रहे थे. जिससे नाराज एक व्यक्ति ने उन पर जूता फेंककर मार दिया.

पुलिस ने जानकारी देते हुए कहा है कि औवेसी पर जूता फेंकने वाला आरोपी अभी तब गिरफ्तार नहीं हुआ है. साथ ही पुलिस ने यह भी कहा है कि आरोपी की सीसीटीवी की फुटेज के माध्यम से पहचान करकर बहुत जल ही गिरफ्तार कर लिया जायेगा. सूत्रों द्वारा दी गयी जानकारी के अनुसार असदुद्दीन ओवैसी ने कहा है कि जो भी लोग इस तरह की हरकत कर रहे हैं, वो सायद ये नहीं जानते हैं कि मुस्लिम समुदाय तीन तलाक को लेकर आये बिल के विरोध में जनता विरोध करें. साथ ही उन्होंने कहा है कि इस तरह के लोग ‘महात्मा गांधी’ की हत्या वाले विचारधारा को मानती है, परंतु ऐसी घटना उनको सच बोलने से रोक नहीं सकती.

सोमवार (22 जनवरी) को असदुद्दीन ओवैसी ने एक जनसभा में कहा था कि तीन तलाक विधेयक मुस्लिम समुदाय के विरुद्ध एक तरह की चाल है और यह भी कहा है कि मुस्लिम समुदाय के लोगों को दंड देने के लिए बड़ी चाल है. आपको बता दें कि औवेसी हैदराबाद से लोकसभा सांसद हैं. उन्होंने ‘मोदी सरकार’ पर हमला करते हुए कहा है कि संसद ने फिल्म ‘पद्मावत’ से संबंधित विवाद के मामले को लेकर विचार किया, परंतु एक बार भी तीन तलाक को लेकर किसी तरह का फैसला नहीं लिया गया.

उन्होंने कहा है कि मुस्लिम समुदाय के लोगों को जेल भेजने की बड़ी साजिश है. साथ ही यह भी कहा है कि मुस्लिम समुदाय के उन लोगों का बहिष्कार करना चाहिए जो तलाक के लिए तीन तलाक का सहारा लेते है. इसके साथ ही औवेसी ने प्रधानमंत्री ‘नरेंद्र मोदी’ पर आरोप लगाते हुए कहा है कि वह देश की जनता के लिए कुछ नहीं कर रहे हैं. परंतु जो भी कोई अच्छा कार्य होता है, उस कार्य का श्रेय लेने के लिए सदैव आगे रहते है.

जानकारी के अनुसार औवेसी ने भाजपा को लेकर कहा है कि यह पार्टी ‘भारत’ को मुस्लिम मुक्त बनाना चाहती है, परंतु ऐसा कभी भी नहीं होगा. उन्होंने यह भी कहा है कि भाजपा सरकार ‘वीडी सावरकर’ की विचारधारा थोपने का प्रयास कर रही है. इसके आगे कहा है कि ‘एमएस गोवलकर’, ‘केबी हेडगेवार’ और सावरकर हिंदुत्व विचारधारा के थे और हम इस बात को कभी नहीं अपनाएंगे.

यह भी देखें:

https://youtu.be/LvTwV08DsAo

https://youtu.be/gxWa3r-mlh0

source nishant times

VIDEO: ओवैसी ने PM मोदी और कांग्रेस को दे डाली ये बड़ी चुनौती, कहा कि….

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) प्रमुख और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने शुक्रवार (22, दिसंबर) को बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि जब वह ग्रीन पहनेंगे तो पूरा हरा कर देंगे और उनके हरे रंग के आगे कोई रंग नहीं टिकेगा। इस दौरान उन्होंने गुजरात चुनाव प्रचार को लेकर भाजपा और कांग्रेस पर भी जमकर निशाना साधा। ओवैसी ने कहा, दोनों पार्टियां (कांग्रेस और भाजपा) चुनाव प्रचार नहीं कर रहीं थीं बल्कि मंदिरों की यात्रा कर रहीं थीं। तीर्थ यात्रा कर रहे थे। कोई बीस को मंदिर गया तो किसी ने कहा वह 27 को मंदिर जाएंगे। दोनों राष्ट्रीय पार्टियों ने यह संदेश देने की कोशिश की, कि उनकी गुजरात में मुस्लिम वोट पाने में रुचि है, इस तरीके से वो भले ही चुनाव जीत जाएं लेकिन यह हमारे लोकतंत्र को कमजोर करेगा।’

All India Majlis-e-Ittehadul Muslimeen (AIMIM) chief and MP from Hyderabad, Asaduddin Owaisi, gave a big statement on Friday (December 22). They said that when they wear green they will beat completely and there will not be any color ahead of their green color. During this time, he also targeted the BJP and the Congress on the Gujarat campaign. Owaisi said that both the parties (Congress and BJP) were not campaigning for the election but were traveling to the temples. The pilgrims were traveling. Some twenty went to the temple, then someone said he would go to the temple 27. Both national parties tried to give the message that they are interested in getting Muslim votes in Gujarat, in this manner they will win the elections but it will weaken our democracy.

