अमेरिका पर हुए हमले के बाद डोनाल्ड ट्रम्प कि जवाबी कार्यवाही से सेना समेत पाकिस्तान में हाहाकार |

नई दिल्ली : अमेरिका जैसे शक्तिशाली देश में आज हर दूसरे दिन आतंकवादी हमले होने लगे हैं. कुछ वक़्त पहले लॉस वेगास में गोलियां बरसाई गयी, कभी टेक्सास में गोलियां चली, तो अभी दो दिन पहले न्यूयोर्क में ट्रक से लोगों को कुचल दिया गया साथ ही आतंकवादी ने अल्लाह हु अकबर बोलते हुए गोलियां भी बरसाई. ऐसे में अब अमेरिका ताबड़तोड़ एक्शन लेने जा रहा है जिसमें सबसे पहले उसका कहर टूटा है पाकिस्तान पर!

New Delhi : In a powerful country like America, terror strikes are going on every other day today. The guns were rained in Las Vegas sometime in the past, when tablets shot in Texas, just two days ago in New York the people were crushed by the truck, and the terrorists also shot bullets while talking with Allah Hu Akbar. In such a situation, now America is going to take a swift action, in which the first of its havoc is broken on Pakistan.

आतंकी हमले के बाद ट्रम्प का पाकिस्तान पर टूटा कहर !
अभी मिल रही खबर के मुताबिक जिस आतंकवादी ने न्यूयोर्क में मासूमों पर ट्रक चढ़ाया वह उज़्बेकिस्तान का रहने वाला था ओर कुछ साल पहले ही अमेरिका आया था. वह ऐसे हमले की तैयारी काफी वक़्त से कर रहा था. उसके पास अमेरिका का ग्रीन कार्ड भी था. ऐसे में अब अमेरिका के राष्ट्रपति सबसे पहले बाहर से आने वाले लोगों पर कड़े नियम लगाने जा रहे है. जिसमे सबसे पहला नंबर पाकिस्तान का लगा है!

After the terrorist attack, Trump’s broken havoc on Pakistan!
According to the news now available, the terrorist who carried trucks on the streets in New York was supposed to be from Uzbekistan and came to America a few years ago. He was preparing for such an attack quite a long time. He also had a US green card. In such a situation, the President of the United States is going to put stricter rules on people coming from outside. In which the first number is Pakistan.

मैनहैटन अटैक के बाद लगता है अमेरिका में पाकिस्तानियों की एंट्री और मुश्किल होने वाली हैं. पाकिस्तान से आने वाले हर नागरिक की अच्छे से तलाशी ली जाए ओर ख़ास नज़र रखी जाय क्यूंकि वहीँ सबसे ज़्यादा आतंकी मौजूद हैं. यह बात खुद अमेरिकी सांसद पीटर किंग ने कही है. पीटर किंग ने सीएनएन को दिए एक इंटरव्यू में कहा कि पाकिस्तान आतंकवादियों का स्वर्ग है, जो भी शख्स पाकिस्तान या अन्य आतंकी देश से आएगा उसपर पैनी नज़र रखी जायेगी ओर उसकी खास तलाशी ली जायेगी. इससे पहले भी आपको याद दिला दें पाकिस्तान से आने वाले नागरिकों के कपड़े उतरवाकर कुत्तों से सुंघवा कर तलाशी ली जाती थी!

After the Manhattan attack, Pakistanis’ entry in the US seems to be difficult. Every citizen coming from Pakistan should be searched and closely monitored, as the most terrorists are present. This is what the American MP Peter King himself said. Peter King said in an interview to CNN that Pakistan is a paradise of terrorists, the person who comes from Pakistan or other terrorist country will be monitored and will be searched for a special investigation. Earlier reminded you that the clothes of civilians coming from Pakistan were stripped and dogs were searched and searched.

पाकिस्तान से 800 आतंकी IS में शामिल होने गए थे!
अमेरिकी सांसद ने कहा पाकिस्तान में सबसे ज़्यादा आतंकवादी संगठन हैं. अब तक जितने भी हमले हुए है उनमे से कईयों का संबंद्ध पाकिस्तानी आतंक से था.पीटर ने खुलासा किया कि पाकिस्तान से करीब 800 लोग ISIS में शामिल होने के लिए सीरिया गए थे. ऐसे में अब पाकिस्तान के लोगों पर फिर से कड़ी चेकिंग करने की ज़रूरत हो गयी है. क्योंकि जिस तरह से ये आतंकी हमले हो रहे है इससे एक बात तो साफ है कि ये आतंकी एक बड़ी साजिश के तहत एक के बाद एक हमला कर रहे है!

800 terrorists from Pakistan were involved in IS!
The American MP said that there are the most terrorist organizations in Pakistan. Many of the attacks that have happened so far have belonged to Pakistani terror.Peter revealed that about 800 people from Pakistan had gone to Syria to join ISIS. In such a situation, the people of Pakistan are now required to make strict checkup again. Because, by the way the terrorist attacks are happening, one thing is clear that these terrorists are attacking one after another under a big conspiracy.

पीटर किंग का यह बयान न्यू यॉर्क में हुए आतंकी हमले के बाद आया है. जिसमें हमलावर ने एक ट्रक को लोगों पर चढ़ा दिया था जिसमें आठ लोगों की जान चली गई थी. इसके बाद ट्रंप ने कहा था कि वह किसी भी कीमत पर आईएस को अमेरिका में घुसने नहीं देंगे. उस हमले के बाद से उसने ये कानून जारी कर दिया कि बाहर से आने वाले हर किसी कि पूरी तलाशी ली जाएगी. और संदिग्द होने पर सक्त कार्यवाही कि जाएगी!

This statement of Peter King came after the terrorist attack in New York. In which the assailant had given a truck to people, in which eight people lost their life. After this, Trump had said that he would not let the IS enter the US at any cost. Since that attack, he has issued the law that everybody coming from outside will be searched for the whole. And if there is suspicion there will be strong action.

तो वहीँ गुस्साए ट्रंप ने बुधवार को कहा था कि आतंकी को एक स्टेट डिपार्टमेंट प्रोग्राम के तहत अमेरिका में घुसने की इजाजत दी गई थी जिसे ‘विविधता लॉटरी कार्यक्रम’ कहा जाता है. इस वीजा कार्यक्रम के तहत उन देशों के लोगों को ग्रीन कार्ड दिया जाता है जहां से आमौतर पर उनके मेरिट आधारित उम्मीदवार नहीं होते. हमले को अंजाम देने वाला 29 वर्षीय उज्बेक प्रवासी साइपोव 2010 में वैध रूप से अमेरिका आया था ओर अब ऐसे किसी भी कार्यक्रम को ख़त्म करने की योजना बनायीं जा रही है!

So angry, Trump had said on Wednesday that the terrorists were allowed to enter the US under a State Department program called ‘Diversity Lottery Program’. Under this visa program, green card is given to people from those countries where they are not merit based candidates on the ground floor. The 29-year-old Uzbek migrant who executed the attack, came to the US legally in 2010, and now plans to finish any such program is being done.

source : ddbharti.in

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *