UP उपचुनाव : बुआ- बबुआ मिलकर भी नहीं भेद पाएंगे BJP का किला

modi

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ‘योगी आदित्यनाथ’ ने ‘बसपा’ और ‘सपा’ पर निशाना साधते हुए एक चौंकाने वाला बयान दिया. उनके इस बयान के बाद दोनों पार्टियों में खलबली मच गई है. मुख्यमंत्री योगी ने कहा है कि बबुआ और बुआ दोनों मिलकर भी भाजपा को हरा नहीं सकती.

Lucknow: Uttar Pradesh’s Chief Minister Yogi Adityanath gave a shocking statement while targeting ‘BSP’ and ‘SP’. After this statement, there has been a stir between the two parties. The Chief Minister Yogi has said that both the bride and the buoy can not beat the BJP together too.

योगी आदित्यनाथ ने जानकारी दी है कि मैंने गोरखनाथ क्षेत्र के ‘प्राथमिक कन्या विद्यालय’ में वोट डाला, इसके साथ ही वह इस सत्र में वोट डालने वाले पहले वोटर बने. साथ ही उन्होंने कहा है कि पहला वोट भाजपा को मिला. फूलपुर और गोरखपुर लोकसभा उपचुनाव में भाजपा की जीत निश्चित है.

Yogi Adityanath has informed me that I voted in the ‘Primary Kanya Vidyalaya’ of Gorakhnath area, along with that he became the first voter to cast votes in this session. He also said that the first vote was received by the BJP. The BJP’s victory in Phulpur and Gorakhpur Lok Sabha bye-elections is certain.

मुख्यमंत्री योगी ने मायावाती और अखिलेश यादव पर हमला करते हुए कहा है कि दोनों बबुआ और बुआ मिल जाएं तब भी भाजपा को नहीं हरा पायेगी. पहले की तरह भाजपा का जीत का रथ आगे चलता रहेगा.

The Chief Minister Yogi has attacked Mayawati and Akhilesh Yadav saying that even after getting both the babu and the buoys, the BJP will not be able to beat. As before, the chariot of BJP’s victory will continue.

बीते विधानसभा चुनाव के दौरान दोनों युवराज (राहुल गांधी और अखिलेश यादव) एक साथ आगे आए थे. तो उस समय बुआ बसपा प्रमुख मायावती और बबुआ अखिलेश यादव के बीच जुबानी जंग चली थी. अंत में इसका परिणाम क्या हुआ इस बारे में सभी जानते हैं. इस बार दोनों जिलों के उपचुनाव में राहुल गांधी अकेले चुनाव लड़ रहे हैं. इसके आगे मुख्यमंत्री ने कहा है कि मुझे ऐसा लगता है कि राहुल को भी बुआ, बबुआ के साथ मिल जाना चाहिए.

Both the Yuvraj (Rahul Gandhi and Akhilesh Yadav) came forward together during the last assembly elections. At that time, Jubani Jang had fought between Bau BSP chief Mayawati and Babua Akhilesh Yadav at that time. Finally, everyone knows about what has been the result. This time, Rahul Gandhi is contesting alone in the bye-elections of both the districts. Next, the Chief Minister has said that I feel that Rahul should also get along with aunt, babua.

मुख्यमंत्री योगी ने वोट डालने के बाद प्राथमिक कन्या विद्यालय के बाहर मीडिया कर्मियों से बात करते हुए कहा है कि जनता अब विकास, सुशासन की राजनीति पसंद कर रही है. अब वंशवाद, जातिवाद की राजनीति नहीं चलेगी. सपा और बसपा का यह गठबंधन अपवित्र है. उनके इस गठबंधन को जनता स्वीकार नहीं करेगी. गोरखपुर और फूलपुर के 14 मार्च को जब लोकसभा उपचुनाव के परिणाम आएंगे, तब विपक्षियों को इसका एहसास होगा.

After casting vote, after talking to media personnel outside Primary Kanya Vidyalaya, the people have said that the people are now like development, good governance politics. Now the dynasty, the politics of racism will not work. This coalition of SP and BSP is unholy. The public will not accept this coalition. When the results of Lok Sabha by-election in Gorakhpur and Phulpur on March 14, the Opposition will realize this.


मुख्यमंत्री योगी ने जानकारी देते हुए कहा है कि भाजपा सरकार आगामी 2019 के लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश में 80 सीटें जीतने में सफल होगी. प्रधानमंत्री ‘नरेंद्र मोदी’ की विकास परक और राष्ट्रवाद की राजनीति को राज्य की जनता ने खूब सराहा और पसंद किया है. यही बड़ा कारण है कि 2017 विधानसभा चुनाव में भाजपा सरकार को बहुत बड़ी जीत मिली है. इसके आगे मुख्यमंत्री कहा है कि अयोध्या, मथुरा, वाराणसी और चित्रकूट जाकर त्यौहार मनाता रहूंगा.

The Chief Minister Yogi has said that BJP government has succeeded in winning 80 seats in Uttar Pradesh in the 2019 Lok Sabha elections. The development of ‘Prime Minister Narendra Modi’ and the politics of nationalism has been well appreciated by the people of the state. This is the reason that the BJP government has won a big victory in the 2017 assembly elections. Next, the Chief Minister said that I will celebrate the festival by visiting Ayodhya, Mathura, Varanasi and Chitrakoot.

हाल ही में मुख्यमंत्री ने हिन्दू वाली बात को एक बार फिर से दोहराया, उन्होंने कहा कि वह हिंदू हैं. किसी भी स्थिति में दिखाने वाली राजनीति नहीं करेंगे. अयोध्या, मथुरा, वाराणसी और चित्रकूट जाकर त्योहार मनाते रहेंगे. राज्य सरकार विकास, सुशासन की राह पर चल रही है. देश के हर एक व्यक्ति की सुरक्षा की जिम्मेदारी सरकार सरकार की

Recently, the Chief Minister reiterated the Hindu thing once again, he said that he is a Hindu. In any situation, politics will not show up. Ayodhya, Mathura, Varanasi and Chitrakoot will celebrate the festival. The State Government is on the path of development, good governance. Government government’s responsibility for the safety of every single person in the country

यह भी देखे

SOURCENAME:POLITICALREPORT

Leave a Reply