ओवैसी ने आगे कहा कि मुस्लिम वोटों का इस तरह से ध्रवीकरण करना सही नहीं है। उन्होंने कहा कि जब हम हरा रंग पहनेंगे तो सब कुछ हरा हो जायेगा और हमारे हरे रंग के सामने कोई रंग नहीं टिकेगा। उन्होंने कहा कि केवल उनका हरा रंग ही रहेगा, ना मोदी का रंग रहेगा और ना ही कांग्रेस का रंग रहेगा।

Owaisi further said that it is not correct to discriminate Muslim votes in such a way. He said that when we wear green color everything will be green and there will not be any color in front of our green color. He said that only his green color will remain, neither will the color of the Congress nor the color of the Congress.

ओवैसी ने राजस्थान के राजसमंद में हुए हत्याकांड का जिक्र करते हुए भाजपा की केंद्र सरकार पर भी हमला बोला। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार आने के बाद ऐसी घटनाएं बढ़ी हैं जिनमें मुसलमानों को निशाने पर लिया जा रहा है। AIMIM चीफ ने आरोप लगाया कि आज हमारे ही मुल्क में हमको सिर्फ इसलिए निशाना बनाया जा रहा है क्योंकि हम मुसलमान हैं, देश में ऐसी हुकूमत है जो ऐसी सोच रखने वालों की तारीफ कर रही है। तीन साल से बीजेपी की हुकूमत है, हर वक्त कोई ना कोई वाक्या होता आ रहा है।

Owaisi also attacked the central government of the BJP, referring to the assassination of Rajasamand in Rajasthan. He said that after coming to BJP government, such incidents have increased in which Muslims are being targeted. The AIMIM chief alleged that in our own country today we are being targeted only because we are Muslims, there is such a rule in the country which is praising those who have thought of such thinking. There is a BJP rule for three years, every time someone has a sentence.

जानने के लिए देखें ये वीडियो:

ASADUDDIN OWAISI SAID I WILL WEAR GREEN CLOTHS IN ASSEMBLY AND PARLIAMENT ELECTION ! LATEST SPEECH

Posted by Asaduddin Owaisi – The Imperator on Friday, December 22, 2017

यह भी देखें :

https://youtu.be/aGHeWHD0uXg

https://youtu.be/xlRRjGN7n7U

राहुल कँवल से अमित शाह ने कहा “आज तक तू चुप है, आज मै पूछना चाहता हूँ तो तू क्यों चुप है……

राहुल कंवल एक ऐसे पत्रकार जो पत्रकारिता के वजह से कम और कांग्रेस खेमे के पत्रकारों के रूप में जाने जाते है! जिन्होंने अन्य कांग्रेस खेमे के पत्रकारों की तरह बहुत कम समय में ढेर सारा दौलत और शोहरत हासिल किया|

Rahul is a journalist who is known for being less journalistic and journalists of the Congress camp! Like many journalists from other Congress camps, they got a lot of wealth and fame in a very short time.

यूं तो देश में हजारो दंगे हुए लेकिन इन पत्रकारों के जुबान पर हमेशा गुजरात दंगा ही रहता है क्युकी वहां बीजेपी की नरेंद्र मोदी सरकार थी! और हर वक़्त बीजेपी के नेताओ को घेरने की कोशिश रहती है! किसी तरह से बीजेपी के नेताओ से कुछ ऐसा बुलवाया जाये जिससे इनके न्यूज़ चॅनेल की TRP बढे

There were thousands of riots in the country, but on the verge of these journalists, the Gujarat riots always remain. There were BJP’s Narendra Modi government in Kurukshetra! And every time the BJP is trying to surround the leaders! In some way, some of the leaders of the BJP should be summoned so that their news channel’s TRP increased.

गुजरात दंगो के बाद इन पत्रकारों को एक और मुद्दा मिला बीजेपी को घेरने का “दादरी”! आपको बता दे की दादरी में अक्लख अहमद नाम के एक व्यक्ति को बीफ खाने और रखने के आरोप में भीड़ ने पिट-पिट कर मार डाला था, जिसका बीजेपी से कोई लेना देना नहीं था! फिर भी कुछ तथाकथित सेक्युलर पत्रकारो ने बीजेपी को इस मामले में खूब लपेटा!

After the Gujarat riots, these journalists got another issue, “Dadri” to surround BJP! Tell you that a person named Akhil Ahmed in Dadri was beaten and beaten by the crowd for eating and keeping beef, which had nothing to do with BJP! Yet some so-called secular journalists wrapped up the BJP in this matter.

राहुल कँवल भी अमित शाह के साथ इंटरव्यू में दादरी से सम्बंधित प्रश्न पूछ डाले उसके बाद बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने जो जबाब दिया वो वाकई देखने लायक है! राहुल कँवल ने कहा की कुछ बीजेपी नेता दादरी घटना में आग में घी डालने का काम कर रहे है, तो अमित शाह ने जब दिया की वहां सबसे पहले कौन गया, राहुल गाँधी गए, ओवैसी गए और केजरीवाल उसके बाद वहा के बीजेपी के संसद महेश शर्मा गए!

Rahul Kawal also asked the questions related to Dadri in the interview with Amit Shah, and after which BJP President Amit Shah gave the answers, it is really worth seeing! Rahul Kawal said that some BJP leaders are working to make ghee in the fire at Dadri incident, when Amit Shah gave it to who was the first to go there, Rahul went to Gandhi, Owaisi went and Kejriwal was the BJP parliamentary constituency Mahesh Sharma went.

आगे अमित शाह ने कहा कि क्या आपने केजरीवाल, राहुल गाँधी और ओवैसी से सवाल पूछा, आप मुझसे क्यों पूछ रहे हो जाओ जाकर पहले उनसे पूछो की इसमें पॉलिटिक्स कौन कर रहा है! अगले पेज पर देखिये वीडियो जब अमित शाह ने राहुल कँवल से कहा “आज तक तू चुप है आज मै पूछना चाहता हूँ तू क्यों चुप है?…

Amit Shah further said that you asked the question from Kejriwal, Rahul Gandhi and Owaisi, why are you asking me, before going to go ask him first, who is doing politics in it! Watch the video on the next page when Amit Shah told Rahul Kawal, “To date you are silent today. Today I want to ask why are you silent? …

राहुल कँवल को जबाब देते हुए अमित शाह ने शुरुआत में ही कह दिया की आप जो पांच दिन से उछल उछल कर दादरी-दादरी कर रहे है! जहा पर 10-15 हिन्दू लड़को को मार दिया गया क्या वह पर आपने पूछा की कितने अरेस्ट हुए है, आपने स्टडी किया है! क्या आप कभी वहा गए है जहा हिन्दुओं पर अत्याचार हो रहा है! फिर अमित शाह को गुस्सा आ गया और बोल बैठे की राहुल कँवल आज तक तू चुप है आज मै पूछना छठा हूँ तू क्यों चुप है!

Replying to Rahul Kawal, Amit Shah said at the beginning that you have jumped jumping after five days and doing Dadri-Dadri! Wherever 10-15 Hindu boys were killed, you asked them how much they had been arrested, you have studied! Have you ever been there where the oppression of Hindus is happening! Then Amit Shah got angry and said that Rahul Kaval till now you are silent today I am the sixth to ask why are you silent.

आगे राहुल कँवल ने कहा की देश में अराजकता का माहौल बना हुआ है इस कांड के वजह से तो अमित सह ने फिर राहुल कँवल को जमकर धोया और बोलै की उत्तर प्रदेश में किसी सरकार है? क्या ययः कानून वयवस्था सही है! आपको क्या लगता है, राहुल के पास जबाब नहीं था और वो भी मान रहे थे की यूपी में कानून व्यवस्था सही नहीं है!

Next Rahul Kawal said that the atmosphere of anarchy has been created in the country because of this scandal, then Amit co-operative washed away Rahul Rawal and said that there is a government in Uttar Pradesh? What is the law: The law system is right! What do you think, Rahul did not have the answer and he was also assuming that the law system is not right in UP.

अमित शाह ने कहा की आप हिन्दुओं पर हो रहे जुल्मो के खिलाफ क्यों कैंप नहीं करते, आपलोग भी समाजवादी पार्टी से मिले हुए हो! तो राहुल ने कहा की वो लोग हमसे बड़े परेशान रहते है! वाकई राहुल कँवल का मुँह देखने लायक बन गया था! आखिरकार राहुल ने कहा की बहुत से बुद्धिजीवी लोग अपने अपने अवार्ड वापिस कर रहे है! तो इस सवाल के जबाब में भी राहुल की व्हाट लग गई?

Amit Shah said that why do not you camp against the Hindus being attacked, you too have met the Samajwadi Party! So Rahul said that those people are troubled by us! Indeed, Rahul had become worthless to see his face! After all, Rahul said that many intellectuals are returning their own award! So in the answer to this question, what did Rahul do?

 देखिये अमित शाह का ये जबर्दस्त वीडियो                                                                                                                           Watch this awesome video of Amit Shah

अमित शाह ने अभद्र सवाल पर रिपोर्टर राहुल कनवाल को जमके लताड़ा !…

अमित शाह ने अभद्र सवाल पर रिपोर्टर राहुल कनवाल को जमके लताड़ा ! किया हल्लाबोल

Posted by Modi News on Saturday, June 24, 2017

यह वीडियो भी देखें!

https://youtu.be/6KzO3XxanXM

source : hindpress.in